Patna

Jun 28 2020, 16:35

हल्की बारिश में भी पटना के कई इलाके हुए जलमग्न, मंत्री से लेकर डिप्टीसीएम सुशील कुमार मोदी के इलाक़े हुए जलमग्न
  


बिहार में मानसुन ने अभी दस्तक नही दी है पर इन दिनों हल्की बारिश ने ही पटना को परेशान कर दिया है। पटना में हल्की बारिश ने पटना के मंत्री से लेकर उप -मुख्यमंत्री के आवास के बाहर जलजमाव की स्थिति पैदा कर दी है। 

पटना में जहां बिहार के पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव के आवास के बाहर जहां जलजमाव की स्थिति बनी हुई है वही बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी के इलाके में भी जलजमाव हो गया है। 

ऐसे में सवाल उठता है कि क्या फिर पिछले साल की तुलना में इस साल भी पटना में जलजमाव होगा, क्या सरकार के पास जलनिकासी की व्यवस्था नही है या फिर इस चुनावी वर्ष में सरकार को जनता के विरोध का सामना करना पड़ेगा क्योंकि हल्की बारिश ने पटना में पानी-पानी के हालात पैदा कर दिया है और सरकार और निगम मूकदर्शक बनी हुई है ।।

Patna

Jun 28 2020, 16:25

अभिनेता नाना पाटेकर पहुंचे सुशांत सिंह राजपूत के आवास, तस्वीर पर माल्यर्पण कर दी श्रद्धांजलि
  


स्वर्गीय सुशांत सिंह राजपूत के आवास पर फ़िल्म अभिनेता नाना पाटेकर पहुंचे और सुशांत सिंह राजपूत के तस्वीर पर माल्यर्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित किया साथ ही उनके परिवार से भी मिलकर दुःख व्यक्त किया ।

Patna

Jun 28 2020, 16:24

दिवंगत अभिनेता बाबू सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर राजधानी पटना में रखा गया एक चौक का नाम
  


पटना राजधानी पटना के 6 लाइन का नाम सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर बिहार के लोगो ने सरकार से मांग की । यह दीघा राजीव नगर , होते आर ब्लॉक तक कि सड़क है  बिहार के लोगो ने बाबू शुशांत सिंह राजपूत के नाम से बोर्ड भी लगा दिया गया है। 

उल्लेखनीय है कि राजीव नगर में ही दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह का आवास है। हालांकि यह बोर्ड नगर निगम की तरफ से आधिकारिक तौर पर नहीं लगाया गया है, दीघा विधान सभा के समाज सेवक पप्पू राय के  ने लगाया है। इस चौक के नामकरण  बिहार के युवाओं की मांग पर रखा गया है।

Patna

Jun 28 2020, 13:39

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने विहार की व्यवस्था पर व्यंग्य करते हुए कहा कि- दुनिया अगर बिहार मॉडल अपना ले तो कोरोना एक सेकेण्ड में खत्म
  



बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने व्यंग्य करते हुए कहा कि अगर बिहार का बहुचर्चित कोरोना मॉडल विश्व के बाक़ी देश अपना ले तो एक सेकंड में कोरोना वायरस ख़त्म हो जाएगा।‬

‪ना कोई कोरोना जाँच, ना कोई मामला। ना वेंटिलेटर और ना हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर की चिंता और ऊपर से सबसे कम केस का ख़िताब। कोई मरता है तो बोल दो, दूसरी बीमारी से मरा है। सिम्पल...‬

Patna

Jun 27 2020, 18:09

विकास के नाम पर उल्टी गंगा बहा रही है सरकार : मुकेश सहनी
  


27 जून 2020, शनिवार : विकासशील इंसान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश साहनी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा कि सरकार देश में विकास के नाम पर उल्टी गंगा बहा रही है. उन्होंने कहा कि डीजल पेट्रोल से ज्यादा महंगा हो गया है जिससे जनता काफी परेशान है. मुकेश सहनी ने लगातार बढ़ती पेट्रोल डीजल के दामों को लेकर सरकार को घेरते हुए कहा कि कोरोना संकट के कारण लोग वैसे ही परेशान हैं ऐसे में लगातार बढ़ती पेट्रोल डीजल की कीमतों से लोगों को और किसानों को दोहरी मार झेलनी पर रही  है. देश में लगातार 20 दिनों से पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी हुई और पहली बार डीजल 80 रूपये के पार हुआ हैं.
पेट्रोल डीजल दर वृद्धि से केंद्र सरकार अपनी जेब भर रही है लेकिन आम आदमी की जेब खाली होती जा रही है. अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेलों की क़ीमतों में भारी गिराबट आई है, फिर भी डीजल-पेट्रोल के दामों में लगातार इजाफा होते जा रहा हैं.

Patna

Jun 27 2020, 14:16

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव  ने राजगीर में बनने वाले फिल्म सिटी का नामकरण दिवंगत  अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर करने का आग्रह किया
  


विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने माननीय मुख्यमंत्री जी से राजगीर में निर्माणाधीन फ़िल्म सिटी का नामकरण अल्प समय में फ़िल्म जगत में बिहार का नाम रोशन करने वाले प्रसिद्ध दिवंगत  अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर करने का आग्रह किया है।इज़के लिए उन्होंने नितोष जी को लिखा पत्र,।

Patna

Jun 27 2020, 13:49

यशबंत सिन्हा ने बनाया थर्ड फ्रंट,कहा नीतीश कुमार बिहार को बदलने में हो गए फेल,थर्ड फ्रंट लड़ेगी बिहार में मजबूती से चुनाव
  


उन्होंने कहा  बिहार पहुंचा अपराध,बेरोजगारी,और पालायन कि स्थिति से विकास के निचले पायदान पर, लॉक डाउन में जिस तरह बिहार के लोग बदहाल और पैदल आये यह बिहार के लिए अपमान था और नीतीश सरकार की विफलता

पटना , बिहार विधानसभा चुनाव की तैयारी को लेकर सत्ता पक्ष हो या विपक्ष सभी ने अपनी तैयारी शुरू कर दी है सभी पार्टी अपने संगठन को मजबूती प्रदान करने को आम से खास लोगो को जोड़ने का काम भी कर रही है। ऐसे में बिहार में अब थर्ड फ्रंट ने भी बिहार में दस्तक दे दी है आज पटना में पूर्व बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा ने भी थर्ड फ्रंट की बात कर डाली है ।।

वही इन सभी के बीच  पूर्व बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा ने कहा कि विधानसभा चुनाव में तीसरा फ्रंट बनाएंगे. राजनीति में मिलकर हमलोग एक पार्टी बनाएंगे. लेकिन यह भविष्य तय करेगा कि हमलोग पहले है या तीसरे हैं. हमलोग मिलकर चुनाव लड़ेंगे. मजबूती के साथ लड़ेंगे. क्योंकि बिहार को बदलने में नीतीश सरकार फेल हैं.

सिन्हा ने कहा कि बिहार की स्थिति क्या है. वह आपके सामने रख रहा हूं. जैसे मानव विकास में 27 साल में नीचले स्तर पर है. बिहार आज सारे प्रदेशों में गरीब है. हर साल 40 लाख लोग बिहार से पलायन करते हैं. क्योंकि उनको लेकर कोई रोजगार नहीं हैं. स्वास्थ्य व्यवस्था में सबसे नीचले स्तर पर हैं. सिन्हा ने कहा कि बिना बिहार में विधि व्यवस्था खत्म है . यहां पर बिना पैसा को कोई ऑफिस में काम नहीं होता है. 

बिहार का हुआ अपमान..! 

सिन्हा ने कहा कि हाल के दिनों में यह देखा गया कि लॉकडाउन के दौरान फंसे लोग कैसे और किस तरह से पैदल अपने गांव आए. यह दुखद था. मैं  भी बिहार होने का दर्द झेला हूं, लेकिन यह साबित किया है कि हम सबसे बेहतर है. लेकिन इस बार बिहारी होने के गर्व पर इस बार ठेस पहुंचा है. कैसे इस गौरव को वापस लाया जाए. इसको लेकर रणनीति बनानी है. सिन्हा ने कहा कि मुझे भी बुलाया गया था. जिसको लेकर मैं कई दिनों से पटना में हूं. बिहार की प्रतिष्ठा को वापस लाने के लिए जीवन का बचा वक्त बेहतर बनाने में लगाए. मैं अपने सभी साथियों को साथ देने के लिए धन्यवाद देता हूं. इस दौरान अरूण कुमार, नागमणि, नरेंद्र सिंह समेत कई नेता मौजूद रहे.

Patna

Jun 27 2020, 13:07

बीजेपी का साथ छोड़ चुके यशवंत सिन्हा बिहार की सियासत में एंट्री लेने की तैयारी में, बेहतर बिहार बनाने की कवायद के साथ उतरेंगे मैदान में
  

 
पटना – सियासत बड़ी अजीब चीज है, छोड़े नहीं छूटती। बीजेपी से जुदा होने के बाद अब यशवंत सिन्हा बिहार चुनाव में एक्टिव होते दिख रहे हैं। यशवंत सिन्हा अब बिहार की सियासत में एंट्री करने की जुगाड़ में लगे हुए हैं. आज यशवंत सिन्हा ने तीसरे मोर्चे की कवायद शुरू कर दी है. उन्होंने पटना में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपनी मंशा साफ कर दी. पटना पहुंचकर उन्होंने इस बार बदले बिहार का आह्वान किया है. यशवंत सिन्हा उन लोगों को इकट्ठा कर रहे हैं जो कभी नीतीश कुमार के खास हुआ करते थे. प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान यशवंत सिन्हा के साथ नीतीश कैबिनेट के वरिष्ठ सहयोगी रहे नरेन्द्र सिंह, रेणू कुशवाहा, पूर्व केंद्रीय मंत्री नागमणि, देवेन्द्र प्रसाद यादव, जहानाबाद के पूर्व सांसद अरुण कुमार मौजूद रहे. इस दौरान यशवंत सिन्हा ने कहा कि हमारा अभियान बेहतर बिहार बनाने के लेकर है. इस दौरान उन्होंने बेहतर बिहार, बदलो बिहार का नारा दिया. बिहार चुनाव से ठीक पहले यशवंत सिन्हा ने बिहार की राजनीति की रोशनी में मद्धीम हो चुके नेताओं के भरोसे चुनावी मैदान में उतरने की कोशिश की है. राजनीतिक जानकारों का कहना है कि यशवंत सिन्हा राजनीति के फूके हुए कारतूसों के जरिए बिहार को बदलने की कोशिश कर रहे हैं.

Patna

Jun 27 2020, 12:52

भाजपा के पूर्व नेता यशवंत सिन्हा आज राजधानी पटना में एक नए मोर्चे का एलान कर सकते हैं।
  


बताया जा रहा है कि सिन्हा के नेतृत्व में यह मोर्चा नीतीश कुमार की अगुवाई वाली एनडीए सरकार की कथित विफलता के बारे में पूरे राज्य में संपर्क अभियान चलाएगा। यशवंत सिन्हा से जब इस संबंध में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह आगे की रणनीति को लेकर पटना में एलान करेंगे। सूत्रों ने बताया कि पूर्व सांसद देवेंद्र यादव, पूर्व विधायक नागमणि, बिहार विधानसभा के पूर्व स्पीकर उदय नारायण चौधरी, पूर्व सांसद और दलित नेता पूर्णमासी राम, जनता दल (राष्ट्रवादी) के संस्थापक अशफाक रहमान, अनिल कुमार, लोजपा (एस) अध्यक्ष सत्यानंद शर्मा, पूर्व विधायक सिद्धनाथ राय सहित बिहार के कई प्रमुख नेता इस मोर्चे में शामिल हो सकते हैं।


भाजपा के पूर्व नेता यशवंत सिन्हा आज राजधानी पटना में एक नए मोर्चे का एलान कर सकते हैं।

Patna

Jun 26 2020, 19:07

जहाँ वन विभाग द्वारा काटे गए पेड़, वहीं तरुमित्र संगठन ने किया पौधरोपण और पेड़ो में बांधी राखी
  


पटना के कंकड़बाग में कुछ दिन पहले जिन 3 हरे भरे पेड़ों को बिना जांच पड़ताल किये काटने का आदेश वन विभाग के अधिकारियों ने दे दिया था और उनमें से एक पेड़ की लगभग सभी टहनियां काट भी दी गयी थीं उस कटे पेड़ को आज तरु मित्र संगठन से जुड़े लोगों और स्थानीय लोगों ने राखी बांधी और वहां पर पेड़ भी लगाया। तेज बारिश में भी स्थानीय लोगों ने पेड़ को काटने के फैसले पर अफसोस जताते हुए पेड़ को राखी बांधी और उसकी सुरक्षा का संकल्प लिया। 

गौरतलब है कि कंकड़बाग के लोहियानगर में यशोदादेवी पथ में एक पार्क के अंदर अवैध तरीके से एस्बेस्टस का एक शेड बनाने वाले ने पार्क के बाहर सड़क किनारे स्थित तीन पेड़ से एस्बेस्टस को खतरा बताते हुए वन विभाग से पेड़ों को काटे जाने की आवश्यकता बताई थी। वन विभाग के अधिकारियों ने बिना जांच पड़ताल किये, पेड़ों की स्थिति को देखे बिना उन 3 पेड़ों को काटे जाने का आदेश भी जारी कर दिया। हरे भरे और पूरी तरह निर्दोष एक पेड़ की सभी टहनियों को काट भी दिया गया लेकिन इसी बीच स्थानीय लोगों के विरोध को देखते हुए वन विभाग की टीम बांकी के दो पेड़ों को छोड़कर निकल गयी। 

इसके बाद कटे पेड़ की जान बचाने के लिये स्थानीय एक डॉक्टर ने पेड़ों के एक्सपर्ट्स को बुलाकर उस पेड़ पर लेप वैगरह लगवाया। आज तरु मित्र संगठन से जुड़ी  कुछ लड़कियों ने तेज बारिश में भी स्थानीय लोगों के साथ मिलकर उस पेड़ को राखी बांधी और उसकी सुरक्षा का संकल्प लिया। इसी पेड़ के ठीक बगल में आज कुछ पौधे भी लगाए गए। कटे पेड़ की घेराबंदी भी कर दी गयी है। स्थानीय लोगों का कहना है कि किसी कीमत पर अब बांकी के दो पेड़ों को कटने नहीं देंगे। हैरानी की बात है कि एक तरफ सरकार पेड़ों को शिफ्ट करने के लिये लाखों रुपये खर्च कर रही है वहीं दूसरी तरफ अवैध तरीके से बने एस्बेस्टस के एक छोटे से शेड के लिये बिना जांच पड़ताल किये 3 पेड़ों को काटने का आदेश जारी कर दिया गया। लोगों की शिकायत के बाद वन विभाग ने दो सदस्यों की एक जांच कमिटी बना दी है। उधर स्थानीय लोग इस मामले को लेकर अदालत में PIL फ़ाइल करने की तैयारी भी कर रहे हैं।