narsingh481

Feb 21 2024, 18:20

कल से शुरू होगी यूपी बोर्ड हाई स्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं परीक्षा में बैठेंगे करीब 56 लाख छात्र-छात्राएं
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के 8,265 परीक्षा केन्द्रों पर एक साथ कल  से प्रारम्भ वर्ष 2024 की हाईस्कूल एवं इण्टरमीडिएट की संस्थागत एवं व्यक्तिगत परीक्षायें 9 मार्च, 2024 को समाप्त होंगी। यह परीक्षाएं 12 दिनों में पूरी होगी यह भी अपने आप में इतिहास होगा। वर्ष 2017 से पहले इन परीक्षाओं को सम्पन्न कराने में एक माह से भी अधिक समय लगता था। बोर्ड परीक्षा में हाईस्कूल के 1571184 छात्र तथा 1376127 छात्राएं (कुल-29,47,311) एवं इण्टरमीडिएट के 1428323 छात्र तथा 1149676 छात्राएं (कुल-25,77,997) सम्मिलित होंगे। कुल 55,25,308 परीक्षार्थियों में से 5360745 संस्थागत एवं 164563 व्यक्तिगत् परीक्षार्थी हैं। नकल पर प्रभावी रोकथाम के कारण वर्ष 2024 में 164563 छात्र/छात्रा व्यक्तिगत परीक्षार्थी के रूप में पंजीकृत हुए हैं, जबकि 2017 में यह संख्या 3,53,106 थी। इसके तहत बाह्य प्रदेशों से 2017 में पंजीकरण कराने वाले 1,50,209 परीक्षार्थियों के स्थान पर वर्ष 2024 में बाह्य प्रदेशों/अन्य बोर्डो के परीक्षार्थियों की संख्या भी मात्र 4905 रह गयी है। वर्तमान सरकार द्वारा परीक्षा केन्द्रों का निर्धारण, उनकी धारण क्षमताओं का पूर्ण उपयोग करते हुए, साफ्टवेयर के माध्यम से ऑनलाइन कराया गया। 2017 से पहले 12 हजार से भी अधिक केन्द्र बनते थे किन्तु ऑनलाइन केन्द्र निर्धारण व्यवस्था से कम परीक्षा केन्द्र (वर्ष 2024 की परीक्षा में 8265) बने, जिससे उनका पर्यवेक्षण एवं निरीक्षण सुगम हुआ। बोर्ड परीक्षा को शुचितापूर्ण एवं नकलविहीन कराने के लिए विगत वर्षो में अपनाई गई प्रक्रिया को और सुदृढ़ किया गया है। राज्य स्तर पर माध्यमिक शिक्षा निदेशालय लखनऊ के साथ-साथ विद्या समीक्षा केन्द्र लखनऊ और परिषद मुख्यालय, प्रयागराज और 05 क्षेत्रीय कार्यालयों में भी कमाण्ड एवम् कन्ट्रोल सेंटर स्थापित किये गये हैं, जिनसे प्रदेश के समस्त परीक्षा केन्द्रों एवं जनपद स्तरीय कन्ट्रोल एवम् मानीटरिंग सेंटर की लाइव मॉनीटरिंग की जायेगी। परीक्षार्थियों एवं जनसामान्य की शिकायतों का त्वरित निदान हेतु 02 हेल्प नम्बर (1800 180 6607/8) तथा परीक्षार्थियों की जिज्ञासाओं के समाधान व मनोवैज्ञानिक परामर्श हेतु 02 हेल्प नम्बर (1800 180 5310/12) भी स्थापित किये गये हैं। इसी प्रकार जनपद स्तर पर भी कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर, हेल्पलाइन व अन्य व्यवस्थाएं करायी गयी है। इनके माध्यम से जनपद के समस्त परीक्षा केन्द्रों की लाइव मॉनीटरिंग की जायेगी। जनपदीय कन्ट्रोल सेन्टर को संचालित करने के लिए जिलाधिकारी द्वारा नामित प्रशासनिक अधिकारी को तैनात किया गया है। नकल की सम्भावनाओं पर अंकुश लगाने के लिए प्रश्नपत्रों को खोलने की कार्यवाही सी0सी0टी0वी0 कैमरे की निगरानी में की जायेगी तथा संकलन केन्द्रों एवं स्ट्रांग रूम पर 24 घण्टे निगरानी के लिए सशस्त्र बल एवं लाइव सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था की गयी है। स्ट्रांग रूम का प्रातः कालीन सचल दल द्वारा निरीक्षण की व्यवस्था की गयी है। परीक्षा केन्द्रों के आस-पास 100 मीटर की परिधि में और आवश्यकता पडने पर उसके बाहर भी समाज विरोधी तत्वों अथवा वाह्य व्यक्तियों को एकत्र न होने देने हेतु जिला प्रशासन को दण्ड प्रक्रिया संहिता के अन्तर्गत धारा-144 लागू करने सहित अन्य सभी एहतियाती उपाय करने के निर्देश दिये गये हैं। प्रथम बार सभी केन्द्र व्यवस्थापकों को प्रश्नपत्रों के रख-रखाव तथा परीक्षा सम्पादन के सम्बंध में व्यवस्था के विभिन्न आयामों को और वाह्य केन्द्र-व्यवस्थापकों एवं स्टेटिक मजिस्ट्रेटों को परीक्षा सम्पादन हेतु अपने उत्तरदायित्वों को स्पष्ट करने हेतु प्रशिक्षित किया गया है। प्रथम बार परीक्षा कक्षों में लगाये गये लगभग 3.11 लाख कक्ष निरीक्षकों को सुरक्षित क्यूआर कोड एवं क्रमांकयुक्त कम्प्यूटराइज्ड परिचय पत्र जारी किया गया है। प्रथम बार उत्तर पुस्तिकाओं के कवर पृष्ठ पर क्यूआर कोड, क्रमांक संख्या एवं लोगो के अतिरिक्त उसके आन्तरिक पृष्ठ पर भी परिषद का लोगो तथा प्रत्येक पृष्ठ पर पृष्ठ संख्या के साथ-साथ चार अलग-अलग रंगों में सिलाईयुक्त उत्तर पुस्तिकाएं मुद्रित करायी गयी है। प्रथम बार क्विक रिस्पॉंस टीम गठित की गयी है जो सोशल मीडिया पर भ्रामक खबरे फैलाकर जनसामान्य को गुमराह करने और सरकार की छवि धूमिल करने के प्रयासों की निगरानी करेगी और त्वरित कार्यवाही करायेगी। बोर्ड परीक्षा में कक्ष निरीक्षक एवं अन्य कार्यो के सम्पादन हेतु लगायी गयी ड्यूटी से अनुपस्थित रहने वाले कार्मिकों के विरूद्ध सुसंगत नियमों के तहत कार्यवाही की व्यवस्था की जा रही है। माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा विगत वर्षो के अनुभवों के आधार पर संवेदनशील और अति संवेदनशील परीक्षा केन्द्रों(466/275)/जनपदों(16) को चिह्नित किया गया है तथा इनमें किसी अप्रिय घटना की रोकथाम हेतु एस0टी0एफ0 तथा स्थानीय अधिसूचना इकाई के माध्यम से विशेष निगरानी की व्यवस्था की गयी है। नकल विहीन परीक्षा कराना सरकार की प्राथमिकता है। यू0पी0 बोर्ड की परीक्षा में किसी विषय की परीक्षा समाप्त होने से पूर्व यदि उस विषय का कोई प्रश्न-पत्र या उसके किसी भाग को या उसका हल whatsApp/ सोशल मीडिया या अन्य किसी माध्यम से संचारित करने का प्रयास किया जाता है तो उ0प्र0 सार्वजनिक परीक्षा (अनुचित साधनों का निवारण) अधिनियम-1998 की धारा-4/10 के अन्तर्गत ऐसे दण्डनीय संज्ञेय एवं गैर जमानती आपराधिक कृत्य पर कठोरतम कार्यवाही की जायेगी। विभिन्न विभागों से समन्वय स्थापित कर विद्यार्थियों को परिवहन की सुविधा प्रदान करने के लिए बोर्ड परीक्षा स्पेशल बसों, परीक्षा अवधि में निर्बाध विद्युत आपूर्ति, परीक्षा केन्द्रों एवं आस-पास की साफ-सफाई एवं सेनेटाइजेशन, परीक्षार्थियों/परीक्षा कार्मिकों को आपातकालीन प्राथमिक चिकित्सा की व्यवस्था भी की जा रही है। व्यापक स्तर पर की गयी सघन तैयारियों तथा निर्विघ्न परीक्षाएं सम्पन्न कराने के लिए पुलिस, प्रशासन एवं शैक्षिक अधिकारियों द्वारा तैयार की गयी कार्ययोजना के प्रभावी कार्यान्वयन से निश्चित ही मेधावी परीक्षार्थियों को उचित वातावरण प्राप्त होगा और नकल की सम्भावनाओं पर अंकुश लगाते हुए शुचिता/पवित्रता/पारदर्शितापूर्ण परीक्षाएं सम्पन्न होंगी।

msyadav

Feb 19 2024, 14:47

అక్రిడిటేషన్‌ అనేది రాయితీ కార్డు మాత్రమే* *-జర్నలిస్టులని గుర్తించే పట్టా కానే కాదు* *-నిజాలు రాసేవారంతా జర్నలిస్టులే* *-చిన్నపెద్


అక్రిడిటేషన్‌ అనేది రాయితీ కార్డు మాత్రమే

-జర్నలిస్టులని గుర్తించే పట్టా కానే కాదు

-నిజాలు రాసేవారంతా జర్నలిస్టులే

-చిన్నపెద్ద అనేది సిండికేట్ల సృష్టే

-జర్నలిస్టు ఔనో కాదో తేల్చాల్సింది పత్రిక ఎడిటర్లు మాత్రమే "ఖాకీలు" కాదు.

-డెమోక్రటిక్ జర్నలిస్ట్ ఫెడరేషన్ జాతీయ అధ్యక్షుడు:మనసాని కృష్ణారెడ్డి.

!important; border-radius:0"> noavataruser.gif" alt="" width="30" height="30" />▼

msyadav
Close

Write a News


Title

text" id="charcounttext" class="pull-right">

Buzzing in group ; font-size: 10px;" title="Delete Group">
val" value="1">
10000
10000
Close

Create Photo News

photo()" autocomplete="off" required> photo" id="charcountphoto" class="pull-right">

Upload images

Select Attachment " multiple >
India

Feb 16 2024, 16:13

संदेशखाली को लेकर बंगाल में बवाल, जहां महिलाएं लगा रहीं यौन सोषण का आरोप, जानें क्या है पूरा मामला?

#whatshappeningin_sandeshkhali

पश्चिम बंगाल का संदेशखाली इलाका इस समय जल रहा है। इसकी वजह है महिलाओं का आंदोलन। महिलाओं के विरोध ने बंगाल सरकार की नींद उड़ा दी है। आरोप एक टीएमसी नेता पर लगा है, महिलाओं के यौन उत्पीड़न से उसका कनेक्शन है।दरअसल, टीएमसी नेता शेख शाहजहां और उसके समर्थकों पर कथित रूप से यौन उत्पीड़न और जमीन हड़पने के आरोप लगाए हैं।बीते दिनों महिलाओं ने टीएमसी नेता के खिलाफ प्रदर्शन भी किया था और इसके बाद सड़क से विधानसभा तक संदेशखाली का मामला गूंजा। भारतीय जनता पार्टी भी ममता बनर्जी सरकार पर हमलावर है। बीजेपी ने भी मुद्दे को भुनाते हुए जांच के लिए अपने स्तर पर कमेटी बना दी है। वहीं अब मामला कोलकाता हाईकोर्ट पहुंच गया है।अब सवाल ये उठता है कि ये सारा विवाद है क्या, आखिर ऐसा क्या हुआ कि इतनी सारी महिलाएं सड़क पर उतर आईं? 

कहां से शुरू हुआ मामला?

दरअसल, 5 जनवरी 2024 को ED की टीम कथित राशन घोटाले के सिलसिले में तृणमूल कांग्रेस नेता शेख शाहजहां के घर पर रेड करने के लिए संदेशखाली पहुंची थी। इस दौरान ईडी अधिकारियों और सीआरपीएफ जवानों पर भीड़ ने हमला कर दिया। इसमें तीन अधिकारी घायल हुए थे। इसके बाद से ही शाहजहां फरार चल रहा है और उसके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी हुआ है। इसके बाद टीएमसी नेता के खिलाफ विरोध के स्वर मुखर होने लगे। लोगों ने खुलकर शाहजहां का विरोध और उसकी गिरफ्तारी की मांग शुरू कर दी। इस विरोध में महिलाएं भी शामिल हुईं। इस घटना के एक महीने बाद 9 फरवरी को संदेशखाली में आक्रोशित ग्रामीणों ने टीएमसी नेता शिवप्रसाद हाजरा के पोल्ट्री फार्म में आग लगा दी।

कथित भूमि राशन आवंटन घोटाले में टीएमसी नेता शाहजहां शेख की गिरफ्तारी की मांग करते हुए स्थानीय लोगों, विशेष रूप से महिलाओं ने हाथों में चप्पलें लेकर संदेशखाली के विभिन्न हिस्सों में मार्च किया।संदेशखाली में शुरू हुए बवाल ने धीरे-धीरे विकराल रूप ले लिया। विरोध प्रदर्शन के दौरान महिलाएं लाठी-डंडों और बांस के साथ सड़कों पर उतर आईं। महिलाओं की मांग थी कि तृणमूल के स्थानीय नेता शेख शाहजहां, ब्लॉक अध्यक्ष शिवप्रसाद हाजरा और उनके साथी उत्तम सरदार को गिरफ्तार किया जाए।हालाँकि पुलिस का कहना है कि उसे ऐसी कोई शिकायत नहीं मिली है। हालाँकि महिलाओं ने मीडिया के सामने इन नेताओं पर ये आरोप लगाए

समाचार एजेंसी एएनआई की 14 फरवरी की रिपोर्ट के मुताबिक, महिला प्रदर्शनकारियों में से एक ने कहा, "वो रात के 12 बजे हम दोनों पुरुषों और महिलाओं से जबरदस्ती काम कराते थे। वो हमें हमारे घरों से उठा लेते थे और हमसे जबरदस्ती काम कराते थे, भले ही किसी की तबीयत ही क्यों न खराब हो।आरोप है कि शाहजहां ने पार्टी के नाम पर गांव वालों पर लम्बे समय तक जो अत्याचार किया है। रिपोर्ट के मुताबिक, महिला प्रदर्शनकारी ने कहा कि शाहजहां शेख और उनके लोग महिलाओं को इस हद तक शारीरिक रूप से प्रताड़ित करते थे कि उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था। उन्होंने कहा, वे महिलाओं को भी मारते थे। वो उनके हाथ-पैर तोड़ देते थे। कई लोगों को 3-4 दिनों के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है

इंडियन एक्प्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, एक अन्य महिला ने कहा, "वे हमें मीटिंग के लिए बुलाते थे - कभी स्वयं सहायता समूह की और कभी पार्टी की। हमारे पतियों को नहीं बुलाया जाता था। जब हम वहां गए, तो एक त्वरित 'पार्टी मीटिंग' हुई जिसमें कहा गया कि हमें पार्टी की जीत के लिए काम करना होगा. इनमें से कुछ ने खाना बनाती थीं और मेरे समेत कुछ महिलाओं को वहीं रुकने के लिए कहा गया। वे मेरी साड़ी खींचते थे और मुझे गलत तरीके से छूते थे। मैं चुप रही क्योंकि मुझे पता था कि अगर मैं विरोध करती तो क्या होता।

घटना के दो दिन बाद 9 फरवरी की रात से संदेशखाली में धारा 144 लागू कर दी गई। इसके बाद से कई दिनों तक संदेशखाली ब्लॉक-2 के 8 ग्राम पंचायत इलाकों में दुकान-बाजार बंद रहे। इंटरनेट सेवाएं भी ठप कर दी गई। संदेशखाली थाना क्षेत्र में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात किए गए। इलाकों में पुलिस लगातार गश्ती लगा रही है। संदेशखाली जाने वाले सभी मार्गों (जल व सड़क) पर पुलिस कड़ी नजर रख रही है। हालांकि हाईकोर्ट ने संदेशखाली में धारा 144 को खारिज करने का आदेश दिया है। स्थिति अब भी तनावपूर्ण है।

durgabhashkar72

Feb 14 2024, 18:15

मोतिहारी /ढाका के खेल मैदान मे आयोजित होने वाले सामुहिक विवाह को लेकर वर वधु पक्ष के लोगो के बीच शादी से संवंधित समाग्री दिया गया ..
.. सामूहिक विवाह हेतू प्रथम चरण में चयनित 75 वर-वधू जोड़ा के लिए पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत आज वस्त्र वितरण कार्यक्रम के तहत मोतिहारी, ढाका, घोडासहन में किया जाना है, जिसके तहत मोतिहारी स्थित होटल सिद्धिविनायक के गाँधी सभागार में से 11 जोड़ा के लिए वस्त्र ( लहँगा चुनरी, शर्ट पैंट ) का वितरण बुधवार को पवन जायसवाल, विधायक ढाका सह प्रदेश अध्यक्ष अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन द्वारा दोनों पक्ष के अभिभावको के बीच किया गया। इस अवसर पर 1 . वधू - कांति कुमारी (सरलाही , नेपाल) , वर - अनिल कुमार (चकिया) ,(2) वधू - अनीता कुमारी(धनुषा ), वर - संजय कुमार(ढाका ), (3) वधू - रंजना कुमारी (चिरैया) वर- मिठू कुमार (पताही) (4) वधू - मनोरमा कुमारी (चिरैया) वर - मिठू राम (ढाका) (5) वधू - किरण कुमारी (मधुबन) वर - रामबाबू पासवान ( पताही) (6) वधू - अमृता कुमारी ( पकड़ीदयाल) वर - राजन मेस्तर (पताही) ( 7) वधू - लक्ष्मी कुमारी (पकड़ीदयाल) वर - गोपीचंद्र बैठा ( पिपराकोठी) (8) वधू - खुशबू कुमारी (पकड़ीदयाल) वर - नथुनी कुमार मेस्तर (ढाका) (9) वर - मेघनाथ पासवान (घोड़ासहन ) वधू -- निभा कुमारी (परसौनी) (10) वधू - अंशु कुमारी वर- वधू जोड़ा के अभिभावकों को वस्त्र वितरण हुआ। विदित हो कि ढाका में पाँचवीं बार फिर 151 कन्याओं का सामूहिक विवाह “ एक विवाह ऐसा भी “ 25 फ़रवरी 2024 (रविवार) को सुबह 9 बजे संध्या 6 बजे के बीच आयोजित किया गया है। श्री जायसवाल ने कहा कि 2010 में निर्दलीय विधायक बनने के बाद मेरे मन में जिज्ञासा था कि समाज सेवा के क्षेत्र में कुछ अलग करना चाहिए और राज्य में पहली बार सामूहिक विवाह के प्रचलन की शुरुआत ढाका की धरती से शुरू किया तथा 2011-2015 के बीच चार आयोजनों में 375 कन्याओं की शादी कराकर आर्थिक बोझ से दबे हुए परिवारों को राहत देने का एक छोटा सा प्रयास किया गया।जिसके बाद चम्पारण के आधा दर्जन से ज़्यादा प्रखंडो तथा कई ज़िलों में सामूहिक विवाह का आयोजन सामाजिक संस्थाओं, प्रबुद्ध लोगों द्वारा किया जाता रहा है। पुन: 2020 के नवम्बर में विधायक बनने का सौभाग्य मिला पर दो वर्षों तक COVID-19 के कारण सामूहिक विवाह नहीं हो पाया इसलिए तीन वर्षों की संख्या का ख़्याल करते इस बार 151 कन्याओं का सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया है। श्री जायसवाल ने कहा कि सामूहिक विवाह हेतू आवेदन फार्म ढाका, घोडासहन के साथ मोतिहारी में निर्धारित स्थलों पर उपलब्ध है , मो० न० - 9955963663 पर फ़ोन कर WHATSUP पर मँगवाया जा सकता है ।आवेदन करने की तिथि को बढ़ाते हुए 20 फ़रवरी 2024 कर दिया गया है, वर-वधू का चयन “पहले आओ -पहले पाओ” के तर्ज़ पर किया जा रहा है। श्री जायसवाल ने कहा कि असहाय परिवारो के सुविधा हेतू सामूहिक विवाह के आवेदन फार्म को पूर्वी चम्पारण, सीतामढ़ी, पश्चिमी चम्पारण, शिवहर ज़िला के सभी मुखिया, प्रमुख, उप प्रमुख, ज़िला पार्षद, शहरी निकाय के मेयर/उप मेयर, वार्ड आयुक्तगण, सिकरहना अनुमंडल के सभी पैक्स अध्यक्ष, सरपंच, वार्ड सदस्यों को पोस्ट आँफिस के माध्यम से भेज दिया गया है ताकि जन प्रतिनिधियों के सहयोग से वैसे परिवारों को सूचना के साथ आवेदन फार्म उपलब्ध हो सके। श्री जायसवाल ने कहा कि सामूहिक विवाह में ढाका विधानसभा सहित किसी भी क्षेत्र के वर-वधू पक्ष आवेदन कर सकते है , सामूहिक बारात बिसरहिया चौक से निकलकर हाई स्कूल ढाका के खेल मैदान पहुँचेगा जहाँ 151 मंडपों में हिन्दू रीति रिवाज एंव मुस्लिम वर-वधू होने पर निकाह हेतू मंच की व्यवस्था किया जाएगा । श्री जायसवाल ने कहा कि वर- वधू पक्ष को पूजा-मटकोर आदि का विधि अपने घर से आना है शादी से सम्बंधित सभी व्यवस्था आयोजन समिति द्वारा किया जाएगा । सामूहिक बारात में सभी दुल्हे राजा को 151 घोड़ा पर 21 बैंड बाजा के साथ शाही बारात के रूप में जन प्रतिनिधिगण, सामाजिक संगठनों, गणमान्य लोगों , पदाधिकारीगण एंव आयोजन समिति के अगुवाई में निकाला जाएगा । विवाहोपरान्त आयोजित कार्यक्रम में प्रत्येक वर-वधू जोड़ा को आयोजन समिति द्वारा 11 हज़ार का चेक एंव लगभग 40 हज़ार रूपया का घर में उपयोग हेतू आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराया जाएगा, ताकि वर- वधू परिवार को राहत मिल सके। श्री जायसवाल ने कहा कि आयोजन की सफलता हेतू आवास, भोजन, सहित 12 उप समिति का गठन किया गया है, जिसमें सक्षम एंव सामाजिक कार्यों में रूचि लेने वाले लोगों को शामिल किया गया है । सामूहिक विवाह के अवसर पर सभी राजनीतिक दलों से जुड़े नेतागण , बिहार के विभिन्न क्षेत्रों में देश-विदेश में बेहतर कार्य के बल पर ख्याति प्राप्त किए 25 महानुभावो को आमंत्रित किया जाएगा, इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, जिसमें बड़े नामचीन कलाकारों द्वारा कला की प्रस्तुति किया जाएगा । संवाददाता सम्मेलन में राष्ट्रीय वैश्य महासभा के प्रदेश महासचिव सह प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता संजय जायसवाल, रूपेश कुमार “अकेला”, देवनारायण गुप्ता, कौशल सिंह , रंजीत कुमार, मनमोहन शर्मा , रामभजन , हरीश कुमार, मनोज कुमार गुप्ता , मनीष मुखिया, केशव कृष्णा, सुमीत कुमार गुप्ता, रंजीत जायसवाल, चंदन सिंह, अभय श्रीवास्तव , रंजीत कुमार, आदि उपस्थित रहे।

durgabhashkar72

Feb 14 2024, 18:14

मोतिहारी /ढाका के खेल मैदान मे आयोजित होने वाले सामुहिक विवाह को लेकर वर वधु पक्ष के लोगो के बीच शादी से संवंधित समाग्री दिया गया ..


..




सामूहिक विवाह हेतू प्रथम चरण में चयनित 75 वर-वधू जोड़ा के लिए पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत आज वस्त्र वितरण कार्यक्रम के तहत मोतिहारी, ढाका, घोडासहन में किया जाना है, जिसके तहत मोतिहारी स्थित होटल सिद्धिविनायक के गाँधी सभागार में से 11 जोड़ा के लिए वस्त्र ( लहँगा चुनरी, शर्ट पैंट ) का वितरण बुधवार को पवन जायसवाल, विधायक ढाका सह प्रदेश अध्यक्ष अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन द्वारा दोनों पक्ष के अभिभावको के बीच किया गया। इस अवसर पर 1 . वधू - कांति कुमारी (सरलाही , नेपाल) , वर - अनिल कुमार (चकिया) ,(2) वधू - अनीता कुमारी(धनुषा ), वर - संजय कुमार(ढाका ), (3) वधू - रंजना कुमारी (चिरैया) वर- मिठू कुमार (पताही) (4) वधू - मनोरमा कुमारी (चिरैया) वर - मिठू राम (ढाका) (5) वधू - किरण कुमारी (मधुबन) वर - रामबाबू पासवान ( पताही) (6) वधू - अमृता कुमारी ( पकड़ीदयाल) वर - राजन मेस्तर (पताही) ( 7) वधू - लक्ष्मी कुमारी (पकड़ीदयाल) वर - गोपीचंद्र बैठा ( पिपराकोठी) (8) वधू - खुशबू कुमारी (पकड़ीदयाल) वर - नथुनी कुमार मेस्तर (ढाका) (9) वर - मेघनाथ पासवान (घोड़ासहन ) वधू -- निभा कुमारी (परसौनी) (10) वधू - अंशु कुमारी वर- वधू जोड़ा के अभिभावकों को वस्त्र वितरण हुआ। विदित हो कि ढाका में पाँचवीं बार फिर 151 कन्याओं का सामूहिक विवाह “ एक विवाह ऐसा भी “ 25 फ़रवरी 2024 (रविवार) को सुबह 9 बजे संध्या 6 बजे के बीच आयोजित किया गया है। श्री जायसवाल ने कहा कि 2010 में निर्दलीय विधायक बनने के बाद मेरे मन में जिज्ञासा था कि समाज सेवा के क्षेत्र में कुछ अलग करना चाहिए और राज्य में पहली बार सामूहिक विवाह के प्रचलन की शुरुआत ढाका की धरती से शुरू किया तथा 2011-2015 के बीच चार आयोजनों में 375 कन्याओं की शादी कराकर आर्थिक बोझ से दबे हुए परिवारों को राहत देने का एक छोटा सा प्रयास किया गया।जिसके बाद चम्पारण के आधा दर्जन से ज़्यादा प्रखंडो तथा कई ज़िलों में सामूहिक विवाह का आयोजन सामाजिक संस्थाओं, प्रबुद्ध लोगों द्वारा किया जाता रहा है। पुन: 2020 के नवम्बर में विधायक बनने का सौभाग्य मिला पर दो वर्षों तक COVID-19 के कारण सामूहिक विवाह नहीं हो पाया इसलिए तीन वर्षों की संख्या का ख़्याल करते इस बार 151 कन्याओं का सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया है। श्री जायसवाल ने कहा कि सामूहिक विवाह हेतू आवेदन फार्म ढाका, घोडासहन के साथ मोतिहारी में निर्धारित स्थलों पर उपलब्ध है , मो० न० - 9955963663 पर फ़ोन कर WHATSUP पर मँगवाया जा सकता है ।आवेदन करने की तिथि को बढ़ाते हुए 20 फ़रवरी 2024 कर दिया गया है, वर-वधू का चयन “पहले आओ -पहले पाओ” के तर्ज़ पर किया जा रहा है। श्री जायसवाल ने कहा कि असहाय परिवारो के सुविधा हेतू सामूहिक विवाह के आवेदन फार्म को पूर्वी चम्पारण, सीतामढ़ी, पश्चिमी चम्पारण, शिवहर ज़िला के सभी मुखिया, प्रमुख, उप प्रमुख, ज़िला पार्षद, शहरी निकाय के मेयर/उप मेयर, वार्ड आयुक्तगण, सिकरहना अनुमंडल के सभी पैक्स अध्यक्ष, सरपंच, वार्ड सदस्यों को पोस्ट आँफिस के माध्यम से भेज दिया गया है ताकि जन प्रतिनिधियों के सहयोग से वैसे परिवारों को सूचना के साथ आवेदन फार्म उपलब्ध हो सके। श्री जायसवाल ने कहा कि सामूहिक विवाह में ढाका विधानसभा सहित किसी भी क्षेत्र के वर-वधू पक्ष आवेदन कर सकते है , सामूहिक बारात बिसरहिया चौक से निकलकर हाई स्कूल ढाका के खेल मैदान पहुँचेगा जहाँ 151 मंडपों में हिन्दू रीति रिवाज एंव मुस्लिम वर-वधू होने पर निकाह हेतू मंच की व्यवस्था किया जाएगा । श्री जायसवाल ने कहा कि वर- वधू पक्ष को पूजा-मटकोर आदि का विधि अपने घर से आना है शादी से सम्बंधित सभी व्यवस्था आयोजन समिति द्वारा किया जाएगा । सामूहिक बारात में सभी दुल्हे राजा को 151 घोड़ा पर 21 बैंड बाजा के साथ शाही बारात के रूप में जन प्रतिनिधिगण, सामाजिक संगठनों, गणमान्य लोगों , पदाधिकारीगण एंव आयोजन समिति के अगुवाई में निकाला जाएगा । विवाहोपरान्त आयोजित कार्यक्रम में प्रत्येक वर-वधू जोड़ा को आयोजन समिति द्वारा 11 हज़ार का चेक एंव लगभग 40 हज़ार रूपया का घर में उपयोग हेतू आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराया जाएगा, ताकि वर- वधू परिवार को राहत मिल सके। श्री जायसवाल ने कहा कि आयोजन की सफलता हेतू आवास, भोजन, सहित 12 उप समिति का गठन किया गया है, जिसमें सक्षम एंव सामाजिक कार्यों में रूचि लेने वाले लोगों को शामिल किया गया है । सामूहिक विवाह के अवसर पर सभी राजनीतिक दलों से जुड़े नेतागण , बिहार के विभिन्न क्षेत्रों में देश-विदेश में बेहतर कार्य के बल पर ख्याति प्राप्त किए 25 महानुभावो को आमंत्रित किया जाएगा, इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, जिसमें बड़े नामचीन कलाकारों द्वारा कला की प्रस्तुति किया जाएगा । संवाददाता सम्मेलन में राष्ट्रीय वैश्य महासभा के प्रदेश महासचिव सह प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता संजय जायसवाल, रूपेश कुमार “अकेला”, देवनारायण गुप्ता, कौशल सिंह , रंजीत कुमार, मनमोहन शर्मा , रामभजन , हरीश कुमार, मनोज कुमार गुप्ता , मनीष मुखिया, केशव कृष्णा, सुमीत कुमार गुप्ता, रंजीत जायसवाल, चंदन सिंह, अभय श्रीवास्तव , रंजीत कुमार, आदि उपस्थित रहे।

durgabhashkar72

Feb 14 2024, 18:14

मोतिहारी /ढाका के खेल मैदान मे आयोजित होने वाले सामुहिक विवाह को लेकर वर वधु पक्ष के लोगो के बीच शादी से संवंधित समाग्री दिया गया ..


..




सामूहिक विवाह हेतू प्रथम चरण में चयनित 75 वर-वधू जोड़ा के लिए पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत आज वस्त्र वितरण कार्यक्रम के तहत मोतिहारी, ढाका, घोडासहन में किया जाना है, जिसके तहत मोतिहारी स्थित होटल सिद्धिविनायक के गाँधी सभागार में से 11 जोड़ा के लिए वस्त्र ( लहँगा चुनरी, शर्ट पैंट ) का वितरण बुधवार को पवन जायसवाल, विधायक ढाका सह प्रदेश अध्यक्ष अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन द्वारा दोनों पक्ष के अभिभावको के बीच किया गया। इस अवसर पर 1 . वधू - कांति कुमारी (सरलाही , नेपाल) , वर - अनिल कुमार (चकिया) ,(2) वधू - अनीता कुमारी(धनुषा ), वर - संजय कुमार(ढाका ), (3) वधू - रंजना कुमारी (चिरैया) वर- मिठू कुमार (पताही) (4) वधू - मनोरमा कुमारी (चिरैया) वर - मिठू राम (ढाका) (5) वधू - किरण कुमारी (मधुबन) वर - रामबाबू पासवान ( पताही) (6) वधू - अमृता कुमारी ( पकड़ीदयाल) वर - राजन मेस्तर (पताही) ( 7) वधू - लक्ष्मी कुमारी (पकड़ीदयाल) वर - गोपीचंद्र बैठा ( पिपराकोठी) (8) वधू - खुशबू कुमारी (पकड़ीदयाल) वर - नथुनी कुमार मेस्तर (ढाका) (9) वर - मेघनाथ पासवान (घोड़ासहन ) वधू -- निभा कुमारी (परसौनी) (10) वधू - अंशु कुमारी वर- वधू जोड़ा के अभिभावकों को वस्त्र वितरण हुआ। विदित हो कि ढाका में पाँचवीं बार फिर 151 कन्याओं का सामूहिक विवाह “ एक विवाह ऐसा भी “ 25 फ़रवरी 2024 (रविवार) को सुबह 9 बजे संध्या 6 बजे के बीच आयोजित किया गया है। श्री जायसवाल ने कहा कि 2010 में निर्दलीय विधायक बनने के बाद मेरे मन में जिज्ञासा था कि समाज सेवा के क्षेत्र में कुछ अलग करना चाहिए और राज्य में पहली बार सामूहिक विवाह के प्रचलन की शुरुआत ढाका की धरती से शुरू किया तथा 2011-2015 के बीच चार आयोजनों में 375 कन्याओं की शादी कराकर आर्थिक बोझ से दबे हुए परिवारों को राहत देने का एक छोटा सा प्रयास किया गया।जिसके बाद चम्पारण के आधा दर्जन से ज़्यादा प्रखंडो तथा कई ज़िलों में सामूहिक विवाह का आयोजन सामाजिक संस्थाओं, प्रबुद्ध लोगों द्वारा किया जाता रहा है। पुन: 2020 के नवम्बर में विधायक बनने का सौभाग्य मिला पर दो वर्षों तक COVID-19 के कारण सामूहिक विवाह नहीं हो पाया इसलिए तीन वर्षों की संख्या का ख़्याल करते इस बार 151 कन्याओं का सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया है। श्री जायसवाल ने कहा कि सामूहिक विवाह हेतू आवेदन फार्म ढाका, घोडासहन के साथ मोतिहारी में निर्धारित स्थलों पर उपलब्ध है , मो० न० - 9955963663 पर फ़ोन कर WHATSUP पर मँगवाया जा सकता है ।आवेदन करने की तिथि को बढ़ाते हुए 20 फ़रवरी 2024 कर दिया गया है, वर-वधू का चयन “पहले आओ -पहले पाओ” के तर्ज़ पर किया जा रहा है। श्री जायसवाल ने कहा कि असहाय परिवारो के सुविधा हेतू सामूहिक विवाह के आवेदन फार्म को पूर्वी चम्पारण, सीतामढ़ी, पश्चिमी चम्पारण, शिवहर ज़िला के सभी मुखिया, प्रमुख, उप प्रमुख, ज़िला पार्षद, शहरी निकाय के मेयर/उप मेयर, वार्ड आयुक्तगण, सिकरहना अनुमंडल के सभी पैक्स अध्यक्ष, सरपंच, वार्ड सदस्यों को पोस्ट आँफिस के माध्यम से भेज दिया गया है ताकि जन प्रतिनिधियों के सहयोग से वैसे परिवारों को सूचना के साथ आवेदन फार्म उपलब्ध हो सके। श्री जायसवाल ने कहा कि सामूहिक विवाह में ढाका विधानसभा सहित किसी भी क्षेत्र के वर-वधू पक्ष आवेदन कर सकते है , सामूहिक बारात बिसरहिया चौक से निकलकर हाई स्कूल ढाका के खेल मैदान पहुँचेगा जहाँ 151 मंडपों में हिन्दू रीति रिवाज एंव मुस्लिम वर-वधू होने पर निकाह हेतू मंच की व्यवस्था किया जाएगा । श्री जायसवाल ने कहा कि वर- वधू पक्ष को पूजा-मटकोर आदि का विधि अपने घर से आना है शादी से सम्बंधित सभी व्यवस्था आयोजन समिति द्वारा किया जाएगा । सामूहिक बारात में सभी दुल्हे राजा को 151 घोड़ा पर 21 बैंड बाजा के साथ शाही बारात के रूप में जन प्रतिनिधिगण, सामाजिक संगठनों, गणमान्य लोगों , पदाधिकारीगण एंव आयोजन समिति के अगुवाई में निकाला जाएगा । विवाहोपरान्त आयोजित कार्यक्रम में प्रत्येक वर-वधू जोड़ा को आयोजन समिति द्वारा 11 हज़ार का चेक एंव लगभग 40 हज़ार रूपया का घर में उपयोग हेतू आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराया जाएगा, ताकि वर- वधू परिवार को राहत मिल सके। श्री जायसवाल ने कहा कि आयोजन की सफलता हेतू आवास, भोजन, सहित 12 उप समिति का गठन किया गया है, जिसमें सक्षम एंव सामाजिक कार्यों में रूचि लेने वाले लोगों को शामिल किया गया है । सामूहिक विवाह के अवसर पर सभी राजनीतिक दलों से जुड़े नेतागण , बिहार के विभिन्न क्षेत्रों में देश-विदेश में बेहतर कार्य के बल पर ख्याति प्राप्त किए 25 महानुभावो को आमंत्रित किया जाएगा, इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, जिसमें बड़े नामचीन कलाकारों द्वारा कला की प्रस्तुति किया जाएगा । संवाददाता सम्मेलन में राष्ट्रीय वैश्य महासभा के प्रदेश महासचिव सह प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता संजय जायसवाल, रूपेश कुमार “अकेला”, देवनारायण गुप्ता, कौशल सिंह , रंजीत कुमार, मनमोहन शर्मा , रामभजन , हरीश कुमार, मनोज कुमार गुप्ता , मनीष मुखिया, केशव कृष्णा, सुमीत कुमार गुप्ता, रंजीत जायसवाल, चंदन सिंह, अभय श्रीवास्तव , रंजीत कुमार, आदि उपस्थित रहे।

durgabhashkar72

Feb 14 2024, 18:14

मोतिहारी /ढाका के खेल मैदान मे आयोजित होने वाले सामुहिक विवाह को लेकर वर वधु पक्ष के लोगो के बीच शादी से संवंधित समाग्री दिया गया ..


..




सामूहिक विवाह हेतू प्रथम चरण में चयनित 75 वर-वधू जोड़ा के लिए पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत आज वस्त्र वितरण कार्यक्रम के तहत मोतिहारी, ढाका, घोडासहन में किया जाना है, जिसके तहत मोतिहारी स्थित होटल सिद्धिविनायक के गाँधी सभागार में से 11 जोड़ा के लिए वस्त्र ( लहँगा चुनरी, शर्ट पैंट ) का वितरण बुधवार को पवन जायसवाल, विधायक ढाका सह प्रदेश अध्यक्ष अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन द्वारा दोनों पक्ष के अभिभावको के बीच किया गया। इस अवसर पर 1 . वधू - कांति कुमारी (सरलाही , नेपाल) , वर - अनिल कुमार (चकिया) ,(2) वधू - अनीता कुमारी(धनुषा ), वर - संजय कुमार(ढाका ), (3) वधू - रंजना कुमारी (चिरैया) वर- मिठू कुमार (पताही) (4) वधू - मनोरमा कुमारी (चिरैया) वर - मिठू राम (ढाका) (5) वधू - किरण कुमारी (मधुबन) वर - रामबाबू पासवान ( पताही) (6) वधू - अमृता कुमारी ( पकड़ीदयाल) वर - राजन मेस्तर (पताही) ( 7) वधू - लक्ष्मी कुमारी (पकड़ीदयाल) वर - गोपीचंद्र बैठा ( पिपराकोठी) (8) वधू - खुशबू कुमारी (पकड़ीदयाल) वर - नथुनी कुमार मेस्तर (ढाका) (9) वर - मेघनाथ पासवान (घोड़ासहन ) वधू -- निभा कुमारी (परसौनी) (10) वधू - अंशु कुमारी वर- वधू जोड़ा के अभिभावकों को वस्त्र वितरण हुआ। विदित हो कि ढाका में पाँचवीं बार फिर 151 कन्याओं का सामूहिक विवाह “ एक विवाह ऐसा भी “ 25 फ़रवरी 2024 (रविवार) को सुबह 9 बजे संध्या 6 बजे के बीच आयोजित किया गया है। श्री जायसवाल ने कहा कि 2010 में निर्दलीय विधायक बनने के बाद मेरे मन में जिज्ञासा था कि समाज सेवा के क्षेत्र में कुछ अलग करना चाहिए और राज्य में पहली बार सामूहिक विवाह के प्रचलन की शुरुआत ढाका की धरती से शुरू किया तथा 2011-2015 के बीच चार आयोजनों में 375 कन्याओं की शादी कराकर आर्थिक बोझ से दबे हुए परिवारों को राहत देने का एक छोटा सा प्रयास किया गया।जिसके बाद चम्पारण के आधा दर्जन से ज़्यादा प्रखंडो तथा कई ज़िलों में सामूहिक विवाह का आयोजन सामाजिक संस्थाओं, प्रबुद्ध लोगों द्वारा किया जाता रहा है। पुन: 2020 के नवम्बर में विधायक बनने का सौभाग्य मिला पर दो वर्षों तक COVID-19 के कारण सामूहिक विवाह नहीं हो पाया इसलिए तीन वर्षों की संख्या का ख़्याल करते इस बार 151 कन्याओं का सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया है। श्री जायसवाल ने कहा कि सामूहिक विवाह हेतू आवेदन फार्म ढाका, घोडासहन के साथ मोतिहारी में निर्धारित स्थलों पर उपलब्ध है , मो० न० - 9955963663 पर फ़ोन कर WHATSUP पर मँगवाया जा सकता है ।आवेदन करने की तिथि को बढ़ाते हुए 20 फ़रवरी 2024 कर दिया गया है, वर-वधू का चयन “पहले आओ -पहले पाओ” के तर्ज़ पर किया जा रहा है। श्री जायसवाल ने कहा कि असहाय परिवारो के सुविधा हेतू सामूहिक विवाह के आवेदन फार्म को पूर्वी चम्पारण, सीतामढ़ी, पश्चिमी चम्पारण, शिवहर ज़िला के सभी मुखिया, प्रमुख, उप प्रमुख, ज़िला पार्षद, शहरी निकाय के मेयर/उप मेयर, वार्ड आयुक्तगण, सिकरहना अनुमंडल के सभी पैक्स अध्यक्ष, सरपंच, वार्ड सदस्यों को पोस्ट आँफिस के माध्यम से भेज दिया गया है ताकि जन प्रतिनिधियों के सहयोग से वैसे परिवारों को सूचना के साथ आवेदन फार्म उपलब्ध हो सके। श्री जायसवाल ने कहा कि सामूहिक विवाह में ढाका विधानसभा सहित किसी भी क्षेत्र के वर-वधू पक्ष आवेदन कर सकते है , सामूहिक बारात बिसरहिया चौक से निकलकर हाई स्कूल ढाका के खेल मैदान पहुँचेगा जहाँ 151 मंडपों में हिन्दू रीति रिवाज एंव मुस्लिम वर-वधू होने पर निकाह हेतू मंच की व्यवस्था किया जाएगा । श्री जायसवाल ने कहा कि वर- वधू पक्ष को पूजा-मटकोर आदि का विधि अपने घर से आना है शादी से सम्बंधित सभी व्यवस्था आयोजन समिति द्वारा किया जाएगा । सामूहिक बारात में सभी दुल्हे राजा को 151 घोड़ा पर 21 बैंड बाजा के साथ शाही बारात के रूप में जन प्रतिनिधिगण, सामाजिक संगठनों, गणमान्य लोगों , पदाधिकारीगण एंव आयोजन समिति के अगुवाई में निकाला जाएगा । विवाहोपरान्त आयोजित कार्यक्रम में प्रत्येक वर-वधू जोड़ा को आयोजन समिति द्वारा 11 हज़ार का चेक एंव लगभग 40 हज़ार रूपया का घर में उपयोग हेतू आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराया जाएगा, ताकि वर- वधू परिवार को राहत मिल सके। श्री जायसवाल ने कहा कि आयोजन की सफलता हेतू आवास, भोजन, सहित 12 उप समिति का गठन किया गया है, जिसमें सक्षम एंव सामाजिक कार्यों में रूचि लेने वाले लोगों को शामिल किया गया है । सामूहिक विवाह के अवसर पर सभी राजनीतिक दलों से जुड़े नेतागण , बिहार के विभिन्न क्षेत्रों में देश-विदेश में बेहतर कार्य के बल पर ख्याति प्राप्त किए 25 महानुभावो को आमंत्रित किया जाएगा, इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, जिसमें बड़े नामचीन कलाकारों द्वारा कला की प्रस्तुति किया जाएगा । संवाददाता सम्मेलन में राष्ट्रीय वैश्य महासभा के प्रदेश महासचिव सह प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता संजय जायसवाल, रूपेश कुमार “अकेला”, देवनारायण गुप्ता, कौशल सिंह , रंजीत कुमार, मनमोहन शर्मा , रामभजन , हरीश कुमार, मनोज कुमार गुप्ता , मनीष मुखिया, केशव कृष्णा, सुमीत कुमार गुप्ता, रंजीत जायसवाल, चंदन सिंह, अभय श्रीवास्तव , रंजीत कुमार, आदि उपस्थित रहे।

durgabhashkar72

Feb 14 2024, 18:13

मोतिहारी /ढाका के खेल मैदान मे आयोजित होने वाले सामुहिक विवाह को लेकर वर वधु पक्ष के लोगो के बीच शादी से संवंधित समाग्री दिया गया ..


..




सामूहिक विवाह हेतू प्रथम चरण में चयनित 75 वर-वधू जोड़ा के लिए पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत आज वस्त्र वितरण कार्यक्रम के तहत मोतिहारी, ढाका, घोडासहन में किया जाना है, जिसके तहत मोतिहारी स्थित होटल सिद्धिविनायक के गाँधी सभागार में से 11 जोड़ा के लिए वस्त्र ( लहँगा चुनरी, शर्ट पैंट ) का वितरण बुधवार को पवन जायसवाल, विधायक ढाका सह प्रदेश अध्यक्ष अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन द्वारा दोनों पक्ष के अभिभावको के बीच किया गया। इस अवसर पर 1 . वधू - कांति कुमारी (सरलाही , नेपाल) , वर - अनिल कुमार (चकिया) ,(2) वधू - अनीता कुमारी(धनुषा ), वर - संजय कुमार(ढाका ), (3) वधू - रंजना कुमारी (चिरैया) वर- मिठू कुमार (पताही) (4) वधू - मनोरमा कुमारी (चिरैया) वर - मिठू राम (ढाका) (5) वधू - किरण कुमारी (मधुबन) वर - रामबाबू पासवान ( पताही) (6) वधू - अमृता कुमारी ( पकड़ीदयाल) वर - राजन मेस्तर (पताही) ( 7) वधू - लक्ष्मी कुमारी (पकड़ीदयाल) वर - गोपीचंद्र बैठा ( पिपराकोठी) (8) वधू - खुशबू कुमारी (पकड़ीदयाल) वर - नथुनी कुमार मेस्तर (ढाका) (9) वर - मेघनाथ पासवान (घोड़ासहन ) वधू -- निभा कुमारी (परसौनी) (10) वधू - अंशु कुमारी वर- वधू जोड़ा के अभिभावकों को वस्त्र वितरण हुआ। विदित हो कि ढाका में पाँचवीं बार फिर 151 कन्याओं का सामूहिक विवाह “ एक विवाह ऐसा भी “ 25 फ़रवरी 2024 (रविवार) को सुबह 9 बजे संध्या 6 बजे के बीच आयोजित किया गया है। श्री जायसवाल ने कहा कि 2010 में निर्दलीय विधायक बनने के बाद मेरे मन में जिज्ञासा था कि समाज सेवा के क्षेत्र में कुछ अलग करना चाहिए और राज्य में पहली बार सामूहिक विवाह के प्रचलन की शुरुआत ढाका की धरती से शुरू किया तथा 2011-2015 के बीच चार आयोजनों में 375 कन्याओं की शादी कराकर आर्थिक बोझ से दबे हुए परिवारों को राहत देने का एक छोटा सा प्रयास किया गया।जिसके बाद चम्पारण के आधा दर्जन से ज़्यादा प्रखंडो तथा कई ज़िलों में सामूहिक विवाह का आयोजन सामाजिक संस्थाओं, प्रबुद्ध लोगों द्वारा किया जाता रहा है। पुन: 2020 के नवम्बर में विधायक बनने का सौभाग्य मिला पर दो वर्षों तक COVID-19 के कारण सामूहिक विवाह नहीं हो पाया इसलिए तीन वर्षों की संख्या का ख़्याल करते इस बार 151 कन्याओं का सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया है। श्री जायसवाल ने कहा कि सामूहिक विवाह हेतू आवेदन फार्म ढाका, घोडासहन के साथ मोतिहारी में निर्धारित स्थलों पर उपलब्ध है , मो० न० - 9955963663 पर फ़ोन कर WHATSUP पर मँगवाया जा सकता है ।आवेदन करने की तिथि को बढ़ाते हुए 20 फ़रवरी 2024 कर दिया गया है, वर-वधू का चयन “पहले आओ -पहले पाओ” के तर्ज़ पर किया जा रहा है। श्री जायसवाल ने कहा कि असहाय परिवारो के सुविधा हेतू सामूहिक विवाह के आवेदन फार्म को पूर्वी चम्पारण, सीतामढ़ी, पश्चिमी चम्पारण, शिवहर ज़िला के सभी मुखिया, प्रमुख, उप प्रमुख, ज़िला पार्षद, शहरी निकाय के मेयर/उप मेयर, वार्ड आयुक्तगण, सिकरहना अनुमंडल के सभी पैक्स अध्यक्ष, सरपंच, वार्ड सदस्यों को पोस्ट आँफिस के माध्यम से भेज दिया गया है ताकि जन प्रतिनिधियों के सहयोग से वैसे परिवारों को सूचना के साथ आवेदन फार्म उपलब्ध हो सके। श्री जायसवाल ने कहा कि सामूहिक विवाह में ढाका विधानसभा सहित किसी भी क्षेत्र के वर-वधू पक्ष आवेदन कर सकते है , सामूहिक बारात बिसरहिया चौक से निकलकर हाई स्कूल ढाका के खेल मैदान पहुँचेगा जहाँ 151 मंडपों में हिन्दू रीति रिवाज एंव मुस्लिम वर-वधू होने पर निकाह हेतू मंच की व्यवस्था किया जाएगा । श्री जायसवाल ने कहा कि वर- वधू पक्ष को पूजा-मटकोर आदि का विधि अपने घर से आना है शादी से सम्बंधित सभी व्यवस्था आयोजन समिति द्वारा किया जाएगा । सामूहिक बारात में सभी दुल्हे राजा को 151 घोड़ा पर 21 बैंड बाजा के साथ शाही बारात के रूप में जन प्रतिनिधिगण, सामाजिक संगठनों, गणमान्य लोगों , पदाधिकारीगण एंव आयोजन समिति के अगुवाई में निकाला जाएगा । विवाहोपरान्त आयोजित कार्यक्रम में प्रत्येक वर-वधू जोड़ा को आयोजन समिति द्वारा 11 हज़ार का चेक एंव लगभग 40 हज़ार रूपया का घर में उपयोग हेतू आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराया जाएगा, ताकि वर- वधू परिवार को राहत मिल सके। श्री जायसवाल ने कहा कि आयोजन की सफलता हेतू आवास, भोजन, सहित 12 उप समिति का गठन किया गया है, जिसमें सक्षम एंव सामाजिक कार्यों में रूचि लेने वाले लोगों को शामिल किया गया है । सामूहिक विवाह के अवसर पर सभी राजनीतिक दलों से जुड़े नेतागण , बिहार के विभिन्न क्षेत्रों में देश-विदेश में बेहतर कार्य के बल पर ख्याति प्राप्त किए 25 महानुभावो को आमंत्रित किया जाएगा, इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, जिसमें बड़े नामचीन कलाकारों द्वारा कला की प्रस्तुति किया जाएगा । संवाददाता सम्मेलन में राष्ट्रीय वैश्य महासभा के प्रदेश महासचिव सह प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता संजय जायसवाल, रूपेश कुमार “अकेला”, देवनारायण गुप्ता, कौशल सिंह , रंजीत कुमार, मनमोहन शर्मा , रामभजन , हरीश कुमार, मनोज कुमार गुप्ता , मनीष मुखिया, केशव कृष्णा, सुमीत कुमार गुप्ता, रंजीत जायसवाल, चंदन सिंह, अभय श्रीवास्तव , रंजीत कुमार, आदि उपस्थित रहे।

durgabhashkar72

Feb 14 2024, 18:12

मोतिहारी /ढाका के खेल मैदान मे आयोजित होने वाले सामुहिक विवाह को लेकर वर वधु पक्ष के लोगो के बीच शादी से संवंधित समाग्री दिया गया ..


..




सामूहिक विवाह हेतू प्रथम चरण में चयनित 75 वर-वधू जोड़ा के लिए पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत आज वस्त्र वितरण कार्यक्रम के तहत मोतिहारी, ढाका, घोडासहन में किया जाना है, जिसके तहत मोतिहारी स्थित होटल सिद्धिविनायक के गाँधी सभागार में से 11 जोड़ा के लिए वस्त्र ( लहँगा चुनरी, शर्ट पैंट ) का वितरण बुधवार को पवन जायसवाल, विधायक ढाका सह प्रदेश अध्यक्ष अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन द्वारा दोनों पक्ष के अभिभावको के बीच किया गया। इस अवसर पर 1 . वधू - कांति कुमारी (सरलाही , नेपाल) , वर - अनिल कुमार (चकिया) ,(2) वधू - अनीता कुमारी(धनुषा ), वर - संजय कुमार(ढाका ), (3) वधू - रंजना कुमारी (चिरैया) वर- मिठू कुमार (पताही) (4) वधू - मनोरमा कुमारी (चिरैया) वर - मिठू राम (ढाका) (5) वधू - किरण कुमारी (मधुबन) वर - रामबाबू पासवान ( पताही) (6) वधू - अमृता कुमारी ( पकड़ीदयाल) वर - राजन मेस्तर (पताही) ( 7) वधू - लक्ष्मी कुमारी (पकड़ीदयाल) वर - गोपीचंद्र बैठा ( पिपराकोठी) (8) वधू - खुशबू कुमारी (पकड़ीदयाल) वर - नथुनी कुमार मेस्तर (ढाका) (9) वर - मेघनाथ पासवान (घोड़ासहन ) वधू -- निभा कुमारी (परसौनी) (10) वधू - अंशु कुमारी वर- वधू जोड़ा के अभिभावकों को वस्त्र वितरण हुआ। विदित हो कि ढाका में पाँचवीं बार फिर 151 कन्याओं का सामूहिक विवाह “ एक विवाह ऐसा भी “ 25 फ़रवरी 2024 (रविवार) को सुबह 9 बजे संध्या 6 बजे के बीच आयोजित किया गया है। श्री जायसवाल ने कहा कि 2010 में निर्दलीय विधायक बनने के बाद मेरे मन में जिज्ञासा था कि समाज सेवा के क्षेत्र में कुछ अलग करना चाहिए और राज्य में पहली बार सामूहिक विवाह के प्रचलन की शुरुआत ढाका की धरती से शुरू किया तथा 2011-2015 के बीच चार आयोजनों में 375 कन्याओं की शादी कराकर आर्थिक बोझ से दबे हुए परिवारों को राहत देने का एक छोटा सा प्रयास किया गया।जिसके बाद चम्पारण के आधा दर्जन से ज़्यादा प्रखंडो तथा कई ज़िलों में सामूहिक विवाह का आयोजन सामाजिक संस्थाओं, प्रबुद्ध लोगों द्वारा किया जाता रहा है। पुन: 2020 के नवम्बर में विधायक बनने का सौभाग्य मिला पर दो वर्षों तक COVID-19 के कारण सामूहिक विवाह नहीं हो पाया इसलिए तीन वर्षों की संख्या का ख़्याल करते इस बार 151 कन्याओं का सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया है। श्री जायसवाल ने कहा कि सामूहिक विवाह हेतू आवेदन फार्म ढाका, घोडासहन के साथ मोतिहारी में निर्धारित स्थलों पर उपलब्ध है , मो० न० - 9955963663 पर फ़ोन कर WHATSUP पर मँगवाया जा सकता है ।आवेदन करने की तिथि को बढ़ाते हुए 20 फ़रवरी 2024 कर दिया गया है, वर-वधू का चयन “पहले आओ -पहले पाओ” के तर्ज़ पर किया जा रहा है। श्री जायसवाल ने कहा कि असहाय परिवारो के सुविधा हेतू सामूहिक विवाह के आवेदन फार्म को पूर्वी चम्पारण, सीतामढ़ी, पश्चिमी चम्पारण, शिवहर ज़िला के सभी मुखिया, प्रमुख, उप प्रमुख, ज़िला पार्षद, शहरी निकाय के मेयर/उप मेयर, वार्ड आयुक्तगण, सिकरहना अनुमंडल के सभी पैक्स अध्यक्ष, सरपंच, वार्ड सदस्यों को पोस्ट आँफिस के माध्यम से भेज दिया गया है ताकि जन प्रतिनिधियों के सहयोग से वैसे परिवारों को सूचना के साथ आवेदन फार्म उपलब्ध हो सके। श्री जायसवाल ने कहा कि सामूहिक विवाह में ढाका विधानसभा सहित किसी भी क्षेत्र के वर-वधू पक्ष आवेदन कर सकते है , सामूहिक बारात बिसरहिया चौक से निकलकर हाई स्कूल ढाका के खेल मैदान पहुँचेगा जहाँ 151 मंडपों में हिन्दू रीति रिवाज एंव मुस्लिम वर-वधू होने पर निकाह हेतू मंच की व्यवस्था किया जाएगा । श्री जायसवाल ने कहा कि वर- वधू पक्ष को पूजा-मटकोर आदि का विधि अपने घर से आना है शादी से सम्बंधित सभी व्यवस्था आयोजन समिति द्वारा किया जाएगा । सामूहिक बारात में सभी दुल्हे राजा को 151 घोड़ा पर 21 बैंड बाजा के साथ शाही बारात के रूप में जन प्रतिनिधिगण, सामाजिक संगठनों, गणमान्य लोगों , पदाधिकारीगण एंव आयोजन समिति के अगुवाई में निकाला जाएगा । विवाहोपरान्त आयोजित कार्यक्रम में प्रत्येक वर-वधू जोड़ा को आयोजन समिति द्वारा 11 हज़ार का चेक एंव लगभग 40 हज़ार रूपया का घर में उपयोग हेतू आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराया जाएगा, ताकि वर- वधू परिवार को राहत मिल सके। श्री जायसवाल ने कहा कि आयोजन की सफलता हेतू आवास, भोजन, सहित 12 उप समिति का गठन किया गया है, जिसमें सक्षम एंव सामाजिक कार्यों में रूचि लेने वाले लोगों को शामिल किया गया है । सामूहिक विवाह के अवसर पर सभी राजनीतिक दलों से जुड़े नेतागण , बिहार के विभिन्न क्षेत्रों में देश-विदेश में बेहतर कार्य के बल पर ख्याति प्राप्त किए 25 महानुभावो को आमंत्रित किया जाएगा, इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, जिसमें बड़े नामचीन कलाकारों द्वारा कला की प्रस्तुति किया जाएगा । संवाददाता सम्मेलन में राष्ट्रीय वैश्य महासभा के प्रदेश महासचिव सह प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता संजय जायसवाल, रूपेश कुमार “अकेला”, देवनारायण गुप्ता, कौशल सिंह , रंजीत कुमार, मनमोहन शर्मा , रामभजन , हरीश कुमार, मनोज कुमार गुप्ता , मनीष मुखिया, केशव कृष्णा, सुमीत कुमार गुप्ता, रंजीत जायसवाल, चंदन सिंह, अभय श्रीवास्तव , रंजीत कुमार, आदि उपस्थित रहे।

durgabhashkar72

Feb 14 2024, 18:10

मोतिहारी /ढाका के खेल मैदान मे आयोजित होने वाले सामुहिक विवाह को लेकर वर वधु पक्ष के लोगो के बीच शादी से संवंधित समाग्री दिया गया ..


..




सामूहिक विवाह हेतू प्रथम चरण में चयनित 75 वर-वधू जोड़ा के लिए पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत आज वस्त्र वितरण कार्यक्रम के तहत मोतिहारी, ढाका, घोडासहन में किया जाना है, जिसके तहत मोतिहारी स्थित होटल सिद्धिविनायक के गाँधी सभागार में से 11 जोड़ा के लिए वस्त्र ( लहँगा चुनरी, शर्ट पैंट ) का वितरण बुधवार को पवन जायसवाल, विधायक ढाका सह प्रदेश अध्यक्ष अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन द्वारा दोनों पक्ष के अभिभावको के बीच किया गया। इस अवसर पर 1 . वधू - कांति कुमारी (सरलाही , नेपाल) , वर - अनिल कुमार (चकिया) ,(2) वधू - अनीता कुमारी(धनुषा ), वर - संजय कुमार(ढाका ), (3) वधू - रंजना कुमारी (चिरैया) वर- मिठू कुमार (पताही) (4) वधू - मनोरमा कुमारी (चिरैया) वर - मिठू राम (ढाका) (5) वधू - किरण कुमारी (मधुबन) वर - रामबाबू पासवान ( पताही) (6) वधू - अमृता कुमारी ( पकड़ीदयाल) वर - राजन मेस्तर (पताही) ( 7) वधू - लक्ष्मी कुमारी (पकड़ीदयाल) वर - गोपीचंद्र बैठा ( पिपराकोठी) (8) वधू - खुशबू कुमारी (पकड़ीदयाल) वर - नथुनी कुमार मेस्तर (ढाका) (9) वर - मेघनाथ पासवान (घोड़ासहन ) वधू -- निभा कुमारी (परसौनी) (10) वधू - अंशु कुमारी वर- वधू जोड़ा के अभिभावकों को वस्त्र वितरण हुआ। विदित हो कि ढाका में पाँचवीं बार फिर 151 कन्याओं का सामूहिक विवाह “ एक विवाह ऐसा भी “ 25 फ़रवरी 2024 (रविवार) को सुबह 9 बजे संध्या 6 बजे के बीच आयोजित किया गया है। श्री जायसवाल ने कहा कि 2010 में निर्दलीय विधायक बनने के बाद मेरे मन में जिज्ञासा था कि समाज सेवा के क्षेत्र में कुछ अलग करना चाहिए और राज्य में पहली बार सामूहिक विवाह के प्रचलन की शुरुआत ढाका की धरती से शुरू किया तथा 2011-2015 के बीच चार आयोजनों में 375 कन्याओं की शादी कराकर आर्थिक बोझ से दबे हुए परिवारों को राहत देने का एक छोटा सा प्रयास किया गया।जिसके बाद चम्पारण के आधा दर्जन से ज़्यादा प्रखंडो तथा कई ज़िलों में सामूहिक विवाह का आयोजन सामाजिक संस्थाओं, प्रबुद्ध लोगों द्वारा किया जाता रहा है। पुन: 2020 के नवम्बर में विधायक बनने का सौभाग्य मिला पर दो वर्षों तक COVID-19 के कारण सामूहिक विवाह नहीं हो पाया इसलिए तीन वर्षों की संख्या का ख़्याल करते इस बार 151 कन्याओं का सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया है। श्री जायसवाल ने कहा कि सामूहिक विवाह हेतू आवेदन फार्म ढाका, घोडासहन के साथ मोतिहारी में निर्धारित स्थलों पर उपलब्ध है , मो० न० - 9955963663 पर फ़ोन कर WHATSUP पर मँगवाया जा सकता है ।आवेदन करने की तिथि को बढ़ाते हुए 20 फ़रवरी 2024 कर दिया गया है, वर-वधू का चयन “पहले आओ -पहले पाओ” के तर्ज़ पर किया जा रहा है। श्री जायसवाल ने कहा कि असहाय परिवारो के सुविधा हेतू सामूहिक विवाह के आवेदन फार्म को पूर्वी चम्पारण, सीतामढ़ी, पश्चिमी चम्पारण, शिवहर ज़िला के सभी मुखिया, प्रमुख, उप प्रमुख, ज़िला पार्षद, शहरी निकाय के मेयर/उप मेयर, वार्ड आयुक्तगण, सिकरहना अनुमंडल के सभी पैक्स अध्यक्ष, सरपंच, वार्ड सदस्यों को पोस्ट आँफिस के माध्यम से भेज दिया गया है ताकि जन प्रतिनिधियों के सहयोग से वैसे परिवारों को सूचना के साथ आवेदन फार्म उपलब्ध हो सके। श्री जायसवाल ने कहा कि सामूहिक विवाह में ढाका विधानसभा सहित किसी भी क्षेत्र के वर-वधू पक्ष आवेदन कर सकते है , सामूहिक बारात बिसरहिया चौक से निकलकर हाई स्कूल ढाका के खेल मैदान पहुँचेगा जहाँ 151 मंडपों में हिन्दू रीति रिवाज एंव मुस्लिम वर-वधू होने पर निकाह हेतू मंच की व्यवस्था किया जाएगा । श्री जायसवाल ने कहा कि वर- वधू पक्ष को पूजा-मटकोर आदि का विधि अपने घर से आना है शादी से सम्बंधित सभी व्यवस्था आयोजन समिति द्वारा किया जाएगा । सामूहिक बारात में सभी दुल्हे राजा को 151 घोड़ा पर 21 बैंड बाजा के साथ शाही बारात के रूप में जन प्रतिनिधिगण, सामाजिक संगठनों, गणमान्य लोगों , पदाधिकारीगण एंव आयोजन समिति के अगुवाई में निकाला जाएगा । विवाहोपरान्त आयोजित कार्यक्रम में प्रत्येक वर-वधू जोड़ा को आयोजन समिति द्वारा 11 हज़ार का चेक एंव लगभग 40 हज़ार रूपया का घर में उपयोग हेतू आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराया जाएगा, ताकि वर- वधू परिवार को राहत मिल सके। श्री जायसवाल ने कहा कि आयोजन की सफलता हेतू आवास, भोजन, सहित 12 उप समिति का गठन किया गया है, जिसमें सक्षम एंव सामाजिक कार्यों में रूचि लेने वाले लोगों को शामिल किया गया है । सामूहिक विवाह के अवसर पर सभी राजनीतिक दलों से जुड़े नेतागण , बिहार के विभिन्न क्षेत्रों में देश-विदेश में बेहतर कार्य के बल पर ख्याति प्राप्त किए 25 महानुभावो को आमंत्रित किया जाएगा, इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, जिसमें बड़े नामचीन कलाकारों द्वारा कला की प्रस्तुति किया जाएगा । संवाददाता सम्मेलन में राष्ट्रीय वैश्य महासभा के प्रदेश महासचिव सह प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता संजय जायसवाल, रूपेश कुमार “अकेला”, देवनारायण गुप्ता, कौशल सिंह , रंजीत कुमार, मनमोहन शर्मा , रामभजन , हरीश कुमार, मनोज कुमार गुप्ता , मनीष मुखिया, केशव कृष्णा, सुमीत कुमार गुप्ता, रंजीत जायसवाल, चंदन सिंह, अभय श्रीवास्तव , रंजीत कुमार, आदि उपस्थित रहे।