Deoghar

Apr 03 2020, 15:19

बच्चों की पढ़ाई बाधित न रहे इसको लेकर डीएवी सातर ने शुरू की ऑनलाइन क्लासेस, अन्य स्कूलों की तरफ से भी हो रही कोशिश

देवघर - लॉकडाउन की वजह से सभी स्कूली बच्चों की पढ़ाई लगातार बाधित हो रही है। बच्चे अपने अपने घरों में कैद हैं तो, वहीं अभिभावकों की चिंताएं बढ़ती जा रही है। कई ऐसे स्कूल हैं जहां बच्चों का एग्जाम तो हो गया है लेकिन रिजल्ट नहीं निकला है। वहीं कई स्कूलों के एग्जाम आधे अधूरे ही बीच में रह गए है। इन सभी चीजों को देखते हुए देवघर के कई स्कूलों की तरह से पहल की गई है ताकि बच्चों की पढ़ाई बाधित नहीं हो। इसी क्रम में शहर के सातर स्थित डीएवी स्कूल प्रबंधन ने अभिभावकों के डिमांड पर बच्चों के लिए ऑनलाइन शिक्षा और व्हाट्सएप फेसबुक के जरिए बच्चों से इंटरेक्ट हो रहे है। डीएवी स्कूल के प्राचार्य संजय कुमार मिश्रा ने बताया है कि पिछले कई दिनों से स्कूल मैनेजमेंट बच्चों के लिए ऑनलाइन की प्रक्रिया के लिए मेहनत कर रहे थे और कैसे बच्चों को ऑनलाइन टिटोरियल दिया जाए इसके बारे में मंथन हो रहा था। लिहाजा विकल्प के तौर पर सभी टेक्स्ट बुक की पीडीएफ फाइल भी तैयार की गई है इसके अलावा बच्चों की जिज्ञासा उनके प्रश्न और उत्तर के लिए भी विशेष व्हाट्सएप ग्रुप और ऑनलाइन ट्यूटोरियल क्लास की व्यवस्था की गई है। जिससे बच्चे अपने घर में बैठकर स्कूल की तरह ही पढ़ाई कर सकते हैं इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। प्राचार्य ने बताया कि यह सब इतनी जल्दी में हुआ कि स्कूल प्रबंधन गूगल और अन्य सर्च इंजन सहित विभिन्न माध्यमों का इस्तेमाल कर बच्चों तक पहुंचने की कोशिश कर रहा है, ताकि बच्चों की पढ़ाई बाधित ना हो ।डीएवी ने इसकी शुरुआत कर दी है वही कई अन्य स्कूल भी अब इस प्रक्रिया को अनुकरण करना शुरू कर दिया है ताकि उनके स्कूल के बच्चों की भी पढाई बाधित न हो।

Deoghar

Apr 03 2020, 14:14

सोशल डिस्टेंस को लेकर बैंकों का उदासीन रवैया, पुलिस ने तय की ग्राहकों की बीच दूरियां
देवघर - कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंस को रामबाण माना जा रहा है। वहीं लॉकडाउन को पूर्ण रूप से सफल बनाने के लिए जिला के सभी पुलिस के अधिकारी इस तपती धूप में भी दिन भर अपने ड्यूटी को सफल अंजाम देने में लगे हुए हैं पर इसके विपरीत एक दुखद नजारा देखने को मिल रहा है। जिले के प्रायः सभी बैंकों में जहां बैंक खुलते ही ग्राहकों की भीड़ झुंड बनाकर अपनी बारी का इंतजार करते देखी जा रही थी, जैसे लगता हो उन्हें कोरोना वायरस संक्रमण का कोई भय नहीं या ज्ञान नहीं । इस अराजकता से प्रतीत होता है कि बैंक के अधिकारी कोरोना संक्रमण वायरस को लेकर काफी उदासीनता वाली रवैया अपना रहे हैं ऐसा ही एक नजारा सारवां स्थित बैंक ऑफ इंडिया,इलाहाबाद बैंक,पांडे दुकान स्थित बैंक ऑफ इंडिया ,पुराना कुंडा थाना स्थित ग्रामीण बैंक और शहर के बाजला चौक स्थित इलाहाबाद बैंक का नजारा काफी भयावह स्थिति उतपन्न करने वाला था ।सभी बैंकों के सामने ग्राहकों की भीड़ इस कदर एक जगह जमा थी जैसे प्रतीत होता था कि लोग एक दूसरे से पहले बैंक में प्रवेश की होड़ में लगे हुए हैं और यह नजारा बैंक के प्रवन्धक के कार्यप्रणाली के उदासीनता को प्रस्तुत करने के लिए काफी था।वही न तो बाहर बैंक का कोई गार्ड इस ओर संज्ञान ले रहा था और न ही ग्राहक सोशल डिस्टेंस मेंटन करने को राजी दिखे। बहरहाल सभी बैंकों के सामने पुलिस के अधिकारी लोगों को डिस्टेंस मेंटेन करवाने में अपनी अहम भूमिका निभाते दिखे। बैंक आफ इंडिया के सामने कुंडा थाना प्रभारी खुद कमान संभाल लोगों को डिस्टेंस मेंटन करवाते हुए दिखे। वही सारवां के बैंकों पर सारवां इंस्पेक्टर को खबर मिलते ही पहुंचे और बैंक के प्रवन्धक को सोशल डिस्टेंस मेंटेन करने की हिदायत देते हुए उपस्थित लोगों को एक तय दूरी पर खड़ी कर लाइन लगवाया ।वही पुराना कुंडा थाना के समीप ग्रामीण बैंक के दरवाजे पर कुंडा थाना के एक एएसआई ग्राहकों को लाइन लगवाने में भीड़े हुए थे। बहरहाल समय रहते अगर बैंकों के सामने होनें वाले ग्राहकों की भीड़ पर नियंत्रण नहीं रखा गया तो शायद हम कोरोना वायरस जैसे संक्रमण वाले बीमारी से जल्दी निजात नहीं पाएंगे और तो और होसकता है कोरोना देवघर और आसपास के एरिया में भी द्रुतगति से अपना पांव पसारने लगेगा।

Deoghar

Apr 02 2020, 18:09

विधि व्यवस्था दुरुस्त रखने के पुलिस का फ्लैग मार्च, बेवजह सड़क पर घूमने वालों को कान पकड़कर करवाया गया उठक बैठक

देवघर- लॉक डाउन और रामनवमी को लेकर जसीडीह थाना प्रभारी डीएन आजाद के नेतृत्व में जसीडीह बाजार और आस पास के एरिया में फ्लैग मार्च किया गया। ज्ञात हो की लॉक डाउन और रामनवमी को लेकर विधि व्यवस्था दुरुस्त रखने का आदेश दिया गया था और निर्णय लिया गया था की सोशल डिस्टेंस मेंटन रखने के लिए लोग रामनवमी को काफी सादगी भरे अंदाज में मनाया जाएगा, ऐसा हुआ भी। बावजूद लॉक डाउन के दौरान बहुत से लोगों को बाजार आदि जगहों पर बेवजह घूमते देखा गया। जिनको घरों से निकलने की मनाही थी। फ्लैग मार्च के दौरान बेवजह बाजार में भीड़ लगाने वालों और मोटरसाइकिल सवार कई लोगों को पकड़ कर बेवजह घूमने का कारण पूछते हुए कान पकड़ कर उठक बैठक भी कराया गया और हिदायत दी गई कि बिना किसी ठोस कारण के घरों से बाहर नहीं निकलें और लॉक डाउन के नियम का पालन करें नहीं तो और भी कड़ी कानूनी कार्यवाही की जाएगी।
 फ्लैग मार्च के दौरान इंस्पेक्टर डीएन आजाद के अलावे एसआई धनन्जय सिंह,अवधेश बारा,एसआई संगीता, सुमन,कोयल क्लोडिया, जानकी पासवान सहित दर्जनों आरक्षी मौजूद थे।वही इस सम्बंध में थाना प्रभारी डीएन आजाद ने कहा कि लॉक डाउन के बाद भी लोग नहीं मानते हैं और वेवजह बाजारों में घूमते रहते हैं वही रामनौमी पर्व भी है विधि व्यवस्था बनीं रहे इन सभी चीजों को देखते हुए फ्लैग मार्च किया जा रहा है।

Deoghar

Apr 02 2020, 14:13

सादगी भरे अंदाज में शहर के सभी हनुमान मंदिरों में मनायी गई रामनवम

देवघर - शहर के प्रत्येक हनुमान मंदिर में काफी सादगी के साथ रामनवमी का पर्व मनाया गया। वैसे तो प्रायः सभी घरों के लोगों ने अपने अपने घरों में ही रह कर श्री राम झण्डे की स्थापना की। वही बाबा मंदिर, बैधनाथ धाम रैलवे स्टेशन स्थित हनुमान मंदिर,सुभाष चौक स्थित हनुमान मंदिर आदि जगहों पर श्रद्धालुओं की संख्या काफी कम दिखी और लोग लॉक डाउन का पालन करते हुए परिवार के एक एक सदस्य मंदिरों में पहुंचकर राम पताका की स्थापना करायी। वही चैती दुर्गा पूजा का नवमी होने के कारण दुर्गा मंदिरों में भी भक्त पहुंचकर बहुत ही परहेज के साथ मां भगवती की पूजा अर्चना करते दिखे। वही लॉक डाउन नियम को ध्यान में रखते हुए लोग सोशल डिस्टेंस भी मेंटेन करते दिखे और कहीं भी झुंड में किसी श्रद्धालु को नहीं देखा गया। सुभाष चौक आसाराम केसान रॉड स्थित हनुमान मंदिर में भी मुहल्ले वालों ने सोशल डिस्टेंस को मेंटन करते हुए पूजा अर्चना किया।
इस दौरान मन्दिर सेवक कृष्णा राय,नमित सिंह उर्फ छोटू,गोलू कुमार,मुन्ना बैध,विशाल कुमार ,वार्ड पार्षद प्रत्यासी ऋषिकेश कुमार सिंह आदि ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण और लॉक डाउन को लेकर हमलोगों ने काफी सादगी से पूजा का आयोजन किया है किसी प्रकार की कोई जुलूस या भीड़ भाड़ वाले आयोजनों को केंसिल कर दिया गया है ताकि शोशल डिस्टेंस को मेंटेन रखा जा सके भगवान श्री राम और बजरंग बली हनुमान से हम लोगो ने कोरोना वायरस से मुक्ति के लिए विशेष आरती का आयोजन किया है जिससे देश वासियों को इस महामारी वाले वायरस से मुक्ति मिले।

Deoghar

Apr 01 2020, 16:28

सादगी से की गई मां अन्नपूर्णा की वार्षिक पूजा, लॉक डाउन के कारण कई जगहों पर नहीं रखी गई चैती दुर्गा की प्रतिमा

देवघर - बाबा मंदिर प्रांगण में चैत्र नवरात्र के शुभ अवसर पर मां अन्नपूर्णा मंदिर में अन्नपूर्णा मां की वार्षिक पूजा की गयी। अशोका अष्टमी के अवसर पर मां अन्नपूर्णा की पूजा सुबह आरम्भ हुई जो लगभग ढाई घंटों तक चली। अन्नपूर्णा मां की पूजा बाबा मंदिर के सरदार पंडा गुलाब नंद ओझा व आचार्य श्रीनाथ पंडित ने तांत्रिक विधि विधान से किया। इस दौरान मंदिर परिसर में लॉक डाउन का असर देखा गया और नियमों का पालन किया जा रहा था। वही अन्य दिनों के वनिस्पत कुछ श्रद्धालु मंदिर परिसर में उपस्थित थे और लॉक डाउन के नियम पालन करते हुए लोग कतार में एक दूसरे से एक मीटर की दूरी बनाकर खड़े थे। वही महाष्टमी को लेकर विभिन्न चैती दुर्गा पूजा समिति के द्वारा महा अष्टमी का पूजा अर्चना किया गया। इस दौरान समिति के लोगों ने पूर्व से ही श्रद्धालुओं से अपील की थी कि पूजा स्थल पर ना आएं और अपने घर पर ही बैठ कर माता की आराधना करें। समिति के सभी सदस्य लॉकडाउन के नियमों के अनुसार सभी लोगों को एक दूसरे से दूरी बनाए रखने के लिए कतार में लगाकर पूजा अर्चना कराया। ज्ञात हो कि देवघर शहर के कई स्थानों पर चैती दुर्गा पूजा का आयोजन होता रहा है। इसी क्रम में हृदया पीठ, भुरभुरा चौक, हरला जोड़ी ,त्रिकुट पहाड़, भैरव घाट आदि स्थानों में कोरोना वायरस संक्रमण और लॉक डाउन को लेकर प्रतिमा का निर्माण नहीं करवाया गया था।वही अति प्राचीन दुर्गा मंडप घड़ी दार घर , बसंती मंडप ,हाथी पहाड़ ,वैद्यनाथ लेन, भीतर पड़ा ,बांग्ला पर आदि स्थानों में माता की प्रतिमा स्थापित कर पूजा-अर्चना की जा रही है

Deoghar

Apr 01 2020, 14:19

कांग्रेस नगर अध्यक्ष रवि केसरी ने वार्ड नम्बर 24 के लोगों के बीच किया खाद्य सामग्री का वितरण


देवघर - कांग्रेस पार्टी के नगर अध्यक्ष रवि केसरी ने बैजनाथपुर ,रिफ्यूजी कॉलोनी वार्ड नम्बर 24 के लगभग एक सौ परिवारों के बीच खाद्य सामग्री जैसे चावल,दाल, मुढ़ी,बिस्कीट,साबुन, खाने का तेल आदि का मुफ्त वितरण किया। ज्ञात हो कि रवि केसरी नगर निगम देवघर के संभावित उप मेयर के प्रत्याशी भी हैं। इस दौरान मौके पर रवि केसरी के साथ साथ कृष्ण कुमार केसरी, अधिवक्ता अतीकुर्रहमान, शकील अंसारी, सुभाष जागृति मंच के उदय चक्रवर्ती, कृष्णा कुमार आदि मौजूद थे।
मौके पर रवि केसरी ने कहा कि अभी देशवासी काफी कठिनाई के दौर से गुजर रहे हैं। इस कोरोना वायरस संक्रमण के भयावह रूप ने लोगों का सुख चैन छीनने पर आमादा है।  सभी लोगों को अभी लॉक डाउन का पालन करते हुए अपने अपने घरों के अंदर सयंम से रहना होगा। तभी हम लोग सोशल डिस्टेंस मेंटन कर इस महामारी वाले वायरस से मुक्ति पा सकते हैं।वही रवि केसरी न कहा कि लॉक डाउन के कारण बहुत से रोजमर्रा की जिंदगी जीने वाले लोगों पर दुख का पहाड़ टूटा है रिक्शा ठेला आदि चलाने वालों को किसी प्रकार का कोई कष्ट न हो इन सभी चीजों को देखते हुए जरूरत मन्दो के बीच आज कुछ आवश्यक सामग्री के साथ खाध पदार्थों का वितरण किये हैं आगे भी दूसरे वार्डों में लोगों को मदद करने पहुंचाएंगे।

Deoghar

Mar 31 2020, 15:58

वार्ड पार्षद प्रत्याशी ने अपने क्षेत्र में किया मास्क का वितरण, सोशल डिस्टेंटिंग की भी दी जानकारी
 
देवघर - युवा समाजसेवी सह नगर निगम के वार्ड संख्या 25 के वार्ड पार्षद प्रत्याशी द्वारा वार्ड क्षेत्र में कोरोना वायरस के बचाव के लिए मास्क का वितरण किया गया। इस दौरान कुल 225 मास्क का वितरण किया। साथ ही लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में भी जानकारी दी गई। मौके पर भावी वार्ड पार्षद प्रत्याशी दीपक सिंह ने बताया कि अभी पूरा विश्व एक भीषण संकट के दौर से गुजर रहा है। कोरोना ने पूरे विश्व और हमारे देश को अपनी चपेट में ले लिया है। इसके संक्रमण का फैलाव नहीं हो, लोग सुरक्षित और स्वस्थ रहें इसके मद्देनजर आज वार्ड में मास्क का वितरण किया गया एवं इसको कैसे उपयोग करना है, इस बारे में भी जानकारी दी गई। इस दौरान उन्होंने वार्ड वासियों से लाॅकडाउन का पालन करने की अपील करते हुए घरों से नहीं निकलने का आग्रह किया। साथ ही कहा कि यदि वार्ड में किसी को भी किसी भी प्रकार की आवश्यकता महसूस होती है तो मुझे बस एक बार सूचित करें, मैं मानवता के नाते मदद के लिए हमेशा तैयार रहूंगा। वहीं उन्होंने कहा कि अभी यह मास्क का वितरण पूरे वार्ड में चलाया जाएगा। मौके पर गौतम, उत्तम, दिलीप, गोपाल दास, काशी मोहली, तुलसी मंडल सहित कई लोग उपस्थित थे।

Deoghar

Mar 31 2020, 14:34

लॉक डाउन के दौरान देवघर जिला किन्नर संघ की अध्यक्ष रोजी मौसी ने किया लोगों के बीच खाद्य सामग्री का वितरण

देवघर - जिला किन्नर संघ की अध्यक्ष रोजी मौसी ने लॉकडाउन के दौरान अपने निजी आवास बंधा में लोगों के बीच पहुंचकर पूरे मोहल्ले को सैनिटाइज करवाया और मास्क का वितरण किया । इस दौरान जरूरतमंदों के बीच खाद्य सामग्री जैसे चावल ,दाल,चीनी ,तेल साबुन आदि का वितरण भी किया।इस दौरान किन्नर रोजी मौसी ने कहा कि आज पूरा देश कोरोना संक्रमण जैसी महामारी से लड़ रहा है। जहां एक तरफ लोग लॉकडाउन का पालन करते हुए अपने अपने घरों में बंद हैं, वहीं बहुत से ऐसे लोग हैं जिनके सामने विकट  स्थिति उत्पन्न हो गई है। उन्हें रोजगार नहीं मिल रहा है, काम नहीं मिल रहा है। जिसके चलते प्रत्येक दिन पैसा कमाने वाले लोगों को चिंता के अलावा कुछ नहीं सूझ रहा है। इन सभी बातों को सोच कर मैंने यह प्रण किया कि इस विकट परिस्थिति में जहां तक बन पड़ेगा लोगों की मदद करूंगी । इसी क्रम में आज मैंने शहर के कुछ मुल्लों में घूम कर वहां के एरिया को सैनिटाइज करवाया है और जरूरतमंदों के बीच खाद्य सामग्री के साथ साथ मास्क और साबुन का वितरण किया है। इस सेवा कार्य से मुझे आत्म संतुष्टि मिल रही है और मैं भी लोगों से अपील करना चाहूंगी जो जरूरतमंद हैं उन्हें जिस रूप में आप मदद कर सकते हैं उन्हें अवश्य मदद करें ।

Deoghar

Mar 31 2020, 11:44

मानवता की मिसाल पेश कर रही एम के एस कंस्ट्रक्शन, लोगों की पहचान छुपाकर की जा रही है मदद

देवघर - लॉकडाउन के इस आपदा में जहां केंद्र और राज्य सरकार लोगों को राहत देने के लिए दिन-रात एक कर रही है, वहीं देवघर के कुछ समाजसेवी और युवा भी गरीबों की मदद के लिए आगे आये हैं। खास बात यह है कि यह सेवा लोगों को बुलाकर मजमा लगाकर नहीं किया जाता, बल्कि उन मजबूर और बेबस लोगों की पहचान छुपाकर उनकी मदद की जा रही है। रोजाना 100 से 150 घरों में ये मदद पहुँचाई जा रही है, जिसकी तैयारी रात भर की जाती है। मानवता की मिसाल पेश कर रही एम के एस कंस्ट्रक्शन कंपनी ने जरूरतमंदों की मदद के लिए बड़ी राहत की शुरुआत की है। जिसमें अट्ठारह वॉलिंटियर काम कर रहे हैं। दिन रात यह खाद्य सामग्रियों को पैकिंग करने में जुटे हैं। इस मदद की सबसे खास बात यह है कि मनोज कुमार सिंह एक बेहद गरीब परिवार से आते हैं, लेकिन इनका मानना है कि ईश्वर की दया से आज इनके पास सब कुछ है कभी एक दौर था जब यह भी मजदूरी करते थे। आज भगवान ने इन्हें दिया है तो आपदा की इस घड़ी में लोगों की सेवा के लिए सामने आए हैं, लेकिन यहां पर सेवा इस ढंग से की जा रही है कि जिन लोगों को मदद की जा रही है, उनकी पहचान छुपा कर रखी जाती है। मनोज कुमार सिंह कहते हैं कि यह आज मजबूर हैं, लाचार हैं, कल तक इनके पास काम था, आज काम नहीं है। ऐसे में अगर यह मदद की गुहार लगा रहे हैं तो यह इनकी मजबूरी है। ऐसे में इनके मजबूरी का सोशल मीडिया पर प्रदर्शन करना सही नहीं है, इसलिए इन लोगों ने तय किया है कि देवघर और आसपास के क्षेत्रों में जिन्हें भी मदद की जरूरत पड़ती है उनके घर तक 1 महीने और परिवार के अनुसार 2 महीने का राशन दिया जा रहा है। जिसमें आलू आटा दाल तेल सहित मसाले और अन्य चीजें शामिल है। इसमें खास ख्याल रखा जाता है कि लोगों की पहचान छुपाकर रखी जाए। 1 दिन में तकरीबन डेढ़ सौ परिवारों को यह मदद पहुंचाई जा रही है। लोग भी खुश हैं कि उनकी समाज में इज्जत और प्रतिष्ठा भी बची रह गई। फिलहाल किसी को भी खाद्य सामग्रियों की जरूरत पड़ती है। वह एक टोल फ्री नंबर पर कॉल कर सकते हैं कॉल करने के बाद इनके घर के सदस्यों की संख्या पूछी जाती है और उसी दिन याद ठीक उसके दूसरे दिन उनके घरों में 1 महीने और 2 महीने का राशन पहुंच जाता है, साथ ही उनकी पहचान भी गोपनीय रखी जाती है। यहां पर 18 वालंटियर भी काम कर रहे हैं जो कि 24 घंटे पैकिंग करने में जुटे हैं यहां पर सभी को गिलास और सैनिटाइजर दिए गए हैं ताकि पूरी तरह से सैनिटाइज होकर ही यह खाना को पैक करते हैं।

Deoghar

Mar 30 2020, 19:14

देवघर के शिवगंगा घाट पर चार परिवारों ने दिया बते सूर्य को अर्ध्य, हर साल जॉती है हजारों की भीड़
 
देवघर - लोक आस्था के महापर्व छठ के तीसरे दिन शाम को अस्ताचलगामी सूर्य को अर्ध्य दिया गया। लॉक डाउन की वजह से जिला प्रशासन ने पहले ही भीड़ इकट्ठा करने और जलाशयों में छठ पर्व नहीं करने की हिदायत दी थी। आज शाम के अर्ध्य के समय शिवगंगा का नजारा बदला-बदला सा नजर आया। जहां हजारों की भीड़ इकट्ठा होती थी, आज पूरे शिवगंगा सरोवर में महज 4 परिवारों ने अलग-अलग घाट में छठ पर्व मनाया। इसके अलावा देवघर के अन्य छठ व्रतियों ने अपने घर में ही पानी इकट्ठा कर सूर्य को अर्घ्य दिया छठ व्रतियों ने कहा है कि भगवान भास्कर से यह आराधना कर रही है कि इस आपदा से पूरे देश को बचाए कुल मिलाकर लोगों ने बड़े ही शांतिपूर्ण और लॉक डाउन का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंस को मेंटेन किया