Muzaffarpur

Oct 13 2021, 15:36

मुजफ्फरपुर : अवैध शराब के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में उत्पाद विभाग को मिली बड़ी सफलता, तकरीबन 50 लाख का शराब किया जब्त

  


मुजफ्फरपुर : प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी लागू होने के बावजूद शराब का काला कारोबार रुकने का नाम नही ले रहा है।   हर दूसरे दिन कही न कही शराब की बड़ी खेप पकड़ी जा रही है जिसकी किम्मत लाखों में आंकी जाती है। शराबबंदी के कठोर कानून बनाने के बाद भी यह खेल चल रहा है ,50 लाख रुपए की शराब हुई जब्त एक गिरफ्तार , पंचायत चुनाव के पूर्व उत्पाद विभाग की कार्रवाई ₹50 लाख रुपय से अधिक की शराब जब्त एक गिरफ्तार किया गया है। 


बिहार में पंचायत चुनाव के पूर्व  और दुर्गा पूजा की आड़ में शराब तस्करों का तस्करी का खेल जारी है इसी क्रम में जिला उत्पाद टीम को मिली एक गुप्त सूचना के आधार पर काजी मोहम्मदपुर थाना क्षेत्र के सर्किट हाउस रोड में जांच के दौरान राजस्थान नंबर की एक ट्रक जप्त की गई है जिसमें 50लाख  रुपए से अधिक की शराब की खेप बरामद किया गया। 

  

बताया जा रहा है कि जिले में चल रहे पंचायत चुनाव को लेकर बड़ी संख्या में इस को खपाने की थी तैयारी जिसकी भनक उत्पाद टीम को लग गई और छापेमारी करते हुए ट्रक सहित शराब को जप्त कर लिया वही मौके पर से ट्रक के चालक को गिरफ्तार कर पूछताछ किया जा रहा है। 

बताया गया है कि पंचायत चुनाव में शराब के तश्कर के द्वारा इसको जिले में बड़ी संख्या में खपाने की थी तैयारी जिसकी भनक मिलते ही जिला उत्पाद टीम ने जानकारी के मिलते ही छापेमारी किया गया है और मौके पर से शराब की खेप को जानत किया गया है जिसकी कीमत तकरीबन 50 लाख रुपए आंकी जा रही है और मामले में आगे की करवाई भी किया जा रहा है।

मुजफ्फरपुर से संतोष तिवारी 

Muzaffarpur

Oct 12 2021, 21:37

मुजफ्फरपुर:-30 साल से जमीन के अंदर रहकर करते हैं माता की साधना,पढे पुरी खबर

  


 मुजफ्फरपुर में 30 साल से अनूठी साधना, पूरी नवरात्र एक बूंद पानी तक नहीं पीते


आपने मां दुर्गा की साधना के कई किस्से सुने होंगे। उसमें से एक मुजफ्फरपुर का भी है, जो हर किसी की जुबान पर नवरात्र शुरू होते ही चढ़ जाता है।

  

 हम बात कर रहे हैं जिला मुख्यालय से करीब 50 किलोमीटर दूर स्थित कटरा के धनौर गांव की। 

यहां एक बुजुर्ग 30 साल से माता की आराधना कर रहे हैं। वे जमीन के अंदर रहकर नौ दिनों तक साधना करते हैं।

 वह गराती बाबा के नाम से जाने जाते हैं। लोग उन्हें दूर-दूर से आते हैं और उनके बगल में बैठकर माता की आराधना करते हैं। गराती बाबा साधना के दौरान उपवास पर रहते हैं, पानी की एक बूंद तक नहीं ग्रहण करते।


तीन दिन पहले से छोड़ देते खाना-पीना

गराती बाबा की बहू रानू बताती हैं कि नवरात्र शुरू होने से तीन दिन पूर्व वे खाना-पीना छोड़ देते हैं। कलश स्थापन की सुबह जमीन में दो फीट गड्ढा खोदा जाता है। चादर डालकर उस गड्ढे में वे लेट जाते हैं। ऊपर एक तख्त रखा जाता है।

 उसके ऊपर मिट्टी और कलश रख दिया जाता है। फिर शुरू हो जाती है बाबा की साधना।

कुवांरी पूजन और विसर्जन के बाद पीते हैं पानी

गराती बाबा बताते हैं, जितने दिन पूजा होती है, वे जमीन के अंदर रहते हैं, सिर्फ उनका सिर बाहर होता है। नवमी के बाद वे बाहर आते हैं। फिर कुंवारी पूजन और खाना खिलाने के बाद विसर्जन करते हैं।

 इसके बाद गर्म पानी पीते हैं। फिर अन्न का दाना मुंह में डालते हैं। गराती बाबा की बहू बताती हैं, वे लोग भी गराती बाबा के साधना के दौरान उनके साथ बैठते हैं।


कभी बिजली चली जाती है तो फिर हाथ से पंखा झेलती हैं। हमेशा रोशनी का प्रबन्ध रहता है। आसपास भी नज़र रखती हैं ताकि कोई सांप-बिच्छू न घुस जाए। 

बताती हैं के जमीन में गाड़ने के कारण उनका नाम गराती बाबा पड़ गया। नौ दिनों तक साधना करने के बाद वे काफी कमजोर हो जाते हैं। चार-पांच लोग मिलकर उन्हें बाहर निकालते हैं। 

फिर एक दो दिनों में वे खुद चलने-फिरने लगते हैं। 

Muzaffarpur

Oct 12 2021, 19:24

मुजफ्फरपुर : मां दुर्गे का खुला पट, पंडालों में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़ 

  


मुजफ्फरपुर : आज नवरात्र का सातवां दिन है। आज मां कालरात्रि की पूजा-अर्चना हो रही है। वहीं माता के जयकारों और शंख की गूंज के बीच मां का पट भी खुल गया है। शहर के अलग-अलग हिस्सों में बने पूजा पंडालों में मां के अलग-अलग मनोरम रूप के दर्शन हो रहे हैं। पट खुलते ही पूजा पंडालों में भक्तों की भीड़ देखी जा रही है।

बिहार के मुजफ्फरपुर में आज नवरात्र के सप्तमी तिथि को माँ दुर्गा का पट खुलते ही भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी। शहर से लेकर गाँव तक मूर्ति पूजा होने वाले जगहों पर माँ का स्वरुप देखने के लिये भक्तों का तांता लगना शुरू हो गया है।

  

वहीं पूजा के दौरान किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना न हो इसे लेकर प्रशासन की ओर से पूरी तैयारी की गई है। चप्पे-चप्पे पर पुलिस और मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है। 

मुजफ्फरपुर से संतोष तिवारी 

Muzaffarpur

Oct 12 2021, 19:15

दुर्गा पूजा एवं आगामी त्योहारों के अवसर पर सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने सोशल मीडिया का बेजा इस्तेमाल करने वालों पर रहेगी पैनी नजर : जिलाधिकारी

  

 
मुजफ्फरपुर : दुर्गा पूजा एवं आगे आने वाले अन्य त्योहारों के अवसर पर जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के द्वारा पूरी मुस्तैदी के साथ अपने कर्तव्यों के निर्वहन के प्रति गंभीरता बरती जा रही है। इस क्रम में असामाजिक तत्वों के द्वारा अफवाह को बल देते हुए सामाजिक सद्भाव को बिगाड़ने का प्रयास किया जाता है। इसे लेकर जिला प्रशासन/ पुलिस प्रशासन द्वारा ऐसे तत्वों को चिन्हित किया जा रहा है। अफवाह फैलाने वालों व्यक्तियों के विरुद्ध भारतीय दंड विधान की धारा 153a, 505 के तहत प्रभावी कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। ये धाराएं संज्ञेय एवं गैर जमानतीय हैं ।

  

इसी प्रकार सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्म यथा:- फेसबुक पेज, यूट्यूब चैनल, पोर्टल तथा अन्य वेब न्यूज़ पर सतत निगरानी रखी जा रही है। आपत्तिजनक ऑडियो/ वीडियो वायरल करने वाले वालों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करते हुए उन्हें जेल भेजा जाएगा

यदि कोई व्यक्ति दूसरे वर्ग या समुदाय के धर्म को अपमानित करने के उद्देश्य से धार्मिक स्थल का नुकसान अथवा अपवित्र या उनके धर्म अथवा धार्मिक मान्यता को ठेस पहुंचाने के उद्देश्य से जानबूझकर दुर्भावना से ग्रसित होकर कोई कार्य करता हो,  कानूनी रूप से आयोजित धार्मिक अनुष्ठान या पूजा में बाधा पहुंचाता हो तो उनके विरुद्ध भारतीय दंड की धारा 153a, 295, 295a एवं 296a के तहत कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

सामाजिक सद्भाव एवं संप्रदायिक विद्वेष पैदा करने वाले तत्वों के विरुद्ध सुसंगत धाराओं के अंतर्गत निरोधात्मक कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। वैसी झांकी अथवा व्यंग चित्र  जुलूस और पंडाल में नहीं होगा  जिससे किसी संप्रदाय ,जाति, धर्म, वर्ग अथवा समुदाय की भावना को ठेस पहुंचती हो ।

पंचायत चुनाव के मद्देनजर आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन न हो ,सभी पुलिस पदाधिकारी सतर्क रहें। इस बाबत सख्त निर्देश दिए गए है। इसके उल्लंघन की अवस्था में उन व्यक्तियों जिनके नाम से अनुज्ञप्ति जारी किया गया है ,के विरुद्ध विधि सम्मत कठोर कार्रवाई की जाएगी एवं सख्ती से इसका अनुपालन सुनिश्चित किया जाएगा। 

जिलाधिकारी ने सभी पदाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा है कि आयोजक एवं शांति समिति के सदस्य अपने -अपने क्षेत्रों में पूरी जिम्मेदारी के साथ शांतिपूर्वक दुर्गा पूजा संपन्न कराना सुनिश्चित करेंगे।

मुजफ्फरपुर से संतोष तिवारी 

Muzaffarpur

Oct 12 2021, 18:19

मुजफ्फरपुर : दशहरा पर्व पर विधि-व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रशासन ने की है पूरी तैयारी, पदाधिकारियों को दिए गये है कई कड़े निर्देश

  


मुजफ्फरपुर : दशहरा पर्व के अवसर पर विधि व्यवस्था एवं सांप्रदायिक सौहार्द बरकरार रखने हेतु विशेष चौकसी रखने के साथ-साथ यथेष्ट एहतियाती एवं निरोधात्मक कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है।

दुर्गा पूजा शांतिपूर्ण एवं सौहार्दपूर्ण रुप से संपन्न हो इस बाबत सभी पदाधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं। नगर आयुक्त, सभी एसडीओ ,सभी एसडीपीओ ,एसडीपीओ सरैया, सभी बीडीओ, सीओ सभी नगर कार्यपालक अधिकारी आगामी त्यौहार के दौरान राज्य के बाहर से आने वाले यात्रियों की बड़ी संख्या तथा उसके कारण कोविड के संभावित प्रसार को रोकने हेतु प्रभावी नियंत्रण सुनिश्चित करेंगे।

  

निर्देश दिया गया है कि पंडालों की स्वीकृति देते समय अनुपालन कराना होगा कि संबंधित पूजा प्रबंधक एवं कार्यकर्ताओं द्वारा कोविड-19 का कम से कम प्रथम खुराक अवश्य प्राप्त की गई हो। साथ ही पंडाल में आने वाले आगंतुकों के टीकाकरण से संबंधित प्रमाण पत्र की जांच प्रवेश द्वार पर करने की व्यवस्था सुनिश्चित हो।
 
गांव/टोलो एवं नगर में विशेष रूप से सतर्कता बरतते हुए आपसी भाईचारा और सौहार्द बिगाड़ने वाले तत्वों को चिन्हित करने का निर्देश दिया गया है। अफवाह फैलाने वाले के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

बिना लाइसेंस की दुर्गा पूजा पंडाल मूर्ति विसर्जन किसी भी परिस्थिति में नहीं निकाला जाएगा।सभी थानाध्यक्षों को इस आशय का निर्देश दिया गया है।सभी थानाध्यक्ष दुर्गा पूजा के अवसर पर विधि व्यवस्था संधारण हेतु एवं असामाजिक तत्वों पर निगरानी रखने के निमित्त  सीसीटीवी कैमरा पूजा समिति के आयोजकों से लगवाना सुनिश्चित करेंगे। सभी लाइसेंस के साथ रूट मैप मैप भी लगाया जाएगा और थाना क्षेत्र के रूट मैप पर दुर्गा पूजा की मूर्ति विसर्जन की मूर्ति का मार्ग अलग-अलग रंगों में दिखाया जाएगा।मूर्ति विसर्जन सही एवं शांतिपूर्ण तरीके से हो  इस बाबत संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस अधिकारी एवं एसडीपीओ  सरैया एवं सभी थानाध्यक्ष को निर्देशित किया गया है।सभी थानाध्यक्ष अपने अपने क्षेत्र में अंचल अधिकारियों/ प्रखंड विकास पदाधिकारियों के साथ मिलकर शांति समिति की बैठक बुलाएंगे।

 प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी/पुलिस अधिकारी अपने कर्तव्यों का पालन मुस्तैदी से करेंगे ।लापरवाही पर विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी। 

विधि व्यवस्था संधारण हेतु एवं किसी भी अवांछनीय स्थिति से निपटने के लिए स्थानीय पी आई आर में जिला नियंत्रण कक्ष की स्थापना की गई है जिसका दूरभाष नंबर 0621 2212377 एवं 2216275 है। नियंत्रण कक्ष के वरीय प्रभार में श्री बबन कुमार जिला योजना पदाधिकारी रहेंगे। नियंत्रण कक्ष 12 अक्टूबर के पूर्वाहन 6:00 बजे से कार्य करना शुरू कर दिया है जो कि 15 अक्टूबर मूर्ति  विसर्जन तक कार्यरत रहेगा।

मिनी नियंत्रण कक्ष राजराजेश्वरी देवी मंदिर, माड़ीपुर चौक, सिकंदरपुर ओपी के पास, अखाड़ा घाट पुल के उत्तरी छोर के पास एक-एक मिनी नियंत्रण कक्ष कार्यरत रहेगा। सभी पूजा पंडालों को सार्वजनिक स्थल घोषित करते हुए कोटपा के तहत पंडाल के पास धूम्रपान करने पर रोक रहेगा ।

पुलिस उपाधीक्षक यातायात नगर क्षेत्र में यातायात की सुचारू व्यवस्था बनाए रखने हेतु समुचित कार्रवाई करना सुनिश्चित करेंगे। नगर के सभी महत्वपूर्ण एवं सार्वजनिक स्थलों के साथ सभी प्रखंडों/ अंचलों में विधि व्यवस्था के संधारण हेतु पर्याप्त संख्या में दंडाधिकारियों, पुलिस पदाधिकारियों,सूचना संग्रहण अधिकारियों के साथ पुलिस बलों की प्रतिनियुक्ति कर दी गई है।

मुजफ्फरपुर से संतोष तिवारी 

Muzaffarpur

Oct 12 2021, 17:37

मुजफ्फरपुर : पशु के लिए चारा लाने गये तीन बच्चे नहरे में डूबे, गोताखोरों की मदद से शवो की तलाश जारी

  


मुजफ्फरपुर : जिले से इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है, जहाँ पशु के लिये चारा लाने गये तीन बच्चे नहर में डूब गये है। मिल रही जानकारी के अनुसार हादसे का शिकार हुए बच्चों में दो लड़कियां और एक लड़का शामिल है। 

घटना तुर्की ओपी क्षेत्र के मधौल गाँव के एक साइफन पर हुई है।  स्थानीय लोग और स्थानीय पुलिस मौके पर पहुँच तीनों की तलाश कर रही है। मिल रही जानकारी के अनुसार तीनों घर से घास काटने निकले हुए थे घास (चारा ) काटते काटते एक का पैर फिसला उसे बचाने में दूसरा भी डूबने लगा तीसरे ने बचाने की कोशिश की वह भी पानी मे डूब गया।
घटना के शिकार हुए बच्चे अवधेश राय बेटा का रोशन कुमार उम्र 18 साल,  उपेंद्र राय की बेटी 16 वर्षीय पुत्री अंशु कुमारी और शंभू राय की 17 वर्षीय पुत्री काजल कुमारी है। अबतक तीनो का कुछ पता नहीं चल पाया है। तलाश जारी है।  

मुजफ्फरपुर से संतोष तिवारी 

Muzaffarpur

Oct 12 2021, 14:26

मुजफ्फरपुर ; दुर्गा-पूजा पंडालों में कोरोना टीकाकरण का किया गया है आयोजन, प्रातः 9:00 बजे से लेकर शाम के 7:00 बजे तक उपलब्ध रहेगी यह व्यवस्था 

  


मुजफ्फरपुर जिले में कोरोना के टीकाकरण को गति प्रदान करने के मद्देनजर  जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग एवं केयर इंडिया की तरफ से दुर्गा पूजा के पंडालों में कोविड-19 का आयोजन किया जा रहा है। 

मुख्य रूप से दूसरे डोज को ध्यान में रखते हुए इस प्रकार का आयोजन मुजफ्फरपुर जिले में किया गया है। उक्त आयोजन मुख्यतः शहरी क्षेत्र के 12 पूजा पंडालों में एवं ग्रामीण क्षेत्रों में प्रत्येक प्रखंडों में 22 अर्थात 32 पूजा पंडालों में इस प्रकार की व्यवस्था की गई है।

  

यह व्यवस्था प्रातः 9:00 बजे से लेकर शाम के 7:00 बजे तक उपलब्ध रहेगी। इसमें मुख्यता वैसे लोगों का टीकाकरण कराया जाएगा जो कि अभी तक टीकाकरण से वंचित रह गए हैं या जो व्यक्ति द्वितीय डोज लेने के इच्छुक हैं।
  
स्वास्थ्य विभाग एवं केयर इंडिया के कर्मचारियों के द्वारा की गई एक अनूठी पहल है जिसमें ग्रामीण क्षेत्रों से लोग जो कि मेला घूमने के लिए आएंगे उन सभी लोगों को चिन्हित कर कोविड-19 टीकाकरण कराया जाएगा ताकि आने वाले समय में सभी क्षेत्रों में टीकाकरण का शत-प्रतिशत आच्छादन हो सके।
 
यह कार्यक्रम  सप्तमी ,अष्टमी नवमी एवं दशमी के दिन आयोजित किया जा रहा है। जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर के द्वारा उक्त कार्यक्रम को करने हेतु स्वास्थ्य विभाग एवं केयर इंडिया को निर्देशित किया गया है।

मुजफ्फरपुर से संतोष तिवारी 

Muzaffarpur

Oct 11 2021, 21:57

मुजफ्फरपुर:-एक पानी भरे बड़े गड्ढे से पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर 477 लीटर अवैध शराब किया बरामद

  



मुजफ्फरपुर जिले में अब ये शराब माफियाओं का नायाब तरीका का पुलिस ने किया खुलासा पानी भरे गड्ढे से सैकड़ों लीटर अवैध शराब निकाला गया है जिसके बाद से पूरे इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है

पंचायत चुनाव को लेकर मुज़फ़्फ़रपुर जिले में लगातार अवैध शराब के कारोबारियों का लगातार नायाब तरीका देखने को मिल रहा है 

  

ताजा मामला जिले के मुसहरी थाना क्षेत्र के गोशाला रोड का है जहां एक पानी भरे बड़े गड्ढे (मन) से पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर 477 लीटर अवैध शराब निकाला है पूछे जाने पर डीएसपी पूर्वी मनोज पांडे ने कहा कि मुसहरी थाना क्षेत्र में गौशाला के ही समीप में रंजीत राय के घर के समीप एक पानी भरे गड्ढे से 477 लीटर अवैध विदेशी शराब पुलिस ने जब किया है आगे की कार्रवाई चल रही है 

बाइट मनोज कुमार पाण्डेय डीएसपी पूर्वी,मुज़फ़्फ़रपुर

आपको यह बता दें कि आगामी 20 अक्टूबर को इस इलाके में पंचायत चुनाव होना है और पुलिस को यह आशंका है

 कि इसी पंचायत चुनाव में यह अवैध शराब के खेत खपाने का शराब माफियाओं का प्लान था इसकी सूचना पुलिस को मिली और पुलिस ने कार्रवाई करते हुए यह उपलब्धि हासिल की है। 

Muzaffarpur

Oct 11 2021, 20:27

करीब 3 करोड़ रुपए की सोने की बिस्किट के साथ तीन तस्कर गिरफ्तार

  


गुप्त सूचना के आधार पर आसूचना निदेशालय डीआरआई मुज़फ़्फ़रपुर और कस्टम विभाग की टीम ने संयुक्त कार्रवाई के दौरान तीन तस्करों को भी करोड़ो रुपए के मूल्य के सोने की बिस्किटों के साथ धर दबोचा है बता दे कि तस्करों के पास से प्रेस लिखी लाल रंग की एक लक्जरी कार भी जप्त की गयी है।

इस घटना के संबंध में डीआरआई निदेशक ने बताया की सूचना मिली थी कि एक कार में कुछ सवार कुछ तस्कर म्यांमार से तस्करी किये गए सोने की बिस्किटों की खेप मुज़फ़्फ़रपुर के रास्ते बनारस ले कर जा रहे हैं जिसके बाद टीम गठित कर गायघाट थाना क्षेत्र मैठी टोल प्लाज़ा एनएच 57से शहर से बाहर निकलने वाले सभी हाईवे पर चौकस नज़रें रखनी शुरू कर दी।

  

तभी कुछ ही घंटो के इंतज़ार के दौरान टोल प्लाज़ा के समीप प्रेस लिखे असम के निबंधित (AS 01BY 5034)की एक लक्जरी कार को रोक कर तलाशी ली गई थी और तलाशी के दौरान कार के इंजन के पास बने गुप्त तहखाने से 35 पीस सोने की बिस्किट बरामद की गई वही इस बरामद सोने की बिस्किटों में कई पर विदेशी मार्क भी अंकित में पाया 

गया है बरामद सोने की बिस्किटों की कीमत अंतर्राष्ट्रीय बाजार में लगभग 2.86 करोड़ रुपए बताई गई है।बता दें की अब गिरफ़्तार तीनों तस्करों ने डीआरआई टीम के समक्ष पूछताछ में बताया कि सिंडिकेट के इशारे पर यह मोटी कमिशन के लालच में तस्करी का समान गंतव्यों तक पहुँचाते थे और वही जिसके एवज में इन्हें अच्छी खासी रकम मिलती थी।डीआरआई टीम और कस्टम के हत्थे चढ़े तीनों तस्करों में दो उत्तर प्रदेश के और एक दिल्ली निवासी बताये गये हैं,जो पूर्व में भी सोना-चांदी और अन्य कीमती वस्तुओं की तस्करी  में शामिल रहे हैं। 

Muzaffarpur

Oct 11 2021, 20:24

करीब 3 करोड़ रुपए की सोने की बिस्किट के साथ तीन तस्कर

  


गुप्त सूचना के आधार पर आसूचना निदेशालय डीआरआई मुज़फ़्फ़रपुर और कस्टम विभाग की टीम ने संयुक्त कार्रवाई के दौरान तीन तस्करों को भी करोड़ो रुपए के मूल्य के सोने की बिस्किटों के साथ धर दबोचा है बता दे कि तस्करों के पास से प्रेस लिखी लाल रंग की एक लक्जरी कार भी जप्त की गयी है।इस घटना के संबंध में डीआरआई निदेशक ने बताया की सूचना मिली थी कि एक कार में कुछ सवार कुछ तस्कर म्यांमार से तस्करी किये गए सोने की बिस्किटों की खेप मुज़फ़्फ़रपुर के रास्ते बनारस ले कर जा रहे हैं जिसके बाद टीम गठित कर गायघाट थाना क्षेत्र मैठी टोल प्लाज़ा एनएच 57से शहर से बाहर निकलने वाले सभी हाईवे पर चौकस नज़रें रखनी शुरू कर दी।तभी कुछ ही घंटो के इंतज़ार के दौरान टोल प्लाज़ा के समीप प्रेस लिखे असम के निबंधित (AS 01BY 5034)की एक लक्जरी कार को रोक कर तलाशी ली गई थी और तलाशी के दौरान कार के इंजन के पास बने गुप्त तहखाने से 35 पीस सोने की बिस्किट बरामद की गई वही इस बरामद सोने की बिस्किटों में कई पर विदेशी मार्क भी अंकित में पाया गया है बरामद सोने की बिस्किटों की कीमत अंतर्राष्ट्रीय बाजार में लगभग 2.86 करोड़ रुपए बताई गई है।बता दें की अब गिरफ़्तार तीनों तस्करों ने डीआरआई टीम के समक्ष पूछताछ में बताया कि सिंडिकेट के इशारे पर यह मोटी कमिशन के लालच में तस्करी का समान गंतव्यों तक पहुँचाते थे और वही जिसके एवज में इन्हें अच्छी खासी रकम मिलती थी।डीआरआई टीम और कस्टम के हत्थे चढ़े तीनों तस्करों में दो उत्तर प्रदेश के और एक दिल्ली निवासी बताये गये हैं,जो पूर्व में भी सोना-चांदी और अन्य कीमती वस्तुओं की तस्करी में शामिल रहे हैं।