Saharsa

Aug 28 2019, 16:24

मधेपुरा सांसद दिनेशचंद्र यादव ने जर्जर सड़क को लेकर विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों पर कसा तंज साथ ही सड़कों पर काम शुरू करने की बात कही।


मधेपुरा संसदीय क्ष्रेत्र के जर्जर सड़क को लेकर गत दिनों हुए विरोध प्रदर्शन एवं बाजार बंद के ठीक एक दिन बाद मधेपुरा सांसद दिनेशचंद्र यादव ने आनन फानन में एक प्रेस वार्ता कर न सिर्फ कल के आंदोलन व आन्दोलनकारी पर तंज कसा बल्कि एनएच सहित एसएच की कई सड़कों पर काम शुरू होने एवं कई अन्य सड़कों पर निविदा की प्रक्रिया पूरी होने के बाद कुछ तकनीकी खामियों को दूर कर शीघ्र ही कार्यारम्भ की बातें कहीं।पेश है एक रिपोर्ट-

यह दृश्य है सहरसा स्थित परिसदन का। जहां बिहार के पूर्व काबीना मंत्री सह मधेपुरा सांसद दिनेश चंद्र यादव ने एनएच 107 व एसएच की जर्जर हालत को लेकर कल हुए आंदोलन को लेकर जहाँ आन्दोलनकारियों पर तंज कसा वहीं मीडिया के माध्यम से जर्जर सड़कों पर चल रहे कार्यों एवं कहीं कहीं तकनीकी खामियों के चलते कार्यों में हो रहे विलंब की जानकारी देने का प्रयास किया। उन्होंने स्पष्ट कहा कि आंदोलन करना अच्छी बात है कई बार आंदोलन करने से ऊपर तक आवाज पहुंचती है पर आंदोलन का स्वरूप स्वस्थ्य होनी चाहिये। कल हुआ आंदोलन कितना सफल रहा इसे आप लोग भी भली भांति समझते होंगे।

Saharsa

Aug 28 2019, 16:24

मधेपुरा सांसद दिनेशचंद्र यादव ने जर्जर सड़क को लेकर विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों पर कसा तंज साथ ही सड़कों पर काम शुरू करने की बात कही।


मधेपुरा संसदीय क्ष्रेत्र के जर्जर सड़क को लेकर गत दिनों हुए विरोध प्रदर्शन एवं बाजार बंद के ठीक एक दिन बाद मधेपुरा सांसद दिनेशचंद्र यादव ने आनन फानन में एक प्रेस वार्ता कर न सिर्फ कल के आंदोलन व आन्दोलनकारी पर तंज कसा बल्कि एनएच सहित एसएच की कई सड़कों पर काम शुरू होने एवं कई अन्य सड़कों पर निविदा की प्रक्रिया पूरी होने के बाद कुछ तकनीकी खामियों को दूर कर शीघ्र ही कार्यारम्भ की बातें कहीं।पेश है एक रिपोर्ट-

यह दृश्य है सहरसा स्थित परिसदन का। जहां बिहार के पूर्व काबीना मंत्री सह मधेपुरा सांसद दिनेश चंद्र यादव ने एनएच 107 व एसएच की जर्जर हालत को लेकर कल हुए आंदोलन को लेकर जहाँ आन्दोलनकारियों पर तंज कसा वहीं मीडिया के माध्यम से जर्जर सड़कों पर चल रहे कार्यों एवं कहीं कहीं तकनीकी खामियों के चलते कार्यों में हो रहे विलंब की जानकारी देने का प्रयास किया। उन्होंने स्पष्ट कहा कि आंदोलन करना अच्छी बात है कई बार आंदोलन करने से ऊपर तक आवाज पहुंचती है पर आंदोलन का स्वरूप स्वस्थ्य होनी चाहिये। कल हुआ आंदोलन कितना सफल रहा इसे आप लोग भी भली भांति समझते होंगे।