India

Nov 30 2023, 14:37

फिर सुप्रीम कोर्ट पहुंचे दिल्ली के पूर्व डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, जमानत के लिए दाखिल की पुनर्विचार याचिका

#manish_sisodia_files_review_petition_in_supreme_court 

आम आदमी पार्टी नेता और दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने एक बार फिर सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है। सिसोदिया ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दाखिल की है।सुप्रीम कोर्ट से जमानत नहीं मिलने पर उन्होंने यह याचिका दायर की है। बता दें क‍ि जस्टिस संजीव खन्ना और एसवीएन भट्टी की पीठ ने 30 अक्टूबर को सिसोदिया को जमानत देने से इनकार कर दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि अगर निचली अदालत में ट्रायल मे देरी होती है तो सिसोदिया तीन महीने बाद जमानत याचिका दाखिल कर सकते है।

शीर्ष अदालत ने 30 अक्टूबर को उन्हें जमानत देने से इनकार कर दिया था और कहा था कि शराब के थोक ‘डीलर’ को 338 करोड़ रुपये का फायदा पहुंचाने के आरोप का साक्ष्य अस्थायी रूप से समर्थन करता है।कोर्ट ने यह भी कहा था कि अगर निचली अदालत में 6 महीने में मुकदमा खत्म नहीं होता तो मनीष सिसोदिया जमानत के लिए दोबारा आवेदन दे सकते हैं।

अदालत ने यह भी कहा था, यह राशि थोक वितरकों द्वारा दस महीनों की अवधि में अर्जित की गई थी। इस आंकड़े पर विवाद या चुनौती नहीं दी जा सकती है। इस प्रकार नई आबकारी नीति का उद्देश्य कुछ चुनिंदा थोक वितरकों को अप्रत्याशित लाभ देना था, जो बदले में रिश्वत देने के लिए सहमत हुए थे। पीठ ने सीबीआई(केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो) के आरोप-पत्र पर टिप्पणी करते हुए कहा था कि अपीलकर्ता मनीष सिसोदिया की साजिश और संलिप्तता पूरी तरह से स्थापित हो चुका है।

हाल ही में दिल्ली के आबकारी नीति मामले में सिसोदिया को राउज एवेन्यू कोर्ट से भी राहत नहीं मिली। कोर्ट ने उनकी न्यायिक हिरासत को 11 दिसंबर तक के लिए बढ़ा दिया है। अदालत ने कहा था कि प्रवर्तन निदेशालय की ओर से कई दस्तावेज दाखिल करना बाकी है।

बता दें कि शराब घोटला मामले में सिसोदिया इस साल 26 फरवरी से जेल में हैं। उनकी जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) दोनों द्वारा की जा रही है। मनीष स‍िसोद‍िया पर आरोप है क‍ि दिल्ली सरकार के अधिकारियों ने रिश्वत के बदले कुछ व्यापारियों को शराब लाइसेंस देने में मिलीभगत की थी। आरोपी अधिकारियों पर कुछ शराब विक्रेताओं को फायदा पहुंचाने के लिए आबकारी नीति में बदलाव करने का आरोप है।

Gaya

Nov 04 2023, 07:55

पटना सिटी में भूकंप के झटके किए गए महसूस

Manish patna 

इस वक्त की बड़ी खबर राजधानी पटना से पटना सिटी में भूकंप के झटके महसूस किए गए वही भूकंप के झटके लगभग 20 से 25 सेकंड तक रहा.

औरंगाबाद में भी 2बार भूकंप का झटका महसूस किया गया है

India

May 23 2023, 14:19

पेशी के लिए आए सिसोदिया को पुलिस ने गर्दन पकड़कर खींचा, वीडियो शेयर कर केजरीवाल ने पूछा-क्या ऊपर से आदेश है?

#policemisbehavedwithmanishsisodia

दिल्ली आबकारी नीति मामले में पूर्व उप मुख्यमंत्री व आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया के साथ पुलिस के दुर्व्यवहार का मामला सामने आया है। जिसको लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने भी ट्वीट कर केंद्र सरकार पर हमला बोला।दरअसल, आज मनीष सिसोदिया को पेशी के लिए पुलिस राउज एवेन्यू कोर्ट ले गई थी। इस दौरान पुलिस मनीष सिसोदिया को सुरक्षा घेरे में ले जाते दिखी।पेशी के लिए ले जाते वक्त पुलिस आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया को गर्दन से पकड़कर ले जाते दिखी। इसको लेकर आम आदमी पार्टी ने उनके साथ दुव्र्यवहार करने का आरोप लगाया है।

पुलिस पर सिसोदिया के साथ दुर्व्यवहार का आरोप

दरअसल, मामले से जुड़ा एक वीडियो पहले दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने ट्वीट किया। जिसमें उन्होंने लिखा, ' राउज एवेन्यू कोर्ट में एक पुलिसकर्मी द्वारा मनीष जी के साथ चौंकाने वाला दुर्व्यवहार। दिल्ली पुलिस को उन्हें तुरंत सस्पेंड करना चाहिए'। इसके कुछ ही देर बाद इस ट्वीट को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा, क्या पुलिस को इस तरह मनीष जी के साथ दुर्व्यवहार करने का अधिकार है? क्या पुलिस को ऐसा करने के लिए ऊपर से कहा गया है'? साथ ही अन्य आप नेताओं ने भी पुलिस के इस व्यवहार पर आपत्ति जताई है।

दिल्ली पुलिस ने आरोपों पर दिया ये जवाब

वहीं, सीएम केजरीवाल और आप नेताओं द्वारा लगाए आरोपों पर अब दिल्ली पुलिस का जवाब आया है। दिल्ली पुलिस ने दुर्व्यवहार के आरोपों को दुष्प्रचार बताया है। पुलिस की ओर से जारी बयान में कहा गया, 'वीडियो में प्रचारित पुलिस की प्रतिक्रिया सुरक्षा की दृष्टि से अनिवार्य थी।'

बता दें, इस मामले में घिरे मनीष सिसोदिया की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। राउज एवेन्यू कोर्ट ने मनीष सिसोदिया की न्यायिक हिरासत 1 जून तक के लिए बढ़ा दी है।

India

Mar 17 2023, 16:32

मनीष सिसोदिया की ईडी रिमांड पांच दिन और बढ़ी, अब 22 मार्च को कोर्ट में पेशी

#manishsisodiadelhiliquorscamedcustody 

मनीष सिसोदिया की ईडी रिमांड पांच दिन और बढ़ गई है। दिल्ली आबकारी नीति मामले में गिरफ्तार आप नेता मनीष सिसोदिया को राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया गया। यहां पर उनकी रिमांड को लेकर सुनवाई हुई। इस दौरान ईडी ने मनीष सिसोदिया की रिमांड बढ़ाने की मांग की। कोर्ट ने उनकी रिमांड 5 दिन और बढ़ा दी है।ईडी ने अदालत से सिसोदिया की सात और दिन की रिमांड मांगी थी।

ईडी ने अदालत में अपना पक्ष रखते हुए कहा कि अगर सिसोदिया की रिमांड नहीं मिली तो अब तक जो भी जांच हुई है सब बेकार हो जाएगी। ईडी ने कोर्ट में कहा कि जांच अहम मोड़ पर है अगर अभी हिरासत नहीं मिली तो सब मेहनत बेकार जाएगी। जांच एजेंसी ने बताया कि सिसोदिया से सीसीटीवी की निगरानी में पूछताछ जारी है। 18, 19 तारीख को बयान दर्ज करने के लिए दो लोगों को बुलाया है। 

ईडी ने कहा कि मामले की शिकायत होते ही 22 जुलाई को मोबाइल बदला। पूछताछ में सिसोदिया बता नहीं पाए कि उस फोन का क्या किया। इसलिए इलेक्ट्रॉनिक डाटा को लेकर भी पूछताछ करनी है। ईडी ने दावा किया कि सिसोदिया के कम्प्यूटर से मिले मार्च 2019 के दस्तावेज में 5 फीसदी कमीशन था जो सितम्बर 2022 में बढ़ाकर 12 प्रतिशत कर दिया गया। साउथ लॉबी के कहने पर ऐसा किया गया।

सिसोदिया के वकील का दावा- 7 दिनों में सिर्फ 11 घंटे ही पूछताछ

वहीं, सिसोदिया के वकील ने पक्ष रखा कि पूछताछ के नाम पर एजेंसी उन्हें सिर्फ इधर-उधर बैठाती है। सात दिनों में सिर्फ 11 घंटे ही पूछताछ हुई है। मनीष के वकील ने कहा कि ईडी अपनी रिमांड में जो भी पूछना चाहती है, वो पहले ही सीबीआई अपनी रिमांड में पूछ चुकी है। इसमें कुछ नया नहीं है। ये सिर्फ ईडी का रिमांड लेने का तरीका है।

26 फरवरी को हुई थी सिसोदा की गिरफ्तारी

दिल्ली के पूर्व सीएम मनीष सिसोदिया को आबकारी नीति में बदलाव कर कथित घोटाले के आरोप में बीती 26 फरवरी को गिरफ्तार किया था। तिहाड़ जेल में बंद रहने के दौरान ही ईडी ने मनीष सिसोदिया को 9 मार्च को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार कर लिया था। ईडी ने दिल्ली आबकारी नीति मामले में कथित अनियमितताओं से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सिसोदिया से तिहाड़ जेल में पूछताछ भी की थी। गिरफ्तारी के बाद ईडी ने मनीष सिसोदिया को कोर्ट में पेश किया था, जहां कोर्ट ने उन्हें ईडी की रिमांड में भेज दिया था।

నిజంనిప్పులాంటిది

Mar 11 2023, 20:53

Delhi Liquor Scam Case : ముగిసిన కవిత ఈడీ విచారణ.. ఎనిమిది గంటలుగా ఏమేం ప్రశ్నించారు..!?

ఏమేం ప్రశ్నించారు..!?

1. ఢిల్లీ మద్యం పాలసీలో మార్పులు చేసింది మీరేనా..?

2. ఈ మార్పులు చేర్పులు వెనుక ఎవరెవరి పాత్ర ఉంది.. మనీష్ సిసోడియాతో (Manish Sisodia) పరిచయం ఎలా ఏర్పడింది..!?

3. ఢిల్లీ గవర్నమెంట్‌కు (Delhi Govt)- సౌత్‌గ్రూప్‌నకు మధ్యవర్తి మీరేనా..?

4. ఢిల్లీ మద్యం వ్యాపారంతో మీకున్న సంబంధమేంటి..?

5. లిక్కర్ స్కామ్‌లో మీ పాత్ర ఉందా.. లేదా..?

6. అరుణ్ రామచంద్ర పిళ్లై మీకు బినామీనా కాదా..?

7. మీ ప్రతినిధని పిళ్లై చెప్పిన దాంట్లో నిజమెంత..?

8. పిళ్లైకు.. మీకు (కవితకు) మధ్య ఆర్థిక లావాదేవీలు ఏమైనా జరిగాయా..?

9. రామచంద్రతో వ్యాపారం చేస్తే నాతో చేసినట్లే అని మీరు చెప్పలేదా..?

10. సౌత్‌గ్రూప్‌తో మీకున్న సంబంధాలేంటి..?

11. ఛార్టెడ్ ఫ్లైట్‌లో వెళ్లి రూ. 130 కోట్లు లంచం ఇచ్చారా..?

12. 130 కోట్లు డబ్బు ఎక్కడ్నుంచి వచ్చింది.. ఎవరిచ్చారు..?

13. ఛార్డెడ్ ఫ్లైట్ మీకు ఎవరు సమకూర్చారు..?

14. ఆరోపణలు ఎదుర్కొంటున్న వారిని ఎప్పుడైనా కలిశారా..?

15. ఫేస్‌టైమ్‌లో మీరు సమీర్ మహేంద్రుతో మాట్లాడారా.. లేదా..?

16. శరత్ చంద్రారెడ్డిని ఎన్నిసార్లు కలిశారు..?

17. శరత్ చంద్రాతో తరుచూ మాట్లాడాల్సిన అవసరం ఏంటి..?

18. ఆధారాలు మాయం చేసేందుకు సెల్‌ఫోన్లు ధ్వంసం చేశారా..?

19. సెల్‌ఫోన్లు ఎందుకు ధ్వంసం చేశారు..?

20. గోరంట్ల బుచ్చిబాబుకు మీకున్న సంబంధమేంటి..? అని కవితను ప్రశ్నించినట్లు విశ్వసనీయ వర్గాల సమాచారం..

India

Mar 10 2023, 11:22

तिहाड़ से सिसोदिया ने देश के नाम लिखी चिट्ठी, कहा- भले ही जेल की राजनीति सफल हो रही, लेकिन...

#manishsisodialetterfromtihar_jail 

दिल्ली के पूर्व डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया इस समय शराब घोटाले मामले में तिहाड़ जेल में बंद हैं। गिरफ्तारी के बाद आज उनकी जमानत पर कोर्ट में सुनवाई होनी है। लेकिन उससे एक दिन पहले ही प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी ने दिल्ली एक्साइज घोटाला मामले में उन्हें गिरफ्तार कर लिया। इस बीच मनीष सिसोदिया का तिहाड़ जेल से देश के नाम लिखा पत्र सामने आया है। इस पत्र को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्विटर पर शेयर किया है। केजरीवाल ने लिखा कि मनीष सिसोदिया ने जेल से देश के नाम पत्र लिखा। बीजेपी लोगों को जेल में डालने की राजनीति करती है, हम बच्चों को पढ़ाने की राजनीति कर रहे हैं। जेल भेजना आसान है, बच्चों को पढ़ाना बहुत मुश्किल। 

मनीष सिसोदिया ने अपनी चिट्ठी का शीर्षक 'शिक्षा, राजनीति और जेल' लिखा है। भाजपा की केंद्र सरकार पर षड्यंत्र का आरोप लगाते हुए सिसोदिया ने अपने पत्र में लिखा कि भाजपा लोगों को जेल में डालने की राजनीति कर रही है। हम बच्चों को पढ़ाने की राजनीति कर रहे हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का गुनाह इतना है कि प्रधानमंत्री के समक्ष वैकल्पिक राजनीति खड़ी कर दी, इसलिए केजरीवाल सरकार के दो मंत्री फिलहाल जेल में हैं। जेल की राजनीति भले ही सफल होते दिख रही है, लेकिन भारत का भविष्य स्कूल की राजनीति में है। 

सिसोदिया का सवाल- क्यूं शिक्षा को सफल राजनीति ने हमेशा हाशिए पर रखा?

सिसोदिया ने पत्र में केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सत्ता के खिलाफ उठने वाली हर आवाज को जेल भेजने की धमकी देकर सत्ता चलाना, देश के हर बच्चे के लिए शानदार स्कूल-कॉलेज खोलने और चलाने से कहीं ज्यादा आसान है। जेल से अपने हाथों से लिखे पत्र में बीजेपी और केंद्र सरकार पर सीधा निशाना साधा है। उन्होंने लिखा कि पूरे देश में पूरी राजनीति तन-मन और धन से जुट गई होती तो आज हमारे देश में हर बच्चे के लिए विकसित देशों की तरह अच्छे से अच्छे स्कूल होते। उन्होंने कहा कि दिल्ली के शिक्षा मंत्री के रूप में काम करते हुए बहुत बार ये सवाल मन में उठता है कि देश और राज्य की सत्ता तक पहुंचे नेताओं ने देश के हरेक बच्चे के लिए शानदार स्कूल और कॉलेज का इंतजाम क्यूं नहीं किया? क्यूं शिक्षा को सफल राजनीति ने हमेशा हाशिए पर रखा?

राजनीति में सफलता जेल चलाने से मिल रही है-सिसोदिया

पत्र में लिखा है कि जेल के अंदर से देख पा रहा हूं कि जब राजनीति में सफलता जेल चलाने से मिल जा रही है तो स्कूल चलाने की राजनीति की भला कोई जरूरत क्यों महसूस करेगा। सत्ता के खिलाफ उठने वाली आवाज को जेल भेजना बच्चों के लिए अच्छे स्कूल-कॉलेज खोलने से कहीं ज्यादा आसान है।  

लोकगायिका नेहा सिंह राठौर का भी जिक्र

सिसोदिया ने उत्तर प्रदेश को लोकगायिका नेहा सिंह राठौर का जिक्र करते हुए कहा कि असहमति व्यक्त करने वाले एक लोक गायक को सरकार की ओर से कारावास की धमकी दी गई थी। इसी तरह, जब एक कांग्रेस प्रवक्ता ने पीएम मोदी के संदर्भ में एक शब्द का इस्तेमाल किया, तो दो राज्यों की पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

आने वाला कल शिक्षा की राजनीति का होगा-सिसोदिया

सिसोदिया ने तीन पन्नों की चिट्ठी लिखी है। उन्होंने कहा, आज जरूर जेल की राजनीति सफल होती दिख रही है लेकिन भारत का भविष्य स्कूल की राजनीति में है, शिक्षा की राजनीति में है। भारत विश्वगुरू बनेगा तो इसलिए नहीं कि यहां की जेलों में इतनी ताकत है, बल्कि इसके दम पर ही यहां की शिक्षा में कितनी ताकत है। भारत की आज की राजनीति में जेल की राजनीति का पलड़ा भारी जरूर है लेकिन आने वाला कल शिक्षा की राजनीति का होगा।

India

Mar 09 2023, 13:26

क्या जेल में सिसोदिया के पास है फोन? होली पर पूर्व डिप्टी सीएम के एक ट्वीट के बाद उठ रहे सवाल

#manishsisodiatwitteraccountpost

दिल्ली के पूर्व उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया शराब नीति में घोटाले के आरोप में जेल में बंद हैं।मनीष सिसोदिया की गिरफ्तारी के बाद से आम आदमी पार्टी और बीजेपी आमने सामने हैं। इसी बीच मनीष सिसोदिया के ट्विटर अकाउंट से एक मैसेज पोस्ट किया गया है। जिसके बाद सियासी संग्राम छिड़ गया है। साथ ही लोग ये सवाल उठा रहे हैं कि क्या आप नेता के पास जेल में फोन है।

दरअसल, होली के दिन शाम के वक्त सिसोदिया के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया गया। मनीष सिसोदिया के इस ट्वीट में लिखा है, 'आज तक सुना था कि देश में स्कूल खुलते हैं तो जेल बंद होते है; लेकिन अब इन लोगो ने तो देश में स्कूल खोलने वालों को ही जेल में बंद करना शुरू कर दिया।'

सिसोदिया पर उठ रहे सवाल

मनीष सिसोदिया के इस ट्वीट से भारतीय जनता पार्टी को मनीष सिसोदिया पर सवाल उठाने का मौका मिल गया है। इस मामले को लेकर भाजपा ने आम आदमी पार्टी पर हमला बोलते हुए सवाल किया, "क्या तिहाड़ जेल में सिसोदिया के पास फोन है?

बीजेपी नेताओं ने यू कसा तंज

बीजेपी नेता प्रवेश साहिब सिंह ने लिखा कि जेल में मनीष सिसोदिया के पास फोन? बीजेपी नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने कटाक्ष करते हुए कमेंट किया, ‘ एलन मस्क यह क्रिमिनल आदमी है, इस समय जेल में है। इनका अकाउंट कोई और चला रहा है। कृपया इनका अकाउंट ब्लॉक कर दीजिए

నిజంనిప్పులాంటిది

Feb 27 2023, 15:55

ఒక్క రోజులో మూడు ఫోన్లు మార్చిన సిసోదియా..!

దిల్లీ: మద్యం కుంభకోణంలో అరెస్టయిన దిల్లీ ఉపముఖ్యమంత్రి మనీశ్‌ సిసోదియా (Manish Sisodia)ను నేడు కోర్టులో హాజరుపర్చనున్నారు. ప్రభుత్వ మద్యం విధాన రూపకల్పన, అమలులో అవకతవకలు చోటుచేసుకున్న వ్యవహారంపై జరుపుతున్న దర్యాప్తులో భాగంగా సిసోదియాను నిన్న సీబీఐ (CBI) అరెస్టు చేసిన విషయం తెలిసిందే. రాత్రంతా ఆయన కేంద్ర దర్యాప్తు సంస్థ ప్రధాన కార్యాలయంలోనే గడిపారు. ఈ ఉదయం ఆయనకు వైద్య పరీక్షలు నిర్వహించనున్నారు. అనంతరం మధ్యాహ్నం 2 గంటలకు రౌస్‌ అవెన్యూ కోర్టులో సిసోదియాను హాజరుపర్చనున్నారు.

ఛార్జ్‌షీట్‌లో పేరు..

సిసోదియా (Manish Sisodia) అరెస్టుపై సీబీఐ అధికారిక ప్రకటన విడుదల చేసింది. విచారణకు సహకరించకపోవడం వల్లే ఆయనను అరెస్టు చేసినట్లు వెల్లడించింది. కీలకమైన అంశాలపై ఆయన సరిగా సమాధానం ఇవ్వలేదని పేర్కొంది. తప్పించుకునే విధంగా సమాధానాలు ఇచ్చారని, విరుద్ధమైన సాక్ష్యాలను ఎదుర్కొన్నప్పటికీ దర్యాప్తునకు సహకరించలేదని ఆరోపించింది. ఈ కేసులో సిసోదియా నుంచి రాబట్టాల్సిన సమాచారం ఎంతో ఉన్నందున.. ఆయనను తమ కస్టడీకి అప్పగించాలని సీబీఐ.. న్యాయస్థానాన్ని కోరనున్నట్లు తెలుస్తోంది. కాగా.. ఈ కేసులో సీబీఐ దాఖలు చేసిన ఛార్జ్‌షీట్‌లో సిసోదియా పేరు కూడా ఉన్నట్లు సీబీఐ (CBI) వర్గాలు తెలిపాయి. అయితే, ఈ కేసులో ఆయనను నిందితుడిగా పేర్కొనలేదని తెలుస్తోంది. ఆయనకు వ్యతిరేకంగా పక్కా సాక్ష్యాధారాలు సేకరించిన తర్వాతే అరెస్టు చేసినట్లు సదరు వర్గాలు పేర్కొన్నాయి.

18 ఫోన్లు ఉపయోగించిన సిసోదియా..

సిసోదియా (Manish Sisodia) ఇతర వ్యక్తుల పేర్ల మీద అనేక ఫోన్‌ నంబర్లు, ఫోన్లు తీసుకున్నారని, ఆ తర్వాత వాటిల్లో కొన్నింటిని ధ్వంసం చేశారని సీబీఐ (CBI) వర్గాలు ఆరోపించాయి. ఆయన 18 ఫోన్లు, నాలుగు ఫోన్‌ నంబర్లు ఉపయోగించేవారని పేర్కొన్నాయి. ఒక్క రోజులోనే ఆయన మూడు ఫోన్లను మార్చినట్లు తమ దర్యాప్తులో తేలిందని చెప్పాయి. అయితే దీనిపై అధికారిక ప్రకటన లేదు.

ఆప్‌ దేశవ్యాప్త నిరసనలు..

సిసోదియా అరెస్టుకు నిరసనగా ఆమ్‌ ఆద్మీ పార్టీ (AAP) నేడు దేశవ్యాప్త నిరసనలు చేపట్టనుంది. ఈ నేపథ్యంలో దేశ రాజధాని దిల్లీలో భద్రతను కట్టుదిట్టం చేశారు. ఆమ్‌ ఆద్మీ పార్టీ కార్యాలయం వద్ద భద్రతా సిబ్బంది భారీగా మోహరించారు. అటు సీబీఐ (CBI) కార్యాలయం ముందూ భద్రతను పెంచారు.

India

Feb 27 2023, 09:49

*कोर्ट में मनीष सिसोदिया की पेशी आज, गिरफ्तारी के बाद गरमायी दिल्ली, आप के आह्वान के बाद पुलिस अलर्ट*

#manishsisodiaarrestdelhion_alert

दिल्ली का तापमान तेजी से बढ़ रहा है। इस बीच राजधानी का सियासी पारा उस पर अचानढ़ चढ़ गया, जब सीबीआई ने डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को गिरफ्तार किया। दिल्ली में शराब नीति से जुड़े केस में दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदियो की गिरफ्तारी के बाद सियासी गलियारे में गहमागहमी है। इधर सिसोदिया की गिरफ्तारी के विरोध में आम आदमी पार्टी ने देश व्यापी विरोध का आह्वान किया है।

कोर्ट से रिमांड मांग सकती है सीबीआई

आबकारी घोटाले में सीबीआई आज उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को कोर्ट में पेश करेगी। इस दौरान सीबीआई उनपर लगे आरोपों की सूची के साथ उसके समर्थन में संबंधित दस्तावेज भी कोर्ट में दाखिल करेगी। सीबीआई आगे की पूछताछ के लिए सिसोदिया का कोर्ट से कस्टडी रिमांड मांग सकती है। इसके लिए सीबीआई ने तैयारी शुरू कर दी है। सीबीआई दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को लंच से पहले कोर्ट में पेश करने की तैयारी कर रही है। सीबीआई सूत्रों के मुताबिक सुबह कोर्ट खुलते ही संबंधित फाइल कोर्ट में दाखिल कर दी जाएगी।

गिरफ्तारी के विरोध में सड़क पर संग्राम

इधर, आम आदमी पार्टी ने उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की गिरफ्तारी के खिलाफ सड़क पर संग्राम की तैयारी की है। आम आदमी पार्टी दोपहर 12 बजे बीजेपी मुख्यालय का घेराव करेगी। आप सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी मुख्यालय पर धरना देने का आह्वान किया है। पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया की गिरफ्तारी और अडानी से यारी के विरोध में आज पूरे देश में प्रदर्शन करके ‘Black Day’ आम आदमी पार्टी मनाएगी।

आज होने वाले प्रदर्शनों को लेकर दिल्ली पुलिस मुस्तैद

सिसोदिया की गिरफ्तारी के बाद गरमाए दिल्ली के माहौल को लेकर दिल्ली पुलिस अलर्ट मोड में आ गई। उपमुख्यमंत्री की गिरफ्तारी के बाद दिल्ली पुलिस के दोनों जोन के विशेष पुलिस आयुक्त दीपेंद्र पाठक व डॉ. सागरप्रीत हुड्डा सक्रिय हो गए। उन्होंने थानाध्यक्षों समेत सभी सीनियर पुलिस अधिकारियों को वायरलैस पर व व्हाट्सएप मैसेज कर अलर्ट रहने के आदेश दिए। सभी थाना पुलिस को इलाके में गश्त करने व पिकेट लगाकर चेकिंग करने के आदेश दिए गए हैं। लोगों के सीबीआई मुख्यालय की ओर से आने से रोकने के लिए कहा गया। वार्ड व विधानसभा स्तर पर संभावित प्रदर्शनों को रोकने के लिए कहा है।

दरअसल, देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी यानी कि केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने 2021-22 की आबकारी नीति लागू करने में कथित भ्रष्टाचार को लेकर सिसोदिया को करीब आठ घंटे की पूछताछ के बाद रविवार शाम अरेस्ट कर लिया था। जून, 2022 में दिल्ली के तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन की गिरफ्तारी के बाद सिसोदिया की गिरफ्तारी हुई है।

India

Nov 30 2023, 14:37

फिर सुप्रीम कोर्ट पहुंचे दिल्ली के पूर्व डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, जमानत के लिए दाखिल की पुनर्विचार याचिका

#manish_sisodia_files_review_petition_in_supreme_court 

आम आदमी पार्टी नेता और दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने एक बार फिर सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है। सिसोदिया ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दाखिल की है।सुप्रीम कोर्ट से जमानत नहीं मिलने पर उन्होंने यह याचिका दायर की है। बता दें क‍ि जस्टिस संजीव खन्ना और एसवीएन भट्टी की पीठ ने 30 अक्टूबर को सिसोदिया को जमानत देने से इनकार कर दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि अगर निचली अदालत में ट्रायल मे देरी होती है तो सिसोदिया तीन महीने बाद जमानत याचिका दाखिल कर सकते है।

शीर्ष अदालत ने 30 अक्टूबर को उन्हें जमानत देने से इनकार कर दिया था और कहा था कि शराब के थोक ‘डीलर’ को 338 करोड़ रुपये का फायदा पहुंचाने के आरोप का साक्ष्य अस्थायी रूप से समर्थन करता है।कोर्ट ने यह भी कहा था कि अगर निचली अदालत में 6 महीने में मुकदमा खत्म नहीं होता तो मनीष सिसोदिया जमानत के लिए दोबारा आवेदन दे सकते हैं।

अदालत ने यह भी कहा था, यह राशि थोक वितरकों द्वारा दस महीनों की अवधि में अर्जित की गई थी। इस आंकड़े पर विवाद या चुनौती नहीं दी जा सकती है। इस प्रकार नई आबकारी नीति का उद्देश्य कुछ चुनिंदा थोक वितरकों को अप्रत्याशित लाभ देना था, जो बदले में रिश्वत देने के लिए सहमत हुए थे। पीठ ने सीबीआई(केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो) के आरोप-पत्र पर टिप्पणी करते हुए कहा था कि अपीलकर्ता मनीष सिसोदिया की साजिश और संलिप्तता पूरी तरह से स्थापित हो चुका है।

हाल ही में दिल्ली के आबकारी नीति मामले में सिसोदिया को राउज एवेन्यू कोर्ट से भी राहत नहीं मिली। कोर्ट ने उनकी न्यायिक हिरासत को 11 दिसंबर तक के लिए बढ़ा दिया है। अदालत ने कहा था कि प्रवर्तन निदेशालय की ओर से कई दस्तावेज दाखिल करना बाकी है।

बता दें कि शराब घोटला मामले में सिसोदिया इस साल 26 फरवरी से जेल में हैं। उनकी जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) दोनों द्वारा की जा रही है। मनीष स‍िसोद‍िया पर आरोप है क‍ि दिल्ली सरकार के अधिकारियों ने रिश्वत के बदले कुछ व्यापारियों को शराब लाइसेंस देने में मिलीभगत की थी। आरोपी अधिकारियों पर कुछ शराब विक्रेताओं को फायदा पहुंचाने के लिए आबकारी नीति में बदलाव करने का आरोप है।

Gaya

Nov 04 2023, 07:55

पटना सिटी में भूकंप के झटके किए गए महसूस

Manish patna 

इस वक्त की बड़ी खबर राजधानी पटना से पटना सिटी में भूकंप के झटके महसूस किए गए वही भूकंप के झटके लगभग 20 से 25 सेकंड तक रहा.

औरंगाबाद में भी 2बार भूकंप का झटका महसूस किया गया है

India

May 23 2023, 14:19

पेशी के लिए आए सिसोदिया को पुलिस ने गर्दन पकड़कर खींचा, वीडियो शेयर कर केजरीवाल ने पूछा-क्या ऊपर से आदेश है?

#policemisbehavedwithmanishsisodia

दिल्ली आबकारी नीति मामले में पूर्व उप मुख्यमंत्री व आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया के साथ पुलिस के दुर्व्यवहार का मामला सामने आया है। जिसको लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने भी ट्वीट कर केंद्र सरकार पर हमला बोला।दरअसल, आज मनीष सिसोदिया को पेशी के लिए पुलिस राउज एवेन्यू कोर्ट ले गई थी। इस दौरान पुलिस मनीष सिसोदिया को सुरक्षा घेरे में ले जाते दिखी।पेशी के लिए ले जाते वक्त पुलिस आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया को गर्दन से पकड़कर ले जाते दिखी। इसको लेकर आम आदमी पार्टी ने उनके साथ दुव्र्यवहार करने का आरोप लगाया है।

पुलिस पर सिसोदिया के साथ दुर्व्यवहार का आरोप

दरअसल, मामले से जुड़ा एक वीडियो पहले दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने ट्वीट किया। जिसमें उन्होंने लिखा, ' राउज एवेन्यू कोर्ट में एक पुलिसकर्मी द्वारा मनीष जी के साथ चौंकाने वाला दुर्व्यवहार। दिल्ली पुलिस को उन्हें तुरंत सस्पेंड करना चाहिए'। इसके कुछ ही देर बाद इस ट्वीट को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा, क्या पुलिस को इस तरह मनीष जी के साथ दुर्व्यवहार करने का अधिकार है? क्या पुलिस को ऐसा करने के लिए ऊपर से कहा गया है'? साथ ही अन्य आप नेताओं ने भी पुलिस के इस व्यवहार पर आपत्ति जताई है।

दिल्ली पुलिस ने आरोपों पर दिया ये जवाब

वहीं, सीएम केजरीवाल और आप नेताओं द्वारा लगाए आरोपों पर अब दिल्ली पुलिस का जवाब आया है। दिल्ली पुलिस ने दुर्व्यवहार के आरोपों को दुष्प्रचार बताया है। पुलिस की ओर से जारी बयान में कहा गया, 'वीडियो में प्रचारित पुलिस की प्रतिक्रिया सुरक्षा की दृष्टि से अनिवार्य थी।'

बता दें, इस मामले में घिरे मनीष सिसोदिया की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। राउज एवेन्यू कोर्ट ने मनीष सिसोदिया की न्यायिक हिरासत 1 जून तक के लिए बढ़ा दी है।

India

Mar 17 2023, 16:32

मनीष सिसोदिया की ईडी रिमांड पांच दिन और बढ़ी, अब 22 मार्च को कोर्ट में पेशी

#manishsisodiadelhiliquorscamedcustody 

मनीष सिसोदिया की ईडी रिमांड पांच दिन और बढ़ गई है। दिल्ली आबकारी नीति मामले में गिरफ्तार आप नेता मनीष सिसोदिया को राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया गया। यहां पर उनकी रिमांड को लेकर सुनवाई हुई। इस दौरान ईडी ने मनीष सिसोदिया की रिमांड बढ़ाने की मांग की। कोर्ट ने उनकी रिमांड 5 दिन और बढ़ा दी है।ईडी ने अदालत से सिसोदिया की सात और दिन की रिमांड मांगी थी।

ईडी ने अदालत में अपना पक्ष रखते हुए कहा कि अगर सिसोदिया की रिमांड नहीं मिली तो अब तक जो भी जांच हुई है सब बेकार हो जाएगी। ईडी ने कोर्ट में कहा कि जांच अहम मोड़ पर है अगर अभी हिरासत नहीं मिली तो सब मेहनत बेकार जाएगी। जांच एजेंसी ने बताया कि सिसोदिया से सीसीटीवी की निगरानी में पूछताछ जारी है। 18, 19 तारीख को बयान दर्ज करने के लिए दो लोगों को बुलाया है। 

ईडी ने कहा कि मामले की शिकायत होते ही 22 जुलाई को मोबाइल बदला। पूछताछ में सिसोदिया बता नहीं पाए कि उस फोन का क्या किया। इसलिए इलेक्ट्रॉनिक डाटा को लेकर भी पूछताछ करनी है। ईडी ने दावा किया कि सिसोदिया के कम्प्यूटर से मिले मार्च 2019 के दस्तावेज में 5 फीसदी कमीशन था जो सितम्बर 2022 में बढ़ाकर 12 प्रतिशत कर दिया गया। साउथ लॉबी के कहने पर ऐसा किया गया।

सिसोदिया के वकील का दावा- 7 दिनों में सिर्फ 11 घंटे ही पूछताछ

वहीं, सिसोदिया के वकील ने पक्ष रखा कि पूछताछ के नाम पर एजेंसी उन्हें सिर्फ इधर-उधर बैठाती है। सात दिनों में सिर्फ 11 घंटे ही पूछताछ हुई है। मनीष के वकील ने कहा कि ईडी अपनी रिमांड में जो भी पूछना चाहती है, वो पहले ही सीबीआई अपनी रिमांड में पूछ चुकी है। इसमें कुछ नया नहीं है। ये सिर्फ ईडी का रिमांड लेने का तरीका है।

26 फरवरी को हुई थी सिसोदा की गिरफ्तारी

दिल्ली के पूर्व सीएम मनीष सिसोदिया को आबकारी नीति में बदलाव कर कथित घोटाले के आरोप में बीती 26 फरवरी को गिरफ्तार किया था। तिहाड़ जेल में बंद रहने के दौरान ही ईडी ने मनीष सिसोदिया को 9 मार्च को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार कर लिया था। ईडी ने दिल्ली आबकारी नीति मामले में कथित अनियमितताओं से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सिसोदिया से तिहाड़ जेल में पूछताछ भी की थी। गिरफ्तारी के बाद ईडी ने मनीष सिसोदिया को कोर्ट में पेश किया था, जहां कोर्ट ने उन्हें ईडी की रिमांड में भेज दिया था।

నిజంనిప్పులాంటిది

Mar 11 2023, 20:53

Delhi Liquor Scam Case : ముగిసిన కవిత ఈడీ విచారణ.. ఎనిమిది గంటలుగా ఏమేం ప్రశ్నించారు..!?

ఏమేం ప్రశ్నించారు..!?

1. ఢిల్లీ మద్యం పాలసీలో మార్పులు చేసింది మీరేనా..?

2. ఈ మార్పులు చేర్పులు వెనుక ఎవరెవరి పాత్ర ఉంది.. మనీష్ సిసోడియాతో (Manish Sisodia) పరిచయం ఎలా ఏర్పడింది..!?

3. ఢిల్లీ గవర్నమెంట్‌కు (Delhi Govt)- సౌత్‌గ్రూప్‌నకు మధ్యవర్తి మీరేనా..?

4. ఢిల్లీ మద్యం వ్యాపారంతో మీకున్న సంబంధమేంటి..?

5. లిక్కర్ స్కామ్‌లో మీ పాత్ర ఉందా.. లేదా..?

6. అరుణ్ రామచంద్ర పిళ్లై మీకు బినామీనా కాదా..?

7. మీ ప్రతినిధని పిళ్లై చెప్పిన దాంట్లో నిజమెంత..?

8. పిళ్లైకు.. మీకు (కవితకు) మధ్య ఆర్థిక లావాదేవీలు ఏమైనా జరిగాయా..?

9. రామచంద్రతో వ్యాపారం చేస్తే నాతో చేసినట్లే అని మీరు చెప్పలేదా..?

10. సౌత్‌గ్రూప్‌తో మీకున్న సంబంధాలేంటి..?

11. ఛార్టెడ్ ఫ్లైట్‌లో వెళ్లి రూ. 130 కోట్లు లంచం ఇచ్చారా..?

12. 130 కోట్లు డబ్బు ఎక్కడ్నుంచి వచ్చింది.. ఎవరిచ్చారు..?

13. ఛార్డెడ్ ఫ్లైట్ మీకు ఎవరు సమకూర్చారు..?

14. ఆరోపణలు ఎదుర్కొంటున్న వారిని ఎప్పుడైనా కలిశారా..?

15. ఫేస్‌టైమ్‌లో మీరు సమీర్ మహేంద్రుతో మాట్లాడారా.. లేదా..?

16. శరత్ చంద్రారెడ్డిని ఎన్నిసార్లు కలిశారు..?

17. శరత్ చంద్రాతో తరుచూ మాట్లాడాల్సిన అవసరం ఏంటి..?

18. ఆధారాలు మాయం చేసేందుకు సెల్‌ఫోన్లు ధ్వంసం చేశారా..?

19. సెల్‌ఫోన్లు ఎందుకు ధ్వంసం చేశారు..?

20. గోరంట్ల బుచ్చిబాబుకు మీకున్న సంబంధమేంటి..? అని కవితను ప్రశ్నించినట్లు విశ్వసనీయ వర్గాల సమాచారం..

India

Mar 10 2023, 11:22

तिहाड़ से सिसोदिया ने देश के नाम लिखी चिट्ठी, कहा- भले ही जेल की राजनीति सफल हो रही, लेकिन...

#manishsisodialetterfromtihar_jail 

दिल्ली के पूर्व डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया इस समय शराब घोटाले मामले में तिहाड़ जेल में बंद हैं। गिरफ्तारी के बाद आज उनकी जमानत पर कोर्ट में सुनवाई होनी है। लेकिन उससे एक दिन पहले ही प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी ने दिल्ली एक्साइज घोटाला मामले में उन्हें गिरफ्तार कर लिया। इस बीच मनीष सिसोदिया का तिहाड़ जेल से देश के नाम लिखा पत्र सामने आया है। इस पत्र को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्विटर पर शेयर किया है। केजरीवाल ने लिखा कि मनीष सिसोदिया ने जेल से देश के नाम पत्र लिखा। बीजेपी लोगों को जेल में डालने की राजनीति करती है, हम बच्चों को पढ़ाने की राजनीति कर रहे हैं। जेल भेजना आसान है, बच्चों को पढ़ाना बहुत मुश्किल। 

मनीष सिसोदिया ने अपनी चिट्ठी का शीर्षक 'शिक्षा, राजनीति और जेल' लिखा है। भाजपा की केंद्र सरकार पर षड्यंत्र का आरोप लगाते हुए सिसोदिया ने अपने पत्र में लिखा कि भाजपा लोगों को जेल में डालने की राजनीति कर रही है। हम बच्चों को पढ़ाने की राजनीति कर रहे हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का गुनाह इतना है कि प्रधानमंत्री के समक्ष वैकल्पिक राजनीति खड़ी कर दी, इसलिए केजरीवाल सरकार के दो मंत्री फिलहाल जेल में हैं। जेल की राजनीति भले ही सफल होते दिख रही है, लेकिन भारत का भविष्य स्कूल की राजनीति में है। 

सिसोदिया का सवाल- क्यूं शिक्षा को सफल राजनीति ने हमेशा हाशिए पर रखा?

सिसोदिया ने पत्र में केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सत्ता के खिलाफ उठने वाली हर आवाज को जेल भेजने की धमकी देकर सत्ता चलाना, देश के हर बच्चे के लिए शानदार स्कूल-कॉलेज खोलने और चलाने से कहीं ज्यादा आसान है। जेल से अपने हाथों से लिखे पत्र में बीजेपी और केंद्र सरकार पर सीधा निशाना साधा है। उन्होंने लिखा कि पूरे देश में पूरी राजनीति तन-मन और धन से जुट गई होती तो आज हमारे देश में हर बच्चे के लिए विकसित देशों की तरह अच्छे से अच्छे स्कूल होते। उन्होंने कहा कि दिल्ली के शिक्षा मंत्री के रूप में काम करते हुए बहुत बार ये सवाल मन में उठता है कि देश और राज्य की सत्ता तक पहुंचे नेताओं ने देश के हरेक बच्चे के लिए शानदार स्कूल और कॉलेज का इंतजाम क्यूं नहीं किया? क्यूं शिक्षा को सफल राजनीति ने हमेशा हाशिए पर रखा?

राजनीति में सफलता जेल चलाने से मिल रही है-सिसोदिया

पत्र में लिखा है कि जेल के अंदर से देख पा रहा हूं कि जब राजनीति में सफलता जेल चलाने से मिल जा रही है तो स्कूल चलाने की राजनीति की भला कोई जरूरत क्यों महसूस करेगा। सत्ता के खिलाफ उठने वाली आवाज को जेल भेजना बच्चों के लिए अच्छे स्कूल-कॉलेज खोलने से कहीं ज्यादा आसान है।  

लोकगायिका नेहा सिंह राठौर का भी जिक्र

सिसोदिया ने उत्तर प्रदेश को लोकगायिका नेहा सिंह राठौर का जिक्र करते हुए कहा कि असहमति व्यक्त करने वाले एक लोक गायक को सरकार की ओर से कारावास की धमकी दी गई थी। इसी तरह, जब एक कांग्रेस प्रवक्ता ने पीएम मोदी के संदर्भ में एक शब्द का इस्तेमाल किया, तो दो राज्यों की पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

आने वाला कल शिक्षा की राजनीति का होगा-सिसोदिया

सिसोदिया ने तीन पन्नों की चिट्ठी लिखी है। उन्होंने कहा, आज जरूर जेल की राजनीति सफल होती दिख रही है लेकिन भारत का भविष्य स्कूल की राजनीति में है, शिक्षा की राजनीति में है। भारत विश्वगुरू बनेगा तो इसलिए नहीं कि यहां की जेलों में इतनी ताकत है, बल्कि इसके दम पर ही यहां की शिक्षा में कितनी ताकत है। भारत की आज की राजनीति में जेल की राजनीति का पलड़ा भारी जरूर है लेकिन आने वाला कल शिक्षा की राजनीति का होगा।