lucknow

Aug 04 2022, 17:23

राम किशोर संत तुलसी व विनय भदौरिया अवधी गौरव सम्मान से सम्मानित

लखनऊ। ऐशबाग तुलसी शोध संस्थान एवं अयोध्या शोध संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में तुलसी जयंती के अवसर पर आज तुलसी सभागार श्री रामलीला परिसर ऐशबाग में आयोजित अवधी कवि सम्मेलन एवं सम्मान समारोह में डॉ राम किशोर वर्मा संत तुलसी सम्मान-2022 व डॉ विनय भदौरिया अवधी गौरव सम्मान-2022 से सम्मानित हुए।

समारोह में मुख्य अभ्यागत डॉ लवकुश द्विवेदी ने संत तुलसी दास और भगवान श्री राम पर सम्यक प्रकाश डाला। मुख्य अतिथि उत्तरी क्षेत्र के विधायक डॉ नीरज बोरा ने रामचरितमानस को जीवन का आधार बताया। इस मौके पर डॉ शिव भजन कमलेश द्वारा लिखित 'छंदों की अन्तर्ध्वनि' पुस्तक का लोकार्पण डॉ लव कुश द्विवेदी, डॉ नीरज बोरा, डॉ दिनेश चन्द्र अवस्थी, पंडित आदित्य द्विवेदी, हरीश चन्द्र अग्रवाल और सर्वेश अस्थाना ने किया।

इसी क्रम में संत तुलसी पर आयोजित विचार गोष्ठी में विद्वान वक्ताओं ने अपने विचार व्यक्त किए। डॉ दिनेश अवस्थी की अध्यक्षता और पंडित आदित्य द्विवेदी के संचालन में आयोजित अवधी कवि सम्मेलन में फारुक सरल ने सुनाया ' बिरवा झूरि झूरि हरियाने फुलवा फूली फूली मुस्क्याने, बरसै झिमिर झिमिर कै बदरा हो सावन मा हरेरी वार बन मा।

डॉ राम किशोर वर्मा की बानगी थी आजु का उत्सव तुलसी सभागार मा सब जने आये दादा के बेउहार मा, रामलीला समिति धन्नी भै बात यह पूरा लखनऊ पढ़ी काल्हि अखबार मा। कुमार तरल ने सुनाया ' घरु द्वार तजे सियाराम भजे प्रभुभक्ति मा डूबि गए यतना, रतना से न कम तिनकौ तुलसी से न कम तिनकौ रतना'।

जयदीप सिंह सरस ने खूब तालियां बजवायी, वहीं दूसरी ओर शशि श्रेया ने कहा ' हम तो रिस्तन कै खुशबू हैं चौका कै अगियारी हैं हम हेन ते हैं संसकार हमहेन ते दुनिया सारी है हमहेन रंग भरे हन घर की देहरी मा दीवारन मा, अइसे दौ वारै इक बिटिया सौ सौ बेटवन पर भारी है। डॉ विनय भदौरिया ने कई गंभीर चिन्तन के गीत प्रस्तुत किये। डॉ अशोक अज्ञानी के गीतों ने कार्यक्रम को परवान पर पहुंचाया।

lucknow

Aug 04 2022, 17:22

बैंकर्स जीतें ग्राहकों का भरोसाः कुलाधिपति

लखनऊ। प्रथमा यूपी ग्रामीण बैंक की सीनियर मैनेजर मैडम वंदना भाटिया की 32 सालों की अनवरत सेवा को भरोसे का प्रतीक बताते हुए तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी के कुलाधिपति सुरेश जैन ने कहा, मैडम भाटिया की बैंकिंग सेवाएं अनुकरणीय हैं। वक्त की दरकार है, बैंकर्स को अपने ग्राहकों का विश्वास जीतना होगा। बैंकिंग सेक्टर को दुनिया की आर्थिक रीढ़ बताते हुए बोले, बड़े घोटालों के फेर में बैंकों के प्रति ग्राहकों का डर घर कर गया है। यह भय केवल बैंकों की उम्दा जनसेवा के जरिए ही समाप्त हो सकता है।

टीएमयू के कुलाधिपति श्री जैन ने बतौर मुख्य अतिथि मैडम भाटिया की फेयरवेल पार्टी में ये उद्गार व्यक्त किए। मोती महल होटल में हुए इस कार्यक्रम में टीएमयू के जीवीसी श्री मनीष जैन, एमएलसी डॉ. जयपाल सिंह व्यस्त, शिक्षा एव कानूनविद डॉ. हरबंश दीक्षित, जाने-माने समाजसेवी एवं शिक्षविद डॉ. विशेष गुप्ता, टीएमयू के रजिस्ट्रार डॉ. आदित्य शर्मा, स्टुडेंटस वेलफेयर के डीन प्रो. एमपी सिंह, एसोसिएट डीन प्रो. मंजुला जैन, एफओईसीएस के निदेशक प्रो. आरके द्विवेदी, कारोबारी श्री आकाश जैन, प्रो. श्याम सुंदर भाटिया के संग-संग दीगर परिजनों और मित्रों की उल्लेखनीय उपस्थिति रहीं। इससे पूर्व क्षेत्रीय कार्यालय, मुरादाबाद में मैडम वंदना भाटिया को औपचारिक विदाई दी गयी। वरिष्ठ क्षेत्रीय प्रबन्धक श्री जीएस रावत ने स्मृति चिन्ह, प्रमाण पत्र और बुके देकर सम्मानित किया। इससे पूर्व बैंक की ओर से एक दर्जन से अधिक पुष्पगुच्छ दिए गए।

एमएलसी डॉ. व्यस्त ने कहा, बैंकिंग के साथ सोशल इंजीनियरिंग की स्किल के चलते न केवल मैडम वंदना भाटिया ने खातेदारों को प्रभावित किया, बल्कि समाज के सभी पक्षों का भी अपने मधुर व्यवहार, समर्पण और कर्तव्यनिष्ठा से दिल जीत लिया। शिक्षा एव कानूनविद डॉ. हरबंश दीक्षित ने कामना व्यक्त की, आपकी नई पारी पहले से भी अधिक सफल, गरिमामयी और यशस्विनी हो। जाने-माने समाजसेवी एवं शिक्षविद डाॅ. विशेष गुप्ता ने अपने आशीर्वचन में कहा, आप स्वस्थ और सजग रहे। आपकी दूसरी पारी समाज को समर्पित रहे। टीएमयू के रजिस्ट्रार डाॅ. आदित्य शर्मा ने कहा, आप भविष्य में भी सेहतमंद और आनंदित रहिएगा। आने वाला वक्त आपकी अपेक्षाओं का साक्षी बने।

स्टुडेंटस वेलफेयर के डीन प्रो. एमपी सिंह ने अगली पारी के लिए लख-लख बधाइयां दीं। एसोसिएट डीन प्रो. मंजुला जैन ने 32 साल और 07 महीनों की बैंकिंग सेवाओं का स्मरण करते हुए कामना की, आपकी अगली पारी भी अनुकरणीय हो। एफओईसीएस के निदेशक प्रो. आरके द्विवेदी ने मैडम वंदना भाटिया के उज्जवल और सुखद भविष्य की कामना की। प्रथमा यूपी ग्रामीण बैंक विदाई समारोह में श्रीमती संयोगिता मुरादिया, श्रीमती नीरा बग्गा, सुश्री कनिका भाटिया के अलावा चीफ मैनेजर श्री वीरेन्द्र सिंह, मैडम सुनीता अग्रवाल, मैडम भारती भटनागर, मैडम शिखा रस्तौगी, मैडम रितु टंडन, श्री कौशलेन्द्र मिश्रा आदि की भी उल्लेखनीय उपस्थिति रही। संचालन मैडम नीतू भदौरिया ने किया। दूसरे कार्यक्रम में श्री सुभाष यादव, श्री राजवीर सिंह, श्री योगेश कुमार साहनी, श्री संदीप वर्मा, श्री रजत मिगलानी आदि अपने-अपने परिजनों के संग मौजूूद रहे।

lucknow

Aug 04 2022, 09:47

टीएमयू की प्रो. पूनम ने इटली की कांफ्रेन्स में प्रेजेंट किया शोध पत्र

लखनऊ। तीर्थंकर महावीर हाॅस्पिटल एण्ड रिसर्च सेन्टर में आईवीएफ सेन्टर की एचओडी प्रो. पूनम सिंह ने कहा, मेडिकल में ऑवेरियन रिजोविनेशन टेक्नोलाॅजी ने बांझपन सरीखे अभिशाप को समाप्त कर सा दिया है । यह मेडिकल क्षेत्र में वूमेन्स के लिए बड़ी क्रान्ति है। 

इस तकनीक के जरिए निःसंतान महिलाओें में एक नई आशा की किरण जगी है। इस इलाज की मार्फत बांझ वूमेन्स के एगस बनने लगे हैं। ऐसे में अब महिलाओं को एगस डोनर्स की कोई दरकार नहीं है। प्रो. पूनम बोलीं, इस इलाज में इन्जेशन के जरिए न केवल एगस बनने लगते हैं बल्कि अंडों में बढ़ोतरी भी संभव है। यदि किसी महिला की खराब ऑवरी है तो उसको दुरुस्त किया जा सकता है। सुखद बात यह है, इस ट्रीटमेंन्ट से आज तक किसी मरीज़ को कोई फिजिकल नुकसान नहीं हुआ है। यूरोपियन सोसायटी ऑफ हयूमन रिप्रोडक्शन एण्ड एमरियोलाॅजी-2022 की ओर से इटली के मिलान शहर में आयोजित तीन दिनी इंटरनेशनल कांफ्रेन्स में प्रो. सिंह वुर्चअली भाग ले रही थीं। इस कांफ्रेन्स में दुनिया के 250 आईवीएफ विशेषज्ञों ने अपने रिसर्च पेपर्स ब्लेंडेड मोड में प्रस्तुत किए, जबकि 12 हज़ार विशेषज्ञ इस कांफ्रेन्स से जुडे़ रहे। उल्लेखनीय है, प्रो. सिंह 2019 से आवेरियन रिजोविनेशन टेक्नोलाॅजी पर काम कर रही हैं। 

तीर्थंकर महावीर हाॅस्पिटल एण्ड रिसर्च सेन्टर में आईवीएफ सेन्टर की एचओडी प्रो. पूनम सिंह को प्रसूति का 18 बरसों का लम्बा अनुभव है। वह जेनेवा में 2017 और डेनमार्क में 2021 में भी इससे पूर्व अपने रिसर्च पेपर प्रस्तुत कर चुकी हैं। स्विटज़रलैंड, सिंगापुर, यूरोप, आस्ट्रेलिया, आस्ट्रिया, स्पेन, दुबई आदि देशों की यात्राएं कर चुकी हैं। एमबीबीएस, एमडी, एफआईसीएमसीएच, एफसीजीपी एवं तीर्थंकर महावीर मेडिकल काॅलेज एण्ड रिसर्च सेन्टर आईबीएफ यूनिट की हेड प्रो. पूनम सिंह की झोली में एक दर्जन से अधिक पुरस्कार हैं। यूपी आईएमए की ओर से पांच बार बेस्ट लेडी डॉक्टर का अवार्ड मिल चुका है। इसके अलावा डाॅ. मंजुला मैमोरियल अवार्ड, डाॅ. कनक गोयल अवार्ड, मिशन पिंक अवार्ड भी डाॅ. पूनम की झोली में हैं। डाॅ. पूनम सिंह के एक दर्जन से अधिक नेशनल और इंटरनेशनल पब्लिकेशन्स भी हैं।

lucknow

Aug 04 2022, 09:46

108 पर कॉल करने के बाद भी काफी देर तक नहीं पहुंची, एंबुलेंस, कर्मचारी ने किया फोन बंद

एटा। जलेसर से एक मरीज को गंभीर हालत में मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया। रेफर किए जाने पर लगभग दो ढाई घंटे तक एंबुलेंस का इंतजार करता रहा लेकिन एंबुलेंस नहीं आई। जिस कर्मचारी का नंबर दिया था उसने फोन ही बंद कर लिया। फिर बाद में दूसरी एंबुलेंस आने पर उसे भेजा गया।

थाना जलेसर क्षेत्र स्थित गांव मौजमपुर निवासी बालकिशन (48) को गंभीर हालत में सीएचसी जलेसर से मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर किया गया। बालकिशन की हालत ज्यादा खराब थी और सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। मरीज की पत्नी विनीता ने बताया कि मेडिकल कॉलेज से चिकित्सकों द्वारा बार-बार रेफर कराकर ले जाने की सलाह दी जा रही थी। करीब नौ बजे 108 नंबर पर एंबुलेंस के लिए कॉल किया।

लखनऊ से एक कर्मचारी का नंबर दिया था। करीब आठ दस बार उस नंबर पर कॉल किया। लेकिन एंबुलेंस नहीं आई और बाद में ईएमटी ने मोबाइल बंद कर लिया। इसके बाद दोबारा 108 पर कॉल की तब एंबुलेंस पहुंची। अलीगढ़ के लिए रेफर कराकर ले गए।

मरीज के भाई कालीचरन ने बताया कि समय बढ़ने के साथ ही बालकिशन की हालत बिगड़ती जा रही थी। बार-बार कॉल करने की वजह से एंबुलेंस कर्मी ने अपना मोबाइल बंद कर लिया। इसके बाद दूसरी एंबुलेंस के लिए कॉल किया। इस दौरान करीब दो ढाई घंटे खराब हो गये।

एंबुलेंस कर्मियों की लापरवाही से जा चुकी है चार साल की बच्ची की जान

मेडिकल कॉलेज एटा में एंबुलेंस कर्मियों की लापरवाही की वजह से एक बच्ची की मौत हो चुकी है। 30 जुलाई को एंबुलेंस कर्मियों की लापरवाही की वजह से ऑक्सीजन न मिलने पर चार साल की बच्ची मन्नू की जान चली गई। इस मामले में पांच कर्मचारियों को बर्खास्त भी किया जा चुका है। इसके बावजूद भी एंबुलेंस कर्मी लापरवाही बरत रहे हैं।

lucknow

Aug 04 2022, 09:45

व्यापार मंडल की अगली बैठक में तय होंगी चुनावी तिथियां

लखनऊ। व्यापार मंडल इकाई राजाजीपुरम परीक्षेत्र उद्योग व्यापार मंडल की बैठक अध्यक्ष उमेश कुमार शर्मा की अध्यक्षता में संपन्न हुई।

बैठक में राजाजीपुरम परिक्षेत्र उद्योग व्यापार मंडल के चुनाव पर चर्चा हुई जिसमें सर्वसम्मति से तय हुआ कि बैठक में उपस्थित पदाधिकारी उमेश कुमार अध्यक्ष राजाजीपुरम पर क्षेत्र उद्योग व्यापार मंडलराजाजीपुरम परिक्षेत्र उद्योग व्यापार मंडल निम्न पदों पर चुनाव होगा।

अध्यक्ष 1, वरिष्ठ महामंत्री 1 महामंत्री 5 मीडिया महामंत्री 1 कोषाध्यक्ष 1 वरिष्ठ उपाध्यक्ष 20 उपाध्यक्ष 30 संगठन मंत्री 1 प्रचार मंत्री 5 मंत्री 30 रहेंगे।

सुशील तिवारी और सोनू पंडित ने बताया कि संगठन की सदस्यता शुल्क 15 अगस्त के बाद ली जाएगी अगली बैठक में चुनाव की तारीख तय की जाएगी।

बैठक में मुख्य रूप से राजाजीपुरम परिक्षेत्र उद्योग व्यापार मंडल के अध्यक्ष उमेश कुमार शर्मा महामंत्री सुशील तिवारी सोनू पंडित प्रभारी राजाजीपुरम परिक्षेत्र महेश सिंह गुड डे नवाब दीपक सहगल अनूप द्विवेदी पुष्कर पांडे अशोक रुपज पिंटू गुप्ता सत्येंद्र श्रीवास्तव कुंवर बहादुर सिंह अमित मिश्रा सुधीर अवस्थी अंकित सिंह प्रमोद वर्मा कमल कुमार लल्लन यादव सर्वेश यादव अभिषेक यादव सुरेंद्र शुक्ला सोनू घई मोहम्मद चांद सौरव शर्मा गुलशन सचदेवा अखिलेश अवस्थी राजू खुराना विशाल कोहली आदि पदाधिकारी उपस्थित रहे।

lucknow

Aug 04 2022, 09:43

ताजमहल समेत सभी स्मारकों में पांच से 15 अगस्त तक मिलेगा निशुल्क प्रवेश

लखनऊ। आजादी के अमृत महोत्सव में देश के सभी स्मारकों, धरोहरों और म्यूजियम को 5 से 15 अगस्त के बीच निशुल्क देखा जा सकेगा।

भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के निदेशक एनके पाठक ने यह आदेश जारी किया है। ताजमहल, फतेहपुर सीकरी, आगरा किला और देश के सभी स्मारक, जहां प्रवेश टिकट लेकर किया जाता है, वहां 15 अगस्त तक टिकट काउंटर बंद रहेंगे। पर्यटकों को ताजमहल समेत सभी संरक्षित स्मारकों में निशुल्क प्रवेश मिलेगा। हालांकि ताजमहल नियमानुसार शुक्रवार को पर्यटकों के लिए बंद रहता है। इसलिए ताजमहल में यह सुविधा छह अगस्त को लागू होगी। बाकी स्मारकों में पांच अगस्त से निशुल्क प्रवेश मिलेगा।

एएसआई के निदेशक स्मारक एनके पाठक द्वारा जारी किए गए आदेश के मुताबिक एएसआई एक्ट 1959 के तहत सेकेंड शिड्यूल में दर्ज स्मारकों और म्यूजियम में 5 से 15 अगस्त तक प्रवेश शुल्क नहीं लगेगा। इस आदेश के बाद ताजमहल देखने वालों को सबसे ज्यादा बचत होगी।

lucknow

Aug 03 2022, 21:27

लोकप्रिय गायिका वंदना मिश्रा समेत प्रदेश भर से आए कलाकारों ने दी प्रस्तुतियां, अवध के संस्कार गीतों से सजी शाम

 

लखनऊ। श्रावणी माह के पर्वों का रंग इन लोक संगीत की प्रस्तुतियों में चोखा दिखा। किसी लोकगीत में रक्षाबंधन पर भाई के आने का उल्लास दिखा, तो किसी में सावन की घनघोर बदरिया छाने की उमंग। लोकप्रिय लोक गायिका वंदना मिश्रा ने समारोह की शुरुआत देशभक्ति और सावन से सराबोर रचनाएं सुनायी। बुधवार को यह कार्याक्रम लोक गायिका वंदना मिश्रा के संयोजन में अंतरराष्ट्रीय बौद्ध शोध संस्थान के ऑडिटोरियम में किया गया।


संस्कृति मंत्रालय भारत सरकार के सहयोग से वाईब्रेंट फोक आर्ट एंड कल्चरल सोसाइटी की ओर से अवध के संस्कार गीतों से सजी शाम का आयोजन हुआ। वरिष्ठ गायिका पद्मा गिडवानी ने,मोरे भईया आइले, और वरिष्ठ गायिका विमल पंत ने ,आयो सावन विनय करूं सजना, सुनाया। विजय लक्ष्मी के बाद सरला गुप्ता ने ,बादरा धरती से करे ठिठोली सवनवा मां खेले है होली, गीता शुक्ला ने ,एक दिन अउते पिया अपनी ससुराल, और प्रीति लाल ने ,अरे रामा सावन मा घनघोर बदरिया छाई रे हरि, गीत सुनाया। बाल कलाकार स्वरा त्रिपाठी का नृत्य अन्य आकर्षण बना। इस आयोजन में कानपुर से आईं कविता गुप्ता, बाराबंकी की निष्ठा शर्मा, बलरामपुर की माधवी तिवारी सहित अन्य ने भी गीत सुनाया।

 

इस अवसर पर आमंत्रित अतिथियों में जल निगम के एमडी ज्ञानेन्द्र सिंह, इस्कॉन लखनॅऊ के प्रतिनिधि आदित्य नारायण दास, राजस्व बार एसोसिएशन के अध्यक्ष आरपी अवस्थी, पूर्व एमएलए देवमहर्षि द्विवेदी, पूर्व पीसीएस अधिकारी ओम प्रकाश पाठक, बाल आयोग की वरिष्ठ सदस्या सुचिता चतुर्वेदी, वरिष्ठ संगीतकार केवल कुमार, वरिष्ठ गायिका कमला श्रवास्तव, उत्तर प्रदेश क्षेत्र की प्रचारिका शशि सहित अन्य शामिल रहे।

lucknow

Aug 03 2022, 21:26

राज्य महिला आयोग की सदस्य के द्वारा नरायनुपर ब्लाक में चैपाल लगाकर सुनी गई समस्यायें

मिर्जापुर. राज्य महिला आयोग की मा0 सदस्य श्रीमती अनीता सिंह ने आज विकास खण्ड नारायनपुर में चैपाल लगाकर महिलाओं के समस्याओं को सुना गया तथा सम्बंधित अधिकारियों को मौके पर निस्तारण हेतु प्रेषित किया गया। इस दौरान आई 16 शिकायतों में से 3 का निस्तारण किया गया।


उन्होंने कहा कि शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। श्रीमती सिंह ने महिलाओं से कुरीतियों के विरुद्ध खड़े होने की अपील करने के साथ ही आह्वान किया कि सकारात्मक सोच के साथ समाज को बदलने के लिए जुट जाए। जागरूकता के साथ सोच बदलने को कहा। मोदी योगी सरकार का नारी सशक्तिकरण के क्षेत्र में अच्छा काम कर रहे हैं। शिकायतों को उचित फोरम पर करने की सीख महिलाओं को दी।


सभी को भ्रूण हत्या न करने और बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की शपथ दिलाई गई। बघेड़ी की रीना श्रीवास्तव ने रोजगार दिलाने, बरीजीवनपुर की रीना भारद्वाज ने पेयजल की समस्या, चुनार की सुलेखा श्रीवास्तव ने अतिक्रमण, जमालपुर की बिंदू सोनकर ने पति द्वारा मारपीट किए जाने और बिना तलाक के दूसरी शादी करने, चकईपुर की जीरा देवी ने बेटे बहु द्वारा घर से निकालने, रैपुरिया की अनीता देवी, गांगपुर की सपना आदि ने अपनी शिकायतें कीं। इसके पहले तहसीलदार नुपुर सिंह ने विभिन्न जानकारी दी।


महिलाओं के लिए चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं के बारे में भी बताया गया। ब्लाक प्रमुख चंद्रप्रकाश सिंह, सीओ रामानंद राय, जिला समाज कल्याण अधिकारी गिरीश दूबे, बीडीओ संजय कुमार श्रीवास्तव, आदि मौजूद रहे।

lucknow

Aug 03 2022, 21:25

आईसीआरपी के नौ दिवसीय प्रशिक्षण का शुभारंभ

इटावा: उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन अंतर्गत नव चयनित आईसीआरपी के नौ दिवसीय प्रशिक्षण का शुभारंभ क्षेत्रीय ग्राम विकास संस्थान, बकेवर मे हुआ।


संतोष कुमार राय मुख्य विकास अधिकारी के निर्देशन में प्रशिक्षण का आयोजन किया गया है। बृजमोहन अम्बेड, उपायुक्त स्वरोजगार ने दीप प्रज्वलित कर प्रशिक्षण का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़ी समूह की महिलाओं को लगातार रोजगार से जोड़ा जा रहा है। इस महिलाएं आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर हो रही है और सतत आय के स्रोत उपलब्ध कराया जा रहा है।


डॉ सुरेशचंद्र राजपूत आचार्य क्षेत्रीय ग्राम विकास संस्थान, बकेवर में प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए कहा कि जब महिलाएं आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर होगी तो राष्ट्र सशक्त होगा।


डॉ नंदकिशोर साह जिला मिशन प्रबंधक ने बताया कि इस नौ दिवसीय प्रशिक्षण में आईसीआरपी को सामाजिक समावेशन, वित्तीय समावेशन, सामुदायिक कैडर का महत्व, महिलाओं की सामाजिक स्थिति, समूह की आवश्यकता और महत्व, गरीबी से निकलने के उपाय, आमसभा, लेखांकन, टीम वर्क करने के महत्व, समाजिक मानचित्रण करना सिखाया जाएगा। दो दिवसीय क्षेत्र भ्रमण कराया जाएगा। मौके पर डिस्टिक रिसोर्स पर्सन वेंकट राव व अरुणा, ब्लॉक रिसोर्स पर्सन एकता व वंदना सहित सभी प्रतिभागी मौजूद रही।

lucknow

Aug 03 2022, 21:24

सभी निर्माण कार्यों को निर्धारित अवधि में गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने के निर्देश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के निर्देश पर पुलिस विभाग में चल रहे आवासीय एवं अनावासीय निर्माण कार्यों में गतिशीलता लाने के लिए शासन द्वारा गंभीरता से प्रयास किये जा रहे है।


अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी की अध्यक्षता में आज लोक भवन स्थित कमाण्ड सेण्टर में एक उच्च स्तरीय बैठक का आयोजन किया गया जिसमे विभिन्न निर्माण एजंसियो द्वारा अब तक की गयी कार्यवाही की गहन समीक्षा की गयी। उन्होेंने कहा कि जिन निर्माण कार्यो हेतु सम्पूर्ण धनराशि अवमुक्त की जा चुकी है उन्हे शीघ्र हस्तगत किया जाय।


अवस्थी ने निर्माण एजेंसियों को निर्देशित किया कि जिन कार्यो के लिए शासन द्वारा धनराशि दी जा चुकी है उसे निर्धारित समय सीमा के भीतर प्रत्येक दशा में पूर्ण कर लिया जाय। उन्होंने यह भी निर्देशित किया कि जिस निर्माण कार्य के लिए शासन द्वारा प्रदत्त धनराशि का उपयोग कर लिया गया है उसका उपयोगिता प्रमाण पत्र तत्काल पुलिस मुख्यालय के माध्यम से शासन को उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाय ताकि अगली किस्त समय से निर्माण एजेंसियांे को अवमुक्त की जा सके।


अपर मुख्य सचिव, गृह ने निर्माण कार्यो में तेजी लाये जाने के निर्देश देते हुए यह भी कहा है कि जो निर्माण कार्य पूर्णताः की स्थिति में है उनका लोकार्पण इसी माह में जाने की योजना है। उल्लेखनीय है कि पुलिस विभाग के लिये कुल 661 आवासीय एवं अनावासीय भवनों का निर्माण कार्य कराया जा रहा है जिसके लिये कुल स्वीकृत लागत 554578.03 लाख रूपये है।

             

यह भी उल्लेखनीय है कि इनमें से मा0 मुख्यमंत्री जी घोषणा के सापेक्ष किये जाने वाले कार्यो की संख्या 472 है जिनमें 57 अग्निशमन केन्द्र 10 चौकी, 38 थाना, 36 पुलिस लाइन में ट्राजिंसट हास्टल, 46 पुलिस लाइन में पुरूष/महिला हास्टल, 31 पीएसी वाहिनी में बैरक, 247 थानों पर हास्टल, 3 शिक्षण प्रशिक्षण संस्थानों का विस्तार, 3 महिला पीएसी वाहिनी के आवासीय व अनावासीय भवन व एक पुलिस लाईन्स का निर्माण कार्य शामिल है। इसके अलावा 189 निर्माण कार्य भी किये जा रहे है।


उपरोक्त में से 5 निर्माण एजेंसियों के कुल 154 निर्माण कार्याे को 6 माह हेतु निर्धारित कार्ययोजना में पूर्ण होने की सूची में रखा गया जिनमे आवास एवं विकास परिषद तथा सीएण्डडीएस, जल निगम के 4-4, पुलिस आवास निगम के 14, लोक निर्माण विभाग के 131 व समाज कल्याण निर्माण निगम का 01 निर्माण कार्य शामिल है।


बैठक में सचिव, गृह तरूण गाबा, विशेष सचिव,गृह आरपी सिंह, अध्यक्ष/प्रबन्ध निदेशक, पुलिस आवास निगम, प्रकाश डी के अलावा विभिन्न कार्यदायी संस्थाओं, पीएचक्यू तथा गृह एवं पुलिस विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया।