Apnabharat123

Sep 23 2020, 13:53

बिहार पुलिस परीक्षा का एडमिट कार्ड जारी, यहां से Download करें अपना Admit Card
  बिहार पुलिस में ड्राइवर कांस्टेबल के पद पर बहाली के लिए ली जाने वाली मुख्य परीक्षा का एडमिट कार्ड जारी कर दिया गया है.जिन उम्मीदवारों ने आवेदन किया था वो सीएसबीसी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं.

 बता दें कि बिहार पुलिस में ड्राइवर कांस्टेबल के पद पर बहाली के लिए मुख्य लिखित परीक्षा 14 अक्टूबर को होनी है. 1722  पदों के लिए होनेवाली इस लिखित परीक्षा को कोरोना संकट के इस काल में दो दफे टाला गया था.  लेकिन अब आदेश मिलने के बाद फिर से परीक्षा के तारिख की घोषणा की गई है, जिसके लिए आज एडमिट कार्ड जारी कर दिया गया. 

ऐसे डाउनलोड करें अपना एडमिट कार्ड-

1. सबसे पहले सीएसबीसी की आधिकारिक वेबासइट  csbc.bih.nic.in पर जाएं और फिर  ‘Important Notice: Download your e-Admit Card for Written Examination Scheduled on 14.10.2020 of Bihar Police Driver Constable. (Advt. No. 05/2019)’ लिंक पर क्लिक करें

2. लिंक पर क्लिक करने के बाद दूसरा पेज खुल जाएगा, जहां आपको Admit Card Download link पर क्लिक करना होगा. 
3.यहां क्लिक करते ही आपसे मोबाइल नंबर, रजिस्टेशन आईडी से लॉग इन करने के लिए कहा जाएगा. जानकारी डालते ही आपका एडमिट कार्ड खुल जाएगा, जिसे आप डाउनलोड कर सकते हैं.

nardiganj346

Sep 23 2020, 05:52

एस के सिंघल है बिहार केDGP का प्रभार

बिहार चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) से पहले डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) ने वीआरएस ले लिया है. बिहार के राज्यपाल ने उनके वीआरएस को मंजूरी दे दी है. वहीं, आईपीएस अधिकारी एस के सिंघल को बिहार के डीजीपी का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है.बिहार सरकार ने अधिसूचना जारी की है. 1988 बैच के सीनियर आईपीएस ऑफिसर एस.के सिंघल फिलहाल होमगार्ड के निदेशक के रूप में कार्यरत हैं. साथ ही, बिहार में तीन आईपीएस ऑफिसर का स्थानांतरण भी हुआ है. 2008 बैच के आईपीएस अधिकारी और मधेपुरा के एसपी संजय कुमार को पुलिस अधीक्षक, बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग में पदस्थापित किया गया है. 2014 बैच के आईपीएस अधिकारी योगेंद्र कुमार दरभंगा के सिटी एसपी तौर पर कार्यरत थे. अब इनका स्थानांतरण एसपी मधेपुरा के तौर पर किया गया है.

Apnabharat123

Sep 22 2020, 21:45

राजनीति में आने के सवाल पर DGP गुप्तेश्वर पांडे ने पूछा - क्या राजनीति में जाना है पाप ?
 एक खबर काफी चर्चा में है कि बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय (Bihar DGP Gupteshwar Pandey) अपने पद से इस्तीफा देंगे और विधान सभा चुनाव (Bihar Assembly Election) लड़ेंगे. खबर यह भी है कि वह NDA के उम्मीदवार हो सकते हैं और वे बीजेपी (BJP) के टिकट से खड़े हो सकते हैं. यह बात भी कही जा रही है कि जैसे ही चुनाव की अधिसूचना जारी होगी  गुप्तेश्वर पांडेय इस्तीफा दे देंगे. दरअसल यह खबर इसलिए भी काफी चर्चा में आ गया क्योंकि हाल के दिनों में शिवसेना (Shiv Sena) की तरफ से ये कहा गया था कि वे किसी राजनीतिक दल के लिए काम कर रहे हैं और वे विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं.
गौरतलब है कि फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में सुर्खियों में आए डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने अभिनेता की मौत पर मुंबई पुलिस की जांच पर कई सवाल उठाए थे. महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस के द्वारा बिहार के पुलिस अधिकारी एवं जांच टीम के साथ जिस तरह का दुर्व्यवहार किया था इससे डीजीपी काफी आहत थे उन्होंने कई टीवी चैनलों पर इस प्रकरण की आलोचना की थी.
चुनाव लड़ने की खबरों को लेकर जब न्यूज 18 ने डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय से पूछा तो उन्होंने कहा कि इस तरह की चर्चा का मैं खंडन करता हूं, यह पूरी तरह अफवाह है. उन्होंने यह भी कहा कि मैं फिलहाल मैं ऑफिस में बैठा हूं और इस तरह की चर्चा बेबुनियाद है. मेरे बारे में इस तरह की अफवाह है लोग 6 माह से फैला रहे हैं, जो आज के तारीख तक सच नहीं है.
हालांकि गुप्तेश्वर पांडेय का राजनीति से लगाव माना जाता है. इस के तर्क में वे कहते हैं कि राजनीति से ही न्यायपालिका है, विधायिका है, संविधान है और देश है. लोकतंत्र हमारे देश के लिए अभीष्ट है और चुनाव लोकतांत्रिक प्रक्रिया है. जाहिर है यह कहकर उन्होंने राजनीति में आने की खबरों को पूरी तरह खारिज भी नहीं किया है. उन्होंने कहा, अगर कोई इस्तीफा देकर राजनीति में आए तो क्या गुनाह है? उन्होंने कहा कि भविष्य में कुछ भी हो सकता है.

Arrah_Bihar

Sep 20 2020, 19:26

 @Arrah_Bihar  भागीदारी दिन प्रतिदिन बढ़ रही है इसलिए मैं तमाम इस सभा में उपस्थित अति पिछड़ा भाइयों से निवेदन करता हूं कि माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी को पुनः बिहार की गद्दी दिलाना है। हमें संकल्प लेना है सभी महिलाओं ने सुषुमलता जी के नेतृत्व में संकल्प लिया कि माननीय नीतिश कुमार जी  को पुनः बिहार के मुख्यमंत्री बनाना है।  सम्मेलन का संचालन रानी पांडे ने किया इस कार्यक्रम में उपस्थित सभी महिलाओं ने राजनीतिक प्रस्ताव पारित किया और कहा कि जगदीशपुर विधानसभा से महिला को प्रत्याशी बनाया जाए विधानसभा में भी महिला भागीदारी मिलनी चाहिए और सभी महिला ने एक स्वर में ताली बजाकर इसका स्वागत किया। 
  


कार्यक्रम में मनोजा देवी, मीरा देवी,  सुनीता देवी,  तेतरी देवी,  मीना देवी,  कलावती देवी,  राधा देवी,  उर्मिला देवी,  खुशबू देवी,  शमीमा खातून,  अनीता देवी,  शारदा देवी,  सरस्वती देवी,  मनोरमा देवी,  ज्ञानती देवी,  पार्वती देवी,  शांति देवी,  रेखा पांडे,  अनीता देवी,  गीता शर्मा,  विमला राजभर,  उषा कुमार, उर्मिला देवी,  आरती देवी,  आरती देवी,  ललिता देवी,  समीना खातून,  अरुण कुमारी, सुमित्रा देवी,  अख्तरी बेगम,  ममता देवी,  फुलवंती देवी,  चिंता देवी,  रेखा देवी इत्यादि अनेकों महिला साथी ने भाग लिया। 

Bihar

Sep 18 2020, 20:31

 @Bihar  आज बिहार में रेल नेटवर्क के लगभग 90% हिस्से का बिजलीकरण पूरा हो चुका है। बीते 6 साल में ही बिहार में 3 हज़ार किलोमीटर से अधिक के रेलमार्ग का बिजलीकरण हुआ है।
  

पीएम ने कहा कि आज बिहार में किस तेज गति से रेल नेटवर्क पर काम चल रहा है, इसके लिए मैं एक तथ्य देना चाहता हूं। 2014 के पहले के 5 सालों में बिहार में सिर्फ सवा तीन सौ किलोमीटर नई रेल लाइन शुरु थी। जबकि 2014 के बाद के 5 सालों में बिहार में लगभग 700 किलोमीटर रेल लाइन कमीशन हो चुकी हैं। पीएम ने कहा कि रेलवे के आधुनिकीकरण का लाभ बिहार और पूर्वी भारत को मिल रहा है। मेक इन इंडिया को बढ़ावा देने के लिए मधेपुरा में इलेक्ट्रिक लोको फैक्ट्री और मढ़ौरा में डीजल लोको फ़ैक्ट्री स्थापित की गई हैं। इनसे बिहार में लगभग 44 हजार करोड़ रुपए का निवेश हुआ है। कहा गया, ‘भारत-नेपाल सीमा के निकट स्थित सेतु का रणनीतिक महत्व है। इसका निर्माण कार्य कोरोना संक्रमण काल के दौरान पूरा हुआ है और इसमें प्रवासी मजदूरों ने भी योगदान दिया है.’ पीएमओ ने कहा कि कोसी रेल महासेतु का उद्घाटन क्षेत्र के लोगों की लंबी प्रतीक्षा का अंत करेगा और 86 साल पुराने उनके सपने को पूरा करेगा।

इन स्थानों के लोगों को मिलेगी सुविधा


प्रधानमंत्री ने सहरसा-असनपुर कुपहा रेल सेवा को सुपौल स्टेशन से हरी झंडी दिखाया। इस रेल सेवा से सुपौल, अररिया और सहरसा जिले के लोगों को  सुविधाएं मिलेंगी। कोलकाता, दिल्ली और मुंबई जैसी लंबी दूरी में भी सहूलियत होगी। मोदी मुजफ्फरपुर-सीतामढ़ी, कटिहार-न्यू जलपाईगुड़ी, समस्तीपुर-दरभंगा-जयनगर, समस्तीपुर-खगड़िया और भागलपुर-शिवनारायणपुर रेलखंडों के विद्युतीकरण परियोजनाओं का उद्घाटन किया। 

SYEDMOHAMMADALAM35

Sep 12 2020, 17:45

बिहार विधानसभा चुनाव पूर्व, आत्मनिर्भर बिहार अभियान का आगाज़

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के पूर्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने “आत्मनिर्भर भारत” अभियान का आगाज़ किया है। श्री मोदी ने बिहार को आत्म निर्भर बनाने का संकल्प लिया है।  इस संकल्प का नेतृत्व बिहार आत्मनिर्भरता की ओर अग्रसर हो करेगा। बिहार में आत्म निर्भर बनने की अपार संभावनाएं हैं।  इस अभियान का प्रारंभ राष्ट्रीय अध्यक्ष जय प्रकाश (जेपी) नड्डा ने पटना में प्रदेश स्तर के वरिष्ठ नेताओं की उपस्थिति में पटना स्थित भाजपा कार्यालय में की गयी।  आत्म निर्भर बिहार को लोगों तक पहुँचने के विभिन्न माध्यम
इच्छुक व्यक्ति सुझाव निम्नलिखित विभिन्न माध्यमों से पहुँचा सकते हैं।
1.मिस कॉल नंबर - इच्छुक व्यक्ति 6357 171717 पर मिस कॉल करके अपने सुझाव रिकॉर्ड कर सकते हैं।
2. आत्मनिर्भर बिहार वेबसाइट इच्छुक व्यक्ति www.atmanirbharbihar2020.com पर जाकर सुझाव साझा कर सकते हैं।
3. व्हॉट्सएप संदेश इच्छुक व्यक्ति 6357 171717 पर व्हॉट्सएप संदेश भेजकर सुझाव साझा कर सकते हैं।
4. डिजिटल रथ 120 से अधिक डिजिटल रथ प्रदेश भर में यात्रा करेंगे, जिनमें सुझाव पेटियाँ रखी जाएँगी जिसमें इच्छुक व्यक्ति अपने सुझाव साझा कर सकेंगे।
5. सोसल मीडिया इच्छुक व्यक्ति आत्मनिर्भर बिहार के सोशल मीडिया हैंडल्स पर भी अपने सुझाव साझा कर सकते हैं।

Patna

Sep 12 2020, 15:26

बिहार को आत्मनिर्भर बनाने की अपार संभावनाएं मौजूद
  


पटना। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा आत्मनिर्भर भारत बनाने का संकल्प लिया गया है, इस संकल्प की अगुवाई बिहार आत्मनिर्भरता की ओर अग्रसर होते हुए करेगा। बिहार को आत्मनिर्भर बनाने की अपार संभावनाएं मौजूद हैं। बिहार के फल, चाहे वो लीची हो, जर्दालू आम हो, आंवला हो, मखाना हो या फिर मधुबनी पेंटिंग्स हो, ऐसे अनेक उत्पाद बिहार के जिले-जिले में हैं जिनसे वोकल फॉर लोकल की तर्ज़ पर बिहार को आत्मनिर्भर बनाया जा सकता है। इसी दिशा में कदम बढ़ाते हुए भाजपा “आत्मनिर्भर बिहार अभियान’ की शुरुआत करने जा रही है। ये अभियान बिहार को न सिर्फ आर्थिक बल्कि सामाजिक एवं सांस्कृतिक रुप से मजबूत बनाने में अहम भूमिका निभाएगा। इस अभियान की शुरुआत राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जेपी नड्डा जी द्वारा पटना में प्रदेश स्तर के वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में पटना, भाजपा कार्यालय में की गयी।  यह एक राज्यव्यापी अभियान होगा जिसके द्वारा पार्टी 2 करोड़ से अधिक घरों तक विभिन्न माध्यमों से पहुंचेगी। 

आत्मनिर्भर बिहार अभियान का उद्देश्य प्रदेश वासियों की आकांक्षाओं और सुझावों को एकत्रित कर बिहार को आत्मनिर्भरता के मार्ग पर प्रशस्त करना है। कोरोना महामारी के कारण इस अभियान में डिजिटल माध्यमों का अधिक उपयोग किया जाएगा।

लोगों तक पहुँचने के विभिन्न माध्यम
इच्छुक व्यक्ति अपने सुझाव निम्नलिखित विभिन्न माध्यमों के द्वारा हम तक पहुँचा सकते हैं।

❏	मिस कॉल नंबर - इच्छुक व्यक्ति 6357 171717 पर मिस कॉल करके अपने सुझाव रिकॉर्ड कर सकते हैं
❏	आत्मनिर्भर बिहार वेबसाइट - इच्छुक व्यक्ति www.atmanirbharbihar2020.com पर जाकर सुझाव साझा कर सकते हैं
❏	व्हॉट्सएप संदेश - इच्छुक व्यक्ति 6357 171717 पर व्हॉट्सएप संदेश भेजकर सुझाव साझा कर सकते हैं
❏	डिजिटल रथ - 120 से अधिक डिजिटल रथ प्रदेश भर में यात्रा करेंगे जिनमें सुझाव पेटियाँ रखी जाएँगी जिसमें इच्छुक व्यक्ति अपने सुझाव साझा कर सकेंगे
❏	सोशल मीडिया - इच्छुक व्यक्ति आत्मनिर्भर बिहार के सोशल मीडिया हैंडल्स पर भी अपने सुझाव साझा कर सकते हैं

  • Patna
     @Patna 
    इसके अतिरिक्त अभियान के अंतर्गत विभिन्न वर्गों के साथ पार्टी के प्रमुख नेता डिजिटल संवाद, टाउनहॉल, रथ सभा और  जन सभा कार्यक्रम से भी संवाद स्थापित करेंगे ताकि आत्मनिर्भर बिहार के निर्माण के लिए प्रत्येक वर्ग की आकांक्षाओं को एकत्रित किया जा सके। इसके साथ ही पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा 2 करोड़ घरों तक जनसंपर्क अभियान कर प्रदेश वासियों की अधिकतम भागीदारी भी सुनिश्चित की जाएगी।
    
    इस महत्वाकांक्षी अभियान के दौरान सभी माध्यमों से प्राप्त हुए सुझावों को संग्रहित कर ‘आत्मनिर्भर बिहार संकल्प-पत्र’ बनाया जाएगा, जिसको भाजपा रोड मैप की तरह उपयोग करके एवं जनता के समर्थन और योगदान से अगले पाँच सालों में बिहार को आत्मनिर्भरता की ओर ले जाएगी। 
Job_info

Sep 12 2020, 02:18

UPPSC PCS Results 2018 Declared : Complete Details

A total of 976 candidates have been declared successful against 988 posts.
No suitable candidates were found against 12 posts of Information Officer and District Information Officer. These posts have been left vacant.

Top 5 Candidates:
1. Anuj Nehra of Panipat, Hariyana 
2. Sangeeta Raghav of Gurgaon, Hariyana
3. Jyoti Sharma of Mathura, Uttar Pradesh
4. Vipin Kumar Shivhare of Jalaun, Uttar Pradesh
5. Karamveer Keshav of Patna, Bihar

The exam was held at 1381 centres spread across 29 districts of the state. Out of the 6,35,844 applicants, 3,98,630 had appeared in the preliminary exam. The result of the preliminary exam was declared on March 30, 2019. In it a total of 19,096 candidates were declared successful and eligible for the mains to vie for 988 posts on offer.

Job_info

Sep 11 2020, 20:17

BPSC 64 CCE Result 2020 - Interview Date Announced

Bihar Public Service Commission (BPSC) has announced interview date for 64 Combined Competitive Exam 2019.

Interview will be held on 01-12-2020.

Apnabharat123

Sep 23 2020, 13:53

बिहार पुलिस परीक्षा का एडमिट कार्ड जारी, यहां से Download करें अपना Admit Card
  बिहार पुलिस में ड्राइवर कांस्टेबल के पद पर बहाली के लिए ली जाने वाली मुख्य परीक्षा का एडमिट कार्ड जारी कर दिया गया है.जिन उम्मीदवारों ने आवेदन किया था वो सीएसबीसी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं.

 बता दें कि बिहार पुलिस में ड्राइवर कांस्टेबल के पद पर बहाली के लिए मुख्य लिखित परीक्षा 14 अक्टूबर को होनी है. 1722  पदों के लिए होनेवाली इस लिखित परीक्षा को कोरोना संकट के इस काल में दो दफे टाला गया था.  लेकिन अब आदेश मिलने के बाद फिर से परीक्षा के तारिख की घोषणा की गई है, जिसके लिए आज एडमिट कार्ड जारी कर दिया गया. 

ऐसे डाउनलोड करें अपना एडमिट कार्ड-

1. सबसे पहले सीएसबीसी की आधिकारिक वेबासइट  csbc.bih.nic.in पर जाएं और फिर  ‘Important Notice: Download your e-Admit Card for Written Examination Scheduled on 14.10.2020 of Bihar Police Driver Constable. (Advt. No. 05/2019)’ लिंक पर क्लिक करें

2. लिंक पर क्लिक करने के बाद दूसरा पेज खुल जाएगा, जहां आपको Admit Card Download link पर क्लिक करना होगा. 
3.यहां क्लिक करते ही आपसे मोबाइल नंबर, रजिस्टेशन आईडी से लॉग इन करने के लिए कहा जाएगा. जानकारी डालते ही आपका एडमिट कार्ड खुल जाएगा, जिसे आप डाउनलोड कर सकते हैं.

nardiganj346

Sep 23 2020, 05:52

एस के सिंघल है बिहार केDGP का प्रभार

बिहार चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) से पहले डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) ने वीआरएस ले लिया है. बिहार के राज्यपाल ने उनके वीआरएस को मंजूरी दे दी है. वहीं, आईपीएस अधिकारी एस के सिंघल को बिहार के डीजीपी का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है.बिहार सरकार ने अधिसूचना जारी की है. 1988 बैच के सीनियर आईपीएस ऑफिसर एस.के सिंघल फिलहाल होमगार्ड के निदेशक के रूप में कार्यरत हैं. साथ ही, बिहार में तीन आईपीएस ऑफिसर का स्थानांतरण भी हुआ है. 2008 बैच के आईपीएस अधिकारी और मधेपुरा के एसपी संजय कुमार को पुलिस अधीक्षक, बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग में पदस्थापित किया गया है. 2014 बैच के आईपीएस अधिकारी योगेंद्र कुमार दरभंगा के सिटी एसपी तौर पर कार्यरत थे. अब इनका स्थानांतरण एसपी मधेपुरा के तौर पर किया गया है.

Apnabharat123

Sep 22 2020, 21:45

राजनीति में आने के सवाल पर DGP गुप्तेश्वर पांडे ने पूछा - क्या राजनीति में जाना है पाप ?
 एक खबर काफी चर्चा में है कि बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय (Bihar DGP Gupteshwar Pandey) अपने पद से इस्तीफा देंगे और विधान सभा चुनाव (Bihar Assembly Election) लड़ेंगे. खबर यह भी है कि वह NDA के उम्मीदवार हो सकते हैं और वे बीजेपी (BJP) के टिकट से खड़े हो सकते हैं. यह बात भी कही जा रही है कि जैसे ही चुनाव की अधिसूचना जारी होगी  गुप्तेश्वर पांडेय इस्तीफा दे देंगे. दरअसल यह खबर इसलिए भी काफी चर्चा में आ गया क्योंकि हाल के दिनों में शिवसेना (Shiv Sena) की तरफ से ये कहा गया था कि वे किसी राजनीतिक दल के लिए काम कर रहे हैं और वे विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं.
गौरतलब है कि फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में सुर्खियों में आए डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने अभिनेता की मौत पर मुंबई पुलिस की जांच पर कई सवाल उठाए थे. महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस के द्वारा बिहार के पुलिस अधिकारी एवं जांच टीम के साथ जिस तरह का दुर्व्यवहार किया था इससे डीजीपी काफी आहत थे उन्होंने कई टीवी चैनलों पर इस प्रकरण की आलोचना की थी.
चुनाव लड़ने की खबरों को लेकर जब न्यूज 18 ने डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय से पूछा तो उन्होंने कहा कि इस तरह की चर्चा का मैं खंडन करता हूं, यह पूरी तरह अफवाह है. उन्होंने यह भी कहा कि मैं फिलहाल मैं ऑफिस में बैठा हूं और इस तरह की चर्चा बेबुनियाद है. मेरे बारे में इस तरह की अफवाह है लोग 6 माह से फैला रहे हैं, जो आज के तारीख तक सच नहीं है.
हालांकि गुप्तेश्वर पांडेय का राजनीति से लगाव माना जाता है. इस के तर्क में वे कहते हैं कि राजनीति से ही न्यायपालिका है, विधायिका है, संविधान है और देश है. लोकतंत्र हमारे देश के लिए अभीष्ट है और चुनाव लोकतांत्रिक प्रक्रिया है. जाहिर है यह कहकर उन्होंने राजनीति में आने की खबरों को पूरी तरह खारिज भी नहीं किया है. उन्होंने कहा, अगर कोई इस्तीफा देकर राजनीति में आए तो क्या गुनाह है? उन्होंने कहा कि भविष्य में कुछ भी हो सकता है.

Arrah_Bihar

Sep 20 2020, 19:26

 @Arrah_Bihar  भागीदारी दिन प्रतिदिन बढ़ रही है इसलिए मैं तमाम इस सभा में उपस्थित अति पिछड़ा भाइयों से निवेदन करता हूं कि माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी को पुनः बिहार की गद्दी दिलाना है। हमें संकल्प लेना है सभी महिलाओं ने सुषुमलता जी के नेतृत्व में संकल्प लिया कि माननीय नीतिश कुमार जी  को पुनः बिहार के मुख्यमंत्री बनाना है।  सम्मेलन का संचालन रानी पांडे ने किया इस कार्यक्रम में उपस्थित सभी महिलाओं ने राजनीतिक प्रस्ताव पारित किया और कहा कि जगदीशपुर विधानसभा से महिला को प्रत्याशी बनाया जाए विधानसभा में भी महिला भागीदारी मिलनी चाहिए और सभी महिला ने एक स्वर में ताली बजाकर इसका स्वागत किया। 
  


कार्यक्रम में मनोजा देवी, मीरा देवी,  सुनीता देवी,  तेतरी देवी,  मीना देवी,  कलावती देवी,  राधा देवी,  उर्मिला देवी,  खुशबू देवी,  शमीमा खातून,  अनीता देवी,  शारदा देवी,  सरस्वती देवी,  मनोरमा देवी,  ज्ञानती देवी,  पार्वती देवी,  शांति देवी,  रेखा पांडे,  अनीता देवी,  गीता शर्मा,  विमला राजभर,  उषा कुमार, उर्मिला देवी,  आरती देवी,  आरती देवी,  ललिता देवी,  समीना खातून,  अरुण कुमारी, सुमित्रा देवी,  अख्तरी बेगम,  ममता देवी,  फुलवंती देवी,  चिंता देवी,  रेखा देवी इत्यादि अनेकों महिला साथी ने भाग लिया। 

Bihar

Sep 18 2020, 20:31

 @Bihar  आज बिहार में रेल नेटवर्क के लगभग 90% हिस्से का बिजलीकरण पूरा हो चुका है। बीते 6 साल में ही बिहार में 3 हज़ार किलोमीटर से अधिक के रेलमार्ग का बिजलीकरण हुआ है।
  

पीएम ने कहा कि आज बिहार में किस तेज गति से रेल नेटवर्क पर काम चल रहा है, इसके लिए मैं एक तथ्य देना चाहता हूं। 2014 के पहले के 5 सालों में बिहार में सिर्फ सवा तीन सौ किलोमीटर नई रेल लाइन शुरु थी। जबकि 2014 के बाद के 5 सालों में बिहार में लगभग 700 किलोमीटर रेल लाइन कमीशन हो चुकी हैं। पीएम ने कहा कि रेलवे के आधुनिकीकरण का लाभ बिहार और पूर्वी भारत को मिल रहा है। मेक इन इंडिया को बढ़ावा देने के लिए मधेपुरा में इलेक्ट्रिक लोको फैक्ट्री और मढ़ौरा में डीजल लोको फ़ैक्ट्री स्थापित की गई हैं। इनसे बिहार में लगभग 44 हजार करोड़ रुपए का निवेश हुआ है। कहा गया, ‘भारत-नेपाल सीमा के निकट स्थित सेतु का रणनीतिक महत्व है। इसका निर्माण कार्य कोरोना संक्रमण काल के दौरान पूरा हुआ है और इसमें प्रवासी मजदूरों ने भी योगदान दिया है.’ पीएमओ ने कहा कि कोसी रेल महासेतु का उद्घाटन क्षेत्र के लोगों की लंबी प्रतीक्षा का अंत करेगा और 86 साल पुराने उनके सपने को पूरा करेगा।

इन स्थानों के लोगों को मिलेगी सुविधा


प्रधानमंत्री ने सहरसा-असनपुर कुपहा रेल सेवा को सुपौल स्टेशन से हरी झंडी दिखाया। इस रेल सेवा से सुपौल, अररिया और सहरसा जिले के लोगों को  सुविधाएं मिलेंगी। कोलकाता, दिल्ली और मुंबई जैसी लंबी दूरी में भी सहूलियत होगी। मोदी मुजफ्फरपुर-सीतामढ़ी, कटिहार-न्यू जलपाईगुड़ी, समस्तीपुर-दरभंगा-जयनगर, समस्तीपुर-खगड़िया और भागलपुर-शिवनारायणपुर रेलखंडों के विद्युतीकरण परियोजनाओं का उद्घाटन किया। 

SYEDMOHAMMADALAM35

Sep 12 2020, 17:45

बिहार विधानसभा चुनाव पूर्व, आत्मनिर्भर बिहार अभियान का आगाज़

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के पूर्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने “आत्मनिर्भर भारत” अभियान का आगाज़ किया है। श्री मोदी ने बिहार को आत्म निर्भर बनाने का संकल्प लिया है।  इस संकल्प का नेतृत्व बिहार आत्मनिर्भरता की ओर अग्रसर हो करेगा। बिहार में आत्म निर्भर बनने की अपार संभावनाएं हैं।  इस अभियान का प्रारंभ राष्ट्रीय अध्यक्ष जय प्रकाश (जेपी) नड्डा ने पटना में प्रदेश स्तर के वरिष्ठ नेताओं की उपस्थिति में पटना स्थित भाजपा कार्यालय में की गयी।  आत्म निर्भर बिहार को लोगों तक पहुँचने के विभिन्न माध्यम
इच्छुक व्यक्ति सुझाव निम्नलिखित विभिन्न माध्यमों से पहुँचा सकते हैं।
1.मिस कॉल नंबर - इच्छुक व्यक्ति 6357 171717 पर मिस कॉल करके अपने सुझाव रिकॉर्ड कर सकते हैं।
2. आत्मनिर्भर बिहार वेबसाइट इच्छुक व्यक्ति www.atmanirbharbihar2020.com पर जाकर सुझाव साझा कर सकते हैं।
3. व्हॉट्सएप संदेश इच्छुक व्यक्ति 6357 171717 पर व्हॉट्सएप संदेश भेजकर सुझाव साझा कर सकते हैं।
4. डिजिटल रथ 120 से अधिक डिजिटल रथ प्रदेश भर में यात्रा करेंगे, जिनमें सुझाव पेटियाँ रखी जाएँगी जिसमें इच्छुक व्यक्ति अपने सुझाव साझा कर सकेंगे।
5. सोसल मीडिया इच्छुक व्यक्ति आत्मनिर्भर बिहार के सोशल मीडिया हैंडल्स पर भी अपने सुझाव साझा कर सकते हैं।