Apnabharat123

Sep 20 2020, 13:59

राज्यसभा में कृषि बिल को लेकर अभूतपूर्व हंगामा, उपसभापति की सीट तक पहुंच विपक्षी सांसदों ने माइक   संसद के मानसून सत्र से इस वक्त की बड़ी खबर सामने आ रही है. राज्यसभा में कृषि बिल पर चर्चा के दौरान विपक्षी सदस्यों ने जोरदार हंगामा किया है. राज्यसभा में हुआ बवाल अपने आप में अभूतपूर्व रहा है. ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने उपसभापति हरिवंश के सामने ही रूल बुक फाड़ दिया. साथ ही साथ उपसभापति की माइक भी तोड़ डाली है.
कृषि बिल के मुद्दे पर लगातार विपक्ष और सत्ता पक्ष आमने-सामने है. लोकसभा में भी इस बिल को लेकर हंगामा हुआ था. संसद के मानसून सत्र का आज सातवां दिन है और कृषि संबंधी विधेयकों को आज राज्यसभा में पेश किया गया है. कृषि से जुड़े दो बिलों को लोकसभा में पहले ही पास किया जा चुका है. इस बिल का शिरोमणि अकाली दल भी विरोध कर रही है.
कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के जवाब से असंतुष्ट कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के सांसद में पहुंच गए और नारेबाजी करने लगे. कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद ने राज्यसभा में बहस के लिए समय बढ़ाए जाने की मांग की और उसके बाद हंगामा शुरू हो गया. आज राज्यसभा की कार्यवाही 1:00 बजे तक की चलनी थी और विपक्षी सदस्य इस मसले पर सदन में चर्चा चाहते थे.  

Apnabharat123

Sep 03 2020, 12:44

बोले नीरज कुमार- लालू परिवार की लीला अद्भुत, दल की दलित विधायिका को ही कर दिया क्वारंटाइन

लाइव सिटीज: विधानसभा चुनाव के पहले पक्ष और विपक्ष में हमलेबाजी का सिलसिला जारी है. तेजस्वी ने सीएम नीतीश को बेरोजगारी को लेकर उपदेश क्या दे दिया, इधर जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने लालू परिवार को ही निशाने पर ले लिया. नीरज कुमार ने कहा कि लालू परिवार की लीला अद्भुत है.
दरअसल, कोरोना संकट के बावजूद रांची में लालू यादव से उनके चाहने वालों के मिलने का सिलसिला जारी ही है. लाख बिमारी का खतरा हो लेकिन इसके बावजूद भी लोग यहां हाजिरी लगाने पहुंच ही जाते हैं. ऐसा ही एक वाकया सामने आया है जब राजद की एक दलित विधायिका लालू यादव से मिलने पहुंचीं तब. उन्हें क्वारंटाइन कर दिया गया और लालू यादव से मिलने नहीं दिया गया. इसपर जेडीयू के नीरज कुमार ने जोरदार हमला बोला है.
उन्होंने तेजस्वी यादव से कहा कि जुबान खोलिए और बताईए कि कौन सही है और कौन गलत है, सोने का चम्मच लेकर जिसने जन्म लिया है वो क्वारंटाइन नहीं होगा पर विधायिका दलित है तो क्वारंटाइन होंगी, आखिर ये दोहरा मापदंड क्यों?
झारखंड प्रशासन ने नए निर्देश जारी किये हैं कि बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों को 14 दिनों तक क्वारंटाइन किया जाएगा और इसी नियम के तहत समता देवी को क्वारंटाइन किया गया है. वहीं नियम जारी होने के ही दिन बिहार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सांसद अखिलेश सिंह भी लालू प्रसाद मिलने गए थे वहीं शाम को मिलने गई समता देवी को प्रशासन द्वारा क्वारंटाइन कर दिया गया. जाहिर सी बात है कि इस पूरे मामले के बाद सियासत तेज हो गई है.

Anand35

Sep 02 2020, 08:00

स्पीड पकड़ने लगी बिहार चुनाव की तैयारी, निर्वाचन आयोग ने सभी प्रमंडलीय आयुक्त और डीएम के साथ की बैठक

 बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर चुनाव आयोग की तैयारी जारी है. इसी कड़ी में आज निर्वाचन आयोग ने बैठक की. जिसमें बिहार के सभी 9 प्रमंडलों के कमिश्नर शामिल हुए. साथ ही सभी जिलों के जिलाधिकारी भी बैठक में मौजूद रहे.
बैठक में निर्वाचन आयोग ने चुनाव तैयारियों की समीक्षा की. सभी प्रमंडलीय आयुक्तों से सुरक्षित मतदान को लेकर की गयी तैयारी का जानकारी ली गयी. साथ ही सभी जिलों के डीएम से अपने-अपने जिलों में की जा रही तैयारी का जायजा लिया गया. साथ ही कई दिशा निर्देश दिए गए.
कोरोना काल में चुनाव को लेकर आयोग की ओर से दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं. बूथों की संख्या बढ़ाने, मतदान केन्द्र पर 1,000 से ज्यादा वोटरों के नहीं होने, सेनेटाइजेशन की व्यवस्था करने समेत कई सुझाव दिए गए हैं. ताकी लोग सुरक्षित से मतदान कर सकें.
इधर सुप्रीम कोर्ट और पटना हाईकोर्ट में बिहार चुनाव रोकने को लेकर दायर याचिका को खारिज कर दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कोर्ट चुनाव आयोग को ऐसा निर्देश नहीं दे सकता है. चुनाव कराने की जिम्मेवारी आयोग को है. लोकतांत्रिक व्यवस्था को बनाए रखने के लिए चुनाव कराना अनिवार्य होता है.

Gaya

Aug 31 2020, 20:57

पुनः पलायन पर भड़के राजद विधायक सुरेंद्र प्रसाद यादव, कहां- अगर सरकार ने अच्छी व्यवस्था किया तो फिर पलायन क्यों

मनीष कुमार/ गया

 
राजद विधायक सुरेंद्र प्रसाद यादव प्रवासी मजदूरों के पुनः पलायन पर भड़के और कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बोले थे कि जो प्रवासी आ गए है उसको हम राशन, किरासन, राशन कार्ड एवं पैसा भी देंगे, दूसरे राज्य से आने वाले को अब जाने नहीं दिया जाएगा, यही काम देकर उसको रखा जाएगा और जब तक काम नहीं दिया जाएगा तब तक मुआवजा के रूप में पैसा और अनाज दिया जाएगा, लेकिन दिया तो कुछ नहीं...सिर्फ वोट के लिए उसने इस भाषा का प्रयोग किया। अगर सरकार ने मजदूरों के लिए की अच्छी व्यवस्था किया तो फिर पलायन क्यों हो रहा है। उक्त बाते बेलागंज के राजद विधायक सुरेंद्र प्रसाद यादव शहर के एफसीआई गोदाम में सेवानिवृत्त सम्मान समारोह के दौरान कहीं।

उन्होंने एनडीए की सरकार से सवाल पूछा कि अगर प्रवासी मजदूरों को पैसा और अनाज दिया गया है तब आखिर क्यों पुनः वापसी कैसे जा रहे हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जनता को बरगला कर वोट लेना चाहती है, लेकिन जनता सब कुछ जान रही है। राजद विधायक ने स्पष्ट तौर पर कहा कि किसान और मजदूरों के साथ खिलवाड़ करने वाले लोग कहीं से भी सही नहीं है। इस बार बिहार विधानसभा चुनाव में ऐसे लोगों को जनता सबक सिखाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि नीतीश कुमार मुर्दाबाद, डबल इंजन की सरकार मुर्दाबाद।

Anand35

Aug 31 2020, 16:31

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की तबियत में कोई सुधार नहीं, वेंटिलेटर के सपोर्ट पर हैं

 देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की तबियत में और ज्यादा गिरावट हुई है. कोई सुधार नहीं हुआ है. वह दिल्ली स्थित सेना के अस्पताल में भर्ती हैं. अस्पताल की ओर से बताया गया है कि फेफड़ों में संक्रमण की वजह से सेप्टिक शॉक की स्थिति पैदा हो गई है. प्रणब मुखर्जी की इस महीने ब्रेन सर्जरी हुई थी, जिसके बाद से वह कोमा में हैं.
आर्मी हॉस्पिटल की ओर से आज जारी किए गए बयान में बताया गया है कि बीते दिन से प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य में गिरावट देखी जा रही है. फेफड़ों में इंफेक्शन की वजह से सेप्टिक शॉक में हैं. डॉक्टरों की एक स्पेशल टीम उनके इलाज में जुटी है. वह अभी भी कोमा में हैं और उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया है.
अस्पताल ने पूर्व राष्ट्रपति की सेहत को लेकर बयान जारी कर कहा, कल से पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत में कोई सुधार नहीं हुआ है. उनकी हालत लगातार बिगड़ रही है. उनके फेफड़ों में संक्रमण की वजह से वह सेप्टिक शॉक में चले गए हैं.
इससे पहले, रविवार को अस्पताल की ओर से उनका मेडिकल बुलेटिन जारी किया गया, जिसमें कहा गया कि पूर्व राष्ट्रपति का फेफड़ों के संक्रमण का इलाज चल रहा है. वह हेमोडायनामिक रूप से स्थिर है.

Anand35

Aug 30 2020, 14:36

लालू से मिलने रांची जा रहे RJD नेता समेत 2 की सड़क हादसे में मौत, सहरसा के थे रहने वाले

 बिहार में विधानसभा का चुनाव होने वाला है. इसको लेकर लगातार पार्टी के नेता लालू प्रसाद से मिलने के लिए रांची जा रहे हैं. आज भी एक नेता मिलने के लिए जा रहे थे. लेकिन उनकी कार एक खड़े ट्रक में टक्कर मार दी. इस हादसे में आरजेडी नेता समेत दो की मौत हो गई. एक ही स्थिति गंभीर बनी हुई है. यह घटना बरही थाना क्षेत्र के बरसोत की है.
 हादसे के बारे में बताया जा रहा है कि आरजेडी नेता की कार की रफ्तार तेज थी और वह अनियंत्रित होकर एक सड़क किनारे खड़े कार में टक्कर मार दी. आसपास के लोगों ने कार से सभी को निकाला और हॉस्पिटल पहुंचाया, लेकिन इलाज के दौरान आरजेडी नेता विजेंद्र यादव और छोटेलाल की मौत हो गई, जबकि तीसरे घायल का इलाज चल रहा है. 
आरजेडी नेता सहरसा जिले के बिहरा थाना के बिजलपुर के रहने वाले थे. विजेंद्र यादव सहरसा के पूर्व जिला पार्षद रह चुके थे. वह आरजेडी से जुड़े हुए थे. पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए हजारीबाग सदर हॉस्पिटल भेज दिया है

Arrah_Bihar

Aug 21 2020, 14:04

टिंकू सिंह ने भाजपा को छोड़कर ली जन अधिकार पार्टी (लो.) की सदस्यता
  

 

आरा। पीरो प्रखंड के बरौली गाँव निवासी यशश्वी, कर्मठ और जुझारू युवा नेता टिंकू सिंह ने भाजपा को छोड़कर जन अधिकार पार्टी (लो.) की सदस्यता ली. जन अधिकार पार्टी (लो.) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ़ पप्पु यादव के समक्ष टिंकू सिंह ने अपने सभी कार्यकर्ताओं के साथ पार्टी में शामिल हुए. पार्टी द्वारा आयोजित रोहित इंटरनेशनल होटल सासाराम में मिलन समारोह में उपस्थित होकर पार्टी की सदस्यता ग्रहण किये. 

टिंकू सिंह ने बचपन से ही कुछ अलग करने की सोच के साथ इलाके के हरेक सामाजिक और राजनैतिक कार्यों में बढ़-चढ़ हिस्सा लेते आ रहे हैं . सदस्यता ग्रहण के पश्चात श्री  सिंह ने बोला बिहार में एक जन अधिकार पार्टी ही हैं जो देश और राज्य के हर मुद्दे को उठाने का काम करती हैं. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री पप्पु यादव के द्वारा लगातार गरीबों,  बंचितो बाढ़, सुखाड और लाचार इंसानो का रहनुमा बनकर हमेशा मदद को देखकर ही,  हम भी प्रभावित होकर, हम भी जाप के साथ मिलकर लोगों की सेवा करने का प्रण लिया. पप्पु यादव ही देश के एक मात्र गरीबों के असली सेवक हैं जो अपने आराम और सुख सुविधा को छोड़कर लगातर कभी बांध कभी स्कूल पर सोकर लोगों की समस्या से अवगत होते हैं. 

श्री यादव कभी चुनाव जितने के लिए लोगों के बिच नहीं जाते ओ सिर्फ मदद और मनुष्य धर्म का पालन करते हुए सेवा में दिन-रात जूटे रहते हैं. पप्पु यादव ही एक मात्र सेवक  हैं जो बिहार और बिहारी का असली हक दिला सकते. बाकि नेता सिर्फ बयानबाजी और झूठा वादा करते हैं और चुनाव जीतकर अपने ऐसो-आराम में लगे रहते. पप्पु यादव ही एक नेता हैं जो अपनी मुलभुत सुविधाओं को भूल कर बिना किसी लाभ के गरीबों का मदद करने में विश्वास रखते हैं ऐसे नेता की ही हमें और पुरे बिहार को जरूरत हैं.  

सदस्यता ग्रहण समारोह में पार्टी के प्रदेश महासचिव संदीप समदर्शी, प्रदेश सचिव नेताजी संजय यादव, राष्ट्रीय महासचिव पूर्व विधायक  रामचंद्र यादव, लालसाहेब सिंह,  छात्र प्रदेश अध्यक्ष विशाल कुमार, प्रखंड अध्यक्ष पीरो श्री भगवान सिंह,  युवा प्रखंड अध्यक्ष दीपक कुमार, राजेंद्र सिंह फ़ौजी, प्रमुख अनीता यादव, प्रदेश महासचिव समीर कुमार,  संतोष कुमार, रितेश कुमार सहित हजारों लोग उपस्थित हुए.

Patna

Aug 16 2020, 17:07

श्याम रजक जदयू से देंगे इस्तीफा, आरजेडी में हो सकते हैं शामिल
  

 

बिहार विधान सभा चुनाव के ठीक पहले सह मात का खेल चालू हो गया है । कौन किसे छोड़ता है और किसकी तरफ जाता है यह राजनीति में नहीं कहा जा सकता वर्षों बरस के दोस्त सुनाते हैं दुश्मन नजर आने लगते हैं। अक्टूबर-नवंबर में होने वाले बिहार विधान सभा के ठीक पहले बिहार के राजनीतिक दलों में भी अब एक दूसरे को पकड़ने का चोट लग गया है। 

लालू के खासम खास रहे श्याम रजक एक बार फिर सुर्खियों में है। 2009 में अचानक पाला बदल नीतीश की गोद में बैठने वाले श्याम रजक ने एक झटके में ही लालू यादव का साथ छोड़ दिया था।  जून 2009 में राजद के राष्ट्रीय महासचिव के पद से इस्तीफा दे कर जेडीयू में शामिल हुए थे। जेडीयू में शामिल होने के बाद उनकी नीतीश कुमार से खासी नजदीकी हो गई थी। फिर क्या था कभी लालू के नवरत्न मैं से एक रहे श्याम रजक अब उन पर जमकर अटैक करने लगे। 2015 के विधानसभा चुनाव के ठीक बाद श्याम रजक की जेडीयू में उल्टी गिनती शुरू हो गई.अब विधान सभा चुनाव से ठीक पहले वे नीतीश कुमार को बाय-बाय कहने वाले हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक श्याम रजक सोमवार को जेडीयू छोड़ आरजेडी में शामिल हो सकते हैं । राजद छोड़कर जेडीयू में आने वाले श्याम रजक फिलहाल पटना से सटे फुलवारी शरीफ के विधायक हैं और पार्टी में अत्यंत पिछड़ा वर्ग का चेहरा भी हैं। सूत्रों की माने तो बिहार सरकार के मंत्री ना केवल मंत्री पद बल्कि विधानसभा की सदस्यता से भी इस्तीफा देने का मन बना चुके हैं।

Patna

Aug 09 2020, 16:33

बाढ़, कोरोना ओर अपराध, तीनों से त्रस्त हैं बिहार : पप्पू यादव
  

 

पटना, मौजूदा हाल में बिहार की दशा पर जाप नेता ओर पूर्व सांसद पप्पू यादव ने बिहार सरकार पर तीखा हमला बोला। उन्होंने बिहार के लोगों की दुर्दशा पर ध्यान दिलाते हुए कहा कि आज का युवा बदलाव चाहता है। उन्होंने कहा कि नितीश बाबु बाढ़ का हवाई सर्वे कर रहे हैं ओर जमीन पर बिहार के लोग त्रस्त हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में अपराध लगातार बढ़ते जा रहे हैं। बाढ़ ओर कोरोना जैसी आपदाओं के नाम पर कांट्रेक्टर ओर दलाल अरबों रुपये लूट चुके हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि इस लूट में सरकार ओर सत्ता पक्ष के नेता भी शामिल हैं। बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों के हालत के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि चापाकल ओर शौचालय तक की सुविधाएँ मौजूद नहीं हैं। 

माताओं-बहनों की समस्या बताते हुए उन्होंने कहा कि उनके लिए शौचालय तक उपलब्ध नहीं है। एक पन्नी के नीचे पूरा परिवार जैसे तैसे गुजारा कर रहा है। मवेशियों के लिए चारा भी उपलब्ध नहीं है। बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में अब महामारी का ख़तरा भी बढ़ रहा है। उन्होंने कहा की अगर सरकार के नेता ओर अफसर एक दिन भी उन हालात में रहें तो उन्हें जनता के कष्ट का अंदाजा होगा। कम से कम नैतिकता के आधार पर ही मंत्रियों से इस्तीफा लिया जाना चाहिए। पप्पू यादव ने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि राज्य सरकार केंद्र से सहायता तक नहीं ले पा रही है। 

बिहार में बढ़ते हुए अपराधों के बारे में उन्होंने कहा की पूरे बिहार में अपराधियों का बोलबाला है। बेगुसराय से लेकर गोपालगंज तक हत्या ओर बलात्कार जैसे जघन्य अपराध सत्ता पक्ष के संरक्षण में किये जा रहे हैं। बिहार बाढ़, अपराध ओर कोरोना तीनों से जूझ रहा है। कोरोना के लिए साठ हजार जांच का दावा भी जुमला साबित हो रहा है। इस कारण राफेल ओर मंदिर जैसे भावनात्मक मुद्दों को उछाला जा रहा है ओर बाढ़, अपराध ओर कोरोना जैसे मामलों जनता का ध्यान भटकाया जा रहा है। 

सुशांत सिंह राजपूत मामले पर बातचीत करते हुए पप्पू यादव ने कहा कि केंद्र सरकार ओर राज्य सरकार इस मामले पर लीपापोती करने का प्रयास कर रही है। सीबीआई की जांच के नाम पर उन अधिकारीयों को जिम्मा दिया गया है, जो पहले ही सृजन, नवरूणा ओर ब्रह्मेश्वर मुखिया हत्याकांड जैसे मामलों में जांच को मुकाम पर नहीं पहुंचा पाए हैं। पप्पू यादव ने मांग की कि सुशांत को न्याय मिले। इसके लिए जरूरी है कि उच्च न्यायलय के न्यायाधीश की निगरानी में जांच की जाये। पप्पू यादव ने कहा कि बिहार को बचाने ओर वापस विकास के रास्ते पर ले जाने के लिए सामान विचारधारा वाले दलों से भी वो बातचीत कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारा संकल्प है कि आगामी विधानसभा चुनावों में वो तीस साल की गन्दी राजनीती से बिहार को मुक्ति दिलाकर फिर से राम राज्य लायेंगे।

इस मौके पर जाप के राष्ट्रिय प्रधान महासचिव एजाज अहमद, राष्ट्रिय महासचिव राजेश रंजन “पप्पू”, राष्ट्रिय सचिव हरे राम, प्रदे

  • Patna
     @Patna  इस मौके पर जाप के राष्ट्रिय प्रधान महासचिव एजाज अहमद, राष्ट्रिय महासचिव राजेश रंजन “पप्पू”, राष्ट्रिय सचिव हरे राम, प्रदेश उपाध्यक्ष अवधेश लालू, प्रदेश महास्काहिव रानू शंकर, राजू दानवीर, अविनाश कुमार सहित कई पार्टी के नेता मौजूद थे। इस अवसर पर रंजू रानी, गीता देवी,  शिवानी कुमारी, उमेश प्र. सिंह, सियाराम यादव, अजित कुमार मिश्रा, मनोहर कुमार, मनीष मिश्रा, सिद्धू गुप्ता सहित कई लोगों ने पार्टी की सदस्यता भी ग्रहण की। एसडीपीआई के स्टेट प्रेसिडेंट नईम अख्तर ओर पोपुलर फ्रंट के स्टेट प्रेसिडेंट महबूब आलम ने भी इस मौके पर जाप की सदस्यता ली। 
Bettiah

Aug 04 2020, 16:15

बिहार भाजपा नगर निकाय प्रकोष्ठ की 'प्रदेश सह प्रभारी' बनी नप सभापति गरिमा देवी सिकारिया
 

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष व पश्चिम चंपारण के सांसद डॉ संजय जायसवाल ने नप सभापति गरिमा देवी सिकारिया को बिहार भाजपा नगर निकाय प्रकोष्ठ की 'प्रदेश सह प्रभारी' मनोनीत किये जाने पर शुभकामना के साथ बधाई देते हुये उज्ज्वल राजनीतिक सामाजिक जीवन की कामना किया है। डॉ जायसवाल ने कहा कि करीब तीन साल पहले से बेतिया नगर परिषद की सभापति चुने जाने के बाद से लगातार अपने पद के दायित्वों का कुशलता पूर्वक निर्वहन किया है। 

उन्होंने कहा कि मुझे विश्वास है कि अपने राजनीतिक जीवन में प्राप्त प्रांतीय स्तर के पद से जुड़ी जिम्मेदारियों का कुशलता व ततपरता पूर्वक निर्वहन निर्वहन करेंगी। नगर परिषद पूर्व सभापति जनक साह ने भी नप सभापति गरिमा देवी सिकारिया को बिहार भाजपा नगर निकाय प्रकोष्ठ के प्रदेश सह प्रभारी बनाये जाने पर बधाई दी है। पूर्व सभापति ने कहा कि वे अपने दायित्व निर्वहन में सदा तत्पर रहने वाली महिला हैं। उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन में दिनों दिन काफी तरक्की किया है। उनके राजनीतिक जीवन में एक और उपलब्धि जुड़ जाने का बहु आयामी लाभ पार्टी को मिलना तय है। 

बिहार पंचायती राज प्रकोष्ठ के संयोजक श्रीमान ओम प्रकाश भुवन के स्तर से श्रीमती सिकारिया को नगर निकाय प्रकोष्ठ का प्रांतीय सह प्रभारी बनाये जाने पर नप के पूर्व उप सभापति व वरीय भाजपा नेता आनन्द सिंह, नगर पार्षद शहनाज खातून, मनोज कुमार व मझौलिया अंचल क्षेत्र के महोदीपुर पैक्स अध्यक्ष व भाजपा नेता रूपेश सिंह, राकेश कुशवाहा आदि शामिल हैं। इधर नप सभापति श्रीमती सिकारिया ने इस नए पदभार से जुड़े दायित्व का निर्वहन मैं पूरी निष्ठा व समर्पण के साथ करने का यत्न करूंगी।

Apnabharat123

Sep 20 2020, 13:59

राज्यसभा में कृषि बिल को लेकर अभूतपूर्व हंगामा, उपसभापति की सीट तक पहुंच विपक्षी सांसदों ने माइक   संसद के मानसून सत्र से इस वक्त की बड़ी खबर सामने आ रही है. राज्यसभा में कृषि बिल पर चर्चा के दौरान विपक्षी सदस्यों ने जोरदार हंगामा किया है. राज्यसभा में हुआ बवाल अपने आप में अभूतपूर्व रहा है. ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने उपसभापति हरिवंश के सामने ही रूल बुक फाड़ दिया. साथ ही साथ उपसभापति की माइक भी तोड़ डाली है.
कृषि बिल के मुद्दे पर लगातार विपक्ष और सत्ता पक्ष आमने-सामने है. लोकसभा में भी इस बिल को लेकर हंगामा हुआ था. संसद के मानसून सत्र का आज सातवां दिन है और कृषि संबंधी विधेयकों को आज राज्यसभा में पेश किया गया है. कृषि से जुड़े दो बिलों को लोकसभा में पहले ही पास किया जा चुका है. इस बिल का शिरोमणि अकाली दल भी विरोध कर रही है.
कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के जवाब से असंतुष्ट कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के सांसद में पहुंच गए और नारेबाजी करने लगे. कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद ने राज्यसभा में बहस के लिए समय बढ़ाए जाने की मांग की और उसके बाद हंगामा शुरू हो गया. आज राज्यसभा की कार्यवाही 1:00 बजे तक की चलनी थी और विपक्षी सदस्य इस मसले पर सदन में चर्चा चाहते थे.  

Apnabharat123

Sep 03 2020, 12:44

बोले नीरज कुमार- लालू परिवार की लीला अद्भुत, दल की दलित विधायिका को ही कर दिया क्वारंटाइन

लाइव सिटीज: विधानसभा चुनाव के पहले पक्ष और विपक्ष में हमलेबाजी का सिलसिला जारी है. तेजस्वी ने सीएम नीतीश को बेरोजगारी को लेकर उपदेश क्या दे दिया, इधर जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने लालू परिवार को ही निशाने पर ले लिया. नीरज कुमार ने कहा कि लालू परिवार की लीला अद्भुत है.
दरअसल, कोरोना संकट के बावजूद रांची में लालू यादव से उनके चाहने वालों के मिलने का सिलसिला जारी ही है. लाख बिमारी का खतरा हो लेकिन इसके बावजूद भी लोग यहां हाजिरी लगाने पहुंच ही जाते हैं. ऐसा ही एक वाकया सामने आया है जब राजद की एक दलित विधायिका लालू यादव से मिलने पहुंचीं तब. उन्हें क्वारंटाइन कर दिया गया और लालू यादव से मिलने नहीं दिया गया. इसपर जेडीयू के नीरज कुमार ने जोरदार हमला बोला है.
उन्होंने तेजस्वी यादव से कहा कि जुबान खोलिए और बताईए कि कौन सही है और कौन गलत है, सोने का चम्मच लेकर जिसने जन्म लिया है वो क्वारंटाइन नहीं होगा पर विधायिका दलित है तो क्वारंटाइन होंगी, आखिर ये दोहरा मापदंड क्यों?
झारखंड प्रशासन ने नए निर्देश जारी किये हैं कि बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों को 14 दिनों तक क्वारंटाइन किया जाएगा और इसी नियम के तहत समता देवी को क्वारंटाइन किया गया है. वहीं नियम जारी होने के ही दिन बिहार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सांसद अखिलेश सिंह भी लालू प्रसाद मिलने गए थे वहीं शाम को मिलने गई समता देवी को प्रशासन द्वारा क्वारंटाइन कर दिया गया. जाहिर सी बात है कि इस पूरे मामले के बाद सियासत तेज हो गई है.

Anand35

Sep 02 2020, 08:00

स्पीड पकड़ने लगी बिहार चुनाव की तैयारी, निर्वाचन आयोग ने सभी प्रमंडलीय आयुक्त और डीएम के साथ की बैठक

 बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर चुनाव आयोग की तैयारी जारी है. इसी कड़ी में आज निर्वाचन आयोग ने बैठक की. जिसमें बिहार के सभी 9 प्रमंडलों के कमिश्नर शामिल हुए. साथ ही सभी जिलों के जिलाधिकारी भी बैठक में मौजूद रहे.
बैठक में निर्वाचन आयोग ने चुनाव तैयारियों की समीक्षा की. सभी प्रमंडलीय आयुक्तों से सुरक्षित मतदान को लेकर की गयी तैयारी का जानकारी ली गयी. साथ ही सभी जिलों के डीएम से अपने-अपने जिलों में की जा रही तैयारी का जायजा लिया गया. साथ ही कई दिशा निर्देश दिए गए.
कोरोना काल में चुनाव को लेकर आयोग की ओर से दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं. बूथों की संख्या बढ़ाने, मतदान केन्द्र पर 1,000 से ज्यादा वोटरों के नहीं होने, सेनेटाइजेशन की व्यवस्था करने समेत कई सुझाव दिए गए हैं. ताकी लोग सुरक्षित से मतदान कर सकें.
इधर सुप्रीम कोर्ट और पटना हाईकोर्ट में बिहार चुनाव रोकने को लेकर दायर याचिका को खारिज कर दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कोर्ट चुनाव आयोग को ऐसा निर्देश नहीं दे सकता है. चुनाव कराने की जिम्मेवारी आयोग को है. लोकतांत्रिक व्यवस्था को बनाए रखने के लिए चुनाव कराना अनिवार्य होता है.

Gaya

Aug 31 2020, 20:57

पुनः पलायन पर भड़के राजद विधायक सुरेंद्र प्रसाद यादव, कहां- अगर सरकार ने अच्छी व्यवस्था किया तो फिर पलायन क्यों

मनीष कुमार/ गया

 
राजद विधायक सुरेंद्र प्रसाद यादव प्रवासी मजदूरों के पुनः पलायन पर भड़के और कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बोले थे कि जो प्रवासी आ गए है उसको हम राशन, किरासन, राशन कार्ड एवं पैसा भी देंगे, दूसरे राज्य से आने वाले को अब जाने नहीं दिया जाएगा, यही काम देकर उसको रखा जाएगा और जब तक काम नहीं दिया जाएगा तब तक मुआवजा के रूप में पैसा और अनाज दिया जाएगा, लेकिन दिया तो कुछ नहीं...सिर्फ वोट के लिए उसने इस भाषा का प्रयोग किया। अगर सरकार ने मजदूरों के लिए की अच्छी व्यवस्था किया तो फिर पलायन क्यों हो रहा है। उक्त बाते बेलागंज के राजद विधायक सुरेंद्र प्रसाद यादव शहर के एफसीआई गोदाम में सेवानिवृत्त सम्मान समारोह के दौरान कहीं।

उन्होंने एनडीए की सरकार से सवाल पूछा कि अगर प्रवासी मजदूरों को पैसा और अनाज दिया गया है तब आखिर क्यों पुनः वापसी कैसे जा रहे हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जनता को बरगला कर वोट लेना चाहती है, लेकिन जनता सब कुछ जान रही है। राजद विधायक ने स्पष्ट तौर पर कहा कि किसान और मजदूरों के साथ खिलवाड़ करने वाले लोग कहीं से भी सही नहीं है। इस बार बिहार विधानसभा चुनाव में ऐसे लोगों को जनता सबक सिखाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि नीतीश कुमार मुर्दाबाद, डबल इंजन की सरकार मुर्दाबाद।

Anand35

Aug 31 2020, 16:31

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की तबियत में कोई सुधार नहीं, वेंटिलेटर के सपोर्ट पर हैं

 देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की तबियत में और ज्यादा गिरावट हुई है. कोई सुधार नहीं हुआ है. वह दिल्ली स्थित सेना के अस्पताल में भर्ती हैं. अस्पताल की ओर से बताया गया है कि फेफड़ों में संक्रमण की वजह से सेप्टिक शॉक की स्थिति पैदा हो गई है. प्रणब मुखर्जी की इस महीने ब्रेन सर्जरी हुई थी, जिसके बाद से वह कोमा में हैं.
आर्मी हॉस्पिटल की ओर से आज जारी किए गए बयान में बताया गया है कि बीते दिन से प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य में गिरावट देखी जा रही है. फेफड़ों में इंफेक्शन की वजह से सेप्टिक शॉक में हैं. डॉक्टरों की एक स्पेशल टीम उनके इलाज में जुटी है. वह अभी भी कोमा में हैं और उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया है.
अस्पताल ने पूर्व राष्ट्रपति की सेहत को लेकर बयान जारी कर कहा, कल से पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत में कोई सुधार नहीं हुआ है. उनकी हालत लगातार बिगड़ रही है. उनके फेफड़ों में संक्रमण की वजह से वह सेप्टिक शॉक में चले गए हैं.
इससे पहले, रविवार को अस्पताल की ओर से उनका मेडिकल बुलेटिन जारी किया गया, जिसमें कहा गया कि पूर्व राष्ट्रपति का फेफड़ों के संक्रमण का इलाज चल रहा है. वह हेमोडायनामिक रूप से स्थिर है.