India

May 22 2024, 18:43

कलकत्ता हाईकोर्ट से ममता बनर्जी सरकार को बड़ा झटका,2010 के बाद दिए गई सभी ओबीसी सर्टिफिकेट को रद्द

#calcuttahighcourtwestbengalobclistreleasedafter2010rejected

लोकसभा चुनावों के बीच ममता बनर्जी सरकार को कलकत्ता हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है। कलकत्ता उच्च न्यायालय ने 2010 के बाद बनाई गई सभी ओबीसी सर्टिफिकेट को रद्द कर दिया है।हाईकोर्ट के इस आदेश के परिणामस्वरूप करीब पांच लाख ओबीसी प्रमाणपत्र रद्द कर दिए गए। हालांकि, साथ ही हाईकोर्ट ने कहा, इस प्रमाणपत्र के जिन उपयोगकर्ताओं को पहले ही मौका मिल चुका है, उन पर इस फैसले का असर नहीं होगा। 

कलकत्ता हाई कोर्ट का कहना है कि 2010 के बाद जितने भी ओबीसी सर्टिफिकेट बनाए गए हैं, वे कानून के मुताबिक ठीक से नहीं बनाए गए हैं। इसलिए उस प्रमाणपत्र को रद्द किया जाना चाहिए, लेकिन साथ ही हाईकोर्ट ने कहा है कि इस निर्देश का उन लोगों पर कोई असर नहीं होगा जो पहले ही इस सर्टिफिकेट के जरिए नौकरी पा चुके हैं या नौकरी पाने की प्रक्रिया में हैं। अन्य लोग अब उस प्रमाणपत्र का उपयोग रोजगार प्रक्रिया में नहीं कर सकेंगे।

रद्द हो जाएंगे पांच लाख ओबीसी सर्टिफिकेट

कलकत्ता उच्च न्यायालय के आदेश से 2010 के बाद बनाई गई सभी ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द हो जाएंगे। इसके चलते राज्य में करीब 5 लाख ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द होने की संभावना है। हालांकि कलकत्ता हाईकोर्ट का कहना है कि 2010 से पहले घोषित ओबीसी वर्ग के लोगों के प्रमाण पत्र वैध हैं। इसके साथ ही जिन्हें 2010 के बाद ओबीसी आरक्षण के कारण नौकरी मिल गई है या भर्ती की प्रक्रिया में हैं, वे भी वैध हैं।

सर्टिफिकेट के आधार पर जिन्हें नौकरी मिली उनका क्या?

कलकत्ता उच्च न्यायालय ने कहा कि साल 2010 के बाद बनाए गए ओबीसी प्रमाणपत्र में कानून का पूरी तरह से अनुपालन नहीं किया गया। इस फैसले के बाद यह सवाल उठा है कि क्या इन सर्टिफिकेट के आधार पर जिन्हें नौकरी मिली है, उन पर क्या प्रभाव पड़ेगा? इस पर कोर्ट ने साफ कहा कि पहले जारी ओबीसी सर्टिफिकेट से जिन्हें नौकरी मिली है। उन पर इस फैसले का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा और न ही इस फैसले का उन पर कोई प्रभाव पड़ेगा, जो नौकरी पाने की प्रक्रिया में हैं।

India

May 22 2024, 11:36

अपने विदाई भाषण से चर्चा में आएं रिटायर हुए जस्टिस चितरंजन दास, जानें ऐसा क्या कहा कि मच गई हलचल

#calcutta_high_court_justice_chitta_ranjan_dash_farewell_speech

कलकत्ता हाई कोर्ट के जज चितरंजन दास सोमवार को रिटायर हो गए। अपने विदाई भाषण में उन्होंने कई बड़ी बातें कहीं जिसके बाद वो सुर्खियों में आ गए हैं। अपने कार्यकाल के आखिरी दिन विदाई भाषण में उन्होंने जिस तरह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आएसएस) की अपनी सदस्यता का जिक्र किया, वह न्यायाधीश पद के साथ जुड़ी गरिमा और संवेदनशीलता से वाकिफ किसी भी शख्स को हैरान कर सकता है। उन्होंने बताया कि वह न केवल अतीत में इस संगठन के सदस्य रहे हैं बल्कि अब रिटायरमेंट के बाद अगर संगठन उन्हें कोई उपयुक्त काम सौंपता है तो उसे खुशी-खुशी अंजाम देंगे।

अपने फेयरवेल स्पीच में जस्टिस दास ने कहा कि मैं अपने काम की वजह से करीब 37 साल तक आरएसएस से दूरी बनाकर रखी। मैंने अपने करियर में कभी भी प्रमोशन के लिए संगठन का इस्तेमाल नहीं किया क्योंकि यह मेरे और इसके सिद्धांतों के खिलाफ है। सभी के साथ समान व्यवहार किया, चाहे वह कोई अमीर व्यक्ति हो या गरीब, चाहे वह कम्युनिस्ट हो या भाजपा, कांग्रेस या टीएमसी से हो।

उन्होंने आगे कहा कि मेरे सामने सभी समान हैं। मैंने अपने जीवन में कुछ भी गलत नहीं किया है, इसलिए मुझमें यह कहने का साहस है कि मैं संगठन से जुड़ा हूं क्योंकि यह भी गलत नहीं है। मैं किसी के लिए कोई पूर्वाग्रह नहीं रखता। मैंने दूसरों के प्रति समान दृष्टिकोण रखना सीखा है और इसके प्रति मेरी प्रतिबद्धता भी रही है। कुछ लोगों को भले ही अच्छा न लगे लेकिन आज मैं कहना चाहता हूं कि मैं संघ का सदस्य था और हूं।

रिटायर्ड जस्टिस चितरंजन दास कोलकाता हाईकोर्ट में उन्हीं अभिजीत गंगोपाध्याय के साथी जज रहे हैं जिन्होंने दो महीने पहले ज्युडिशियल सर्विस छोड़कर बीजेपी ज्वाइन की थी, और इस वक्त तमलुक सीट से बीजेपी के टिकट पर चुनाव मैदान में हैं।

India

Apr 22 2024, 11:49

शिक्षक भर्ती घोटाले में ममता सरकार को बड़ा झटका, कलकत्ता हाईकोर्ट ने दिया 23 हजार से अधिक नौकरियों को रद्द करने का आदेश

#west_bengal_school_jobs_scam_calcutta_high_court_cancels_all_appointments

लोकसभा चुनाव के बीच शिक्षक भर्ती घोटाला मामले में पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को कलकत्ता हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है।कलकत्ता हाईकोर्ट ने 23 हजार से अधिक नौकरियों को रद्द करने का आदेश दिया है।अदालत ने सरकार के जरिए प्रायोजित और सहायता प्राप्त स्कूलों में 2016 स्टेट-लेवल टेस्ट के माध्यम से भर्ती हुए टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ की सभी नियुक्तियों को रद्द कर दिया है। साल 2016 में जिन लोगों को नौकरियां मिला थीं, कोर्ट ने उसे रद्द कर दिया है। इतना ही नहीं, हाईकोर्ट ने इन लोगों को 4 हफ्तों में वेतन वापस करने का आदेश दिया है। अदालत ने पश्चिम बंगाल स्कूल भर्ती घोटाले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को जांच का आदेश भी दिया है।

शिक्षक भर्ती घोटाले पर कलकत्ता हाईकोर्ट के जस्टिस देवांशु बसाक की बेंच ने यह फैसला सुनाया. यहां बताना जरूरी है कि शिक्षक भर्ती घोटाला मामले में पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी सहित टीएमसी के अन्य नेता, विधायक और शिक्षा विभाग के कई अधिकारी भी जेल में हैं।

पश्चिम बंगाल में 2016 में हुई स्कूल भर्तियों में अनियमितता देखने को मिली थी। इसके बाद याचिकाओं और अपीलें दायर कर अदालत का दरवाजा खटखटाया गया था। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर स्कूल भर्ती घोटाले की जांच कर रही सीबीआई ने राज्य के पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी और पश्चिम बंगाल स्कूल सेवा आयोग (एसएससी) में पदों पर रहे कुछ पदाधिकारियों को गिरफ्तार भी किया था। अभी तक इस मामले में 5000 लोगों की नौकरियां जा चुकी हैं, जिन्होंने गलत तरीके से नौकरी पाई थी। इस भर्ती में 5 से 15 लाख रुपये की घूस लेने तक की आरोप हैं।

WestBengalBangla

Mar 25 2024, 09:58

*Sports News*

Golf Tournament at Calcutta

Pic : Sanjay Hazra ( khabar kolkata).

Rasmus Neergaard-Petersen receives the trophy from Mr. Gaurav Ghosh, Captain, RCGC. The other dignitaries seen in the picture are Mr. Ed Johnson, Tournament Director, Challenge Tour (extreme right) and Mr. Uttam Singh Mundy, CEO, PGTI (extreme left).

WestBengalBangla

Jan 20 2024, 19:07

*shanti podojatra at Kolkata*

 SBNB: Aj Kolkata mahanagar st paul' s cathedral theke bengal Christian council ebong onno sob christio biswas ekti shanti podojatra korechi mayo road gandhi murti porjonto. Michiler netrito o prodhan bokta chilen The Rt. Revd. Dr. Paritosh Canning, Bishop of Calcutta, CNI.

WestBengalBangla

Dec 20 2023, 21:14

*Kalinga Super Cup Derby Damama, schedule announced*

Sports News 

 KKNB : Football lovers will get a taste of derby at the beginning of the new year. Although not in Kolkata's Yuva Bharati sports arena. Kalinga Super Cup will be held in Bhubaneswar and Cuttack. Calcutta derby will be held at Kalinga Stadium in Bhubaneswar on January 19.

The All India Football Federation announced the complete schedule of the Super Cup a while ago. On the first day of the tournament, the two leaders of Kolkata are entering the field. The main episode starts on January 9.

East Bengal will play against Hyderabad FC in the first match. Mohun Bagan is coming down in the evening. The opponent is an I-League team.

Mohun Bagan's next match is on January 14. Opponent Hyderabad FC. On the same day, Mohun Bagan is coming down in the evening. The opponent is an I-League team. Big match on January 19. Which team will make it to the semi-finals will depend on this match. The two semi-finals will be held on January 24 and 25. The Super Cup final is on January 28. The matches of the day will be from 2 pm. Evening match at 7.30 pm.

 Pic Courtesy by: AIFA

WestBengalBangla

Dec 12 2023, 08:12

*Christmas concert*

SB News bureau: Sanjeev Mondal's Calcutta Symphony Orchestra in collaboration with the Calcutta International School Choir presented a Christmas concert supported by the Diocese of Calcutta at St. Paul's Cathedral Church. Honorable Dr.Poritosh Canning,was the chief guest at the event. Bishop of Calcutta. The church was completely packed. Musicians and singers mesmerize the audience with their performances. The program ended with Feliz Navidad singing in which the audience joined in.

WestBengalBangla

Nov 30 2023, 19:26

*Calcutta league derby was cancelled*

Sports News 

 Khabar Kolkata : East Bengal and Mohun Bagan were scheduled to face each other in the Kolkata League at the Naihati Stadium today. However, Mohun Bagan did not send the team. Mohammedan Sporting has already won the Calcutta league. Three consecutive league champions Mohammedan. Since then, there has been uncertainty about the derby.

Many people were asking why the derby was not done earlier, the IFA secretary said that many players from both teams were in the national team. That's why it's so late.The East Bengal coach said, "Derby is a traditional match. We were ready. The players were ready. This is India's best match. The next decision will be taken by IFA. 'East Bengal became the runners-up in the league.

In that context, Bino George said, "We missed the championship due to our small mistake. New players emerge from the derby. Our players have also warmed up. We are runners, that's what we believe."

 Pic Courtesy by: X

WestBengalBangla

Oct 24 2023, 12:09

*The puja is over,Now Uma's turn to return home*

SB News bureau: The puja is over. Now it's Uma's turn to return home. Wait another year. All eight to eighty have started counting the days for when the girl of the house will return home. Following the ritual, after the puja, the vermilion game will begin in the pavilion. Then Pratima Niranjan. In the morning, Dasami puja has started every where in west bengal. Like any other day of Puja, devotees have started thronging. There will be various treats throughout the day. Then Niranjan. But in the case of Calcutta's Big Puja, the festivities are not over yet. 27th Puja Carnival.The practice of desecrating idols by taking a procession along the Red Road has started over the last few years. According to sources, Chief Minister Mamata Banerjee may be physically present in this carnival after overcoming physical illness.

India

Jul 29 2023, 11:58

अवैध निर्माण पर पश्चिम बंगाल हाई कोर्ट की सख्त टिप्पणी, कहा- जरूरत पड़े तो योगी से किराए पर लें बुलडोजर

#hire_bulldozers_from_yogi_govt_calcutta_high_court_on_illegal_construction

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को “बुलडोजर बाबा” के नाम से भी जाना जाता है।इसकी एक खास वजह है। योगी आदित्यनाथ ने असामाजिक तत्वों, दंगा करने वालों और सूबे की बहन-बेटियों की इज्जत को निशाना बनाने वालों के अवैध निर्माणों को बुलडोजर चलाकर गिराने की शुरुआत की। योगी की इस कार्रवाई की जितनी आलोचना होती है, उससे कहीं ज्यादा इस मामले में योगी के प्रशंस हैं। कलकत्ता हाईकोर्ट के एक जज भी योगी आदित्यनाथ सरकार के बुलडोजर एक्शन के मुरीद दिखे हैं।अवैध निर्माण पर लापरवाही बरतने से नाराज कलकत्ता हाईकोर्ट के जस्टिस अभिजीत गंगोपाध्याय ने कोलकाता पुलिस और नगर निगम को सलाह दी है कि अवैध निर्माण हटाने के लिए जरूरी हो तो यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से कुछ बुलडोजर किराए पर मंगवा लें।

पुलिस की गुंडा दमन शाखा को पता है गैंगस्टरों को कैसे अनुशासित करें

कलकत्ता हाई कोर्ट के जस्टिस गंगोपाध्याय कोलकाता के मानिकतला इलाके में अवैध निर्माण के खिलाफ दायर एक याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई कर रहे थे।याचिकाकर्ता महिला के वकील ने कोर्ट से उनकी सुरक्षा को लेकर गुहार लगाई थी और कहा था कि अवैध निर्माण के खिलाफ कदम उठाने के कारण वह असुरक्षित महसूस कर रही हैं। जस्टिस गंगोपाध्याय ने सुनवाई के दौरान कोलकाता पुलिस की तारीफ भी की और कहा कि पुलिस की गुंडा दमन शाखा के अधिकारियों को पता है कि गैंगस्टरों को कैसे अनुशासित किया जाता है।इस दौरान नगर निगम के वकील से कहा, अगर जरूरत पड़े तो योगी आदित्यनाथ से कुछ बुलडोजर किराए पर लें। 

चर्चा में हैं अभिजीत गंगोपाध्याय

जस्टिस अभिजीत गंगोपाध्याय काफी दिनों से चर्चा में रहे है। पश्चिम बंगाल में स्कूल भर्ती के कथित घोटाले की सीबीआई जांच के आदेश उन्होंने ही दिए थे। इस बारे में एक न्यूज चैनल को इंटरव्यू देने की वजह से बीते दिनों सुप्रीम कोर्ट ने उनसे केस वापस लेने का आदेश दिया था। इस पर जस्टिस अभिजीत गंगोपाध्याय और सुप्रीम कोर्ट के बीच ठनती भी दिखी थी। जस्टिस गंगोपाध्याय ने सुप्रीम कोर्ट के महासचिव से अपने इंटरव्यू की ट्रांसक्रिप्ट तक तलब कर ली थी। हालांकि, बाद में सुप्रीम कोर्ट के आदेश को जस्टिस गंगोपाध्याय ने मान भी लिया था।

India

May 22 2024, 18:43

कलकत्ता हाईकोर्ट से ममता बनर्जी सरकार को बड़ा झटका,2010 के बाद दिए गई सभी ओबीसी सर्टिफिकेट को रद्द

#calcuttahighcourtwestbengalobclistreleasedafter2010rejected

लोकसभा चुनावों के बीच ममता बनर्जी सरकार को कलकत्ता हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है। कलकत्ता उच्च न्यायालय ने 2010 के बाद बनाई गई सभी ओबीसी सर्टिफिकेट को रद्द कर दिया है।हाईकोर्ट के इस आदेश के परिणामस्वरूप करीब पांच लाख ओबीसी प्रमाणपत्र रद्द कर दिए गए। हालांकि, साथ ही हाईकोर्ट ने कहा, इस प्रमाणपत्र के जिन उपयोगकर्ताओं को पहले ही मौका मिल चुका है, उन पर इस फैसले का असर नहीं होगा। 

कलकत्ता हाई कोर्ट का कहना है कि 2010 के बाद जितने भी ओबीसी सर्टिफिकेट बनाए गए हैं, वे कानून के मुताबिक ठीक से नहीं बनाए गए हैं। इसलिए उस प्रमाणपत्र को रद्द किया जाना चाहिए, लेकिन साथ ही हाईकोर्ट ने कहा है कि इस निर्देश का उन लोगों पर कोई असर नहीं होगा जो पहले ही इस सर्टिफिकेट के जरिए नौकरी पा चुके हैं या नौकरी पाने की प्रक्रिया में हैं। अन्य लोग अब उस प्रमाणपत्र का उपयोग रोजगार प्रक्रिया में नहीं कर सकेंगे।

रद्द हो जाएंगे पांच लाख ओबीसी सर्टिफिकेट

कलकत्ता उच्च न्यायालय के आदेश से 2010 के बाद बनाई गई सभी ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द हो जाएंगे। इसके चलते राज्य में करीब 5 लाख ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द होने की संभावना है। हालांकि कलकत्ता हाईकोर्ट का कहना है कि 2010 से पहले घोषित ओबीसी वर्ग के लोगों के प्रमाण पत्र वैध हैं। इसके साथ ही जिन्हें 2010 के बाद ओबीसी आरक्षण के कारण नौकरी मिल गई है या भर्ती की प्रक्रिया में हैं, वे भी वैध हैं।

सर्टिफिकेट के आधार पर जिन्हें नौकरी मिली उनका क्या?

कलकत्ता उच्च न्यायालय ने कहा कि साल 2010 के बाद बनाए गए ओबीसी प्रमाणपत्र में कानून का पूरी तरह से अनुपालन नहीं किया गया। इस फैसले के बाद यह सवाल उठा है कि क्या इन सर्टिफिकेट के आधार पर जिन्हें नौकरी मिली है, उन पर क्या प्रभाव पड़ेगा? इस पर कोर्ट ने साफ कहा कि पहले जारी ओबीसी सर्टिफिकेट से जिन्हें नौकरी मिली है। उन पर इस फैसले का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा और न ही इस फैसले का उन पर कोई प्रभाव पड़ेगा, जो नौकरी पाने की प्रक्रिया में हैं।

India

May 22 2024, 11:36

अपने विदाई भाषण से चर्चा में आएं रिटायर हुए जस्टिस चितरंजन दास, जानें ऐसा क्या कहा कि मच गई हलचल

#calcutta_high_court_justice_chitta_ranjan_dash_farewell_speech

कलकत्ता हाई कोर्ट के जज चितरंजन दास सोमवार को रिटायर हो गए। अपने विदाई भाषण में उन्होंने कई बड़ी बातें कहीं जिसके बाद वो सुर्खियों में आ गए हैं। अपने कार्यकाल के आखिरी दिन विदाई भाषण में उन्होंने जिस तरह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आएसएस) की अपनी सदस्यता का जिक्र किया, वह न्यायाधीश पद के साथ जुड़ी गरिमा और संवेदनशीलता से वाकिफ किसी भी शख्स को हैरान कर सकता है। उन्होंने बताया कि वह न केवल अतीत में इस संगठन के सदस्य रहे हैं बल्कि अब रिटायरमेंट के बाद अगर संगठन उन्हें कोई उपयुक्त काम सौंपता है तो उसे खुशी-खुशी अंजाम देंगे।

अपने फेयरवेल स्पीच में जस्टिस दास ने कहा कि मैं अपने काम की वजह से करीब 37 साल तक आरएसएस से दूरी बनाकर रखी। मैंने अपने करियर में कभी भी प्रमोशन के लिए संगठन का इस्तेमाल नहीं किया क्योंकि यह मेरे और इसके सिद्धांतों के खिलाफ है। सभी के साथ समान व्यवहार किया, चाहे वह कोई अमीर व्यक्ति हो या गरीब, चाहे वह कम्युनिस्ट हो या भाजपा, कांग्रेस या टीएमसी से हो।

उन्होंने आगे कहा कि मेरे सामने सभी समान हैं। मैंने अपने जीवन में कुछ भी गलत नहीं किया है, इसलिए मुझमें यह कहने का साहस है कि मैं संगठन से जुड़ा हूं क्योंकि यह भी गलत नहीं है। मैं किसी के लिए कोई पूर्वाग्रह नहीं रखता। मैंने दूसरों के प्रति समान दृष्टिकोण रखना सीखा है और इसके प्रति मेरी प्रतिबद्धता भी रही है। कुछ लोगों को भले ही अच्छा न लगे लेकिन आज मैं कहना चाहता हूं कि मैं संघ का सदस्य था और हूं।

रिटायर्ड जस्टिस चितरंजन दास कोलकाता हाईकोर्ट में उन्हीं अभिजीत गंगोपाध्याय के साथी जज रहे हैं जिन्होंने दो महीने पहले ज्युडिशियल सर्विस छोड़कर बीजेपी ज्वाइन की थी, और इस वक्त तमलुक सीट से बीजेपी के टिकट पर चुनाव मैदान में हैं।

India

Apr 22 2024, 11:49

शिक्षक भर्ती घोटाले में ममता सरकार को बड़ा झटका, कलकत्ता हाईकोर्ट ने दिया 23 हजार से अधिक नौकरियों को रद्द करने का आदेश

#west_bengal_school_jobs_scam_calcutta_high_court_cancels_all_appointments

लोकसभा चुनाव के बीच शिक्षक भर्ती घोटाला मामले में पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को कलकत्ता हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है।कलकत्ता हाईकोर्ट ने 23 हजार से अधिक नौकरियों को रद्द करने का आदेश दिया है।अदालत ने सरकार के जरिए प्रायोजित और सहायता प्राप्त स्कूलों में 2016 स्टेट-लेवल टेस्ट के माध्यम से भर्ती हुए टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ की सभी नियुक्तियों को रद्द कर दिया है। साल 2016 में जिन लोगों को नौकरियां मिला थीं, कोर्ट ने उसे रद्द कर दिया है। इतना ही नहीं, हाईकोर्ट ने इन लोगों को 4 हफ्तों में वेतन वापस करने का आदेश दिया है। अदालत ने पश्चिम बंगाल स्कूल भर्ती घोटाले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को जांच का आदेश भी दिया है।

शिक्षक भर्ती घोटाले पर कलकत्ता हाईकोर्ट के जस्टिस देवांशु बसाक की बेंच ने यह फैसला सुनाया. यहां बताना जरूरी है कि शिक्षक भर्ती घोटाला मामले में पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी सहित टीएमसी के अन्य नेता, विधायक और शिक्षा विभाग के कई अधिकारी भी जेल में हैं।

पश्चिम बंगाल में 2016 में हुई स्कूल भर्तियों में अनियमितता देखने को मिली थी। इसके बाद याचिकाओं और अपीलें दायर कर अदालत का दरवाजा खटखटाया गया था। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर स्कूल भर्ती घोटाले की जांच कर रही सीबीआई ने राज्य के पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी और पश्चिम बंगाल स्कूल सेवा आयोग (एसएससी) में पदों पर रहे कुछ पदाधिकारियों को गिरफ्तार भी किया था। अभी तक इस मामले में 5000 लोगों की नौकरियां जा चुकी हैं, जिन्होंने गलत तरीके से नौकरी पाई थी। इस भर्ती में 5 से 15 लाख रुपये की घूस लेने तक की आरोप हैं।

WestBengalBangla

Mar 25 2024, 09:58

*Sports News*

Golf Tournament at Calcutta

Pic : Sanjay Hazra ( khabar kolkata).

Rasmus Neergaard-Petersen receives the trophy from Mr. Gaurav Ghosh, Captain, RCGC. The other dignitaries seen in the picture are Mr. Ed Johnson, Tournament Director, Challenge Tour (extreme right) and Mr. Uttam Singh Mundy, CEO, PGTI (extreme left).

WestBengalBangla

Jan 20 2024, 19:07

*shanti podojatra at Kolkata*

 SBNB: Aj Kolkata mahanagar st paul' s cathedral theke bengal Christian council ebong onno sob christio biswas ekti shanti podojatra korechi mayo road gandhi murti porjonto. Michiler netrito o prodhan bokta chilen The Rt. Revd. Dr. Paritosh Canning, Bishop of Calcutta, CNI.

WestBengalBangla

Dec 20 2023, 21:14

*Kalinga Super Cup Derby Damama, schedule announced*

Sports News 

 KKNB : Football lovers will get a taste of derby at the beginning of the new year. Although not in Kolkata's Yuva Bharati sports arena. Kalinga Super Cup will be held in Bhubaneswar and Cuttack. Calcutta derby will be held at Kalinga Stadium in Bhubaneswar on January 19.

The All India Football Federation announced the complete schedule of the Super Cup a while ago. On the first day of the tournament, the two leaders of Kolkata are entering the field. The main episode starts on January 9.

East Bengal will play against Hyderabad FC in the first match. Mohun Bagan is coming down in the evening. The opponent is an I-League team.

Mohun Bagan's next match is on January 14. Opponent Hyderabad FC. On the same day, Mohun Bagan is coming down in the evening. The opponent is an I-League team. Big match on January 19. Which team will make it to the semi-finals will depend on this match. The two semi-finals will be held on January 24 and 25. The Super Cup final is on January 28. The matches of the day will be from 2 pm. Evening match at 7.30 pm.

 Pic Courtesy by: AIFA