Katihar

Oct 15 2019, 18:43

कटिहार : नगर आयुक्त, महापौर ने पार्षदों के साथ मिलकर खुद ही संभाला जल निकासी का मोर्चा।
_Flood

शहर में पिछले कई दिनों से सजा-ए-काला पानी भुगत रहे लोगों पर अब शायद नगर निगम को तरस आई है। नगर आयुक्त, महापौर ने सम्बंधित वार्ड के पार्षदों के साथ मिलकर खुद से ही आज जल निकासी का मोर्चा संभाल लिया। शहर के वार्ड नंबर 10, वार्ड नंबर 12 के साथ साथ अन्य वार्डो के जलजमाव से जुडी समस्या के निदान के लिए पूरी टीम ने लगातार कई घंटे तक पानी निकासी से जुडी स्विस गेट के साथ साथ तमाम बिंदुओं पर ध्यान देते हुए पानी निकासी की व्यवस्था सुनिश्चित की। महापौर ने कहा की वो काम करने में यकीन रखते हैं और जल्द शहर के निचले इलाकों में जमा पानी निकलने के बाद ब्लीचिंग पाउडर और गेमेक्सीन का छिड़काव भी करवाया जाएगा।

Barh

Oct 15 2019, 18:29

बाढ़ : बरसात समाप्त पर अभी भी कई इलाकों में है जलजमाव, नगर पालिका के तरफ से नहीं है कोई पहल।#Bihar_Flood

बरसात समाप्त होने के बावजूद भी बाढ़ नगर परिषद क्षेत्र के कई इलाके अभी भी जलजमाव से निजात नहीं पाई है।जलजमाव का आलम यह है कि अब उससे बदबू आने लगी है कीड़े मकोड़ों का भरमार हो गया है। जिस मोहल्ले में जलजमाव है वहां के लोग रतजगा कर जीने को मजबूर हैं। कब उनके घर में विषैले सांप बिच्छू घुस जाएंगे पता नहीं।आखिर वे लोग गुहार लगाएं तो कहां लगाएं नगर परिषद सोई हुई है। नगर पंचायत भागा हुआ है। किसी को कुछ सूझ नहीं रहा है इसका निदान कैसे हो। लोग भगवान भरोसे ही अपने घर जान जोखिम में डालकर जा रहे हैं और आ रहे हैं।घर से बाजार निकलना भी लोगों को कीचड़ की वजह से मुश्किल हो गया। अभी तक ना तो उसपर बाढ़ प्रशासन की नजर है नगर पालिका कोई पहल कर रही है। नगर पंचायत का तो कुछ दूर दूर तक आता पता नहीं लोग त्राहिमाम जिंदगी जी रहे हैं।

Bihar

Oct 14 2019, 18:14

 @Bihar और हरियाली है तभी  उसके बीच में जीवन है जल और हरियाली नहीं तो उस बीच में जीवन भी नहीं रहेगा।।। 

Patna

Oct 13 2019, 14:50

पटना : जलजमाव से परेशान आक्रोशित लोगों ने डिप्टी सीएम सुशील मोदी के घर का किया घेराव, पटना के बांकीपुर नगर निगम कार्यालय में भी किया हल्ला बोल।
_Flood


 राजेंद्र नगर में जलजमाव और गंदगी से परेशान लोगों ने आज पटना के राजेन्द्र नगर रोड नंबर 11 से एकजुट होकर पैदल मार्च करते हुए डिप्टी सीएम सुशील मोदी का घर घेर लिया है। डिप्टी सीएम सुशील मोदी के राजेंद्र नगर स्थित पुश्तैनी घर का आक्रोशित लोगों ने घेराव कर प्रदर्शन किया है। पटना में हुई भीषण बारिश के दौरान डिप्टी सीएम सुशील मोदी राजेंद्र नगर स्थित अपने इसी घर से रेस्क्यू  हुए थे। जिला प्रशासन की टीम उन्हें निकाल कर सुरक्षित सरकारी आवास पर ले गई थी। सुशील मोदी के राजेंद्र नगर से निकलने के बाद उनके पड़ोसी इस बात को लेकर नाराज रहे कि डिप्टी सीएम होने के बावजूद सुशील मोदी उन्हें मुसीबत में छोड़कर निकल गए। सुशील मोदी के घर के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं आक्रोशित लोगों की मांग है कि सरकार जलजमाव के लिए जिम्मेदार लापरवाह अधिकारियों पर कार्रवाई करे। साथ ही साथ लोगों को जलजमाव के वजह से हुई व्यक्तिगत क्षति का मुआवजा दिया जाए।


वही इस मामले पर जब पटना की एसडीएम  कुमारी अनुपमा सिंह से मीडिया ने सवाल पूछा तो कुमारी अनुपमा सिंह की अब इस पूरे मामले को लेकर मॉनेटरिंग टीम बना ली गई है जो कामो की मॉनेटरिंग करेगी ,हमारी टीम ब्लीचिंग पाउडर फ़्लोरिन की टिकिया ये सब प्रतिदिन डीएम औऱ कमिश्मर साहब इसकी मॉनेटरिंग कर रहे है।


जाहिर है पिछले दिनों चंद घंटो की बारिश ने राजधानी पटना को पूरी तरह से जलमग्न कर दिया था जिसके बाद से सरकार का स्मार्ट सिटी पूरी तरह से नरक सिटी में बदल गया था कई इलाकों की जलनिकासी तो कर दी गई पर जलनिकासी के बाद खासकर राजेन्द्र नगर इलाको में रहने वाले को छती का सामना करना पड़ा था जिसके बाद इलाके में रहने वाले लोगो का सब्र टूट गया और आज इलाके के लोगो ने बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी के आवास का घेराव कर डाला अब देखना है कि इस पूरे मामले को विपक्ष किस तरह से देखती है क्योंकि मामला अब राजनीतिक रंग ले चुका है।

Patna

Oct 11 2019, 15:37

जलजमाव पीड़ितों को मुआवजे दिलाने के लिए 'आप' 19 अक्टूबर को करेगी महाधरना
_Flood 


पटना के जलजमाव मुद्दे पर आम आदमी पार्टी बिहार के प्रदेश कार्यालय में एक प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन किया गया जिसे बिहार प्रदेश उपाध्यक्ष मनोज कुमार, प्रदेश अधिवक्ता प्रकोष्ठ की अध्यक्षा रागिनीलता सिंह, पटना जोनल उपाध्यक्ष अरविंद कुमार के साथ साथ प्रदेश प्रवक्ता अमर यादव ने सम्बोधित किया। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान प्रदेश मीडिया प्रभारी बबलू कुमार प्रकाश, मृणाल कुमार 'राज', सोशल मीडिया कार्डिनेटर सौरभ शर्मा, अधिवक्ता डॉ ज्योत्स्नाशंकर सिंह, कार्यालय प्रभारी कृष्णमुरारी गुप्ता, आदि मेहता आदि अनेक पदधिकारी मौजूद रहे।

प्रेस वार्ता के दौरान पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोज कुमार ने कहा कि - महज दो दिनों की बारिश में समूचा पटना में चार से पाँच फीट जलजमाव का होना आश्चर्य की बात है, यह बिहार सरकार की लापरवाही, भ्रष्टाचार और विफलता का प्रमाण है। इस  दो दिनों की मूसलाधार बारिश ने पटना नगर निगम, नगरविकास विभाग और प्रधानमंत्री के नमामि गंगे सफाई अभियान में व्याप्त भ्रस्टाचार की कलई खोलकर रखकर दी है।जलजमाव का मुख्य कारण नालों की उड़ाही का नही होना है जिसके लिये पटना नगर निगम को मानसून पूर्व प्रति वर्ष छः से 07 करोड़ रुपये मिलते हैं जिसका बंदरबांट कर शहर को डुबोया गया है। निगम की  निगरानी करने में सरकार विफल रही है। ग्यारह हजार चार सौ अट्ठत्तर करोड़ रुपए की प्रधानमंत्री की नमामि गंगे परियोजना के तहत अब तक लगभग एक हजार करोड़ की निकासी हो चुकी है जिसमे शहर से गंदे पानी को सीवर और संप हाउसों के माध्यम से बाहर निकालना था। लेकिन योजना जमीन भरस्टाचार का शिकार हो जमीन पर नही दिखती है।बिहार सरकार की अक्षमता और लापरवाही के परिणामस्वरूप पटना के राजेन्द्र नगर, कंकड़बाग, पाटलिपुत्रा कालोनी, बोरिंग रोड जैसे पाश कालोनिय में भी एक पखवाड़े तक चार से पाँच फीट का जलजमाव रहा।लोगो का घर मकान, गाड़ी, व्यापार- रोजगार प्रभावित हुआ,जानमाल की भी क्षति हुई। लोग जलजमाव के समय और अब भी बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। माँग- पटना में जलजमाव को बिहार सरकार तथा पटना नगर निगम की लापरवाही का परिणाम मानते हुए आम आदमी पार्टी बिहार जलजमाव से पीड़ित परिवारों को सरकारी क्षतिपूर्ति मुआवजे देने की पुरजोर माँग करती है।

पार्टी की ओर से प्रदेश उपाध्यक्ष मनोज कुमार ने जलजमाव की चपेट में आये गृहस्वामियों के मालिकों को एक एक लाख रुपए प्रति छतदार मकान, किरायदारों को पच्चास हजार रुपए प्रति परिवार, जलजमाव से क्षतिग्रस्त  चार पहिया वाहन मालिको को 50 हजार रुपए प्रति वाहन, मोटरसाइकिल मालिको को 15 हजार रुपए मुआवजा दिए जाने के साथ साथ झुग्गी झोपड़ी में रह रहे गरीबों को भी मरम्मत और हर्जाने के मुआवजे के रूप में बीस बीस हजार रुपए एक सप्ताह के अंदर देने की माँग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से की है।उन्होंने चेतावनी दी है कि 19 अक्टूब

  • Patna
     @Patna  19 अक्टूबर तक मुआवजे की राशि भुगतान नही किये जाने की स्तिथि में आम आदमी पार्टी जलजमाव से पीड़ित परिवारों को साथ लेकर राजेंद्रनगर गोलम्बर के समीप 'महाधरना' करेगी।

    प्रेस वार्ता को सम्बोधन के क्रम में प्रदेश अधिवक्ता प्रकोष्ठ की अध्यक्षा रागिनीलता सिंह ने जलनिकसी के बाद पीड़ित मुहल्लों में व्याप्त गंदगी और सड़ांध से महामारी फैलने की आशंका जताई है।पटना में एक हजार से अधिक लोगो के डेंगू से पीड़ित होने की खबर से नाराज रागिनीलता सिंह ने पटना नगर निगम पर मच्छर मारने दवा और विलीचिंग पाउडर के अभियान में सुस्त रहने का आरोप लगाया।

    उन्होंने डेंगू से बचाव के लिये पटना के नागरिको को "10 बजे-10 दिन- 10 मिनट" मंत्र सन्देश देते हुए कहा कि दस दिन तक शहर का हर नागरिक अगर जागरूक रहकर डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया से बचाव के लिये अपने इर्द गिर्द मच्छर मारने की दवा, किरासन तेल और विलीचिंग पाउडर का छिड़काव करे तथा अपने इर्द गिर्द गंदा पानी जमा ना होने दे तो डेंगू से लड़ना आसान हो जाएगा। प्रदेश प्रवक्ता अमर यादव ने पटना को जलजमाव के गर्त में धकेलने वाले विभागों और पदाधिकारियों की पहचान कर उन्हें कठोर दंड देने की माँग करते हुए कहा है कि- "आम जनों को जानमाल का नुकसान पहुँचाने वाली लापरवाह सरकार के  खिलाफ वे हाईकोर्ट में याचिका दायर करेंगे।"
Nawada

Oct 09 2019, 15:27

नवादा : विधानसभा प्रत्याशी मो. कामरान ने बाढ़ पीड़ित बुधवारा गांव का किया दौरा, बाढ़ पीड़ित परिवारों के बीच बांटी राहत सामग्री।
_Flood

राकेश कुमार / सुनील कुमार !

नवादा जिले के गोविंदपुर प्रखंड के बाढ़ पीड़ित गांव बुधवारा का मंगलवार को प्रखर समाजसेवी व गोविंदपुर विधानसभा प्रत्याशी मोहम्मद कामरान खान ने दौरा किया।  विधानसभा प्रत्याशी मोहम्मद कामरान ने बाढ़ पीड़ित गांव बुधवारा पहुंचकर बाढ़ से पीड़ित परिवारों से मिलकर उनका हाल-चाल लिया और उनके बीच खाने-पीने का सामान वितरण किया । 

उन्होंने बताया कि सरकार के द्वारा दी गई योजनाओं को उच्च पदाधिकारी से बात कर हर संभव दिलाने की कोशिश की जाएगी । बुधवारा गांव के दौरा करने के बाद मोहम्मद कामरान गोविंदपुर पहुंचकर दुर्गा मंडप में आकर मां दुर्गा का दर्शन किया और यथासंभव दुर्गा पूजा समिति को दान भी दिए । उन्होंने बताया कि प्रत्येक साल की तरह इस साल भी गोविंदपुर मां देवी दुर्गा का दर्शन के लिए अपने साथियों के साथ पहुंचे और आते रहेंगे । दर्शन करने के बाद उन्होंने लोगो से मिलकर अन्य कई जनहितकारी मुद्दों पर अपनी राय दिए । 

मौके पर बुधवारा पंचायत मुखिया मधुसूदन साव, समाजसेवी संजय सिंह, सलिम खां, मो आदिल, नरेश सिंह, वहीं गोविंदपुर दुर्गा पूजा समिति अध्यक्ष राजेश कुमार व सुमन कुमार, अजय चिलमन, सजिवन चौधरी, गुड्डू मालाकार, शंकर कुमार के साथ दर्जनो लोग मौजूद  रहे।

Patna_City

Oct 09 2019, 11:16

समाजसेवी मंटू कुमार ने पप्पू यादव को बाढ़ राहत के रूप में प्रदान की सहायता राशि।
_Flood

पटनासिटी, पप्पू यादव को बाढ़ राहत के लिए लोग सहायता राशि देने के लिए भी अब सामने आने लगे है। पप्पू यादव दीदारगंज के बाढ़ प्रभाबित क्षेत्रों में रिलिफ बांटने में लगे हुए थे तभी जेठूली पंचायत के मुखिया पति ब समाजसेवी  मंटू कुमार ने पप्पू यादव को बाढ़ राहत के रूप में उन्हें सहायता राशि प्रदान की और कहा कि हम और भी आगे आपके माध्यम से लोगो को सहायता पहुंचाते रहेंगे। पप्पू यादव ने इस कार्य हेतू समाजसेवी मंटू जी को धन्यबाद भी दिया।

Katihar

Oct 15 2019, 18:43

कटिहार : नगर आयुक्त, महापौर ने पार्षदों के साथ मिलकर खुद ही संभाला जल निकासी का मोर्चा।
_Flood

शहर में पिछले कई दिनों से सजा-ए-काला पानी भुगत रहे लोगों पर अब शायद नगर निगम को तरस आई है। नगर आयुक्त, महापौर ने सम्बंधित वार्ड के पार्षदों के साथ मिलकर खुद से ही आज जल निकासी का मोर्चा संभाल लिया। शहर के वार्ड नंबर 10, वार्ड नंबर 12 के साथ साथ अन्य वार्डो के जलजमाव से जुडी समस्या के निदान के लिए पूरी टीम ने लगातार कई घंटे तक पानी निकासी से जुडी स्विस गेट के साथ साथ तमाम बिंदुओं पर ध्यान देते हुए पानी निकासी की व्यवस्था सुनिश्चित की। महापौर ने कहा की वो काम करने में यकीन रखते हैं और जल्द शहर के निचले इलाकों में जमा पानी निकलने के बाद ब्लीचिंग पाउडर और गेमेक्सीन का छिड़काव भी करवाया जाएगा।

Barh

Oct 15 2019, 18:29

बाढ़ : बरसात समाप्त पर अभी भी कई इलाकों में है जलजमाव, नगर पालिका के तरफ से नहीं है कोई पहल।#Bihar_Flood

बरसात समाप्त होने के बावजूद भी बाढ़ नगर परिषद क्षेत्र के कई इलाके अभी भी जलजमाव से निजात नहीं पाई है।जलजमाव का आलम यह है कि अब उससे बदबू आने लगी है कीड़े मकोड़ों का भरमार हो गया है। जिस मोहल्ले में जलजमाव है वहां के लोग रतजगा कर जीने को मजबूर हैं। कब उनके घर में विषैले सांप बिच्छू घुस जाएंगे पता नहीं।आखिर वे लोग गुहार लगाएं तो कहां लगाएं नगर परिषद सोई हुई है। नगर पंचायत भागा हुआ है। किसी को कुछ सूझ नहीं रहा है इसका निदान कैसे हो। लोग भगवान भरोसे ही अपने घर जान जोखिम में डालकर जा रहे हैं और आ रहे हैं।घर से बाजार निकलना भी लोगों को कीचड़ की वजह से मुश्किल हो गया। अभी तक ना तो उसपर बाढ़ प्रशासन की नजर है नगर पालिका कोई पहल कर रही है। नगर पंचायत का तो कुछ दूर दूर तक आता पता नहीं लोग त्राहिमाम जिंदगी जी रहे हैं।

Bihar

Oct 14 2019, 18:14

 @Bihar और हरियाली है तभी  उसके बीच में जीवन है जल और हरियाली नहीं तो उस बीच में जीवन भी नहीं रहेगा।।। 

Patna

Oct 13 2019, 14:50

पटना : जलजमाव से परेशान आक्रोशित लोगों ने डिप्टी सीएम सुशील मोदी के घर का किया घेराव, पटना के बांकीपुर नगर निगम कार्यालय में भी किया हल्ला बोल।
_Flood


 राजेंद्र नगर में जलजमाव और गंदगी से परेशान लोगों ने आज पटना के राजेन्द्र नगर रोड नंबर 11 से एकजुट होकर पैदल मार्च करते हुए डिप्टी सीएम सुशील मोदी का घर घेर लिया है। डिप्टी सीएम सुशील मोदी के राजेंद्र नगर स्थित पुश्तैनी घर का आक्रोशित लोगों ने घेराव कर प्रदर्शन किया है। पटना में हुई भीषण बारिश के दौरान डिप्टी सीएम सुशील मोदी राजेंद्र नगर स्थित अपने इसी घर से रेस्क्यू  हुए थे। जिला प्रशासन की टीम उन्हें निकाल कर सुरक्षित सरकारी आवास पर ले गई थी। सुशील मोदी के राजेंद्र नगर से निकलने के बाद उनके पड़ोसी इस बात को लेकर नाराज रहे कि डिप्टी सीएम होने के बावजूद सुशील मोदी उन्हें मुसीबत में छोड़कर निकल गए। सुशील मोदी के घर के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं आक्रोशित लोगों की मांग है कि सरकार जलजमाव के लिए जिम्मेदार लापरवाह अधिकारियों पर कार्रवाई करे। साथ ही साथ लोगों को जलजमाव के वजह से हुई व्यक्तिगत क्षति का मुआवजा दिया जाए।


वही इस मामले पर जब पटना की एसडीएम  कुमारी अनुपमा सिंह से मीडिया ने सवाल पूछा तो कुमारी अनुपमा सिंह की अब इस पूरे मामले को लेकर मॉनेटरिंग टीम बना ली गई है जो कामो की मॉनेटरिंग करेगी ,हमारी टीम ब्लीचिंग पाउडर फ़्लोरिन की टिकिया ये सब प्रतिदिन डीएम औऱ कमिश्मर साहब इसकी मॉनेटरिंग कर रहे है।


जाहिर है पिछले दिनों चंद घंटो की बारिश ने राजधानी पटना को पूरी तरह से जलमग्न कर दिया था जिसके बाद से सरकार का स्मार्ट सिटी पूरी तरह से नरक सिटी में बदल गया था कई इलाकों की जलनिकासी तो कर दी गई पर जलनिकासी के बाद खासकर राजेन्द्र नगर इलाको में रहने वाले को छती का सामना करना पड़ा था जिसके बाद इलाके में रहने वाले लोगो का सब्र टूट गया और आज इलाके के लोगो ने बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी के आवास का घेराव कर डाला अब देखना है कि इस पूरे मामले को विपक्ष किस तरह से देखती है क्योंकि मामला अब राजनीतिक रंग ले चुका है।

Patna

Oct 11 2019, 15:37

जलजमाव पीड़ितों को मुआवजे दिलाने के लिए 'आप' 19 अक्टूबर को करेगी महाधरना
_Flood 


पटना के जलजमाव मुद्दे पर आम आदमी पार्टी बिहार के प्रदेश कार्यालय में एक प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन किया गया जिसे बिहार प्रदेश उपाध्यक्ष मनोज कुमार, प्रदेश अधिवक्ता प्रकोष्ठ की अध्यक्षा रागिनीलता सिंह, पटना जोनल उपाध्यक्ष अरविंद कुमार के साथ साथ प्रदेश प्रवक्ता अमर यादव ने सम्बोधित किया। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान प्रदेश मीडिया प्रभारी बबलू कुमार प्रकाश, मृणाल कुमार 'राज', सोशल मीडिया कार्डिनेटर सौरभ शर्मा, अधिवक्ता डॉ ज्योत्स्नाशंकर सिंह, कार्यालय प्रभारी कृष्णमुरारी गुप्ता, आदि मेहता आदि अनेक पदधिकारी मौजूद रहे।

प्रेस वार्ता के दौरान पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोज कुमार ने कहा कि - महज दो दिनों की बारिश में समूचा पटना में चार से पाँच फीट जलजमाव का होना आश्चर्य की बात है, यह बिहार सरकार की लापरवाही, भ्रष्टाचार और विफलता का प्रमाण है। इस  दो दिनों की मूसलाधार बारिश ने पटना नगर निगम, नगरविकास विभाग और प्रधानमंत्री के नमामि गंगे सफाई अभियान में व्याप्त भ्रस्टाचार की कलई खोलकर रखकर दी है।जलजमाव का मुख्य कारण नालों की उड़ाही का नही होना है जिसके लिये पटना नगर निगम को मानसून पूर्व प्रति वर्ष छः से 07 करोड़ रुपये मिलते हैं जिसका बंदरबांट कर शहर को डुबोया गया है। निगम की  निगरानी करने में सरकार विफल रही है। ग्यारह हजार चार सौ अट्ठत्तर करोड़ रुपए की प्रधानमंत्री की नमामि गंगे परियोजना के तहत अब तक लगभग एक हजार करोड़ की निकासी हो चुकी है जिसमे शहर से गंदे पानी को सीवर और संप हाउसों के माध्यम से बाहर निकालना था। लेकिन योजना जमीन भरस्टाचार का शिकार हो जमीन पर नही दिखती है।बिहार सरकार की अक्षमता और लापरवाही के परिणामस्वरूप पटना के राजेन्द्र नगर, कंकड़बाग, पाटलिपुत्रा कालोनी, बोरिंग रोड जैसे पाश कालोनिय में भी एक पखवाड़े तक चार से पाँच फीट का जलजमाव रहा।लोगो का घर मकान, गाड़ी, व्यापार- रोजगार प्रभावित हुआ,जानमाल की भी क्षति हुई। लोग जलजमाव के समय और अब भी बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। माँग- पटना में जलजमाव को बिहार सरकार तथा पटना नगर निगम की लापरवाही का परिणाम मानते हुए आम आदमी पार्टी बिहार जलजमाव से पीड़ित परिवारों को सरकारी क्षतिपूर्ति मुआवजे देने की पुरजोर माँग करती है।

पार्टी की ओर से प्रदेश उपाध्यक्ष मनोज कुमार ने जलजमाव की चपेट में आये गृहस्वामियों के मालिकों को एक एक लाख रुपए प्रति छतदार मकान, किरायदारों को पच्चास हजार रुपए प्रति परिवार, जलजमाव से क्षतिग्रस्त  चार पहिया वाहन मालिको को 50 हजार रुपए प्रति वाहन, मोटरसाइकिल मालिको को 15 हजार रुपए मुआवजा दिए जाने के साथ साथ झुग्गी झोपड़ी में रह रहे गरीबों को भी मरम्मत और हर्जाने के मुआवजे के रूप में बीस बीस हजार रुपए एक सप्ताह के अंदर देने की माँग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से की है।उन्होंने चेतावनी दी है कि 19 अक्टूब

  • Patna
     @Patna  19 अक्टूबर तक मुआवजे की राशि भुगतान नही किये जाने की स्तिथि में आम आदमी पार्टी जलजमाव से पीड़ित परिवारों को साथ लेकर राजेंद्रनगर गोलम्बर के समीप 'महाधरना' करेगी।

    प्रेस वार्ता को सम्बोधन के क्रम में प्रदेश अधिवक्ता प्रकोष्ठ की अध्यक्षा रागिनीलता सिंह ने जलनिकसी के बाद पीड़ित मुहल्लों में व्याप्त गंदगी और सड़ांध से महामारी फैलने की आशंका जताई है।पटना में एक हजार से अधिक लोगो के डेंगू से पीड़ित होने की खबर से नाराज रागिनीलता सिंह ने पटना नगर निगम पर मच्छर मारने दवा और विलीचिंग पाउडर के अभियान में सुस्त रहने का आरोप लगाया।

    उन्होंने डेंगू से बचाव के लिये पटना के नागरिको को "10 बजे-10 दिन- 10 मिनट" मंत्र सन्देश देते हुए कहा कि दस दिन तक शहर का हर नागरिक अगर जागरूक रहकर डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया से बचाव के लिये अपने इर्द गिर्द मच्छर मारने की दवा, किरासन तेल और विलीचिंग पाउडर का छिड़काव करे तथा अपने इर्द गिर्द गंदा पानी जमा ना होने दे तो डेंगू से लड़ना आसान हो जाएगा। प्रदेश प्रवक्ता अमर यादव ने पटना को जलजमाव के गर्त में धकेलने वाले विभागों और पदाधिकारियों की पहचान कर उन्हें कठोर दंड देने की माँग करते हुए कहा है कि- "आम जनों को जानमाल का नुकसान पहुँचाने वाली लापरवाह सरकार के  खिलाफ वे हाईकोर्ट में याचिका दायर करेंगे।"
Nawada

Oct 09 2019, 15:27

नवादा : विधानसभा प्रत्याशी मो. कामरान ने बाढ़ पीड़ित बुधवारा गांव का किया दौरा, बाढ़ पीड़ित परिवारों के बीच बांटी राहत सामग्री।
_Flood

राकेश कुमार / सुनील कुमार !

नवादा जिले के गोविंदपुर प्रखंड के बाढ़ पीड़ित गांव बुधवारा का मंगलवार को प्रखर समाजसेवी व गोविंदपुर विधानसभा प्रत्याशी मोहम्मद कामरान खान ने दौरा किया।  विधानसभा प्रत्याशी मोहम्मद कामरान ने बाढ़ पीड़ित गांव बुधवारा पहुंचकर बाढ़ से पीड़ित परिवारों से मिलकर उनका हाल-चाल लिया और उनके बीच खाने-पीने का सामान वितरण किया । 

उन्होंने बताया कि सरकार के द्वारा दी गई योजनाओं को उच्च पदाधिकारी से बात कर हर संभव दिलाने की कोशिश की जाएगी । बुधवारा गांव के दौरा करने के बाद मोहम्मद कामरान गोविंदपुर पहुंचकर दुर्गा मंडप में आकर मां दुर्गा का दर्शन किया और यथासंभव दुर्गा पूजा समिति को दान भी दिए । उन्होंने बताया कि प्रत्येक साल की तरह इस साल भी गोविंदपुर मां देवी दुर्गा का दर्शन के लिए अपने साथियों के साथ पहुंचे और आते रहेंगे । दर्शन करने के बाद उन्होंने लोगो से मिलकर अन्य कई जनहितकारी मुद्दों पर अपनी राय दिए । 

मौके पर बुधवारा पंचायत मुखिया मधुसूदन साव, समाजसेवी संजय सिंह, सलिम खां, मो आदिल, नरेश सिंह, वहीं गोविंदपुर दुर्गा पूजा समिति अध्यक्ष राजेश कुमार व सुमन कुमार, अजय चिलमन, सजिवन चौधरी, गुड्डू मालाकार, शंकर कुमार के साथ दर्जनो लोग मौजूद  रहे।

Patna_City

Oct 09 2019, 11:16

समाजसेवी मंटू कुमार ने पप्पू यादव को बाढ़ राहत के रूप में प्रदान की सहायता राशि।
_Flood

पटनासिटी, पप्पू यादव को बाढ़ राहत के लिए लोग सहायता राशि देने के लिए भी अब सामने आने लगे है। पप्पू यादव दीदारगंज के बाढ़ प्रभाबित क्षेत्रों में रिलिफ बांटने में लगे हुए थे तभी जेठूली पंचायत के मुखिया पति ब समाजसेवी  मंटू कुमार ने पप्पू यादव को बाढ़ राहत के रूप में उन्हें सहायता राशि प्रदान की और कहा कि हम और भी आगे आपके माध्यम से लोगो को सहायता पहुंचाते रहेंगे। पप्पू यादव ने इस कार्य हेतू समाजसेवी मंटू जी को धन्यबाद भी दिया।