uttarpradesh

Oct 13 2021, 11:24

सीएम योगी आज करेंगे महंत अवेद्यनाथ राजकीय कॉलेज का लोकार्पण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज जंगल कौड़िया स्थित महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय का लोकार्पण करेंगे। इस दौरान वह परिसर में स्थापित महंत अवेद्यनाथ की आदमकद कांस्य प्रतिमा का अनावरण भी करेंगे। लोकार्पण कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के साथ प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा और उच्च शिक्षा राज्यमंत्री नीलिमा कटियार भी मौजूद रहेंगी। महाविद्यालय की आधारशिला मुख्यमंत्री द्वारा ही 21 मई 2018 को रखी गई थी। 31 करोड़ की लागत से महाविद्यालय का निर्माण किया गया है।


इसी सत्र से इस महाविद्यालय में स्नातक प्रथम वर्ष की कक्षाएं शुरू होंगी। यह महाविद्यालय पंडित दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय से संबद्ध है और इसे कला, विज्ञान एवं वाणिज्य संकाय की कक्षाओं के संचालन की स्वीकृति भी मिल चुकी है। तीनों संकायों में चार सौ से अधिक विद्यार्थियों का प्रवेश भी हो चुका है। प्रवेश प्रक्रिया अभी जारी है।

प्राचार्य, शिक्षकों और कर्मचारियों की तैनाती भी हो चुकी है। महाविद्यालय के लोकार्पण कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार की शाम चार बजे माया बाजार स्थित कालीबाड़ी के सुंदरीकरण और सुदृढ़ीकरण कार्य का लोकार्पण करेंगे। इसपर 72 लाख रुपये खर्च हुए हैं। मुख्यमंत्री के शहर में दशहरा तक रुकने की उम्मीद है। वह 16 को लखनऊ प्रस्थान कर सकते हैं। 

uttarpradesh

Oct 13 2021, 11:22

आगरा के केमिकल गोदाम में लगी भीषण आग, लाखों का नुकसान

आगरा – यूपी के आगरा में हरीपर्वत के वाटर वर्क्स स्थित तकिया लाल मस्जिद में केमिकल के गोदाम में अचानक भीषण आग लग गयी। गोदाम में बुधवार तड़के 4:30 बजे भीषण आग लग गई। स्थानीय लोगों ने आग की सूचना फायर ब्रिगेड को दी। सूचना मिलते ही इलाका पुलिस सहित फायरब्रिगेड की करीब आधा दर्जन गाड़ियां मौके पर पहुंच गयी। फायर कर्मियों ने कई घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। 


बताया जा रहा है कि आग काफी बीषण थी। लपटों ने पूरे गोदाम को अपनी चपेट में ले लिया। केमिकल के गोदाम में लगी आग की लपटें आसमान को छू रही थीं। आग की वजह से गोदाम की छत भी धराशाई हो गई। यह गोदाम टारगेट केमिकल  के नाम से है।सुबह तकरीबन 8:30 बजे आग पर काबू पाया जा सका। 

इस फैक्ट्री में कपड़े के केमिकल के ड्रम रखे हुए थे। गोदाम में लगी आग से लाखों रुपए के नुकसान की आशंका जताई जा रही है लेकिन अभी तक आग लगने का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है कि आग किन कारणों से लगी है। 

uttarpradesh

Oct 13 2021, 11:21

प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की पत्नी को कानपुर डेवलपमेंट अथॉरिटी में मिला ओएसडी का पद,पति की हत्या के 15 दिनों के अंदर सरकार ने पूरा किया वादा

कानपुर – गोरखपुर में पुलिस की पिटाई से कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की मौत के बाद मनीष की पत्नी मीनाक्षी को सरकारी नौकरी मिल गई है। मंगलवार को मीनाक्षी ने कानपुर डेवलपमेंट अथॉरिटी में ओएसडी के पद पर ज्वाइन की।

गोरखपुर में पुलिसकर्मियों ने मनीष की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। इस घटना के बाद मचे बवाल के बाद सीएम योगी ने कानपुर में मीनाक्षी से मुलाकात कर 40 लाख की आर्थिक सहायता और केडीए में ओएडी की नौकरी देने का वादा किया था।  मनीष की मौत के 15 दिनों के अंदर पत्नी मीनाक्षी को केडीए में ओएसडी के पद पर ज्वाइनिंग भी हो गई।  

नौकरी ज्वाइन करते समय मीनाक्षी, पति को याद कर भावुक हो गई।मीनाक्षी ने इस मौके पर कहा कि सीएम साहब अब मेरी इतनी मदद और कर दें कि केस का ट्रायल गोरखपुर से कानपुर ट्रांसफर कर दें।

बता दे कि मनीष गुप्ता की हत्या के आरोपी सब इंस्पेक्टर राहुल दुबे और कांस्टेबल प्रशांत कुमार को कैंट पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अब तक मामले में चार लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। इससे पहले रविवार को पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था।

बता दें कि कानपुर के कारोबारी मनीष गुप्ता अपने दोस्तों के साथ गोरखपुर के एक होटल में ठहरे हुए थे। पुलिसकर्मी उनके कमरे में दाखिल हुए. इसके बाद मनीष के साथ मारपीट की गई।घटना में मनीष की हत्या हो गई। इस मामले में गोरखपुर के 6 पुलिसकर्मियों को आरोपी बनाया गया है। घटना के बाद सभी आऱोपी फरार हो गए थे। 

uttarpradesh

Oct 12 2021, 16:20

*सपा मुखिया अखिलेश यादव ने 2022 का चुनावी बिगूलस कानपुर से विजय रथ यात्रा की शुरूआत*

सपा मुखिया अखिलेश यादव ने 2022 का चुनावी बिगूल कानपुर से फूंक दिया। जाजमऊ गंगा पुल से अखिलेश यादव ने विजय रथ यात्रा की शुरुआत की। नोटबंदी के समय कानपुर देहात के झींझक में जन्मे खंजाची नाथ ने विजय रथ यात्रा को पार्टी का झंडा दिखाकर रवाना कराया। 

इस मौके पर समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने बीजेपी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि भाजपा ने 'गंगा मैया' को धोखा दिया। उसी गंदी हालत में है। बीजेपी सरकार ने लोगों को धोखा दिया है। हम राज्य से भाजपा को खत्म करने के लिए 'विजय रथ यात्रा' के साथ जा रहे हैं।


उन्होंने कहा कि प्रदेश में जब-जब सपा की विजय यात्रा निकली है, तब-तब प्रदेश में परिवर्तन आया है। कहा, रथयात्रा के माध्यम से किसानों, बुजुर्गों का आशीर्वाद लेंगे। उन्होंने कहा कि लखीमपुर में किसानों के साथ कानून को भी कुचला गया है। उनका प्रतिनिधिमंडल लखीमपुर पीड़ित परिवारों से मिलने गया है। उन्होंने कहा कि कानपुर यूपी का औद्योगिक शहर है, यहां पर सरकार ने उद्योगों को ठप कर दिया है। इसलिए यात्रा की शुरुआत कानपुर से की 

विधानसभा चुनाव तक चरणबद्ध तरीके से चलने वाली यह यात्रा प्रदेश की हर विधानसभा में तहसील कस्बे का भ्रमण करेगी। इस दौरान पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव की कई जनसभाएं होंगी जिसमें भाजपा सरकार की विफलताओं और कारगुजारियों का खुलासा किया जाएगा। पार्टी सूत्रा के मुताबिक रथ यात्रा के दौरान किसानों की समस्या के प्रति सरकार के उदासीन रवैए, लखीमपुर, हाथरस और महोबा की आपराधिक घटनाओं का जिक्र होगा वहीं महिला सुरक्षा, बेरोजगारी,महंगाई और भाजपा की वादाखिलाफी पर सपा अध्यक्ष अपने सुर मुखर करेंगे। 

अलग-अलग चरणों में चलने वाली यात्रा के लिए लगभग तीन माह का समय निर्धारित किया गया है। यात्रा के दौरान हर जिले में सपा अध्यक्ष कम से कम एक जनसभा करेंगे और भाजपा सरकार की नाकामियों को गिनाएंगे। साथ ही वह सपा की सरकार आने पर दी जाने वाली सुविधाओं और योजनाओ के बारे में जानकारी देंगे। 

इससे पहले श्री यादव 31 जुलाई 2001 में पहली बार क्रांति रथ लेकर निकले थे। इसके बाद 12 सितंबर 2011 को दूसरी बार समाजवादी क्रांतिरथ यात्रा लेकर निकले जिसके बाद उन्हे यूपी की सत्ता हासिल हुई थी। इससे पहले श्री यादव 31 जुलाई 2001 में पहली बार क्रांति रथ लेकर निकले थे। इसके बाद 12 सितंबर 2011 को दूसरी बार समाजवादी क्रांतिरथ यात्रा लेकर निकले जिसके बाद उन्हे यूपी की सत्ता हासिल हुई थी। 

uttarpradesh

Oct 12 2021, 16:16

अयोध्या की रामलीला का रिकॉर्ड, 19 करोड से भी ज्यादा राम भक्तों ने देखी रामलीला

माता शबरी के रोल में विश्व गायिका मालिनी अवस्थी ने खूब प्रशंसा बटोरी अपने प्रशंसकों की। इस मौके पर अयोध्या की रामलीला कमेटी के अध्यक्ष सुभाष मलिक ने कहा कि सबरी का रोल मालिनी अवस्थी ने किया और उन्होंने खूब प्रशंसा बटोरी। हमें बताते हुए बड़ी खुशी हो रही है कि 19 करोड से ज्यादा आंकड़ा पार हो चुका है और सबरी की भूमिका में मालिनी अवस्थी ने पहली बार किसी रामलीला में भूमिका निभाई है। 

अयोध्या की रामलीला उत्तर प्रदेश सरकार और संस्कृति मंत्रालय एवं संस्कृति मंत्री नीलकंठ तिवारी के सहयोग मार्गदर्शन से हो रहा है। यह रामलीला मेरी मां फाउंडेशन द्वारा आयोजित की जाती है। अयोध्या की रामलीला में मुख्य किरदार निभा रहे हैं सांसद व भोजपुरी स्टार मनोज तिवारी अंगद की भूमिका   में नजर आएंगे और जाने-माने सुपरस्टार विंदू दारा सिंह हनुमान की भूमिका में नजर आएंगे, विश्व प्रसिद्ध गायिका व पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित मालिनी अवस्थी माता सब शबरी की भूमिका में नजर आएंगी। 

रामलीला कमेटी के अध्यक्ष सुभाष मलिक ने बताया कि इस बार अयोध्या की रामलीला भगवान श्री राम के भक्तों ने 18 करोड से भी ज्यादा दुनिया के कोने कोने में देखा। शहबाज खान रावण के किरदार में नजर आएंगे । भाग्यश्री माता सीता की भूमिका में नजर आएंगी।रजा मुराद कुंभकरण के किरदार में नजर आएंगे। शक्ति कपूर अहिरावण के किरदार में नजर आएंगे। कैप्टन राज माथुर भरत के किरदार में नजर आएंगे। जाने माने सुपरस्टार राहुल बुच्चर प्रभु श्री राम की भूमिका में नजर आएंगे ।राकेश बेदी बाली  के किरदार में नजर आएंगे । राजेश पुरी नारद की भूमिका में नजर आएंगे।अवतार  गिल  विभीषण के किरदार में नजर आएंगे। अयोध्या की रामलीला रोज  शाम 7:00 बजे से लेकर रात 10:00 बजे तक  DD national दूरदर्शन  पर लाइव लक्ष्मण किला सरयू नदी तट के किनारे से दिखाई जा रही है। 

uttarpradesh

Oct 12 2021, 10:58

गोरखपुर में कोरोना वैक्सीनेशन के लिए अब घर-घर पहुंचेगी टीम, छूटे हुए लोगों का होगा टीकाकरण

गोरखपुर में अब घर-घर जाकर लोगों को वैक्सीन लगायी जाएगी। इसके लिए जिला प्रशासन ने 30 वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। अपर जिलाधिकारी ने सोमवार को 30 मोबाइल वैक्सीनेशन वैन को हरी झंडी दिखाई।


इस अभियानम के तहत प्रत्येक गांव में जाकर, जो लोग टीकाकरण से वंचित हैं या किसी शारीरिक रूप या किसी अन्य कारण से टीकाकरण नहीं करा पाये हैं, उनका टीकाकरण किया जाएगा। प्रत्येक गाड़ी से 300 लोगों का वैक्सीनेशन कराने का लक्ष्य है। इसकी मॉनिटरिंग जिला प्रशासन द्वारा की जाएगी। 

एडीएम विनीत कुमार सिंह ने बताया कि में कुल 30 टीका एक्सप्रेस वाहन का शुभारंभ किया गया है. ये सभी वाहन जिले के प्रत्येक गांव में जाएंगे. जो शेड्यूल बना हुआ है, उसके अनुसार टीकाकरण से छूटे हुए लोगों को टीका लगाया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रत्येक गाड़ी का 300 टीका लगाने का लक्ष्य है। इस तरीके से हम प्रयास करेंगे कि गोरखपुर जनपद में जो भी लोग कोविड-19 टीकाकरण से बचे हुए हैं, उन सभी को टीका लगाया जा सके। 

uttarpradesh

Oct 12 2021, 10:56

mishraonpoliceremand
लखीमपुर खीरी कांड: आशीष मिश्र मोनू की तीन दिन की पुलिस रिमांड आज से शुरू, पूछताछ के लिए लाया गया रिजर्व पुलिस लाइंस

लखीमपुर खीरी के तिकुनिया कांड में जेल भेजे गए हत्या के आरोपी आशीष मिश्र मोनू का तीन दिन की पुलिस रिमांड आज से शुरू हो रहा है। जिसके बाद एमओएस अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को रिजर्व पुलिस लाइंस लाया गया। बता दें कि सोमवार को सीजेएम चिंताराम ने सुनवाई के बाद मंगलवार से गुरुवार सुबह दस बजे तक के लिए रिमांड की मंजूरी दी थी। 


केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र के बेटे आशीष को शनिवार को 12 घंटे पूछताछ के बाद रात में जेल भेज दिया गया था। पूछताछ की और जरूरत बताते हुए पुलिस की तरफ से आशीष की कस्टडी मांगी गई थी। करीब 20 मिनट की सुनवाई में अभियोजन पक्ष की ओर से कहा गया कि पूछताछ के दौरान आशीष मिश्र ने विवेचना में कोई सहयोग नहीं किया। साथ ही पूछताछ के दौरान कई प्रश्नों को टालने के मकसद से मौन ही रहा। अभियोजन पक्ष ने दलील दी कि विवेचना में घटना के षड्यंत्र के संबंध में उत्तर पाना आवश्यक है। इसके लिए 14 दिन की पुलिस रिमांड मांगी गई। 

वहीं बचाव पक्ष की ओर से कहा गया कि 12 घंटे की पूछताछ के बाद अब कोई पूछताछ शेष नहीं है। विवेचक चाहे तो जेल में अभियुक्त से पूछताछ कर लें, केवल थर्ड डिग्री टार्चर करने के लिए कस्टडी रिमांड मांगी जा रही है, जो गलत है। अभियोजन व बचाव पक्ष की तरफ से दी गईं दलीलें सुनने के बाद सीजेएम ने अभियुक्त आशीष मिश्र को कुछ शर्तों के साथ तीन दिन की पुलिस रिमांड देने का फैसला सुनाया। यह पुलिस रिमांड 12 अक्तूबर सुबह दस बजे से 15 अक्तूबर सुबह दस बजे तक के लिए होगी। इस अवधि में किसी हाल में थर्ड डिग्री का इस्तेमाल न करने की हिदायत दी गई है।  

uttarpradesh

Oct 12 2021, 10:55

mishraonpoliceremand
लखीमपुर खीरी काडः आशीष मिश्र मोनू की तीन दिन की पुलिस रिमांड आज से शुरू, पूछताछ के लिए लाया गया रिजर्व पुलिस लाइंस

लखीमपुर खीरी के तिकुनिया कांड में जेल भेजे गए हत्या के आरोपी आशीष मिश्र मोनू का तीन दिन की पुलिस रिमांड आज से शुरू हो रहा है। जिसके बाद एमओएस अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को रिजर्व पुलिस लाइंस लाया गया। बता दें कि सोमवार को सीजेएम चिंताराम ने सुनवाई के बाद मंगलवार से गुरुवार सुबह दस बजे तक के लिए रिमांड की मंजूरी दी थी। 


केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र के बेटे आशीष को शनिवार को 12 घंटे पूछताछ के बाद रात में जेल भेज दिया गया था। पूछताछ की और जरूरत बताते हुए पुलिस की तरफ से आशीष की कस्टडी मांगी गई थी। करीब 20 मिनट की सुनवाई में अभियोजन पक्ष की ओर से कहा गया कि पूछताछ के दौरान आशीष मिश्र ने विवेचना में कोई सहयोग नहीं किया। साथ ही पूछताछ के दौरान कई प्रश्नों को टालने के मकसद से मौन ही रहा। अभियोजन पक्ष ने दलील दी कि विवेचना में घटना के षड्यंत्र के संबंध में उत्तर पाना आवश्यक है। इसके लिए 14 दिन की पुलिस रिमांड मांगी गई। 

वहीं बचाव पक्ष की ओर से कहा गया कि 12 घंटे की पूछताछ के बाद अब कोई पूछताछ शेष नहीं है। विवेचक चाहे तो जेल में अभियुक्त से पूछताछ कर लें, केवल थर्ड डिग्री टार्चर करने के लिए कस्टडी रिमांड मांगी जा रही है, जो गलत है। अभियोजन व बचाव पक्ष की तरफ से दी गईं दलीलें सुनने के बाद सीजेएम ने अभियुक्त आशीष मिश्र को कुछ शर्तों के साथ तीन दिन की पुलिस रिमांड देने का फैसला सुनाया। यह पुलिस रिमांड 12 अक्तूबर सुबह दस बजे से 15 अक्तूबर सुबह दस बजे तक के लिए होगी। इस अवधि में किसी हाल में थर्ड डिग्री का इस्तेमाल न करने की हिदायत दी गई है। 

uttarpradesh

Oct 11 2021, 17:31

yadavwillstartvijayrathyatra
विजय रथ यात्रा के पहले अखिलेश यादव ने लिया अपने पिता मुलायम सिंह यादव का आशीर्वाद, कल से शुरू हो रही यात्रा

समाजवादी पार्टी (सपा) लगभग पांच साल बाद विजय रथ यात्रा के जरिए भारतीय जनता पार्टी की सरकार के खिलाफ जनसमर्थन हासिल करने का प्रयास करेगी। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की अगुवाई में विजय रथ यात्रा का आगाज औद्योगिक नगरी कानपुर से 12 अक्टूबर को होगा। कल से शुरू होने वाली विजय यात्रा से पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादवव ने मुलायम सिंह का आशीर्वाद लिया।


बता दें कि सपा का विजय रथ विधानसभा चुनाव तक चरणबद्ध तरीके से चलेगा। यह यात्रा प्रदेश की हर विधानसभा में तहसील कस्बे का भ्रमण करेगी। इस दौरान पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव की कई जनसभाएं होंगी जिसमें भाजपा सरकार की विफलताओं और कारगुजारियों का खुलासा किया जाएगा। पार्टी सूत्रा के मुताबिक रथ यात्रा के दौरान किसानों की समस्या के प्रति सरकार के उदासीन रवैए, लखीमपुर, हाथरस और महोबा की आपराधिक घटनाओं का जिक्र होगा वहीं महिला सुरक्षा, बेरोजगारी,महंगाई और भाजपा की वादाखिलाफी पर सपा अध्यक्ष अपने सुर मुखर करेंगे। 


अलग-अलग चरणों में चलने वाली यात्रा के लिए लगभग तीन माह का समय निर्धारित किया गया है। यात्रा के दौरान हर जिले में सपा अध्यक्ष कम से कम एक जनसभा करेंगे और भाजपा सरकार की नाकामियों को गिनाएंगे। साथ ही वह सपा की सरकार आने पर दी जाने वाली सुविधाओं और योजनाओ के बारे में जानकारी देंगे। 


बता दें कि इससे पहले श्री यादव 31 जुलाई 2001 में पहली बार क्रांति रथ लेकर निकले थे। इसके बाद 12 सितंबर 2011 को दूसरी बार समाजवादी क्रांतिरथ यात्रा लेकर निकले जिसके बाद उन्हे यूपी की सत्ता हासिल हुई थी। 

uttarpradesh

Oct 11 2021, 17:31

yadavwillstartvijayrathyatra
विजय रथ यात्रा के पहले अखिलेश यादव ने लिया अपने पिता मुलायम सिंह यादव का आशीर्वाद, कल से शुरू हो रही यात्रा

समाजवादी पार्टी (सपा) लगभग पांच साल बाद विजय रथ यात्रा के जरिए भारतीय जनता पार्टी की सरकार के खिलाफ जनसमर्थन हासिल करने का प्रयास करेगी। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की अगुवाई में विजय रथ यात्रा का आगाज औद्योगिक नगरी कानपुर से 12 अक्टूबर को होगा। कल से शुरू होने वाली विजय यात्रा से पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादवव ने मुलायम सिंह का आशीर्वाद लिया।


बता दें कि सपा का विजय रथ विधानसभा चुनाव तक चरणबद्ध तरीके से चलेगा। यह यात्रा प्रदेश की हर विधानसभा में तहसील कस्बे का भ्रमण करेगी। इस दौरान पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव की कई जनसभाएं होंगी जिसमें भाजपा सरकार की विफलताओं और कारगुजारियों का खुलासा किया जाएगा। पार्टी सूत्रा के मुताबिक रथ यात्रा के दौरान किसानों की समस्या के प्रति सरकार के उदासीन रवैए, लखीमपुर, हाथरस और महोबा की आपराधिक घटनाओं का जिक्र होगा वहीं महिला सुरक्षा, बेरोजगारी,महंगाई और भाजपा की वादाखिलाफी पर सपा अध्यक्ष अपने सुर मुखर करेंगे। 


अलग-अलग चरणों में चलने वाली यात्रा के लिए लगभग तीन माह का समय निर्धारित किया गया है। यात्रा के दौरान हर जिले में सपा अध्यक्ष कम से कम एक जनसभा करेंगे और भाजपा सरकार की नाकामियों को गिनाएंगे। साथ ही वह सपा की सरकार आने पर दी जाने वाली सुविधाओं और योजनाओ के बारे में जानकारी देंगे। 


बता दें कि इससे पहले श्री यादव 31 जुलाई 2001 में पहली बार क्रांति रथ लेकर निकले थे। इसके बाद 12 सितंबर 2011 को दूसरी बार समाजवादी क्रांतिरथ यात्रा लेकर निकले जिसके बाद उन्हे यूपी की सत्ता हासिल हुई थी।