uttarpradesh

Nov 25 2021, 13:36

murderin_gonda
यूपी के गोंडा में ट्रिपल मर्डर से सनसनी, शादी से इनकार के बाद प्रेमी ने की प्रेमिका और उसके मां-बाप की हत्या

उत्तर प्रदेश के गोंडा में प्रेम प्रसंग में दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। एक सनकी प्रेमी ने प्रेम में असफलता के बाद प्रेमिका समेत तीन लोगों की जान ले ली।

बताया जा रहा है कि प्रेमिका की शादी दूसरी जगह तय होने के बाद प्रेमी ने लड़की और उसके माता-पिता को धारदार हथियार के हमले से मौत के घाट उतार दिया। हमले में प्रेमिका की छोटी बहन भी बुरी तरह से जख्मी हो गई। मामले में पुलिस का कहना है कि प्रेम प्रसंग चलते इस ट्रिपल मर्डर की घटना को अंजाम दिया गया। फिलहाल, आरोपी फरार है। पुलिस ने आरोपी पर 50 हजार का इनाम घोषित कर तलाश शुरू कर दी है।

डीआईजी उपेंद्र कुमार अग्रवाल ने बताया कि, हमें गोली चलने की सूचना मिली. पुलिस टीम तुरंत घटनास्थल पहुंची. मौके पर पहुंची पुलिस ने 4 घायलों को अस्पताल पहुंचा दिया है। प्रथम डीआईजी अग्रवाल ने बताया कि प्रथम दृष्टि प्रेम प्रसंग का मामला दिख रहा है। घटना में 3 लोगों की मौत हो गई है। फिलहाल, मामले की जांच जारी है।

अन्य परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार, आरोपी शख्स का लड़की के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। हाल ही में युवती की कहीं दूसरी जगह शादी तय कर दी गई ,तो उसके प्रेमी ने इस हत्याकांड को अंजाम दे दिया। 

uttarpradesh

Nov 25 2021, 13:36

murderin_gonda
यूपी के गोंडा में ट्रिपल मर्डर से सनसनी, शादी से इनकार के बाद प्रेमी ने की प्रेमिका और उसके मां-बाप की हत्या

उत्तर प्रदेश के गोंडा में प्रेम प्रसंग में दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। एक सनकी प्रेमी ने प्रेम में असफलता के बाद प्रेमिका समेत तीन लोगों की जान ले ली।

बताया जा रहा है कि प्रेमिका की शादी दूसरी जगह तय होने के बाद प्रेमी ने लड़की और उसके माता-पिता को धारदार हथियार के हमले से मौत के घाट उतार दिया। हमले में प्रेमिका की छोटी बहन भी बुरी तरह से जख्मी हो गई। मामले में पुलिस का कहना है कि प्रेम प्रसंग चलते इस ट्रिपल मर्डर की घटना को अंजाम दिया गया। फिलहाल, आरोपी फरार है। पुलिस ने आरोपी पर 50 हजार का इनाम घोषित कर तलाश शुरू कर दी है।

डीआईजी उपेंद्र कुमार अग्रवाल ने बताया कि, हमें गोली चलने की सूचना मिली. पुलिस टीम तुरंत घटनास्थल पहुंची. मौके पर पहुंची पुलिस ने 4 घायलों को अस्पताल पहुंचा दिया है। प्रथम डीआईजी अग्रवाल ने बताया कि प्रथम दृष्टि प्रेम प्रसंग का मामला दिख रहा है। घटना में 3 लोगों की मौत हो गई है। फिलहाल, मामले की जांच जारी है।

अन्य परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार, आरोपी शख्स का लड़की के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। हाल ही में युवती की कहीं दूसरी जगह शादी तय कर दी गई ,तो उसके प्रेमी ने इस हत्याकांड को अंजाम दे दिया। 

uttarpradesh

Nov 25 2021, 12:16

willbeavailableforfreetill_march 
मोदी सरकार अब मार्च तक गरीबों को मुफ्त में देगी राशन, कैबिनेट से मिली मंजूरी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अगले साल मार्च तक प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (पीएम-जीकेएवाई) के विस्तार को मंजूरी दे दी है।कैबिनेट ने अहम फैसला लेते हुए मार्च 2022 तक गरीबों को मुफ्त राशन प्रदान करने के लिए पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार करने का निर्णय लिया है। पांचवें चरण के तहत खाद्यान्न पर 53,344.52 करोड़ रुपये की अनुमानित खाद्य सब्सिडी होगी। 

बता दें कि पिछले साल, सरकार ने कोरोना के प्रकोप के कारण हुए आर्थिक व्यवधानों के मद्देनजर राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम द्वारा कवर किए गए सभी लाभार्थियों के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की घोषणा की थी। पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना PMGKAY) के तहत 80 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को प्रति व्यक्ति प्रति माह 5 किलो खाद्यान्न मुफ्त प्रदान किया जा रहा है। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) के तहत सामान्य कोटे से अधिक 5 किलो खाद्यान्न उपलब्ध कराया जा रहा है। 

यह योजना 30 नवंबर को समाप्त होने वाली थी। अब इसे मार्च 2022 तक चार महीने के लिए बढ़ा दिया गया है। योजना की अवधी बढ़ाने के बाद इससे राजकोष पर अतिरिक्त 53,344 करोड़ रुपये खर्च होंगे। उन्होंने कहा कि पीएमजीकेएवाई की कुल लागत इस विस्तार सहित लगभग 2.6 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच जाएगी। 

uttarpradesh

Nov 25 2021, 12:15

isbringinganew_feature 
नए फीचर लाने की तैयारी में व्हाट्सएप, 7 दिन बाद भी मैसेज डिलीट करने का होगा ऑप्शन

व्हाट्सएप में आए दिन कोई ना कोई बदलाव होता रहता है। अब व्हाट्सएप 'डिलीट मैसेज फॉर एवरीवन' फीचर की समय सीमा बढ़ाने की योजना बना रहा है। बता दें कि अभी अगर कोई यूजर व्हाट्सएप पर भेजे गए संदेश को डिलीट करना चाहे तो उसके पास उसे डिलीट करने के लिए केवल एक घंटे, आठ मिनट और सोलह सेकंड होते हैं। यूजर को इस समयसीमा में ही मेसेज को डिलीट करने का ऑप्शन होता है। लेकिन अब यूजर के पास भेजे गए संदेश को 7 दिन बाद भी डिलीट करने का ऑप्शन होगा।

व्हाट्सएप ट्रैकर ने इस फीचर के बारे में बात करते हुए कहा, "यह सुविधा अभी भी अंडर डेव्लपमेंट है, इसलिए इसमें कई बार बदलाव किया जा सकता है। फिलहाल फीचर के पूरी तरह डेव्लप होने के इंतजार है। एक बार अपडेट आ जाए उसके बाद ही सही बदलाव के बारे में जानकारी मिल पाएगी। 

बता दें कि व्हाट्सएप में डिलीट फॉर एवरीवन फीचर एक उपयोगी टूल है। जिसकी मदद से हम गलत मैसेज को डिलीट कर सकते हैं। अगर इस फीचर की समयसीमा बढ़ाई जाती है तो यूजर को राफी राहत मिलेगी। उन्हें पुराने सात दिनों के मैसेज डिलीट करने की अथॉरिटी मिल जाएगी।

हाल ही में व्हाट्सएप ने भारतीय यूजर्स के लिए दो नए सेफ्टी फीचर फ्लैश कॉल्स और मैसेज लेवल रिपोर्टिंग पेश किए हैं।वहीं वाट्सऐप के बीटा चैनल ने भी अपडेट जारी किया है। इसके अलावा वाट्सऐप कुछ महीनों से मैसेज रिएक्शन फीचर भी डेवलप करने पर काम कर रही है। 

uttarpradesh

Nov 25 2021, 12:12

 
सपा-रालोद का यूपी विधानसभा चुनाव में गठबंधन तय, अखिलेश यादव से मुलाकात के बाद क्या बोले जयंत चौधरी

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए गठबंधन को लेकर राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के प्रमुख जयंत चौधरी ने समाजवादी पार्टी (सपा) के मुखिया अखिलेश यादव से मुलाकात की। जयंत चौधरी ने मुलाकात के बाद तस्वीर साझा करते हुए लिखा, 'बढ़ते कदम'। इसके बाद अखिलेश यादव ने भी ट्वीट किया। उन्होंने फोटो के साथ लिखा, ''श्री जयंत चौधरी जी के साथ बदलाव की ओर..''


सूत्रों के मुताबिक, जल्द दोनों ही नेता गठबंधन का एलान कर सकते हैं। सीटों के बंटवारे को लेकर सहमति बन गई है। बताया जा रहा है कि जयंत चौधरी 50 सीटों की मांग कर रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक, आरएलडी को 30-35 सीटें मिलने का अनुमान है। जाट बाहुल्य सीटों पर आरएलडी और मुस्लिम बाहुल्य सीटों पर समाजवादी प्रत्याशी होगा।

बता दें कि सपा मुखिया अखिलेश यादव कई मौकों पर साफ कर चुके हैं कि वह यूपी चुनाव में छोटे दलों के साथ गठबंधन करेंगे। सपा सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर और जनवादी पार्टी के संजय चौहान के साथ गठबंधन का पहले ही एलान कर चुकी है।

अखिलेश यादव कई मौकों पर साफ कर चुके हैं कि वह यूपी चुनाव में छोटे दलों के साथ गठबंधन करेंगे. समाजवादी पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर और जनवादी पार्टी के संजय चौहान के साथ गठबंधन का पहले ही एलान कर चुकी है. जयंत चौधरी ने 19 नवंबर को कहा था, "इस महीने के अंत तक हम (रालोद और समाजवादी पार्टी) निर्णय लेंगे और साथ आएंगे." 

uttarpradesh

Nov 25 2021, 12:12

 
सपा-रालोद का यूपी विधानसभा चुनाव में गठबंधन तय, अखिलेश यादव से मुलाकात के बाद क्या बोले जयंत चौधरी

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए गठबंधन को लेकर राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के प्रमुख जयंत चौधरी ने समाजवादी पार्टी (सपा) के मुखिया अखिलेश यादव से मुलाकात की। जयंत चौधरी ने मुलाकात के बाद तस्वीर साझा करते हुए लिखा, 'बढ़ते कदम'। इसके बाद अखिलेश यादव ने भी ट्वीट किया। उन्होंने फोटो के साथ लिखा, ''श्री जयंत चौधरी जी के साथ बदलाव की ओर..''


सूत्रों के मुताबिक, जल्द दोनों ही नेता गठबंधन का एलान कर सकते हैं। सीटों के बंटवारे को लेकर सहमति बन गई है। बताया जा रहा है कि जयंत चौधरी 50 सीटों की मांग कर रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक, आरएलडी को 30-35 सीटें मिलने का अनुमान है। जाट बाहुल्य सीटों पर आरएलडी और मुस्लिम बाहुल्य सीटों पर समाजवादी प्रत्याशी होगा।

बता दें कि सपा मुखिया अखिलेश यादव कई मौकों पर साफ कर चुके हैं कि वह यूपी चुनाव में छोटे दलों के साथ गठबंधन करेंगे। सपा सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर और जनवादी पार्टी के संजय चौहान के साथ गठबंधन का पहले ही एलान कर चुकी है।

अखिलेश यादव कई मौकों पर साफ कर चुके हैं कि वह यूपी चुनाव में छोटे दलों के साथ गठबंधन करेंगे. समाजवादी पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर और जनवादी पार्टी के संजय चौहान के साथ गठबंधन का पहले ही एलान कर चुकी है. जयंत चौधरी ने 19 नवंबर को कहा था, "इस महीने के अंत तक हम (रालोद और समाजवादी पार्टी) निर्णय लेंगे और साथ आएंगे." 

uttarpradesh

Nov 25 2021, 12:11

अखिलेश की अपील, बोले- हर महीने की 30 तारीख को ‘हाथरस बेटी स्मृति दिवस’ मनाए पार्टी कार्यकर्ता और सहयोगी दल

उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव पिछले साल हाथरस में हुए रेप कांड को सियासी मुद्दा बनाने की तैयारी में हैं। उन्होंने आज ट्वीट कर पार्टी कार्यकर्ता और सहयोगी दलों से हर महीने की 30 तारीख को ‘हाथरस की बेटी स्मृति दिवस’ मनाने की अपील की। उन्होंने लिखा है कि जिस तरह से यूपी की बीजेपी सरकार ने पिछले साल सितंबर में बलात्कार पीड़िता के शव को जलाने का कुकृत्य किया था, उसकी याद सरकार को दिलाए। अखिलेश यादव ने लिखा है कि हाथरस की घटना से बीजेपी का दलित व महिला विरोधी चेहरा बेनक़ाब हुआ है। 

बता दें कि यूपी में चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी छोटे छोटे मामलों को उठाकर योगी सरकार को लगातार गेर रही है।  दरअसल पिछले साल 14 सितंबर को राज्य के हाथरस जिले में चार लोगों ने एक युवती के साथ गैंगरेप किया था और उसके बाद उसकी बेरहमी से पिटाई की थी।वहीं इलाज के दौरान 29 सितंबर को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में रेप पीड़िता की मौत हो गई तो राज्य हाथरस पुलिस ने परिवार की मंजूरी के बगैर उसका दाह संस्कार कर दिया। ताकि ये मामला दब जाए। लेकिन मामले ने सियासी रंग ले लिया और कांग्रेस से लेकर समाजवादी पार्री ने सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। वहीं राज्य सरकार ने इस मामले को सीबीआई को सौंप दिया था और सीबीआई ने भी कोर्ट में आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी और इसमें उसके साथ रेप की बात कही थी। 

uttarpradesh

Nov 24 2021, 18:22

mlasincludingaditisinghjoinedbjp
यूपी में कांग्रेस को बड़ा झटका, रायबरेली और आजमगढ़ में बीजेपी की बड़ी सेंधमारी, विधायक अदिति सिंह और वंदना सिंह भाजपा में शामिल

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं। एक एक कर पार्टी के बड़े नेता कांग्रेस का हाथ झटक रहे हैं। इसी क्रम में बीजेपी ने रायबरेली और आजमगढ़ में कांग्रेस में जबदस्त सेंधमारी की है। रायबरेली से कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह और आजमगढ़ की सगड़ी सीट से विधायक वंदना सिंह ने बुधवार को भाजपा का दामन थाम लिया।इन दोनों के अलावा विधायक राकेश प्रताप सिंह ने भी भाजपा की सदस्यता ली। राकेश प्रताप सिंह सोनिया गांधी के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ने वाले दिनेश प्रताप सिंह के छोटे भाई हैं।

अदिति सिंह पिछले डेढ़ साल से कांग्रेस में बगावती रुख अख्तियार किया हुआ था। अदिति सिंह पिछले कुछ समय से सीधे प्रियका गांधी के खिलाफ लगातार हमलावर हैं। चाहे वह लखीमपुर खीरी का मामला हो या फिर कृषि कानून वापसी का उन्होंने हमेशा प्रियंका गांधी की राजनीति पर निशाना साधा। कांग्रेस उनके खिलाफ विधानसभा की सदस्यता रद्द करने की अर्जी भी दी थी। अदिति सिंह ने कांग्रेस द्वारा यूपी चुनाव में 40 फीसदी टिकट महिलाओं को देने की घोषणा करने पर कहा था कि वह स्टंट कर रही हैं। अगर प्रियंका वाकई महिलाओं के लिए काम करना चाहती हैं तो उन्हें अपने निजी सचिव संदीप सिंह के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए जिन पर महिलाओं से छेड़छाड़ के मामले दर्ज हैं।

बीते दिनों उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्रशंसा करते हुए उन्हें सबसे लोकप्रिय मुख्यमंत्री बताया था और उनकी टीम में शामिल होने की इच्छा जताई थी। उन्होंने कहा था कि वह टीम योगी का हिस्सा बनकर अपने विधानसभा के लोगों के लिए और बेहतर कर सकती हैं।

इस मौके पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र की विधायक अदिति सिंह कांग्रेस व प्रियंका गांधी वाड्रा को कड़ी टक्कर देंगी। वहीं सगड़ी आजमगढ़ से बसपा विधायक वंदना सिंह सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को टक्कर देंगी। उन्होंने दावा किया कि 2022 में भी भाजपा 2017 के विधानसभा चुनाव की तरह प्रचंड बहुमत हासिल कर सत्ता में वापसी करेगी। 

uttarpradesh

Nov 24 2021, 18:22

mlasincludingaditisinghjoinedbjp
यूपी में कांग्रेस को बड़ा झटका, रायबरेली और आजमगढ़ में बीजेपी की बड़ी सेंधमारी, विधायक अदिति सिंह और वंदना सिंह भाजपा में शामिल

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं। एक एक कर पार्टी के बड़े नेता कांग्रेस का हाथ झटक रहे हैं। इसी क्रम में बीजेपी ने रायबरेली और आजमगढ़ में कांग्रेस में जबदस्त सेंधमारी की है। रायबरेली से कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह और आजमगढ़ की सगड़ी सीट से विधायक वंदना सिंह ने बुधवार को भाजपा का दामन थाम लिया।इन दोनों के अलावा विधायक राकेश प्रताप सिंह ने भी भाजपा की सदस्यता ली। राकेश प्रताप सिंह सोनिया गांधी के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ने वाले दिनेश प्रताप सिंह के छोटे भाई हैं।

अदिति सिंह पिछले डेढ़ साल से कांग्रेस में बगावती रुख अख्तियार किया हुआ था। अदिति सिंह पिछले कुछ समय से सीधे प्रियका गांधी के खिलाफ लगातार हमलावर हैं। चाहे वह लखीमपुर खीरी का मामला हो या फिर कृषि कानून वापसी का उन्होंने हमेशा प्रियंका गांधी की राजनीति पर निशाना साधा। कांग्रेस उनके खिलाफ विधानसभा की सदस्यता रद्द करने की अर्जी भी दी थी। अदिति सिंह ने कांग्रेस द्वारा यूपी चुनाव में 40 फीसदी टिकट महिलाओं को देने की घोषणा करने पर कहा था कि वह स्टंट कर रही हैं। अगर प्रियंका वाकई महिलाओं के लिए काम करना चाहती हैं तो उन्हें अपने निजी सचिव संदीप सिंह के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए जिन पर महिलाओं से छेड़छाड़ के मामले दर्ज हैं।

बीते दिनों उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्रशंसा करते हुए उन्हें सबसे लोकप्रिय मुख्यमंत्री बताया था और उनकी टीम में शामिल होने की इच्छा जताई थी। उन्होंने कहा था कि वह टीम योगी का हिस्सा बनकर अपने विधानसभा के लोगों के लिए और बेहतर कर सकती हैं।

इस मौके पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र की विधायक अदिति सिंह कांग्रेस व प्रियंका गांधी वाड्रा को कड़ी टक्कर देंगी। वहीं सगड़ी आजमगढ़ से बसपा विधायक वंदना सिंह सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को टक्कर देंगी। उन्होंने दावा किया कि 2022 में भी भाजपा 2017 के विधानसभा चुनाव की तरह प्रचंड बहुमत हासिल कर सत्ता में वापसी करेगी। 

uttarpradesh

Nov 24 2021, 15:01

gandhiattackonpmnarendramodi 
प्रियंका गांधी ने महंगाई को लेकर केन्द्र सरकार पर साधा निशाना,कहा- ''मोदी जी के राज में, ऐसा कुछ भी बचा नहीं, जिसको महंगा किया नहीं

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने महंगाई को लेकर केन्द्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है। प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर देश में बढ़ती महंगाई का ठीकरा केन्द्र पर फोड़ा है।

कांग्रेस महासचिव ने लिखा है, ''मोदी जी के राज में, ऐसा कुछ भी बचा नहीं, जिसको महंगा किया नहीं। आटा महंगा, मोबाइल का डाटा महंगा जीवन बीमा महंगा, जीवन जीना महंगा, कपड़े महंगे, जूते महंगे, महंगी सब्जी-दाल।'' उन्होंने लिखा है, 'बहुत हुई महंगाई की मार' का नारा देने वाले अब हर रोज जनता पर महंगाई का प्रहार कर रहे हैं।


इसके पहले किए एक ट्वीट में प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश सरकार पर हमला बोला था। उन्होंने लिखा था, ''खराब स्वास्थ्य सुविधाओं की वजह से कानपुर की जनता ने कोरोना के दौरान बहुत कष्ट झेले थे। लेकिन भाजपा की प्राथमिकता देखिए, अपना भव्य कार्यालय तैयार कर लिया। मगर जनता के लिए अस्पताल की एक ईंट भी नहीं रखी। जनता सब देख रही है।  इसके साथ प्रियंका गांधी ने एक अखबार की कटिंग भी शेयर की थी। इस कटिंग की हेडिंग है, बीजेपी का कार्यालय तैयार। लेकिन अस्पताल का इंतजार।