writerajnabi89

Sep 19 2020, 15:14

# खतरे में चाइना !....

कोरोना वायरस महामारी की मार से जूझ रही पूरी दुनिया इस जानलेवा वायरस को मात देने के लिए वैक्सीन (Corona vaccine) बनाने में जुटी है। इस बीच कोरोना के बाद अब चीन में एक और नया बीमारी बैक्टीरियल इंफेक्शन (Bacterial Infection) आ गया है। उत्तर-पश्चिम चीन (northwest China) में कई हजार लोग इस बीमारी के चपेट में आ गए हैं। CNN के मुताबिक, चीन में अधिकारियों ने बताया कि उत्तर-पूर्व चीन में कई हजार लोग पिछले साल एक Biopharmaceutical Company में रिसाव के कारण हुई बैक्टीरियल डिजीज के लिए पॉजिटिव पाए गए हैं।
Gansu province की राजधानी Lanzhou के स्वास्थ्य आयोग ने घोषणा की कि 3,245 लोगों को Brucellosis बीमारी है। CNN ने बताया कि यह बीमारी अक्सर पशुओं के संपर्क में आने के कारण होती है। यह बीमारी पुरुषों को बांझ कर सकते हैं।
अब इसमें अन्य 1,1401 लोगों को पॉजिटिव पाया गया है। हालांकि अब तक इससे किसी की मौत की खबर सामने नहीं आई है। अधिकारियों ने शहर की 29 लाख आबादी में से 21,847 लोगों का टेस्ट किया है। इस बीमारी को Malta fever या Mediterranean fever के रूप में भी जाना जाता है, जिसमें मरीज को सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द, बुखार और थकान सहित कई लक्षण दिखाई देते हैं।


            Writer अजनबी की कलम से.... 

sumanRaj60

Sep 15 2020, 18:58

चीन का दाबा november के शुरुआती हप्ते से आम लोगों को मिलने लगेगा कोरोना vaccience
कोरोना वायरस वैक्सीन (Coronavirus vaccines) को लेकर चीन (China) ने दावा किया है कि उनके देश में चल रहे वैक्सीन की ट्रायल लास्ट स्टेज में है और नवंबर से वह आम लोगों को मिलने लगेगी। चाइना सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल ने बयान जारी कर ये सूचना दी है। चाइना सेंटर फॉर डिजीज (CDC) कंट्रोल ने कहा है कि हम कोविड-19 वैक्सीन के सफल होने के बेहद नजदीक है और नवंबर के शुरुआती हफ्तों में ही आम लोगों को कोरोना वैक्सीन उपलब्ध करा दी जाएगी।

चीन का दावा- तीन कोरोना वैक्सीन ट्रायल लास्ट स्टेज में

चीन के मुताबिक उनके यहां चार कोरोना वायरस वैक्सीन की ट्रायल चल रही है।जिसमें से तीन वैक्सीन ऐसी हैं जो कि ट्रायल के लास्ट स्टेज में है। सीडीसी के चीफ जैव सुरक्षा विशेषज्ञ गुईझेन वू ने सोमवार (14 सितंबर) को टीवी इंटरव्यू में कहा, तीन कोविड-19 वैक्सीन ट्रायल सुचारू रूप से आगे बढ़ रहे हैं और टीका नवंबर या दिसंबर में आम जनता के लिए तैयार हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि इनके टेस्टिंग के नतीजे भी प्रभावशाली हैं।

सीडीसी चीफ के मुताबिक इन तीनों कोरोना वैक्सीन को फेज-3 ह्यूमन ट्रायल से पहले जुलाई में कई एसेंशियल वर्कर्स पर इस्तेमाल किया गया है, जो कि सही दिशा में है।

CDC चीफ ने कहा- मैंने खुद वैक्सीन का टीका लगवाया

सीडीसी चीफ गुईझेन वू ने कहा, मैंने खुद कोरोना वैक्सीन का टीका लगवाया है और मुझे पिछले कुछ महीनों में कोई भी असामान्य लक्षण महसूस नहीं हुए हैं और ना ही कोई परेशानी हुई है। उन्होंने ने बताया कि ये वैक्सीन चाइना नेशनल फार्मास्यूटिकल ग्रुप (Sinopharm सिनफार्मा ) और सिनोवैक बायोटेक ने मिलकर तैयार की है। बाकी के वैक्सीन भी यही दो कंपनियां मिलकर बना रही हैं।

सिनफार्मा ने जुलाई 2020 में कहा था कि कोविड-19 वैक्सीन आखिरी ट्रायल के बाद इस साल के अंत तक सार्वजनिक उपयोग के लिए तैयार हो सकता है।

कोरोना वायरस से दुनियाभर में 9.28 लाख लोगों की मौत, जानें ताजा अपडेट

दुनियाभर में कोरोना वायरस से 9.28 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं कोरोना के 2.91 करोड़ मामले सामने आ चुके हैं। ग्लोबल वैक्सीन निर्माता वायरस के खिलाफ एक प्रभावी वैक्सीन विकसित करने की तैयारियों में जुटे हैं। चीन से पहले रूस ने भी दावा किया है कि उन्होंने कोरोना वैक्सीन बना ली है और उसका ट्रायल भी शुरू कर दिया है।

कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित अमेरिका हुआ है उसके भारत, ब्राजील और रूस में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। अमेरिका में कोविड-19 के 6,708,458 मामले सामने आए हैं वहीं 198,520 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में कोविड-19 के 49.30 लाख मामले सामने आए हैं और 80,776 लोगों की मौत हुई ।

  • Loud_Humor
     @sumanRaj60 अगर आप स्ट्रीटबज्ज पर न्यूज़ पब्लिश करते हैं तो आप आमदनी भी कर सकते हैं| अधिक जानकारी के लिए 8105099344 पर कॉल करें 
     
writerajnabi89

Sep 14 2020, 21:14

# झुगियों पर राजनीति.....

ये राजनीति है जनाब। ये किसी व्यक्ति विशेष को लेकर नहीं होती।इसमें तो बस मौके कि तलाश रहती है। फिर Corona हो चाहे कुछ। डर किसी से नहीं रहता।बस मौका छूटना नहीं चाहिए। बीजेपी ने आरोप लगाया है कि केजरीवाल सरकार का दोहरा चेहरा अब सबके सामने आ चुका है. बीजेपी ने कहा है कि एक तरफ केजरीवाल सरकार झुग्गी वालों के लिए घड़ियाली आंसू बहा रही है और वहीं दूसरी ओर केजरीवाल सरकार ने ही यमुना खादर में 200 झुग्गियों को बिना नोटिस ही तोड़ दिया, जिससे हजारों लोग बेघर हो गए हैं. बीजेपी नेता कुलदीप चहल ने कहा है कि  केजरीवाल सरकार और उनके नेता बड़ी-बड़ी बातें कर रहे हैं कि वह झुग्गियों को उजड़ने नहीं देंगे. केजरीवाल सरकार और उनके नेता तब कहां थे जब यमुना खादर की झुग्गियों को तोड़ा जा रहा था. उन्होंने कहा कि केजरीवाल के इस धोखे को झुग्गीवासी याद रखेंगे और वह इसका जवाब जरूर देंगे.
'केजरीवाल ने झुग्गी वालों को सिर्फ अपने वोट बैंक के तौर पर इस्तेमाल किया. इतना ही नहीं केजरीवाल सरकार ही झुग्गी वालों का घर उजाड़ने में लगी हुई है. 50 हजार फ्लैट झुग्गी वालों के लिए बने हुए हैं वह भी आज तक उन्हें अलॉट नहीं किए गए. इसके साथ ही प्रधानमंत्री आवास योजना को भी दिल्ली में लागू नहीं होने दिया. क्योंकि, अगर झुग्गी वालों को उनका घर मिल जाएगा तो केजरीवाल की राजनीति खत्म हो जाएगी. भारतीय जनता पार्टी झुग्गी वासियों के साथ खड़ी है, उनके साथ किसी भी प्रकार का अन्याय नहीं होने देगी और उनके लिए आवाज बुंलद करेगी.


          Writer अजनबी की कलम से......

Anand35

Sep 11 2020, 18:35

तानाशाह का जारी किया फरमान कोरोना संक्रमित व्यक्ति को गोली मारने का आदेश
दुनियाभर के कई देशों में कोरोनावायरस (Coronavirus) का संक्रमण लगातार फैल रहा है. कई देश संक्रमण को खत्म करने के लिए वैक्सीन बनाने में जुटा हैं. वहीं उत्तर कोरिया ने वायरस को फैलने से रोकने के लिए संक्रमित व्यक्ति को गोली मारने के आदेश जारी कर दिए हैं. ऑनलाइन मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ये दावा अमेरिकी सेना के कमांडर ने किया है.
कमांडर का कहना है कि उत्तर कोरिया के अधिकारियों ने कोरोनावायरस संक्रमित शख्स के चीन से देश में अंदर आने से रोकने के लिए शूट-टू-किल (देखते ही गोली मारने के आदेश) जारी किए हैं.
बता दें कि उत्तर कोरिया ने अभी तक देश में एक भी कोरोना केस की पुष्टि नहीं की है.
US फोर्स कोरिया के कमांडर रॉबर्ट अब्राहम्स ने गुरुवार को 'संक्रमित व्यक्ति को गोली मारने' वाली बात खुलासा किया.
चीनी सीमा से सटे इलाके को बनाया बफर जोन
रॉबर्ट अब्राहम्स ने वॉशिंगटन में सेंटर फॉर स्ट्रैटेजिक एंड इंटरनेशनल स्टडीज (CSIS) की ओर से आयोजित एक ऑनलाइन कॉन्फ्रेंस में भाग लिया. इस दौरान उन्होंने कहा, 'नॉर्थ कोरिया ने चीनी सीमा से सटे एक या दो किलोमीटर के इलाके को नया बफर जोन बनाया है. उन्होंने वहां पर नॉर्थ कोरिया की स्पेशल ऑपरेशंस फोर्स (SOF) की तैनाती की है. कोरोना संक्रमित व्यक्ति को देखते ही गोली मारने के आदेश दिए गए हैं.'
दुनियाभर में अब तक कोरोना आंकड़ा
वर्ल्डोमीटर के मुताबिक दुनियाभर में अबतक 2 करोड़ 83 लाख 15 हजार 289 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. इसमें से 9 लाख 13 हजार 227 लोगों ने अपनी जान गंवा दी है तो वहीं 2 करोड़ 32 लाख से ज्यादा मरीज ठीक भी हुए हैं. पूरी दुनिया में 70 लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं यानी कि फिलहाल 70 लाख 74 हजार से ज्यादा लोगों का अस्पताल में इलाज चल रहा है.

writerajnabi89

Sep 11 2020, 14:04

# Corona का कहर जारी है.....

बिहार में एक दिन में कोरोना के आए 1710 मामले, पटना में आए 211 नए मरीज़... बिहार में कोरोना पॉज़िटिव मरीज़ों का कुल आँकड़ा पहुँचा "155445... तो आप भी सतर्क रहें। मामला बढ़ते जा रहा है। लापरवाही ना बरते। मास्क जरूर लगाएं। सामाजिक दूरी जरूर बनाए रखें।

            Writer अजनबी की कलम से....*

Apnabharat123

Sep 10 2020, 15:58

केंद्र सरकार ने परीक्षा के लिए जारी किए संशोधित दिशानिर्देश, जानिए डिटेल
देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी का कहर लगातार जारी है. हर गुजरते दिन के साथ कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है. कोरोनावायरस के बीच आयोजित हो रही परीक्षाओं को लेकर छात्रों और अभिभावकों के मन में काफी डर देखने को मिल रहा है. कोरोनावायरस के बीच 1 सितंबर से  6 सितंबर तक जेईई मेन की परीक्षा चलीं. वहीं अब नीट की परीक्षा 13 सितंबर को होगी. इसके अलावा यूनिवर्सिटी की अंतिम ईयर की परीक्षाएं 30 सितंबर तक पूरी की जानी हैं. कोरोनावायरस के बीच हो रही परीक्षाओं के मद्देनजर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कुछ समय पहले परीक्षा के लिए गाइडलाइन्स जारी की थीं, ताकी परीक्षा के दौरान छात्र, फैकल्टी और सभी संबंधित लोग कोरोनावायर से सुरक्षित रह सकें. अब एक बार फिर केंद्र सरकार ने परीक्षा के लिए संशोधित एसओपी यानी दिशानिर्देश जारी किए हैं, जिनका परीक्षा के दौरान पालन करना अनिवार्य होगा. 
 छात्रों को करना होगा इन नियमों का पालन
- 6 फीट की दूरी और मास्क का प्रयोग जरूरी होगा. 
- सैनिटाइजर और साबुन का इस्तेमाल जरूर करना होगा.
 कंटेनमेंट जोन में रहने वाले कर्मी परीक्षा लेने की प्रक्रिया में शामिल नहीं हो सकेंगे.

- कंटेनमेंट जोन वाले छात्रों के लिए बाद में परीक्षा आयोजित होगी.

- ज्यादा भीड़ ना हो इसे देखते हुए एक-एक कर समयबद्ध तरीके से छात्रों की एंट्री होगी.

- कंटेनमेंट जोन में रहने वाले कर्मी परीक्षा लेने की प्रक्रिया में शामिल नहीं हो सकेंगे.

- कंटेनमेंट जोन वाले छात्रों के लिए बाद में परीक्षा आयोजित होगी.

- ज्यादा भीड़ ना हो इसे देखते हुए एक-एक कर समयबद्ध तरीके से छात्रों की एंट्री होगी.

- सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए परीक्षा केंद्र में पर्याप्त कमरों की व्यवस्था करनी होगी.

- कोरोना के मद्देनजर बचाव के लिए फेस कवर, फेस मास्क और सैनिटाइजर की पर्याप्त व्यवस्था परीक्षा केंद्र के अंदर होनी चाहिए.

- परीक्षा लेने और परीक्षा देने वालों को परीक्षा से पहले अपने स्वास्थ्य को लेकर सेल्फ डिक्लेरेशन देना होगा.

- परीक्षा केंद्र में आते समय छात्र अपने साथ क्या-क्या लेकर आ रहे हैं, इसकी जानकारी उन्हें पहले देनी होगी, जैसे एडमिट कार्ड, आईडी, फेस मास्क, पानी का बोतल और सैनिटाइजर आदि.

- परीक्षा केंद्र में अनुशासन बरकरार रहे, इसके लिए परीक्षा केंद्र में पर्याप्त संख्या में कर्मियों की मौजूदगी होनी चाहिए.

- कागजात की जांच और रजिस्ट्रेशन आदि के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के साथ पर्याप्त व्यवस्था होनी चाहिए.

- इनविजिलेटर और सुपरवाइजर को कोरोना से संबंधित कोड ऑफ कंडक्ट की जानकारी अपने कर्मियों को पहले देनी होगी.

- परीक्षा केंद्र के बाहर और अंदर कोरोना से सम्बंधित एहतियात की सभी जानकारियां पोस्टर, होर्डिंग आदि के माध्यम से देनी होगी.

- थर्मल स्क्रीनिंग या परीक्षा के दौरान अगर कि

Anand35

Sep 10 2020, 13:56

Indian rap artist Raftaar tests COVID positive, says he's 'asymptomatic & self-isolated'
Popular rap artist Raftaar has tested positive for coronavirus and is currently under self-isolation at his home in Mumbai. The rapper confirmed the news on Wednesday through a video update on his Instagram stories where he can be seen speaking to his fans and followers with a mask on his face and revealing his diagnosis. He claimed that the confirming test may have a technical defect as he feels fit and fine.

writerajnabi89

Sep 09 2020, 22:03

# मेला पर Corona Ka असर....

Corona के खतरे को देखते हुए बिहार के राजगीर में लगने वाला मलमास मेला स्थगित करने का निर्णय लिया गया है। ये मेला 18 सितंबर से शुरू होने वाला था। वहीं corona के कारण गया में लगने वाला पितृपक्ष मेला भी नहीं लगेगा। बिहार सरकार की ओर से निर्देश जारी कर दिया गया है।

           Writer अजनबी की कलम से....

Anand35

Sep 09 2020, 08:41

Delhi Metro resumes services on Blue and Pink lines; here are timings, routes, fare
 The Delhi Metro Rail Corporation (DMRC) has resumed services for the Delhi Metro on its Blue Line and Pink Line today (i.e. Wednesday, September 9), three days after resuming services on the Yellow Line. The Delhi Metro on the Blue Line and the Pink Line will run from 7 AM to 11 AM in the morning and then again from 4 PM to 8 PM in the evening.
The services on these Delhi Metro lines had remained suspended for nearly six months due to the coronavirus disease (COVID-19) pandemic outbreak and the subsequent COVID-19-necessitated lockdown imposed by Prime Minister Narendra Modi to curb the spread of the deadly coronavirus in India.
It is to be noted that metro services in Delhi-NCR have been closed since March 22.
On Monday (September 7), the Delhi Metro had resumed services on its Yellow Line, with many measures for the safety of passengers and curtailed operations.
Delhi Metro decided to resume its services after the Union Home Ministry gave permission for its operations in its Unlock 4 guidelines.
The Delhi Metro Rail Corporation (DMRC) has announced that it will resume its services in three stages.
Under stage one, Yellow Line or Line 2 and Rapid Metro were made operational on Monday.

Anand35

Sep 07 2020, 17:27

Kerala Official Allegedly Rapes Woman Who Needed COVID-19 Papers, Arrested
A health official in Kerala's Thiruvananthapuram has been arrested for allegedly raping a 44-year-old woman, who was seeking a coronavirus negative certificate from him.
The complainant has alleged that the official, who is a junior health inspector, had allegedly asked her to come to his house to get the certificate, police said. On reaching his house, the woman said she was allegedly wrongfully confined, tied-up, physically assaulted and raped.
"The official allegedly physically assaulted her, tied her hands and mouth for some time in between, and raped her. The medical examination has been done. Further investigation is underway. A case has been registered under section 376 of the IPC
The woman had returned to her home recently and was asked to undergo quarantine by an official.
She underwent an antigen test which was negative and was told by the man to collect the test certificate from his house where she was allegedly raped, police said.
Kerala Health Minister KK Shailaja has ordered for the suspension of the official, identified as Pradeep, from service, pending enquiry.
The Women's commission has also registered a case against the official.

writerajnabi89

Sep 19 2020, 15:14

# खतरे में चाइना !....

कोरोना वायरस महामारी की मार से जूझ रही पूरी दुनिया इस जानलेवा वायरस को मात देने के लिए वैक्सीन (Corona vaccine) बनाने में जुटी है। इस बीच कोरोना के बाद अब चीन में एक और नया बीमारी बैक्टीरियल इंफेक्शन (Bacterial Infection) आ गया है। उत्तर-पश्चिम चीन (northwest China) में कई हजार लोग इस बीमारी के चपेट में आ गए हैं। CNN के मुताबिक, चीन में अधिकारियों ने बताया कि उत्तर-पूर्व चीन में कई हजार लोग पिछले साल एक Biopharmaceutical Company में रिसाव के कारण हुई बैक्टीरियल डिजीज के लिए पॉजिटिव पाए गए हैं।
Gansu province की राजधानी Lanzhou के स्वास्थ्य आयोग ने घोषणा की कि 3,245 लोगों को Brucellosis बीमारी है। CNN ने बताया कि यह बीमारी अक्सर पशुओं के संपर्क में आने के कारण होती है। यह बीमारी पुरुषों को बांझ कर सकते हैं।
अब इसमें अन्य 1,1401 लोगों को पॉजिटिव पाया गया है। हालांकि अब तक इससे किसी की मौत की खबर सामने नहीं आई है। अधिकारियों ने शहर की 29 लाख आबादी में से 21,847 लोगों का टेस्ट किया है। इस बीमारी को Malta fever या Mediterranean fever के रूप में भी जाना जाता है, जिसमें मरीज को सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द, बुखार और थकान सहित कई लक्षण दिखाई देते हैं।


            Writer अजनबी की कलम से.... 

sumanRaj60

Sep 15 2020, 18:58

चीन का दाबा november के शुरुआती हप्ते से आम लोगों को मिलने लगेगा कोरोना vaccience
कोरोना वायरस वैक्सीन (Coronavirus vaccines) को लेकर चीन (China) ने दावा किया है कि उनके देश में चल रहे वैक्सीन की ट्रायल लास्ट स्टेज में है और नवंबर से वह आम लोगों को मिलने लगेगी। चाइना सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल ने बयान जारी कर ये सूचना दी है। चाइना सेंटर फॉर डिजीज (CDC) कंट्रोल ने कहा है कि हम कोविड-19 वैक्सीन के सफल होने के बेहद नजदीक है और नवंबर के शुरुआती हफ्तों में ही आम लोगों को कोरोना वैक्सीन उपलब्ध करा दी जाएगी।

चीन का दावा- तीन कोरोना वैक्सीन ट्रायल लास्ट स्टेज में

चीन के मुताबिक उनके यहां चार कोरोना वायरस वैक्सीन की ट्रायल चल रही है।जिसमें से तीन वैक्सीन ऐसी हैं जो कि ट्रायल के लास्ट स्टेज में है। सीडीसी के चीफ जैव सुरक्षा विशेषज्ञ गुईझेन वू ने सोमवार (14 सितंबर) को टीवी इंटरव्यू में कहा, तीन कोविड-19 वैक्सीन ट्रायल सुचारू रूप से आगे बढ़ रहे हैं और टीका नवंबर या दिसंबर में आम जनता के लिए तैयार हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि इनके टेस्टिंग के नतीजे भी प्रभावशाली हैं।

सीडीसी चीफ के मुताबिक इन तीनों कोरोना वैक्सीन को फेज-3 ह्यूमन ट्रायल से पहले जुलाई में कई एसेंशियल वर्कर्स पर इस्तेमाल किया गया है, जो कि सही दिशा में है।

CDC चीफ ने कहा- मैंने खुद वैक्सीन का टीका लगवाया

सीडीसी चीफ गुईझेन वू ने कहा, मैंने खुद कोरोना वैक्सीन का टीका लगवाया है और मुझे पिछले कुछ महीनों में कोई भी असामान्य लक्षण महसूस नहीं हुए हैं और ना ही कोई परेशानी हुई है। उन्होंने ने बताया कि ये वैक्सीन चाइना नेशनल फार्मास्यूटिकल ग्रुप (Sinopharm सिनफार्मा ) और सिनोवैक बायोटेक ने मिलकर तैयार की है। बाकी के वैक्सीन भी यही दो कंपनियां मिलकर बना रही हैं।

सिनफार्मा ने जुलाई 2020 में कहा था कि कोविड-19 वैक्सीन आखिरी ट्रायल के बाद इस साल के अंत तक सार्वजनिक उपयोग के लिए तैयार हो सकता है।

कोरोना वायरस से दुनियाभर में 9.28 लाख लोगों की मौत, जानें ताजा अपडेट

दुनियाभर में कोरोना वायरस से 9.28 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं कोरोना के 2.91 करोड़ मामले सामने आ चुके हैं। ग्लोबल वैक्सीन निर्माता वायरस के खिलाफ एक प्रभावी वैक्सीन विकसित करने की तैयारियों में जुटे हैं। चीन से पहले रूस ने भी दावा किया है कि उन्होंने कोरोना वैक्सीन बना ली है और उसका ट्रायल भी शुरू कर दिया है।

कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित अमेरिका हुआ है उसके भारत, ब्राजील और रूस में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। अमेरिका में कोविड-19 के 6,708,458 मामले सामने आए हैं वहीं 198,520 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में कोविड-19 के 49.30 लाख मामले सामने आए हैं और 80,776 लोगों की मौत हुई ।

  • Loud_Humor
     @sumanRaj60 अगर आप स्ट्रीटबज्ज पर न्यूज़ पब्लिश करते हैं तो आप आमदनी भी कर सकते हैं| अधिक जानकारी के लिए 8105099344 पर कॉल करें 
     
writerajnabi89

Sep 14 2020, 21:14

# झुगियों पर राजनीति.....

ये राजनीति है जनाब। ये किसी व्यक्ति विशेष को लेकर नहीं होती।इसमें तो बस मौके कि तलाश रहती है। फिर Corona हो चाहे कुछ। डर किसी से नहीं रहता।बस मौका छूटना नहीं चाहिए। बीजेपी ने आरोप लगाया है कि केजरीवाल सरकार का दोहरा चेहरा अब सबके सामने आ चुका है. बीजेपी ने कहा है कि एक तरफ केजरीवाल सरकार झुग्गी वालों के लिए घड़ियाली आंसू बहा रही है और वहीं दूसरी ओर केजरीवाल सरकार ने ही यमुना खादर में 200 झुग्गियों को बिना नोटिस ही तोड़ दिया, जिससे हजारों लोग बेघर हो गए हैं. बीजेपी नेता कुलदीप चहल ने कहा है कि  केजरीवाल सरकार और उनके नेता बड़ी-बड़ी बातें कर रहे हैं कि वह झुग्गियों को उजड़ने नहीं देंगे. केजरीवाल सरकार और उनके नेता तब कहां थे जब यमुना खादर की झुग्गियों को तोड़ा जा रहा था. उन्होंने कहा कि केजरीवाल के इस धोखे को झुग्गीवासी याद रखेंगे और वह इसका जवाब जरूर देंगे.
'केजरीवाल ने झुग्गी वालों को सिर्फ अपने वोट बैंक के तौर पर इस्तेमाल किया. इतना ही नहीं केजरीवाल सरकार ही झुग्गी वालों का घर उजाड़ने में लगी हुई है. 50 हजार फ्लैट झुग्गी वालों के लिए बने हुए हैं वह भी आज तक उन्हें अलॉट नहीं किए गए. इसके साथ ही प्रधानमंत्री आवास योजना को भी दिल्ली में लागू नहीं होने दिया. क्योंकि, अगर झुग्गी वालों को उनका घर मिल जाएगा तो केजरीवाल की राजनीति खत्म हो जाएगी. भारतीय जनता पार्टी झुग्गी वासियों के साथ खड़ी है, उनके साथ किसी भी प्रकार का अन्याय नहीं होने देगी और उनके लिए आवाज बुंलद करेगी.


          Writer अजनबी की कलम से......

Anand35

Sep 11 2020, 18:35

तानाशाह का जारी किया फरमान कोरोना संक्रमित व्यक्ति को गोली मारने का आदेश
दुनियाभर के कई देशों में कोरोनावायरस (Coronavirus) का संक्रमण लगातार फैल रहा है. कई देश संक्रमण को खत्म करने के लिए वैक्सीन बनाने में जुटा हैं. वहीं उत्तर कोरिया ने वायरस को फैलने से रोकने के लिए संक्रमित व्यक्ति को गोली मारने के आदेश जारी कर दिए हैं. ऑनलाइन मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ये दावा अमेरिकी सेना के कमांडर ने किया है.
कमांडर का कहना है कि उत्तर कोरिया के अधिकारियों ने कोरोनावायरस संक्रमित शख्स के चीन से देश में अंदर आने से रोकने के लिए शूट-टू-किल (देखते ही गोली मारने के आदेश) जारी किए हैं.
बता दें कि उत्तर कोरिया ने अभी तक देश में एक भी कोरोना केस की पुष्टि नहीं की है.
US फोर्स कोरिया के कमांडर रॉबर्ट अब्राहम्स ने गुरुवार को 'संक्रमित व्यक्ति को गोली मारने' वाली बात खुलासा किया.
चीनी सीमा से सटे इलाके को बनाया बफर जोन
रॉबर्ट अब्राहम्स ने वॉशिंगटन में सेंटर फॉर स्ट्रैटेजिक एंड इंटरनेशनल स्टडीज (CSIS) की ओर से आयोजित एक ऑनलाइन कॉन्फ्रेंस में भाग लिया. इस दौरान उन्होंने कहा, 'नॉर्थ कोरिया ने चीनी सीमा से सटे एक या दो किलोमीटर के इलाके को नया बफर जोन बनाया है. उन्होंने वहां पर नॉर्थ कोरिया की स्पेशल ऑपरेशंस फोर्स (SOF) की तैनाती की है. कोरोना संक्रमित व्यक्ति को देखते ही गोली मारने के आदेश दिए गए हैं.'
दुनियाभर में अब तक कोरोना आंकड़ा
वर्ल्डोमीटर के मुताबिक दुनियाभर में अबतक 2 करोड़ 83 लाख 15 हजार 289 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. इसमें से 9 लाख 13 हजार 227 लोगों ने अपनी जान गंवा दी है तो वहीं 2 करोड़ 32 लाख से ज्यादा मरीज ठीक भी हुए हैं. पूरी दुनिया में 70 लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं यानी कि फिलहाल 70 लाख 74 हजार से ज्यादा लोगों का अस्पताल में इलाज चल रहा है.

writerajnabi89

Sep 11 2020, 14:04

# Corona का कहर जारी है.....

बिहार में एक दिन में कोरोना के आए 1710 मामले, पटना में आए 211 नए मरीज़... बिहार में कोरोना पॉज़िटिव मरीज़ों का कुल आँकड़ा पहुँचा "155445... तो आप भी सतर्क रहें। मामला बढ़ते जा रहा है। लापरवाही ना बरते। मास्क जरूर लगाएं। सामाजिक दूरी जरूर बनाए रखें।

            Writer अजनबी की कलम से....*

Apnabharat123

Sep 10 2020, 15:58

केंद्र सरकार ने परीक्षा के लिए जारी किए संशोधित दिशानिर्देश, जानिए डिटेल
देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी का कहर लगातार जारी है. हर गुजरते दिन के साथ कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है. कोरोनावायरस के बीच आयोजित हो रही परीक्षाओं को लेकर छात्रों और अभिभावकों के मन में काफी डर देखने को मिल रहा है. कोरोनावायरस के बीच 1 सितंबर से  6 सितंबर तक जेईई मेन की परीक्षा चलीं. वहीं अब नीट की परीक्षा 13 सितंबर को होगी. इसके अलावा यूनिवर्सिटी की अंतिम ईयर की परीक्षाएं 30 सितंबर तक पूरी की जानी हैं. कोरोनावायरस के बीच हो रही परीक्षाओं के मद्देनजर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कुछ समय पहले परीक्षा के लिए गाइडलाइन्स जारी की थीं, ताकी परीक्षा के दौरान छात्र, फैकल्टी और सभी संबंधित लोग कोरोनावायर से सुरक्षित रह सकें. अब एक बार फिर केंद्र सरकार ने परीक्षा के लिए संशोधित एसओपी यानी दिशानिर्देश जारी किए हैं, जिनका परीक्षा के दौरान पालन करना अनिवार्य होगा. 
 छात्रों को करना होगा इन नियमों का पालन
- 6 फीट की दूरी और मास्क का प्रयोग जरूरी होगा. 
- सैनिटाइजर और साबुन का इस्तेमाल जरूर करना होगा.
 कंटेनमेंट जोन में रहने वाले कर्मी परीक्षा लेने की प्रक्रिया में शामिल नहीं हो सकेंगे.

- कंटेनमेंट जोन वाले छात्रों के लिए बाद में परीक्षा आयोजित होगी.

- ज्यादा भीड़ ना हो इसे देखते हुए एक-एक कर समयबद्ध तरीके से छात्रों की एंट्री होगी.

- कंटेनमेंट जोन में रहने वाले कर्मी परीक्षा लेने की प्रक्रिया में शामिल नहीं हो सकेंगे.

- कंटेनमेंट जोन वाले छात्रों के लिए बाद में परीक्षा आयोजित होगी.

- ज्यादा भीड़ ना हो इसे देखते हुए एक-एक कर समयबद्ध तरीके से छात्रों की एंट्री होगी.

- सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए परीक्षा केंद्र में पर्याप्त कमरों की व्यवस्था करनी होगी.

- कोरोना के मद्देनजर बचाव के लिए फेस कवर, फेस मास्क और सैनिटाइजर की पर्याप्त व्यवस्था परीक्षा केंद्र के अंदर होनी चाहिए.

- परीक्षा लेने और परीक्षा देने वालों को परीक्षा से पहले अपने स्वास्थ्य को लेकर सेल्फ डिक्लेरेशन देना होगा.

- परीक्षा केंद्र में आते समय छात्र अपने साथ क्या-क्या लेकर आ रहे हैं, इसकी जानकारी उन्हें पहले देनी होगी, जैसे एडमिट कार्ड, आईडी, फेस मास्क, पानी का बोतल और सैनिटाइजर आदि.

- परीक्षा केंद्र में अनुशासन बरकरार रहे, इसके लिए परीक्षा केंद्र में पर्याप्त संख्या में कर्मियों की मौजूदगी होनी चाहिए.

- कागजात की जांच और रजिस्ट्रेशन आदि के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के साथ पर्याप्त व्यवस्था होनी चाहिए.

- इनविजिलेटर और सुपरवाइजर को कोरोना से संबंधित कोड ऑफ कंडक्ट की जानकारी अपने कर्मियों को पहले देनी होगी.

- परीक्षा केंद्र के बाहर और अंदर कोरोना से सम्बंधित एहतियात की सभी जानकारियां पोस्टर, होर्डिंग आदि के माध्यम से देनी होगी.

- थर्मल स्क्रीनिंग या परीक्षा के दौरान अगर कि