Bihar

May 21 2020, 18:35

कोरोना का विकराल रूप, 28 नए मामले आने के बाद बिहार में 1900 हुई संख्या
  


पटना: बिहार में कोरोना धीरे-धीरे आसमान छू रहा है। राज्य में आज 28 नए कोरोना मरीज मिले हैं। जिससे आंकड़ा बढ़कर 1900 हो गया है। गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग के दुसरे अपडेट में 28 नए करोना मरीजों की पुष्टि हुई है। दूसरी तरफ बिहार में अबतक कोरोना से 10 मौतें हो चुकी हैं। हालांकि ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 571 हो चुकी है।

वहीं अगर देश की बात की जाए तो स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) के आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोनावायरस से अब तक 3435 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि संक्रमितों की संख्या 1,12,359 हो गई है। वहीं, पिछले 24 घंटों में कोरोना के 5609 नए मरीज मिले हैं और 132 लोगों की जान गई है। हालांकि, राहत की बात यह है कि 45300 मरीज कोरोना को मात देने में कामयाब हुए हैं।

SanatanDharm

May 20 2020, 08:53

IF LOCKDOWN HAS REDUCED YOUR HAPPINESS THEN JUST ZOOM IT

Here is the opportunity to open, unlock and reveal your inner potentials.

The Art Of Living presents

ONLINE BREATH AND MEDITATION WORKSHOP         
                         With
   Archana Gandhe, Noopur Vyas, Prerana Kulkarni, Shruti Pralhad,  & Ram Gandhe, 

Let's utilise this lockdown period to 
 Enhance the Quality of Life 
 Learn Techniques for Mind Management 
Learn Meditation 
Learn Practical Life skills
Refresh, Relax, Rejuvenate

Contents:-
 Pranaayamas
 Meditations 
 Yoga
 Wonderful breathing technique SUDARSHAN KRIYA (https://youtu.be/F4S_4jX0ERA)
  Practical Knowledge Points

 Date & Time
 Morning Batch  - 23rd to 26th May (07:00am- 09:30 am)
                              OR
 Evening Batch  - 23rd to 26th May (07:00pm- 09:30 pm)

 Venue:  your own sweet home
 Eligibility:      18 years and above, Indian nationals staying in India.

Registration links

Morning Batch http://bit.ly/

Evening Batch http://bit.ly/

  Benefits: 
 Boost your Immunity. 
 Better Physical Health 
 Better Mental hygiene 
 Sharp Intellect & Memory
 Stress Free Mind  
 Nurture Healthy Relationships at Home & Work
Dealing with Negative Thought Process 
 Dealing with Anxiety. Depression, Fear
 Happier, Healthier and Peaceful 

♨Contact  98807 60884, 98867 27821, 97391 51305, 99636 73887, 98861 40550
     
 
Hurry, limited seats

Healthcare

May 20 2020, 08:43

 @Healthcare बहरहाल इन 7 आसान उपायों का नियमित रुप से इस्तेमाल करके आप अपने कमजोर दांतों और मसूड़ों का आसानी से मजबूत बना सकते हैं. लेकिन अगर आपके दांतो में रोजाना दर्द है तो इसके लिए बाज़ार में कई pain killer मौजूद हैं लेकिन सावधान रहे उनमे से कई आपके शरीर के लिए हानिकारक भी हो सकते है। इसलिए डॉक्टर के सुझाव पर ही कोई भी दवा ले।

 

Shashikant66

May 17 2020, 00:41

ोरोना के मार से जानवर बेहाल#

जानवर हमेशा अपनी वफादारी के लिए मशहूर रहा है और इंसान अपनी बेवफाई के लिए। जानवरो के वफादारी के कई किस्से सुनने को मिलते है पर इंसानो के नही। महाराणा प्रताप का घोड़ा 'चेतक' को तो बच्चा-बच्चा जनता है। अपने देश का राष्ट्रीय चिन्ह 'अशोक स्तंभ' पर भी शेर,घोड़ा और बैल के ही चित्र लगे है न कि इंसानो के।
इंसान कभी इंसान के प्रति वफादार नही रहा तो, जानवरो के प्रति कैसे वफादार होगा। इसका ताजा उदाहरण कोरोना महामारी में देखने को मिला। covid19 के डर से लोग अपने पालतू जानवरों को खुद से दूर कर रहे है।जिस डॉगी को लेकर बिस्तर पर साथ सोते थे और जिसे अपने बच्चो की तरह प्यार करते थे,उसे आज सड़को पर अनाथ की तरह भटकने के लिए छोड़ दे रहे है। इंसान का जो जानवरो के प्रति प्यार था वो आज दिखावा साबित हो रहा है।
इंसान का जानवरो के प्रति ऐसे बर्ताव पर 13 मई 2020 को PETA INDIA ने नाराजगी जताते हुए असम पुलिस महानिदेशक को इस बात से अवगत कराया।
"PETA( People for the Ethical Treatment of Animal) 1980 में स्थापित दुनिया का सबसे बड़ा पशु अधिकार संगठन है जो जानवरो के बचाओ और अधिकारों के लिए काम करती है।"
असम के पुलिस मुख्यालय ने गुवाहाटी के पुलिस आयुक्त और सभी जिला पुलिस अधीक्षकों को एक आदेश जारी कर यह सुनिश्चित करने का आग्रह किया है कि,covid19 के डर से अपने घरेलू जानवरो को छोड़नेवालों के खिलाफ सख्त कदम उठाया जाए।
AWBI( Animal Welfare Board Of India)  ने भी 11/23 और 24 मार्च को जारी किए गए अपने एडवाइजरी में जानवरो पर हो रहे अत्यचार को लेकर दिशा निर्देश दिया है।
विश्व पशु स्वास्थ्य संगठन(The World Organization for Animal Health)  ने साफ कर दिया है कि, covid19 का संक्रमण आदमी से आदमी में फैलता है ना कि जानवर से आदमी में।

Shashikant66

May 13 2020, 01:26

कोरोना बना रहा मानसिक रोगी

चिंता और चिंतन। करीब-करीब एक समान से लगने वाले इन दोनों शब्दों में जमीन और आसमान जैसा अंतर है। चिंता कई बीमारियों का जड़ है और चिंतन सफलता का मंत्र। चिंतन कर के लोग दार्शनिक/लेखक/कवि और मोटिवेशनल गुरु बन गए और चिंता करने वाले मानसिक रोगी। हँसते रहिये,निरोग रहिये। जहां चिंता में घिरे की आपकी चिता जलते देर नही लगती।
लाख कोशिश के बाद भी किसी न किसी रूप में इंसान चिंता का शिकार हो ही जाता है। चिंता इंसान को मानसिक रोगी बना देता है। ICMR और Public Health Foundation Of India की एक रिपोर्ट के अनुसार देश मे करीब 19.73 करोड़ लोग किसी न किसी प्रकार की मानसिक बीमारी के शिकार है। मानसिक रोग अनेक प्रकार के होते है। उन्ही में से एक है- OCD यानी Obsessive Compulsive Disorder (जुनूनी बाध्यकारी विकार)। आप सोच रहे होंगे कि,मैं यहाँ इस बीमारी का जिक्र क्यूँ कर रहा हूं। इसका जवाब आपको आगे मिल जाएगा।
Obsessive Compulsive Disorder एक मनोरोग है जिसमे बिना वजह के विचार और भय/डर होता है। OCD के रोगी समाज से कट कर घर मे कैद हो जाते है। उनका अधिकांश वक्त घर मे रखे पुराने सामानों को व्यवस्थित करने और उनकी सफाई करने में बीतता है। इस बीमारी के लक्षण आमतौर पर धीरे-धीरे शुरू होते है और जीवन भर बदलते रहते है।
बार-बार हाथ धोना/जरूरत से ज्यादा सतर्कता बरतना/खिड़की-दरवाजे को धोना/फर्श को साफ करना/डर/घबड़ाहट/पुरानी चीजो को व्यवस्थित करना आदि लक्षण OCD के मरीजो में पाए गए है। इन सारे लक्षणों का संबंध किसी न किसी रूप में कोरोना ( covid19 ) से है। अर्थात जो कोरोना वायरस से बचने के उपाय ( साबुन से हाथ धोना/घर पर रहना ) है,वही OCD के लक्षण है। मतलब हम इन आदतों को कोरोना वायरस से बचाव का उपाय समझ कर करते रहेंगे और धीरे-धीरे हमारी यह आदत एक दिन बीमारी में तब्दील हो जाएगी।
अगर कोरोना महामारी का कहर लम्बी अवधि तक चलता रहा तो,लाज़मी है कि हमारे क्रिया-कलाप/सूझ-बूझ और कार्यशैली में अंतर दिखने लगे। यही अंतर भविष्य में हमे मानसिक बीमारी तक पहुँचा देगा।
कोरोना वायरस से बचने के लिए डरना जरूरी है। कोरोना वायरस से डरना ही कोरोना वायरस से लड़ना है।
'डरना मना है' नही, बल्कि डरना है ! डरना पड़ेगा ! नही तो, मरना पड़ेगा।
कोरोना वायरस का डरावना और विनाशकारी तांडव शायद हमे यही संदेश दे रहा है।

Healthcare

May 12 2020, 07:15

बादाम व दखिनी मिर्च से बढ़ेगी रोग प्रतिरोधक क्षमता, जीत सकते है किसी भी बिमारी से जंग


कोरोना वायरस से इस समय पूरा विश्व जूझ रहा है। हालांकि इस वायरस से बचने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता का होना बहुत जरुरी है। ऐसे में हम आपको प्रत्येक लेख में यहीं बताने की कोशिश कर रहे है की कौन कौन से खाद्य सामाग्री से हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इसी क्रम में हम आपको आज बादाम और दखिनी मिर्च के बारे में बताएंगे। नाश्ते के साथ बादाम व दखिनी मिर्च रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का कारगर नुस्खा है। इनका सेवन बहुत जरूरी है। साथ ही मौसमी फल, प्रोटीनयुक्त पदार्थ और खजूर का सेवन करें।

नाश्ते में लें बादाम

1. अंकुरित चना, दाल और फल व्यक्ति को भरपूर ऊर्जा देते हैं।
2. हर दिन नाश्ते में पांच बादाम व 5-10 दखिनी मिर्च लेनी चाहिए। ये दोनों चीजें इंसान को दिनभर रोगों से लड़ने की शक्ति देती हैं। बादाम कारगर एंटी ऑक्सीडेंट है, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। दखिनी मिर्च शरीर के लिए एंटी डोज की तरह काम करती है। संक्रमण को रोकती है।

भोजन में क्या लें

1. ब्रेड पर शहद लगाकर लें।

2. खजूर धोकर और आंवले के मुरब्बे का सेवन करें।

3. सोयाबीन, हरी सब्जियां, नीबू, दाल और दही खाएं।

4. डायट पर खर्चा ज्यादा दिखे तो आंवले का मुरब्बा लें।

5. खजूर में आयरन के साथ पौष्टिक होते हैं, जो लाभदायक हैं।

6. खाने में प्रोटीनयुक्त खाद्य पदार्थ लेने चाहिए। पनीर मिले तो जरूर लें।

SanatanDharm

May 05 2020, 09:05

IF LOCKDOWN HAS REDUCED YOUR HAPPINESS THEN JUST ZOOM IT

Here is the opportunity to open, unlock and reveal your inner potentials.

The Art Of Living presents

ONLINE BREATH AND MEDITATION WORKSHOP         
                         With
   Archana Gandhe, Noopur Vyas & Ram Gandhe, 

Let's utilise this lockdown period to 
Enhance the Quality of Life 
Learn Techniques for Mind Management 
 Learn Meditation 
 Learn Practical Life skills
 Refresh, Relax, Rejuvenate

Date & Time
09th to 12th May (07:00am- 09:30 am)

 Venue: your own sweet home
 Eligibility:       18 years and above, Indian nationals staying in India.

Registration link
http://bit.ly/

  Benefits: 
 Boost your Immunity. 
 Better Physical Health 
 Better Mental hygiene 
 Sharp Intellect & Memory
 Stress Free Mind  
 Nurture Healthy Relationships at Home & Work
 Dealing with Negative Thought Process 
 Dealing with Anxiety. Depression, Fear
 Happier, Healthier and Peaceful 
 
 Contents:-
 Pranaayamas
 Meditations 
 Yoga
 Wonderful breathing technique SUDARSHAN KRIYA
  Practical Knowledge Points

Contact 98807 60884, 97391 51305,  98861 40550
        
Hurry, limited seats

Job_info

May 01 2020, 00:06

LNIPE Jobs 2020 : Recruitment of Officers, Assistants & Faculty Posts

Name of Organization: Lakshmibai National Institute of Physical Education (LNIPE)

Total Vacancy : 39

Name of Post :
- Teaching Posts (Group A): Associate Professors in Physical Education, Assistant Professor in Physical Education / Exercise Physiology / Health Education / Medicine / Physiotherapy, University Assistant Librarian

- Non Teaching Posts (Group A): Registrar, Finance Officer, Deputy Registrar, Assistant Registrar

- Non Teaching Posts (Group B & C): Library Information Assistant, Life Guard Cum Instructor, Supervisor, Junior Hindi Translator, Stenographer, Laboratory Assistant, Arts & Crafts Instructor, Security Inspector, Lower Division Clerk, Library Clerk, Pump Attendant, Plumber. 

Educational Qualification :
Bachelor’s Degree in Any Discipline i.e. BA / B.Sc / B.Com / B.E / B.Tech / BCA / BBA Or Higher Academic Degree Holders. 

- For More Details, Please Read Official Notification Carefully Given Below. 

Job Location: Gwalior & Guwahati

Selection Process: Exam / Skill Test / Interview

Age Limit: Upto 62 Yrs

Application Fees:
- For Group A Posts : Rs. 1000/- (Rs. 300/- for SC / ST / PwD) & Fro Group B/C Posts – Rs. 600/- (No Fees for SC / ST / PwD)

Last Date of Online : 30.05.2020

Official Notification and  Online Form Link :
http://bit.ly/3bQbyQ4रोजगार-के-अवसर/

railmitra

Apr 27 2020, 15:45

AIMS Portal: Indian Railway Employee Payslip, AIMS Mobile App,RESS Registration

The Accounting and Finance Department of the Indian Railways has launched the official website of AIMS portal. The AIMS Indian railway portal enables railway workers to view their salaries, benefits, pensions, health insurance and other benefits of the 

  Portal  Mobile App 

http://bit.ly/2xXytu8

SanatanDharm

Apr 23 2020, 06:33

IF LOCKDOWN HAS REDUCED YOUR HAPPINESS THEN JUST ZOOM IT
Here is the opportunity to open, unlock and reveal your inner potentials.

The Art Of Living presents

ONLINE HAPPINESS PROGRAM         
                         With
   Ram Gandhe & Archana Gandhe 

Let's utilise this lockdown period to 
 Enhance the Quality of Life 
 Learn Techniques for Mind Management 
 Learn Meditation 
 Learn Practical Life skills
 Refresh, Relax, Rejuvenate

 Date & Time
 25th to 28th April (07:00am- 09:00 am)

 Venue:  your own sweet home
 Eligibility:      18 years and above, Indian nationals staying in India.

Registration link
http://bit.ly/

  Benefits: 
 Boost your Immunity. 
 Better Physical Health 
 Better Mental hygiene 
 Sharp Intellect & Memory
 Stress Free Mind  
 Nurture Healthy Relationships at Home & Work
 Dealing with Negative Thought Process 
 Dealing with Anxiety. Depression, Fear
 Happier, Healthier and Peaceful 
 
 Contents:-
 Pranaayamas
 Meditations 
 Yoga
 Wonderful breathing technique SUDARSHAN KRIYA
  Practical Knowledge Points

Contact  9886140550, 9880760884
          
Hurry, limited seats

Bihar

May 21 2020, 18:35

कोरोना का विकराल रूप, 28 नए मामले आने के बाद बिहार में 1900 हुई संख्या
  


पटना: बिहार में कोरोना धीरे-धीरे आसमान छू रहा है। राज्य में आज 28 नए कोरोना मरीज मिले हैं। जिससे आंकड़ा बढ़कर 1900 हो गया है। गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग के दुसरे अपडेट में 28 नए करोना मरीजों की पुष्टि हुई है। दूसरी तरफ बिहार में अबतक कोरोना से 10 मौतें हो चुकी हैं। हालांकि ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 571 हो चुकी है।

वहीं अगर देश की बात की जाए तो स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) के आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोनावायरस से अब तक 3435 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि संक्रमितों की संख्या 1,12,359 हो गई है। वहीं, पिछले 24 घंटों में कोरोना के 5609 नए मरीज मिले हैं और 132 लोगों की जान गई है। हालांकि, राहत की बात यह है कि 45300 मरीज कोरोना को मात देने में कामयाब हुए हैं।

SanatanDharm

May 20 2020, 08:53

IF LOCKDOWN HAS REDUCED YOUR HAPPINESS THEN JUST ZOOM IT

Here is the opportunity to open, unlock and reveal your inner potentials.

The Art Of Living presents

ONLINE BREATH AND MEDITATION WORKSHOP         
                         With
   Archana Gandhe, Noopur Vyas, Prerana Kulkarni, Shruti Pralhad,  & Ram Gandhe, 

Let's utilise this lockdown period to 
 Enhance the Quality of Life 
 Learn Techniques for Mind Management 
Learn Meditation 
Learn Practical Life skills
Refresh, Relax, Rejuvenate

Contents:-
 Pranaayamas
 Meditations 
 Yoga
 Wonderful breathing technique SUDARSHAN KRIYA (https://youtu.be/F4S_4jX0ERA)
  Practical Knowledge Points

 Date & Time
 Morning Batch  - 23rd to 26th May (07:00am- 09:30 am)
                              OR
 Evening Batch  - 23rd to 26th May (07:00pm- 09:30 pm)

 Venue:  your own sweet home
 Eligibility:      18 years and above, Indian nationals staying in India.

Registration links

Morning Batch http://bit.ly/

Evening Batch http://bit.ly/

  Benefits: 
 Boost your Immunity. 
 Better Physical Health 
 Better Mental hygiene 
 Sharp Intellect & Memory
 Stress Free Mind  
 Nurture Healthy Relationships at Home & Work
Dealing with Negative Thought Process 
 Dealing with Anxiety. Depression, Fear
 Happier, Healthier and Peaceful 

♨Contact  98807 60884, 98867 27821, 97391 51305, 99636 73887, 98861 40550
     
 
Hurry, limited seats

Healthcare

May 20 2020, 08:43

 @Healthcare बहरहाल इन 7 आसान उपायों का नियमित रुप से इस्तेमाल करके आप अपने कमजोर दांतों और मसूड़ों का आसानी से मजबूत बना सकते हैं. लेकिन अगर आपके दांतो में रोजाना दर्द है तो इसके लिए बाज़ार में कई pain killer मौजूद हैं लेकिन सावधान रहे उनमे से कई आपके शरीर के लिए हानिकारक भी हो सकते है। इसलिए डॉक्टर के सुझाव पर ही कोई भी दवा ले।

 

Shashikant66

May 17 2020, 00:41

ोरोना के मार से जानवर बेहाल#

जानवर हमेशा अपनी वफादारी के लिए मशहूर रहा है और इंसान अपनी बेवफाई के लिए। जानवरो के वफादारी के कई किस्से सुनने को मिलते है पर इंसानो के नही। महाराणा प्रताप का घोड़ा 'चेतक' को तो बच्चा-बच्चा जनता है। अपने देश का राष्ट्रीय चिन्ह 'अशोक स्तंभ' पर भी शेर,घोड़ा और बैल के ही चित्र लगे है न कि इंसानो के।
इंसान कभी इंसान के प्रति वफादार नही रहा तो, जानवरो के प्रति कैसे वफादार होगा। इसका ताजा उदाहरण कोरोना महामारी में देखने को मिला। covid19 के डर से लोग अपने पालतू जानवरों को खुद से दूर कर रहे है।जिस डॉगी को लेकर बिस्तर पर साथ सोते थे और जिसे अपने बच्चो की तरह प्यार करते थे,उसे आज सड़को पर अनाथ की तरह भटकने के लिए छोड़ दे रहे है। इंसान का जो जानवरो के प्रति प्यार था वो आज दिखावा साबित हो रहा है।
इंसान का जानवरो के प्रति ऐसे बर्ताव पर 13 मई 2020 को PETA INDIA ने नाराजगी जताते हुए असम पुलिस महानिदेशक को इस बात से अवगत कराया।
"PETA( People for the Ethical Treatment of Animal) 1980 में स्थापित दुनिया का सबसे बड़ा पशु अधिकार संगठन है जो जानवरो के बचाओ और अधिकारों के लिए काम करती है।"
असम के पुलिस मुख्यालय ने गुवाहाटी के पुलिस आयुक्त और सभी जिला पुलिस अधीक्षकों को एक आदेश जारी कर यह सुनिश्चित करने का आग्रह किया है कि,covid19 के डर से अपने घरेलू जानवरो को छोड़नेवालों के खिलाफ सख्त कदम उठाया जाए।
AWBI( Animal Welfare Board Of India)  ने भी 11/23 और 24 मार्च को जारी किए गए अपने एडवाइजरी में जानवरो पर हो रहे अत्यचार को लेकर दिशा निर्देश दिया है।
विश्व पशु स्वास्थ्य संगठन(The World Organization for Animal Health)  ने साफ कर दिया है कि, covid19 का संक्रमण आदमी से आदमी में फैलता है ना कि जानवर से आदमी में।

Shashikant66

May 13 2020, 01:26

कोरोना बना रहा मानसिक रोगी

चिंता और चिंतन। करीब-करीब एक समान से लगने वाले इन दोनों शब्दों में जमीन और आसमान जैसा अंतर है। चिंता कई बीमारियों का जड़ है और चिंतन सफलता का मंत्र। चिंतन कर के लोग दार्शनिक/लेखक/कवि और मोटिवेशनल गुरु बन गए और चिंता करने वाले मानसिक रोगी। हँसते रहिये,निरोग रहिये। जहां चिंता में घिरे की आपकी चिता जलते देर नही लगती।
लाख कोशिश के बाद भी किसी न किसी रूप में इंसान चिंता का शिकार हो ही जाता है। चिंता इंसान को मानसिक रोगी बना देता है। ICMR और Public Health Foundation Of India की एक रिपोर्ट के अनुसार देश मे करीब 19.73 करोड़ लोग किसी न किसी प्रकार की मानसिक बीमारी के शिकार है। मानसिक रोग अनेक प्रकार के होते है। उन्ही में से एक है- OCD यानी Obsessive Compulsive Disorder (जुनूनी बाध्यकारी विकार)। आप सोच रहे होंगे कि,मैं यहाँ इस बीमारी का जिक्र क्यूँ कर रहा हूं। इसका जवाब आपको आगे मिल जाएगा।
Obsessive Compulsive Disorder एक मनोरोग है जिसमे बिना वजह के विचार और भय/डर होता है। OCD के रोगी समाज से कट कर घर मे कैद हो जाते है। उनका अधिकांश वक्त घर मे रखे पुराने सामानों को व्यवस्थित करने और उनकी सफाई करने में बीतता है। इस बीमारी के लक्षण आमतौर पर धीरे-धीरे शुरू होते है और जीवन भर बदलते रहते है।
बार-बार हाथ धोना/जरूरत से ज्यादा सतर्कता बरतना/खिड़की-दरवाजे को धोना/फर्श को साफ करना/डर/घबड़ाहट/पुरानी चीजो को व्यवस्थित करना आदि लक्षण OCD के मरीजो में पाए गए है। इन सारे लक्षणों का संबंध किसी न किसी रूप में कोरोना ( covid19 ) से है। अर्थात जो कोरोना वायरस से बचने के उपाय ( साबुन से हाथ धोना/घर पर रहना ) है,वही OCD के लक्षण है। मतलब हम इन आदतों को कोरोना वायरस से बचाव का उपाय समझ कर करते रहेंगे और धीरे-धीरे हमारी यह आदत एक दिन बीमारी में तब्दील हो जाएगी।
अगर कोरोना महामारी का कहर लम्बी अवधि तक चलता रहा तो,लाज़मी है कि हमारे क्रिया-कलाप/सूझ-बूझ और कार्यशैली में अंतर दिखने लगे। यही अंतर भविष्य में हमे मानसिक बीमारी तक पहुँचा देगा।
कोरोना वायरस से बचने के लिए डरना जरूरी है। कोरोना वायरस से डरना ही कोरोना वायरस से लड़ना है।
'डरना मना है' नही, बल्कि डरना है ! डरना पड़ेगा ! नही तो, मरना पड़ेगा।
कोरोना वायरस का डरावना और विनाशकारी तांडव शायद हमे यही संदेश दे रहा है।

Healthcare

May 12 2020, 07:15

बादाम व दखिनी मिर्च से बढ़ेगी रोग प्रतिरोधक क्षमता, जीत सकते है किसी भी बिमारी से जंग


कोरोना वायरस से इस समय पूरा विश्व जूझ रहा है। हालांकि इस वायरस से बचने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता का होना बहुत जरुरी है। ऐसे में हम आपको प्रत्येक लेख में यहीं बताने की कोशिश कर रहे है की कौन कौन से खाद्य सामाग्री से हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इसी क्रम में हम आपको आज बादाम और दखिनी मिर्च के बारे में बताएंगे। नाश्ते के साथ बादाम व दखिनी मिर्च रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का कारगर नुस्खा है। इनका सेवन बहुत जरूरी है। साथ ही मौसमी फल, प्रोटीनयुक्त पदार्थ और खजूर का सेवन करें।

नाश्ते में लें बादाम

1. अंकुरित चना, दाल और फल व्यक्ति को भरपूर ऊर्जा देते हैं।
2. हर दिन नाश्ते में पांच बादाम व 5-10 दखिनी मिर्च लेनी चाहिए। ये दोनों चीजें इंसान को दिनभर रोगों से लड़ने की शक्ति देती हैं। बादाम कारगर एंटी ऑक्सीडेंट है, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। दखिनी मिर्च शरीर के लिए एंटी डोज की तरह काम करती है। संक्रमण को रोकती है।

भोजन में क्या लें

1. ब्रेड पर शहद लगाकर लें।

2. खजूर धोकर और आंवले के मुरब्बे का सेवन करें।

3. सोयाबीन, हरी सब्जियां, नीबू, दाल और दही खाएं।

4. डायट पर खर्चा ज्यादा दिखे तो आंवले का मुरब्बा लें।

5. खजूर में आयरन के साथ पौष्टिक होते हैं, जो लाभदायक हैं।

6. खाने में प्रोटीनयुक्त खाद्य पदार्थ लेने चाहिए। पनीर मिले तो जरूर लें।

SanatanDharm

May 05 2020, 09:05

IF LOCKDOWN HAS REDUCED YOUR HAPPINESS THEN JUST ZOOM IT

Here is the opportunity to open, unlock and reveal your inner potentials.

The Art Of Living presents

ONLINE BREATH AND MEDITATION WORKSHOP         
                         With
   Archana Gandhe, Noopur Vyas & Ram Gandhe, 

Let's utilise this lockdown period to 
Enhance the Quality of Life 
Learn Techniques for Mind Management 
 Learn Meditation 
 Learn Practical Life skills
 Refresh, Relax, Rejuvenate

Date & Time
09th to 12th May (07:00am- 09:30 am)

 Venue: your own sweet home
 Eligibility:       18 years and above, Indian nationals staying in India.

Registration link
http://bit.ly/

  Benefits: 
 Boost your Immunity. 
 Better Physical Health 
 Better Mental hygiene 
 Sharp Intellect & Memory
 Stress Free Mind  
 Nurture Healthy Relationships at Home & Work
 Dealing with Negative Thought Process 
 Dealing with Anxiety. Depression, Fear
 Happier, Healthier and Peaceful 
 
 Contents:-
 Pranaayamas
 Meditations 
 Yoga
 Wonderful breathing technique SUDARSHAN KRIYA
  Practical Knowledge Points

Contact 98807 60884, 97391 51305,  98861 40550
        
Hurry, limited seats

Job_info

May 01 2020, 00:06

LNIPE Jobs 2020 : Recruitment of Officers, Assistants & Faculty Posts

Name of Organization: Lakshmibai National Institute of Physical Education (LNIPE)

Total Vacancy : 39

Name of Post :
- Teaching Posts (Group A): Associate Professors in Physical Education, Assistant Professor in Physical Education / Exercise Physiology / Health Education / Medicine / Physiotherapy, University Assistant Librarian

- Non Teaching Posts (Group A): Registrar, Finance Officer, Deputy Registrar, Assistant Registrar

- Non Teaching Posts (Group B & C): Library Information Assistant, Life Guard Cum Instructor, Supervisor, Junior Hindi Translator, Stenographer, Laboratory Assistant, Arts & Crafts Instructor, Security Inspector, Lower Division Clerk, Library Clerk, Pump Attendant, Plumber. 

Educational Qualification :
Bachelor’s Degree in Any Discipline i.e. BA / B.Sc / B.Com / B.E / B.Tech / BCA / BBA Or Higher Academic Degree Holders. 

- For More Details, Please Read Official Notification Carefully Given Below. 

Job Location: Gwalior & Guwahati

Selection Process: Exam / Skill Test / Interview

Age Limit: Upto 62 Yrs

Application Fees:
- For Group A Posts : Rs. 1000/- (Rs. 300/- for SC / ST / PwD) & Fro Group B/C Posts – Rs. 600/- (No Fees for SC / ST / PwD)

Last Date of Online : 30.05.2020

Official Notification and  Online Form Link :
http://bit.ly/3bQbyQ4रोजगार-के-अवसर/

railmitra

Apr 27 2020, 15:45

AIMS Portal: Indian Railway Employee Payslip, AIMS Mobile App,RESS Registration

The Accounting and Finance Department of the Indian Railways has launched the official website of AIMS portal. The AIMS Indian railway portal enables railway workers to view their salaries, benefits, pensions, health insurance and other benefits of the 

  Portal  Mobile App 

http://bit.ly/2xXytu8

SanatanDharm

Apr 23 2020, 06:33

IF LOCKDOWN HAS REDUCED YOUR HAPPINESS THEN JUST ZOOM IT
Here is the opportunity to open, unlock and reveal your inner potentials.

The Art Of Living presents

ONLINE HAPPINESS PROGRAM         
                         With
   Ram Gandhe & Archana Gandhe 

Let's utilise this lockdown period to 
 Enhance the Quality of Life 
 Learn Techniques for Mind Management 
 Learn Meditation 
 Learn Practical Life skills
 Refresh, Relax, Rejuvenate

 Date & Time
 25th to 28th April (07:00am- 09:00 am)

 Venue:  your own sweet home
 Eligibility:      18 years and above, Indian nationals staying in India.

Registration link
http://bit.ly/

  Benefits: 
 Boost your Immunity. 
 Better Physical Health 
 Better Mental hygiene 
 Sharp Intellect & Memory
 Stress Free Mind  
 Nurture Healthy Relationships at Home & Work
 Dealing with Negative Thought Process 
 Dealing with Anxiety. Depression, Fear
 Happier, Healthier and Peaceful 
 
 Contents:-
 Pranaayamas
 Meditations 
 Yoga
 Wonderful breathing technique SUDARSHAN KRIYA
  Practical Knowledge Points

Contact  9886140550, 9880760884
          
Hurry, limited seats