Bihar

Oct 12 2021, 13:11

बिहार के पंडालों में दुर्गा पूजा उत्सव के साथ टीका उत्सव भी मनाया जाएगा : बीजेपी

  


डेस्क : भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अरविन्द कुमार सिंह ने कहा है कि बिहार के पंडालों में दुर्गा पूजा उत्सव के साथ टीका उत्सव भी मनाया जाएगा। ️ पूजा स्थल और पंडालों पर टीका कर्मियों की रहेगी उपस्थिति। कोरोना टीका से वंचित लोगों के लिए आसानी से उपलब्ध होगा पहला और दूसरा डोज। पूजा पंडालों में मास्क लगाना जरूरी है, और कोरोना का जांच भी होगी।

  

 बिहार को बधाई! "6 महीने में 6 करोड़" के कोरोना टिकाकरण का लक्ष्य को प्रदेश ने ढाई महीना पहले ही कर दिखाया मा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  के नेतृत्व और बिहार के  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डे और सभी स्वास्थ्यकर्मी, बिहारवासियों व भाजपा के स्वास्थ्य स्वयंसेवकों के साझा प्रयास का परिणाम है। 

  

आज देश अपने देश के लिए तो वैक्सीन बना ही रहीं हैं साथ ही अब दुनिया को वैक्सीन देने के लिए भी तैयार हो गए हैं। आने वाले 3 या 4 दिनों में भारत 100 करोड़ टीके लगाने का रिकॉर्ड बना देगा।

  

 श्री अरविन्द ने कहा है कि बेटियों के लिए और बढ़ेंगी दशहरे की खुशियां कन्या उत्थान योजना के तहत इंटर पास छात्राओं के खाते में 25 हजार और ग्रेजुएट को 50 हजार रु की राशि प्रदान करेगी बिहार सरकार।

  

प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के तहत बिहार में दिसंबर बाद 14 लाख आवास का निर्माण श्रेणी ए और बी में बांटकर जल्द शुरू होगा निर्माण कार्य।

पंचायत चुनाव बाद लाभुकों को राशि दी जाएगी मिशन मोड में कार्य करने के लिए ग्रामीण विकास विभाग ने कमर कसे हुए है।

 दरभंगा एयरपोर्ट पर नीतीश सरकार का बड़ा फैसला लिया एयरपोर्ट के नए टर्मिनल के लिए 336 करोड़ रुपये और 78 एकड़ जमीन मंजूर किया है।

आज देश एक साथ व्यापक रिफॉर्म्स देख रहा है क्योंकि देश का विज़न स्पष्ट है, ये विज़न है आत्मनिर्भर भारत का। 

Bihar

Oct 12 2021, 12:39

जेपी सेनानियों को सीएम नीतीश कुमार ने दिया बड़ा तोहफा, अब मिलेगा इतने रुपये पेंशन 

  


डेस्क : जेपी सेनानियों को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बड़ा तोहफा दिया है। उन्होंने जेपी सेनानियों के पेंशन में बड़ी बढ़ोतरी का एलान किया है। दरअसल बीते सोमवार 11 अक्टूबर को संपूर्ण क्रांति के जनक लोकनायक  जयप्रकाश नारायण की जयंती मनायी गयी। 

  

इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उनकी जीवनी पर आधारित पुस्तक "द ड्रीम ऑफ़ रेवोल्यूशन " का विमोचन किया। इस पुस्तक को सुजाता प्रसाद ने लिखा है। जबकि इसकी शुरुआत बिमल प्रसाद ने की थी। वे 1991 से लेकर 1995 तक नेपाल में भारत के राजदूत थे। इस पुस्तक के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लेखिका को बधाई दी। वहीँ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा की जेपी के विचारों को लेकर कई काम किये जाते हैं। 

  

वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जेपी सेनानियों के लिए बड़ा एलान किया। उन्होंने कहा की 2009 में जेपी सेनानियों को पेंशन देने का फैसला किया गया था। एक से छः महीने तक जेल में रहनेवाले सेनानियों को 5000 रूपये दिए जाते हैं। जिसे बढाकर अब 7500 रूपये करने का फैसला किया गया है। वहीँ छः महीने से अधिक सजा काटनेवाले का पेंशन 10 हज़ार से बढाकर 15 हज़ार करने का फैसला किया गया है।

  

उन्होंने कहा की जब वे रेल मंत्री थे तो सम्पूर्ण क्रांति ट्रेन का परिचालन शुरू कराया था। वहीँ उन्होंने कहा की जेपी के आवास का और अधिक विस्तार किया जायेगा। महिला चरखा समिति को कार्पस फंड तीन करोड़ रूपये दिया गया था। जिसे बढाने का निर्णय लिया गया है। वहीँ गांधी संग्रहालय का कार्पस फंड बढाकर भी तीन करोड़ रूपये करने का निर्णय लिया गया है। 

Bihar

Oct 12 2021, 12:27

डॉ. राम मनोहर लोहिया की पुण्य-तिथि आज, राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने प्रतिमा पर माल्यार्पण कर अर्पित किये श्रद्धा सुमन

  


डेस्क : आज 12 अक्टूबर को देश के जाने-माने स्वतन्त्रता सेनानी और प्रखर समाजवादी डॉ. राम मनोहर लोहिया की 54वीं पुण्यतिथि है। इस मौके पर राजधानी पटना के लोहिया पार्क में श्रद्धांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 

  

जिसमें राज्यपाल फागू चौहान और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहुंचे और लोहिया की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर अपनी श्रद्धा सुमन अर्पित किए। इस दौरान डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद एवं कई अन्य नेता भी मौजूद रहे।  

  

श्रद्धाजंलि समारोह में शामिल डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने कार्यक्रम के पश्चात मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए कहा कि डॉ राम मनोहर लोहिया कमजोर तबके के लोगों को सामाजिक रूप से मजबूत करने के लिए लगातार प्रयास करते रहे। यही वजह है कि समाज का हरेक तबका उनका सम्मान करता है।

  

बता दें  स्वतंत्र भारत की राजनीति और समाजवाद के जनक के रुप में गिने-चुने व्यक्तियों का नाम शामिल है उनमें जयप्रकाश नारायण और डॉ. राम मनोहर लोहिया का नाम प्रमुख हैं। भारत के स्वतंत्रता आन्दोलन में भी इनकी भूमिका बड़ी महत्वपूर्ण रही है। वह मानव-मात्र को किसी देश का नहीं* बल्कि विश्व का नागरिक मानते थे। जनता को वह जनतंत्र का निर्णायक मानते थे। 

Bihar

Oct 12 2021, 12:06

कैबिनेट की बैठक में 12 एजेंडों पर लगी मुहर, कोरोना मृतकों को अब मिलेगा इतने लाख मुआवजा

  


डेस्क : सोमवार को हुई राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में कुल 12 एजेंडों पर मुहर लगी है। जिसमें दलहन एवं तिलहन की मिनी किट योजना के कार्यान्वयन एवं वित्तीय वर्ष 2021-22 में 50 करोड़ 17 लाख 83 हजार रुपए की निकासी एवं व्यय की स्वीकृति दी गई है।

  

वहीँ प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत वित्तीय वर्ष 2021-22 के अंतर्गत 87 करोड़ 26 लाख 84000 की लागत पर योजना का कार्यान्वयन की स्वीकृति के साथ निकासी एवं व्यय की स्वीकृति दी गई है। बिहार कृषि विभागीय उद्यान कोटि-7 लिपिकीय नियमावली 2021 की स्वीकृति दी गई है। बिहार कृषि अधीनस्थ सेवा कोटि-7 के अंतर्गत चतुर्थवर्गीय पद परिचारी भर्ती नियमावली 2021 की स्वीकृति दी गई है। नगर विकास एवं आवास विभाग के अधीन निर्मित जलापूर्ति योजनाओं के संचालन रखरखाव एवं अनुश्रवण अनुदेश की स्वीकृति दी गई है।

  

स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाने के लिए केंद्रीय उपक्रमों पावर फाइनेंस कॉरपोरेशन,रूरल इलेक्ट्रिफिकेशन कॉरपोरेशन तथा एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज के साथ-साथ बिहार की दोनों वितरण कंपनी के द्वारा भी ओपेक अथवा हाइब्रिड मॉडल के तहत कार्यान्वित करने की कुल प्राक्कलित राशि 11100 करोड़ रुपए का 30 परसेंट अर्थात 3330 करोड़ रुपए दोनों वितरण कंपनियों को नाबार्ड से ऋण प्राप्त करने की स्वीकृति एवं उक्त स्वीकृत राशि में से वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 810 करोड रुपए की स्वीकृति प्रदान की गई है।

  

दरभंगा सैन्य हवाई अड्डा पर सिविल एनक्लेव निर्माण एवं संयुक्त परिचालन के लिए 78 एकड़ भूमि अधिग्रहण हेतु राज्य योजना से मुआवजा भुगतान के लिए 3 अरब 36 करोड़ 76 लाख रुपए की प्रशासनिक स्वीकृति एवं 31 एकड़ पूर्व के भू अर्जन प्रस्ताव को विलोपित करते हुए हस्तांतरित राशि के सामंजन के बाद 2 अरब 15 करोड़ 32 लाख रुपए की प्रशासनिक स्वीकृति एवं अर्जित भूमि को भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण को निशुल्क हस्तांतरित करने की स्वीकृति दी गई है।
बाढ़,अतिवृष्टि से क्षतिग्रस्त फसलों के लिए इनपुट अनुदान के अंतर्गत 550 करोड रुपए बिहार आकस्मिकता निधि से देने की स्वीकृति दी गई है। 

।कोरोना से हुई मृत्यु पर अब परिजनों को चार लाख की जगह साढ़े चार लाख अनुग्रह अनुदान मिलेगा। चार लाख रुपए देने का निर्णय पहले से बिहार सरकार ने लिया था। अब 50 हजार रुपए अतिरिक्त दिये जाएंगे। इसको लेकर राज्य कैबिनेट ने 50 करोड़ बिहार आकस्मिकता निधि से अग्रिम निकासी की स्वीकृति दी है। आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव संजय अग्रवाल ने कहा कि गृह मंत्रालाय के निर्देश के आलोक में राज्य आपदा रिस्पांस कोष मद से चार लाख के अतिरिक्त 50 हजार दिये जाएंगे। 

Bihar

Oct 12 2021, 12:05

बिहार विधान सभा उपचुनाव : राजद ने निर्वाचन आयोग को लिखा पत्र, किया यह दो बड़ी मांग 

  


डेस्क : बिहार में विधानसभा के दो सीटों कुशेश्वर स्थान और तारापुर पर उपचुनाव होने जा रहा है। दोनो सीटे राजद और जदयू के लिए प्रतिष्ठा का प्रश्न बना हुआ है। इन दोनो सीटों पर पहले से ही जदयू का कब्जा था और वह इसपर अपना कब्जा बनाए रखना चाहती है। 

  

वहीं राजद भी दोनों सीटो पर जीत हासिल करने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। राजद इसके लिए अपने विधायकों की पूरी फौज उतार दी है, जो हर पंचायत में जाकर यह सुनिश्चित करने में लगे हैं कि मतदाता राजद को ही वोट दें। इन सबके बीच अब राजद की तरफ से एक पत्र राज्य निर्वाचन आयोग को लिखा गया है। जिसमें उन्होंने वोटों की गिनती को लेकर एक बड़ी मांग की है।

  


राजद के राज्यसभा सदस्यि मनोज झा ने चुनाव आयोग को चिट्ठी लिखकर अपनी पार्टी की तरफ से दो मांगें की हैं। उन्हों ने कहा है कि दोनों सीटों पर हो रहे उपचुनाव की मतगणना में इन बातों का ध्याान रखा जाए। उन्होंनने सबसे पहले पोस्टल बैलेट की गणना कराने की मांग की है।

  

राजद की इस मांग के पीछे कारण भी है। दरअसल पिछली बार हुए विधानसभा चुनाव के वोटों के गिनती के दौरान कई जगहों पर पोस्टल बैलेट के वोटों की गिनती किए बगैर ही परिणाम जारी कर दिए गए थे। 

  

राजद का आरोप था कि पोस्टल बैलेट के वोटों की गिनती नहीं होने के कारण कई सीटों पर हार जीत का अंतर सिर्फ कुछ सौ वोटों का था। राजद ने यह आरोप लगाया था कि निर्वाचन में लगे अधिकारियों ने जानबूझकर पोस्टल बैलेट की गिनती नहीं की।

बता दें कि पोस्टल बैलेट में उन कर्मियों के वोट किए जाते हैं, जो चुनाव में ड्यूटी करते हैं। इस कर्मियों के मत एक लिफाफे में बंद कर जमा कर दिए जाते हैं, जो कि सीधे मतगणना के दौरान खोले जाते हैं। चुनावों में यह वोट बेहद महत्वपूर्ण माने जाते हैं। 

Bihar

Oct 12 2021, 12:04

गजब :  ट्रांसफार्मर ठीक करने के लिए दो बिजली कर्मियों ने अजमाया यह टोटका, लाइन तो आ गई लेकिन दोनो पर हुआ एफआईआर और नौकरी भी गई, जानिए क्या है पूरा मामला

  


डेस्क : विज्ञान के इस युग में दुनिया कहा से कहा पहुंच गई है, लेकिन लोगों का अंधविश्वास अबतक कायम है। सोमवार को मुजफ्फरपुर जिले से एक मामला सामने आया था जहां एक मृत व्यक्ति को जिंदा करने के लिए भगत द्वारा 16 घंटे तक झाड़-फूंक की गई थी। वही अब छपरा जिले से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। 

  

छपरा शहर में बिजली का ट्रांसफार्मर ठीक करने के लिए लड्डू का भोग, फूल का चढ़ावा और अगरबत्ती दिखाने का टोटका काम नहीं आया तो शराब का सहारा लिया गया। कमाल की बात यह है कि यह कहा जा रहा है शराब चढाने के बाद बिजली आ गई। हालांकि इस टोटके को अंजमाने वाले दो कर्मचारियों को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ी है। जहां उनपर एफआईआर दर्ज हुआ है वही उन्हे सेवा से भी मुक्त कर दिया गया है। 

  

दरअसल शहर के सलेमपुर पोखरा के पास जले ट्रांसफार्मर को ठीक करने के दौरान ट्रांसफार्मर पर शराब चढ़ाने का एक वीडियो सामने आने के बाद बिजली कंपनी के अधिकारी भी सकते में आ गए और आनन-फानन में नगर थाने में दोनों कर्मचारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई। बिजली कंपनी के जेई वकील अंसारी के लिखित आवेदन पर दर्ज प्राथमिकी में कुमोद श्रीवास्तव व सुधीर कुमार को नामजद किया गया है।दोनों बिजली कंपनी में मानव बल के पद पर कार्यरत हैं।

  

अधीक्षण अभियंता विवेकानंद ने बताया कि दोनों मानव बलों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज के बाद उन्हें तत्काल प्रभाव से सेवा से भी  मुक्त कर दिया गया है। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस के स्तर पर लगातार छापेमारी भी जारी है लेकिन दोनों फरार हैं। 

  

गौरतलब है कि वायरल वीडियो में बिजली कंपनी के मानव बल ट्रांसफार्मर की अगरबत्ती से पूजा करते और शराब चढ़ाते दिख रहे है। स्थानीय लोगों ने बताया कि एक सप्ताह से इलाके में बिजली बार-बार कट जा रही थी। नया ट्रांसफार्मर लगने के बाद भी समस्या बनी हुई थी। फूल, लड्डू भी चढ़ाए गए और अगरबत्ती भी दिखाई लेकिन समाधान नहीं हुआ। इसके बाद टोटके के तौर पर बिजली कंपनी के कर्मचारियों ने शराब चढ़ाई तो बिजली आ गई।

बता दें बिहार में पूर्ण शराबबंदी लागू है। इसके सेवन, कारोबार या इसके साथ पकड़े जाने पर कड़े सजा का प्रावधान है। 

Bihar

Oct 11 2021, 23:01

आमस प्रखंड में आखरी दिन 132 प्रत्याशियों ने नामांकन पर्चा किया दाखिल, अब तक कुल 1078 पर्चे हुए प्राप्त

  


गया/आमस (धनंजय कुमार)। आमस प्रखंड में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर 9 पंचायत के विभिन्न पदों के लिए किया गया जा रहा नामांकन के पर्चे कार्य के आखिरी दिन 132 प्रत्याशियों ने अपना नामांकन दाखिल किया। हालांकि नामांकन के आखिरी दिन भी प्रखंड कार्यालय में काफी प्रत्याशियों का चहल पहन रहा। 

  

वहीं, आखरी दिन तक कुल 1078 नामांकन पर्चे प्राप्त हुए है। इस संबंध में प्रखंड निर्वाचन पदाधिकारी सह प्रखंड विकास पदाधिकारी अवतुल्य कुमार आर्य ने बताया कि नामांकन के आखिरी दिन कुल 132 नामांकन पर्चे प्राप्त हुए जिसमे पंचायत समिति के लिए 8 महिला 5 पुरुष, मुखिया पद के लिए 8 महिला 4 पुरुष, सरपंच पद के लिए नहीं खुले खाते एवं पंच पद के लिए 33 महिला 22 पुरुष, ग्राम पंचायत सदस्य के लिए 40 महिला 22 पुरुष, एवं इन लोगों ने अपना पर्चा दाखिल किया और कहा 5 अक्टूबर से नामांकन का कार्य किया जा रहा था और 11 अक्टूबर दिन सोमवार को नामांकन का कार्य शांति पूर्ण रूप समाप्त हुआ 

Bihar

Oct 11 2021, 22:58

लालगंज प्रखंड के घटारो मध्य पंचायत मे ललन साह की धर्मपत्नी गीता देवी दे रही कड़ी टक्कर 

  


हाजीपुर : वैशाली जिले के लालगंज प्रखंड में पंचायती राज चुनावों की घोषणा होने के साथ ही नामांकन की प्रक्रिया भी खत्म हो चुकी है. चुनाव चिन्ह मिलने के साथ ही सभी प्रत्याशी अपने अपने क्षेत्र में जनता के दरवाजे पर पहुँचने लगे है और वोटर को अपने पक्ष मे करने की अपील कर रहे है. 

  

ऐसे में लालगंज प्रखंड का घटारों मध्य सबसे हॉट सीट माना जा रहा है. घटारो मध्य पंचायत से अबकी बात ललन साह की धर्म पत्नी एवं नागार्जुन साह की भाभी गीता देवी मैदान मे है  इस पंचायत मे माना जा रहा है की लड़ाई केवल दो ही लोगो के बीच है।
 
दिलचस्प बात यह है कि अपने समाज सेवा के कार्यों से चर्चा में आये ललन साह ने दशकों से सामाजिक समरसता की लड़ाई लड़ी और पंचायत मे अपना एक मजबूत जनमत तैयार कर लिया है पंचायत के मतदाताओं द्वारा हर परिस्थिति में उन्हें एक सर्वमान्य नेता के तौर पर आगे बढ़ाना चाहते है. 

  

आपको बता दे कि ललन साह की धर्मपत्नी गीता देवी इस बार मुखिया पद से प्रत्याशी है और लोगो से मिल रहे अपार  स्नेह व सहयोग से अपनी जीत को लेकर आश्वस्त है.  अपने चुनाव चिन्ह ढोलक छाप के साथ वो घर घर घूम रही है और लोगों से वोट मांग रही है. महिलाओं का साथ उन्हें भरपूर मिल रहा है और खासकर सामाजिक रूप से पिछड़ा वर्ग व शिक्षित वर्ग के लोग  उनके साथ कंधे से कन्धा मिला कर खड़े है. 

चुनाव प्रचार के दौरान वोट मांगने का तरीका भी उनका बड़ा ही अनोखा है और चुनाव चिन्ह को आगे रखते हुए लोग ढोल बजा बजा कर वोट मांग रहे है. चुनाव चिन्ह भी ढोलक छाप है. कहा जाता है कि शुभ कार्यों से पहले ढोल बजाए जाते हैं. यहाँ तो किस्मत से चुनाव चिन्ह ही ढोलक छाप है. 

इस पंचायत मे कई अन्य प्रत्याशी  भी मैदान में है लेकिन उनकी कुर्सी इस बार खतरे में बताई जा रही है और लोग उनके मनमाने ढंग  से परेशान है. जो भी प्रत्याशी है वो या तो दबंग किस्म के है या जनता की नजरों में उनकी छवि भयभीत करने वाली है. यही कारण है कि लोग एक ऐसा नेता चुनना चाह रहे है, जिनके सामने अपनी बात रखते उन्हें किसी भी तरह का संकोच न हो. बाकि नतीजे ही स्पष्ट करेंगे कि जनता क्या चाहती है.  

Bihar

Oct 11 2021, 19:20

बिहार विधान सभा उपचुनाव को लेकर जदयू ने जारी की स्टार प्रचारकों की लिस्ट, जानिए कौन-कौन  है इसमे शामिल 

  


डेस्क : बिहार में विधानसभा के दो सीटों पर हो रहे उपचुनाव के लिए राजद के बाद अब जदयू  ने भी अपने स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी कर दी है। चुनाव आयोग ने इसकी जानकारी देते हुए अपने वेबसाइट पर इसे अपलोड कर दिया है। 

  

जदयू  के स्टार प्रचारकों की लिस्ट में सबसे पहला नाम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का है तो वहीं दूसरा नाम पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह का है। इसके बाद केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह और जदयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा के नाम को शामिल किया गया है। 

  

इसके अलावा प्रचारकों की लिस्ट में पार्टी के  प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा के साथ शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी, जल संसाधन मंत्री संजय झा, राज्यसभा सांसद रामनाथ ठाकुर, मंत्री अशोक कुमार चौधरी, मोहम्मद अली अशरफ फातमी, लेसी सिंह, महेश्वर हजारी, मदन साहनी, सुनील कुमार, जयंत राज, सुनील कुमार पिंटू, नरेंद्र नारायण यादव, विद्यासागर निषाद, देवेश चंद्र ठाकुर और रत्नेश सदा का नाम शामिल हैं। 

Bihar

Oct 11 2021, 18:43

दूल्हा बनने जा रहे है दिवंगत पूर्व सांसद मो. शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी भी निकाह में होंगे शामिल

  


डेस्क : दिवंगत पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा दूल्हा बनने जा रहे है। आज सोमवार को  सीवान के एक मदरसे में निकाह होने जा रहा है। वही इसी महीने की 13 तारीख को ओसामा की बारात निकलेगी। ओसामा के निकाह में शामिल होने के लिए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव  भी सीवान पहुंच रहे हैं। इस निकाह में उनके करीबी लोग ही शामिल होंगे।

  

ओसामा की शादी आयशा से हो रही है। वह पेशे से डॉक्टर हैं और उन्होंने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से एमबीबीएस किया है। वहीं, ओसामा भी लंदन से कानून की पढ़ाई करके आए हैं। आयशा के पिता आफ़ताब आलम और ओसामा के पिता मोहम्मद शहाबुद्दीन करीबी रिश्तेदार भी हैं। बताया जा रहा है कि शहाबुद्दीन ने ही आयशा को अपनी बहू के रूप में पसंद किया था।

  

बता दें कि बीते 1 मई को तिहाड़ जेल में बंद रहे पूर्व सांसद शहाबुद्दीन की मौत दिल्ली के दीन दयाल उपाध्याय हॉस्पिटल में इलाज के दौरान हो गई थी।