Dailynews

Jun 03 2021, 16:18

मुंबई में वैक्सीन की कमी, शहर के 342 केंद्रों पर आज नहीं होगा कोरोना वैक्सीनेशन
  


मुंबई: मुंबई में अब कोरोना का कहर कम होने लगा है लेकिन इस बीच यहाँ वैक्सीनेशन बहुत धीमी गति से हो रहा है। अब आज ही बृहन्मुम्बई महानगरपालिका ने यह बताया है कि कोविड-19 टीकों की पूरी संख्या उपलब्ध नहीं होने के कारण आज यानी गुरुवार को नगर निकाय और महाराष्ट्र सरकार के केंद्रों पर टीकारकण नहीं होगा। जी हाँ, आपको हम यह भी जानकारी दे दें कि शहर में कोविड-19 टीकाकरण के कुल 342 केंद्र हैं जिनमें 243 का प्रबंधन बीएमसी और 20का प्रबंधन महाराष्ट्र सरकार के हाथों में है।

ऐसे में नगर निकाय की तरफ से जारी की गई एक विज्ञप्ति में यह कहा गया है कि ''पर्याप्त संख्या में टीकों की खुराक उपलब्ध नहीं होने के कारण गुरुवार को टीकाकरण बंद रखने का निर्णय लिया गया है।

मुंबई मे एक जून तक 33,24,428 कोविड टीके की खुराक दी गयी है।'' इसके अलावा बीएमसी का कहना है कि, ''हमे तीन जून को कभी भी टीके मिल जाने की उम्मीद है जिसके बाद टीकाकरण अगले दिन बहाल कर दिया जाएगा।'' वैसे आपको हम यह भी बता दें कि मुंबई देश का पहला ऐसा शहर है जिसने गर्भवती महिलाओं के लिए वैक्सीनेशन का ऐलान किया है।

यहाँ गर्भवती महिलाओं के लिए यह जरूरी है कि वे एक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर करे और अपने गायनाकॉलोजिस्ट से इस बात का प्रमाण पत्र लेकर आए कि वे वैक्सीनेशन के लिए पूरी तरह से फिट हैं। लेकिन हाँ, यहाँ अब तक एक भी गर्भवती महिला वैक्सीन लेने के लिए आगे नहीं आई है। अब अगर हम महाराष्ट्र में होने वाली मौतों के बारे में बात करें तो यहाँ काफी सख्ती होने के बाद भी रोजाना 15 हजार से ज्यादा नए कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं। बीते बुधवार को राज्य में 15,169 नए मामले सामने आए और इस दौरान 285 मरीजों ने दम तोड़ा।
   

Dailynews

Jun 03 2021, 16:18

मुंबई में वैक्सीन की कमी, शहर के 342 केंद्रों पर आज नहीं होगा कोरोना वैक्सीनेशन
  


मुंबई: मुंबई में अब कोरोना का कहर कम होने लगा है लेकिन इस बीच यहाँ वैक्सीनेशन बहुत धीमी गति से हो रहा है। अब आज ही बृहन्मुम्बई महानगरपालिका ने यह बताया है कि कोविड-19 टीकों की पूरी संख्या उपलब्ध नहीं होने के कारण आज यानी गुरुवार को नगर निकाय और महाराष्ट्र सरकार के केंद्रों पर टीकारकण नहीं होगा। जी हाँ, आपको हम यह भी जानकारी दे दें कि शहर में कोविड-19 टीकाकरण के कुल 342 केंद्र हैं जिनमें 243 का प्रबंधन बीएमसी और 20का प्रबंधन महाराष्ट्र सरकार के हाथों में है।

ऐसे में नगर निकाय की तरफ से जारी की गई एक विज्ञप्ति में यह कहा गया है कि ''पर्याप्त संख्या में टीकों की खुराक उपलब्ध नहीं होने के कारण गुरुवार को टीकाकरण बंद रखने का निर्णय लिया गया है।

मुंबई मे एक जून तक 33,24,428 कोविड टीके की खुराक दी गयी है।'' इसके अलावा बीएमसी का कहना है कि, ''हमे तीन जून को कभी भी टीके मिल जाने की उम्मीद है जिसके बाद टीकाकरण अगले दिन बहाल कर दिया जाएगा।'' वैसे आपको हम यह भी बता दें कि मुंबई देश का पहला ऐसा शहर है जिसने गर्भवती महिलाओं के लिए वैक्सीनेशन का ऐलान किया है।

यहाँ गर्भवती महिलाओं के लिए यह जरूरी है कि वे एक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर करे और अपने गायनाकॉलोजिस्ट से इस बात का प्रमाण पत्र लेकर आए कि वे वैक्सीनेशन के लिए पूरी तरह से फिट हैं। लेकिन हाँ, यहाँ अब तक एक भी गर्भवती महिला वैक्सीन लेने के लिए आगे नहीं आई है। अब अगर हम महाराष्ट्र में होने वाली मौतों के बारे में बात करें तो यहाँ काफी सख्ती होने के बाद भी रोजाना 15 हजार से ज्यादा नए कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं। बीते बुधवार को राज्य में 15,169 नए मामले सामने आए और इस दौरान 285 मरीजों ने दम तोड़ा।