uttarpradesh

Oct 11 2021, 17:31

yadavwillstartvijayrathyatra
विजय रथ यात्रा के पहले अखिलेश यादव ने लिया अपने पिता मुलायम सिंह यादव का आशीर्वाद, कल से शुरू हो रही यात्रा

समाजवादी पार्टी (सपा) लगभग पांच साल बाद विजय रथ यात्रा के जरिए भारतीय जनता पार्टी की सरकार के खिलाफ जनसमर्थन हासिल करने का प्रयास करेगी। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की अगुवाई में विजय रथ यात्रा का आगाज औद्योगिक नगरी कानपुर से 12 अक्टूबर को होगा। कल से शुरू होने वाली विजय यात्रा से पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादवव ने मुलायम सिंह का आशीर्वाद लिया।


बता दें कि सपा का विजय रथ विधानसभा चुनाव तक चरणबद्ध तरीके से चलेगा। यह यात्रा प्रदेश की हर विधानसभा में तहसील कस्बे का भ्रमण करेगी। इस दौरान पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव की कई जनसभाएं होंगी जिसमें भाजपा सरकार की विफलताओं और कारगुजारियों का खुलासा किया जाएगा। पार्टी सूत्रा के मुताबिक रथ यात्रा के दौरान किसानों की समस्या के प्रति सरकार के उदासीन रवैए, लखीमपुर, हाथरस और महोबा की आपराधिक घटनाओं का जिक्र होगा वहीं महिला सुरक्षा, बेरोजगारी,महंगाई और भाजपा की वादाखिलाफी पर सपा अध्यक्ष अपने सुर मुखर करेंगे। 


अलग-अलग चरणों में चलने वाली यात्रा के लिए लगभग तीन माह का समय निर्धारित किया गया है। यात्रा के दौरान हर जिले में सपा अध्यक्ष कम से कम एक जनसभा करेंगे और भाजपा सरकार की नाकामियों को गिनाएंगे। साथ ही वह सपा की सरकार आने पर दी जाने वाली सुविधाओं और योजनाओ के बारे में जानकारी देंगे। 


बता दें कि इससे पहले श्री यादव 31 जुलाई 2001 में पहली बार क्रांति रथ लेकर निकले थे। इसके बाद 12 सितंबर 2011 को दूसरी बार समाजवादी क्रांतिरथ यात्रा लेकर निकले जिसके बाद उन्हे यूपी की सत्ता हासिल हुई थी। 

uttarpradesh

Oct 11 2021, 17:31

yadavwillstartvijayrathyatra
विजय रथ यात्रा के पहले अखिलेश यादव ने लिया अपने पिता मुलायम सिंह यादव का आशीर्वाद, कल से शुरू हो रही यात्रा

समाजवादी पार्टी (सपा) लगभग पांच साल बाद विजय रथ यात्रा के जरिए भारतीय जनता पार्टी की सरकार के खिलाफ जनसमर्थन हासिल करने का प्रयास करेगी। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की अगुवाई में विजय रथ यात्रा का आगाज औद्योगिक नगरी कानपुर से 12 अक्टूबर को होगा। कल से शुरू होने वाली विजय यात्रा से पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादवव ने मुलायम सिंह का आशीर्वाद लिया।


बता दें कि सपा का विजय रथ विधानसभा चुनाव तक चरणबद्ध तरीके से चलेगा। यह यात्रा प्रदेश की हर विधानसभा में तहसील कस्बे का भ्रमण करेगी। इस दौरान पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव की कई जनसभाएं होंगी जिसमें भाजपा सरकार की विफलताओं और कारगुजारियों का खुलासा किया जाएगा। पार्टी सूत्रा के मुताबिक रथ यात्रा के दौरान किसानों की समस्या के प्रति सरकार के उदासीन रवैए, लखीमपुर, हाथरस और महोबा की आपराधिक घटनाओं का जिक्र होगा वहीं महिला सुरक्षा, बेरोजगारी,महंगाई और भाजपा की वादाखिलाफी पर सपा अध्यक्ष अपने सुर मुखर करेंगे। 


अलग-अलग चरणों में चलने वाली यात्रा के लिए लगभग तीन माह का समय निर्धारित किया गया है। यात्रा के दौरान हर जिले में सपा अध्यक्ष कम से कम एक जनसभा करेंगे और भाजपा सरकार की नाकामियों को गिनाएंगे। साथ ही वह सपा की सरकार आने पर दी जाने वाली सुविधाओं और योजनाओ के बारे में जानकारी देंगे। 


बता दें कि इससे पहले श्री यादव 31 जुलाई 2001 में पहली बार क्रांति रथ लेकर निकले थे। इसके बाद 12 सितंबर 2011 को दूसरी बार समाजवादी क्रांतिरथ यात्रा लेकर निकले जिसके बाद उन्हे यूपी की सत्ता हासिल हुई थी। 

uttarpradesh

Oct 11 2021, 17:28

yadavwillstartvijayrathyatra
विजय रथ यात्रा के पहले अखिलेश यादव ने लिया अपने पिता मुलायम सिंह यादव का आशीर्वाद, कल से शुरू हो रही यात्रा

समाजवादी पार्टी (सपा) लगभग पांच साल बाद विजय रथ यात्रा के जरिए भारतीय जनता पार्टी की सरकार के खिलाफ जनसमर्थन हासिल करने का प्रयास करेगी। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की अगुवाई में विजय रथ यात्रा का आगाज औद्योगिक नगरी कानपुर से 12 अक्टूबर को होगा। कल से शुरू होने वाली विजय यात्रा से पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादवव ने मुलायम सिंह का आशीर्वाद लिया।


बता दें कि सपा का विजय रथ विधानसभा चुनाव तक चरणबद्ध तरीके से चलेगा। यह यात्रा प्रदेश की हर विधानसभा में तहसील कस्बे का भ्रमण करेगी। इस दौरान पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव की कई जनसभाएं होंगी जिसमें भाजपा सरकार की विफलताओं और कारगुजारियों का खुलासा किया जाएगा। पार्टी सूत्रा के मुताबिक रथ यात्रा के दौरान किसानों की समस्या के प्रति सरकार के उदासीन रवैए, लखीमपुर, हाथरस और महोबा की आपराधिक घटनाओं का जिक्र होगा वहीं महिला सुरक्षा, बेरोजगारी,महंगाई और भाजपा की वादाखिलाफी पर सपा अध्यक्ष अपने सुर मुखर करेंगे। 


अलग-अलग चरणों में चलने वाली यात्रा के लिए लगभग तीन माह का समय निर्धारित किया गया है। यात्रा के दौरान हर जिले में सपा अध्यक्ष कम से कम एक जनसभा करेंगे और भाजपा सरकार की नाकामियों को गिनाएंगे। साथ ही वह सपा की सरकार आने पर दी जाने वाली सुविधाओं और योजनाओ के बारे में जानकारी देंगे। 


बता दें कि इससे पहले श्री यादव 31 जुलाई 2001 में पहली बार क्रांति रथ लेकर निकले थे। इसके बाद 12 सितंबर 2011 को दूसरी बार समाजवादी क्रांतिरथ यात्रा लेकर निकले जिसके बाद उन्हे यूपी की सत्ता हासिल हुई थी। 

uttarpradesh

Oct 11 2021, 17:28

yadavwillstartvijayrathyatra
विजय रथ यात्रा के पहले अखिलेश यादव ने लिया अपने पिता मुलायम सिंह यादव का आशीर्वाद, कल से शुरू हो रही यात्रा

समाजवादी पार्टी (सपा) लगभग पांच साल बाद विजय रथ यात्रा के जरिए भारतीय जनता पार्टी की सरकार के खिलाफ जनसमर्थन हासिल करने का प्रयास करेगी। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की अगुवाई में विजय रथ यात्रा का आगाज औद्योगिक नगरी कानपुर से 12 अक्टूबर को होगा। कल से शुरू होने वाली विजय यात्रा से पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादवव ने मुलायम सिंह का आशीर्वाद लिया।


बता दें कि सपा का विजय रथ विधानसभा चुनाव तक चरणबद्ध तरीके से चलेगा। यह यात्रा प्रदेश की हर विधानसभा में तहसील कस्बे का भ्रमण करेगी। इस दौरान पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव की कई जनसभाएं होंगी जिसमें भाजपा सरकार की विफलताओं और कारगुजारियों का खुलासा किया जाएगा। पार्टी सूत्रा के मुताबिक रथ यात्रा के दौरान किसानों की समस्या के प्रति सरकार के उदासीन रवैए, लखीमपुर, हाथरस और महोबा की आपराधिक घटनाओं का जिक्र होगा वहीं महिला सुरक्षा, बेरोजगारी,महंगाई और भाजपा की वादाखिलाफी पर सपा अध्यक्ष अपने सुर मुखर करेंगे। 


अलग-अलग चरणों में चलने वाली यात्रा के लिए लगभग तीन माह का समय निर्धारित किया गया है। यात्रा के दौरान हर जिले में सपा अध्यक्ष कम से कम एक जनसभा करेंगे और भाजपा सरकार की नाकामियों को गिनाएंगे। साथ ही वह सपा की सरकार आने पर दी जाने वाली सुविधाओं और योजनाओ के बारे में जानकारी देंगे। 


बता दें कि इससे पहले श्री यादव 31 जुलाई 2001 में पहली बार क्रांति रथ लेकर निकले थे। इसके बाद 12 सितंबर 2011 को दूसरी बार समाजवादी क्रांतिरथ यात्रा लेकर निकले जिसके बाद उन्हे यूपी की सत्ता हासिल हुई थी। 

uttarpradesh

Oct 11 2021, 16:20

#tempo_driver_beaten_to_traffic_police
*अलीगढ़ में एक ट्रैफिक पुलिस की जमकर पिटाई, ऑटो के किराए को लेकर हंगामा*

अलीगढ़ में किराए को लेकर ऑटो ड्राइवर से उलझना एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी को महगा पड़ गया। थाना गांधी पार्क क्षेत्र के दुबे के पड़ाव चौराहे पर किराये को लेकर ऑटो रिक्शा सवार यात्रियों और ट्रैफिक पुलिस के सिपाही के बीच विवाद हो गया। जिसके बाद यात्रियों ने सिपाही को जमकर पीटा, उसकी वर्दी फाड़ दी। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची, हालांकि तब तक देर हो चुकी थी। वहां कोई नहीं मिला।

दुबे के पड़ाव पर मौजूद लोगों के मुताबिक, मदार गेट चौराहे के पास ट्रैफिक पुलिस के सिपाही ने ऑटो रिक्शा को रोककर कहा कि उसे दुबे के पड़ाव चौराहे तक जाना है। चालक ने सिपाही को बिठा लिया। दुबे के पड़ाव पहुंचने पर चालक ने किराया मांगा तो सिपाही रवि कुमार भड़क गया और उसने चालक के साथ अभद्रता कर डाली।

इस पर अन्य यात्रियों ने विरोध किया। इस बात पर रवि कुमार भड़क गया और उसने एक यात्री को चांटा मार दिया। इससे यात्री के मुंह से खून बहने लगा। यह देखकर अन्य यात्री भी भड़क गए और उन्होंने रवि कुमार के साथ मारपीट कर डाली।

इसके बाद रवि कुमार ने भी अपने अन्य साथियों को बुला लिया और दोनों पक्षों में मारपीट होने लगी। मौके पर मौजूद कुछ लोगों ने इस मारपीट का वीडियो बना लिया। घटना की जानकारी पर इलाका पुलिस भी मौके पर पहुंच गई लेकिन तब तक दोनों पक्ष घटनास्थल से जा चुके थे। 

uttarpradesh

Oct 11 2021, 16:19

driverbeatentotraffic_police
अलीगढ़ में एक ट्रैफिक पुलिस की जमकर पिटाई, ऑटो के किराए को लेकर हंगामा

अलीगढ़ में किराए को लेकर ऑटो ड्राइवर से उलझना एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी को महगा पड़ गया। थाना गांधी पार्क क्षेत्र के दुबे के पड़ाव चौराहे पर किराये को लेकर ऑटो रिक्शा सवार यात्रियों और ट्रैफिक पुलिस के सिपाही के बीच विवाद हो गया। जिसके बाद यात्रियों ने सिपाही को जमकर पीटा, उसकी वर्दी फाड़ दी। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची, हालांकि तब तक देर हो चुकी थी। वहां कोई नहीं मिला।

दुबे के पड़ाव पर मौजूद लोगों के मुताबिक, मदार गेट चौराहे के पास ट्रैफिक पुलिस के सिपाही ने ऑटो रिक्शा को रोककर कहा कि उसे दुबे के पड़ाव चौराहे तक जाना है। चालक ने सिपाही को बिठा लिया। दुबे के पड़ाव पहुंचने पर चालक ने किराया मांगा तो सिपाही रवि कुमार भड़क गया और उसने चालक के साथ अभद्रता कर डाली।

इस पर अन्य यात्रियों ने विरोध किया। इस बात पर रवि कुमार भड़क गया और उसने एक यात्री को चांटा मार दिया। इससे यात्री के मुंह से खून बहने लगा। यह देखकर अन्य यात्री भी भड़क गए और उन्होंने रवि कुमार के साथ मारपीट कर डाली।

इसके बाद रवि कुमार ने भी अपने अन्य साथियों को बुला लिया और दोनों पक्षों में मारपीट होने लगी। मौके पर मौजूद कुछ लोगों ने इस मारपीट का वीडियो बना लिया। घटना की जानकारी पर इलाका पुलिस भी मौके पर पहुंच गई लेकिन तब तक दोनों पक्ष घटनास्थल से जा चुके थे। 

uttarpradesh

Oct 11 2021, 16:19

driverbeatentotraffic_police
अलीगढ़ में एक ट्रैफिक पुलिस की जमकर पिटाई, ऑटो के किराए को लेकर हंगामा

अलीगढ़ में किराए को लेकर ऑटो ड्राइवर से उलझना एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी को महगा पड़ गया। थाना गांधी पार्क क्षेत्र के दुबे के पड़ाव चौराहे पर किराये को लेकर ऑटो रिक्शा सवार यात्रियों और ट्रैफिक पुलिस के सिपाही के बीच विवाद हो गया। जिसके बाद यात्रियों ने सिपाही को जमकर पीटा, उसकी वर्दी फाड़ दी। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची, हालांकि तब तक देर हो चुकी थी। वहां कोई नहीं मिला।

दुबे के पड़ाव पर मौजूद लोगों के मुताबिक, मदार गेट चौराहे के पास ट्रैफिक पुलिस के सिपाही ने ऑटो रिक्शा को रोककर कहा कि उसे दुबे के पड़ाव चौराहे तक जाना है। चालक ने सिपाही को बिठा लिया। दुबे के पड़ाव पहुंचने पर चालक ने किराया मांगा तो सिपाही रवि कुमार भड़क गया और उसने चालक के साथ अभद्रता कर डाली।

इस पर अन्य यात्रियों ने विरोध किया। इस बात पर रवि कुमार भड़क गया और उसने एक यात्री को चांटा मार दिया। इससे यात्री के मुंह से खून बहने लगा। यह देखकर अन्य यात्री भी भड़क गए और उन्होंने रवि कुमार के साथ मारपीट कर डाली।

इसके बाद रवि कुमार ने भी अपने अन्य साथियों को बुला लिया और दोनों पक्षों में मारपीट होने लगी। मौके पर मौजूद कुछ लोगों ने इस मारपीट का वीडियो बना लिया। घटना की जानकारी पर इलाका पुलिस भी मौके पर पहुंच गई लेकिन तब तक दोनों पक्ष घटनास्थल से जा चुके थे। 

uttarpradesh

Oct 11 2021, 15:43

उत्तर प्रदेश में खुलेआम हो रहा भ्रष्टाचार, बाराबंकी डीसीआरबी कार्यालय में रिश्वत लेते वीडियो वायरल

उत्तर प्रदेश में खुलेआम भ्रष्टाचार हो रहा है। सरकारी बाबूओं की जेब गरम किए बिना कोई काम नहीं होता। कहने को तो सरकार रोज ऐसे अधिकारियों और कर्मचारियों पर कार्रवाई का निर्देश दे रही है, लेकिन नतीजा ढाक के तीन पात।

अब बाराबंकी डीसीआरबी कार्यालय का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहे है। वीडियो में कार्यालय में तैनात मशूद अजगर रिश्वत लेते हुए दिख रहे है। ये वीडियो तेजी से वायरल हो रहे है।

उत्तर प्रदेश सरकार लगातार व्यवस्थाओं को बेहतर करने में जुटी हुई है और खुले मंच से इस बात का ऐलान भी खूब करती नजर आती है। हालांकि  बेहतर व्यवस्थाओं का दावा करने वाली योगी सरकार भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ती जा रही है। 

uttarpradesh

Oct 11 2021, 13:32

PWD के एक कमरे में रखे भूसा में मिला युवती का शव

महराजगंज - अज्ञात युवती का शव मिलने से सनसनी फैल गई। PWD के एक कमरे में रखे भूसा में युवती का शव मिला है। दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका जताई जा रही है। बताया जा रहा है कि कई दिनों तक भूसे में युवती की लाश पड़ी रही। कोल्हुई थाना क्षेत्र के जिगिनिहा का मामला।