Patna

Oct 05 2019, 15:52

पुनपुन नदी से आने वाली बाढ़ के कारण सुरक्षा के लिए बना रिंग बांध बड़हिया कोल के पास 60 फीट टूट गया, कई गांवों में घुसा पानी


पटना में बारिश और बाढ़ से हजारों लोगों की मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं। पुनपुन नदी से आने वाली बाढ़ के कारण सुरक्षा के लिए बनाया गया रिंग बांध शनिवार को बड़हिया कोल के पास 60 फीट टूट गया। बांध टूट जाने के बाद नदी का पानी अलावलपुर, पैमार समेत आठ पंचायतों के दर्जनों गांव में तेजी से घुस रहा है। यहां बता दें कि शुक्रवार को पैमार पंचायत के अलवालपुर के पास रिंग बांध टूटा था। इससे पुनपुन पर बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है। पटना-गया एनएच 83 पर पानी चढ़ आया है। घटना के बाद बाढ़ के डीएम कुमार रवि बाढ़ प्रभावित इलाके में चलाए जा रहे राहत कार्य को देखने पहुंचे।
पुनपुन के जलस्तर में लगातार बढ़ोतरी से प्रशासन में हड़कम्प मचा है। आसपास के कई गांव बाढ़ के पानी में डूब गए हैं। कहीं पर पांच तो कहीं आठ फीट तक पानी चढ़ गया है। इससे सड़क से लेकर रेल मार्ग तक बंद है।
जलस्तर बढ़ने के चलते पुनपुन नदी का पानी रेलवे ब्रिज तक पहुंच गया है। इसके चलते गया से पुनपुन आने वाली ट्रेनें बाधित हुई हैं। पैसेंजर ट्रेनें गया से पुनपुन तक आ रही हैं और यहीं से गया लौट रही हैं। इस रूट के हजारों रेलयात्रियों को  परेशानी हो रही है। इधर, पानी के गाँवों में घुसने से लोग नाव की तलाश में गुहार लगा रहे हैं। लखनपार, अकौना और लखना उत्तरी प्रखंड की स्थिति बहुत खराब है।

Patna

Oct 05 2019, 15:34

पटना जिलाधिकारी ने आपदा प्रभावितों के लिए संचालित शिविर में किया भोजन।


राजधानी पटना के कई इलाकों में जहां जलजामाव से आम से खास त्रस्त नजर आ रहे है। पटना में जहां एकतरफ सरकार के द्वारा लगातार राहत शिविर बांटने का काम किया जा रहा है। रेक्सक्यू ऑपरेशन कर लोगो को घर से बाहर निकाला जा रहा है। ऐसे में इन सब के बीच पटना के जिलाधिकारी भी अपने कर्तव्यो का निर्वाहन कर रहै है। जहां डीएम कुमार रवि ने लगातार रेक्सक्यू के द्वारा सैकड़ो की जिंदगियां बचाने का काम किया ,लोगो को राहत पहुंचाई है। आज उसी कड़ी में जनता के बीच में रहने वाले पटना के डीएम कुमार रवि ने आपदा प्रभावित लोगों के साथ बैठकर खाना खाया।

Patna

Oct 05 2019, 14:45

नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा ने पूर्व नगर निगम आयुक्त अनुपम सुमन को बताया पटना में हुए जालजामव का जिम्मेदार।
_Flood


लगातार बारिश के बाद पटना की बदहाली की जिम्मेदारी कोई भी सरकारी या प्रशासनिक तंत्र अपने सर लेने को तैयार नहीं है। सभी एक दूसरे पर दोषारोपण करने में जुटे हुए हैं। इसी क्रम में शनिवार को नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा ने पटना में उत्पन्न भीषण जलजमाव की स्थिति का ठीकरा पूर्व नगर निगम आयुक्त अनुपम सुमन पर फोड़ा है। 

मंत्री सुरेश शर्मा ने कहा कि अगर यदि अनुपम सुमन ठीक होते तो आज पटना नहीं डूबता। अपनी नाकामियों को छुपाने के लिए उन्होंने नौकरी छोड़ी है। आपको बता दें कि पूर्व नगर आयुक्त अनुपम सुमन ने सितंबर में पद से इस्तीफा दे दिया था। उसके बाद वे धार्मिक कार्य में जुटे हुए हैं। बता दें कि जल आपदा के 8 दिनों बाद भी राजधानी के राजेंद्र नगर और आसपास के इलाके के लोगों की जिंदगी पटरी पर नहीं लौटी है। इलाके में अब भी जलजमाव की समस्या कायम है। लोगों को रहने और खाने की दिक्कत है। इलाके से सही तरीके से जलनिकासी नहीं हो पा रही है। इसका कारण यह है कि दिनकर गोलंबर इलाके का तीन में से सिर्फ 1 सम्प हाउस ही काम कर रहा है। दो संप हाउस टेक्निकल फाल्ट के कारण बन्द पड़े हैं।

Patna

Oct 05 2019, 14:18

गंगा में नहाने के दौरान एक 15 वर्षीय बच्चे को डूबने से हुईं मौत, परिजनों ने लगाया प्रशासन पर। लापरवाही का आरोप


एक तरफ राजधानी में जलजामाव और बाढ़ के प्रकोप से पटना ही नही पूरा बिहार पानी-पानी है, लोग त्राहिमाम कर रहे है। बिहार में गंगा का जलस्तर बढ़ रहा है खासकर राजधानी पटना में गंगा उफान पर है। गंगा को अलर्ट पर रखा गया है। जिला प्रशासन घाटो पर सुरक्षा का वायदा भी करते है पर वह जमीनी स्तर पर होता नजर नही आता, आज इसी कड़ी में पटना के दीघा थाना इलाके के जनार्धन घाट पर एक 15 साल के नाबालिक साहिल अपने माँ के साथ घाट पर नहाने पहुंचा था जहां पैर पिछलने से वह गंगा के तेज धारा में बह गया जिसके बाद घाटो पर अफरातफरी का माहौल हो गया। 

इस पूरे मामले पर घाट पर डूबे साहिल के परिजन ने सरकार के नुमाइंदे पर आरोप लगाते हुए कहा की यहां खनन विभाग का स्टीमर लगा हुआ है पर स्टीमर में तेल और ड्राइवर नही रहने के कारण यह हादसा हुआ है। ऐसे में प्रशासन ने बच्चे को लेकर कोई मदद नहीं की, वहीं घाटो पर लाल बालू उठाने की बात होती तो प्रशासन के लोग 500 रुपये का तेल भरवा कर पांच हजार रुपये कमाने के लिए तैयार हो जाते। परिजन ने कहा की बिहार सरकार के स्टीमर में तेल और ड्राइवर रहता तो बच्चा बच जाता।

वही इस पूरे मामले पर घाट पर तैनात खनन विभाग के होमगार्ड के सिपाही मोहम्मद याकूब ने कहा की घाट पर ड्राइवर की कमी थी पर स्टीमर में तेल नही ये हम कह नही सकते, मुझे तैरना भी नही आता पर घाट पर जो लोग थे उनसे काफी आग्रह किया था।

जाहिर है गंगा अभी उफान पर है। परिवार और इलाके के लोग 15 साल के नाबालिक साहिल के डूबने पर बिहार सरकार के नुमाईंदे पर आरोप लगा रहे है लेकिन उन परिवार पर हम कहना चाहते है कि इस गंगा में बढ़ती सैलाब में परिवार के साथ गंगा में नहाने जाना यह कैसी विडंबना है।

Patna

Oct 05 2019, 11:22

पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती राबड़ी देवी ने देश एवम राज्यवसियों को महान त्योहार दशहरा की दी बधाई एवं सुभकामनाएँ


पटना । पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती राबड़ी देवी, नेता प्रतिपक्ष श्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने देश एवम राज्यवसियों को महान त्योहार दुर्गा पूजा पर हार्दिक बधाई एवम सुभकामनाएँ दी और कहा कि यह त्योहार भारतीय संस्कृति का महान त्योहार है।यह पर्व असत्य पर सत्य, ज़ुल्म, अहंकार, अन्याय के विरुद्ध सच्चाई, भलाई, एवं न्याय की जीत का प्रतीक है।इसे विजय पर्व के रूप मे मनाया जाता है।

श्रीमती राबड़ी देवी ने दुर्गा पूजा को पूरे हर्ष, उल्लास के साथ मिल जुल कर प्रेम, सदभावना एवम आपसी भाईचारा के साथ मनाये जाने कि अपील राज्यवसियों से की है।उन्होंने आज माँ भगवती की पूजा अर्चना की तथा ईश्वर से देश एवम राज्यवसियों के लिये शांति, समृद्धि, प्रगति एवम राज्य की खुशाहाली का वर मांगा।
पूर्वमंत्री एवम विधायक श्री तेजप्रताप यादव, राज्यसभा सांसद श्रीमती मीसा भारती ने राज्यवसियों को दुर्गा पूजा की बधाई एवम सुभकामनाएँ दी।

Patna

Oct 04 2019, 20:29

राज्यसभा सदस्य आर. के. सिन्हा ने शुरू की  'गांधी संकल्प यात्रा ,लोंगो से किया अपील प्लास्टिक छोड़ें, जैविक खेती अपनाएं


पटना: गांधी जी के सिद्धांत और सन्देश लोगों तक पहुंचाना ही इस यात्रा का मुख्य मकसद

पटना से अनिल कुमार की रिपोर्ट

 

पटना । राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर भाजपा के राज्यसभा सदस्य आर. के. सिन्हा की 'गांधी संकल्प यात्रा' के दौरान बापू के संदेशों को सांस्कृतिक कार्यक्रमों में गीतों के माध्यम से प्रचारित-प्रसारित किया जा रहा है। भाजपा सांसद सिन्हा कहते हैं कि मनोरंजन के साथ-साथ लोगों तक गांधी जी के सिद्धांत और सन्देश लोगों तक पहुंचाना ही इस यात्रा का मुख्य मकसद है। अगर एक भी बात पर अमल कर लिया जाए तो गांधी जी को हम सबकी श्रद्धांजलि पहुंच जाएगी। उन्होंने गांधी के नशा मुक्ति संकल्प को दोहराया और बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने और जैविक खेती को अपनाने पर जोर देते हुए इसके अच्छे परिणामों से लोगों को अवगत कराया।

'गांधी संकल्प यात्रा' के तीसरे दिन शुक्रवार को मधुबन सेंट्रल स्कूल व मधुबन बापू आश्रम में सांसद सिन्हा ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन अर्पित किये। मधुबन सेंट्रल स्कूल की छात्राओं ने 'स्वागत-संगीत' प्रस्तुति देकर सांसद सिन्हा का अभिनन्दन किया। तत्पश्चात विद्यालय प्रांगण में उन्होंने छात्र-छात्राओं तथा अध्यापकों को बापू के सिद्धांतों के साथ संबोधित किया। यहां हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम का प्रारम्भ मनोज भावुक के लोक गीत से किया गया। रामेश्वर गोप ने मां भारती के सम्मान में और ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ और नारी सशक्तिकरण को बढ़ावा देता भोजपुरी लोक गीत, रवि जी ने नवरात्रि में देवी मां को समर्पित भोजपुरी लोक गीत, कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने पर भोजपुरी लोक गीत, मनीषा श्रीवास्तव ने चंपारण की धरती से शुरू किये गए गांधी जी के सत्याग्रह और गांधी जी और उनके चरखे को समर्पित  ‘चरक्खवा चालू रहे’ लोक गीत, साक्षी जी ने ‘नशा बंदी अभियान’ को सशक्त बनाने और व्यावहारिक बदलाव लाने के लिए भोजपुरी लोक गीत, मुकेश मोहक ने जैविक खेती को बढ़ावा देने तथा यूरिया एवं पोटाश की खेती से धरती को होते नुक़सान को ‘करी जैविक खेती’ के बारे में लोक गीत के जरिये लोंगो को अवगत कराया।


अपनी गांधी संकल्प यात्रा के तृतीय दिवस पर अन्य कार्यकर्ताओं संग सिन्हा ने मधुबन सेंट्रल स्कूल व मधुबन बापू आश्रम स्थित बापू की भित्तिशिल्प व उनकी मूर्ति पर विनम्र श्रद्धा सुमन अर्पित कर आज की पदयात्रा प्रारंभ की। मुज़फ्फरपुर के चांदनी चौक पर बाइक सवार सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया। 


सांसद सिन्हा ने 120 दिनों की इस संकल्प यात्रा के क्रम में इसके बाद मुज़फ्फरपुर जिले के मोतीपुर में गांधी जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। 

इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सांसद

  • Patna
     @Patna  इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सांसद सिन्हा ने गांधी के नशा मुक्ति संकल्प को दोहराया और बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने और जैविक खेती को अपनाने पर जोर देते हुए इसके अच्छे परिणामों से लोगों को अवगत कराया। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी के साथ सप्ताह में एक बार सभी सांसदों की बैठक होती है। इसी एक बैठक में प्रधानमंत्री ने गांधी की 150वीं जयंती पर पदयात्रा निकालकर गांधी जी के संदेशों को गांव-गांव, गली-गली तक पहुंचाने का आह्वान किया। इस पर कोई आधा हाथ उठा रहा था, कोई थोड़ा। हमने दोनों हाथ उठाकर कहा कि यह काम सबसे अच्छा है और सबसे पहले हम इसका सहयोग करते हैं। इसी क्रम में यह यात्रा अभी चल रही है, 4 महीने की इस यात्रा में कम से कम 15 दिन क्षेत्र में रहने की छूट मिल गयी है। 


    भाजपा सांसद सिन्हा ने कहा कि गांधी जी ने रामराज की कल्पना करके रात तीन बजे तक अपना वसीयतनामा लिखा। इसमें उन्होंने सारी बातें लिखी कि गांव का विकास कैसे होना चाहिए, देश का विकास कैसे होना चाहिए। इसमें भी सबसे पहले उन्होंने लिखा कि कांग्रेस का अब विघटन हो जाना चाहिए, क्योंकि आज़ादी हमें मिल गयी है और कांग्रेस की अब कोई जरूरत नहीं है। अलग-अलग लोग, अलग-अलग पार्टियां चुनाव लड़ें, जीत कर आएं और काम करें। फिर उन्होंने स्वच्छता, पर्यावरण, नारियों के सशक्तिकरण की बात लिखी, उन्होंने अपराधियों की बात लिखी। किसी को किसी तरह का कोई दैविक और भौतिक कष्ट न हो, इसकी कल्पना उन्होंने की। इसके अलावा स्वच्छता हेतु शौचालय, स्वावलंबन  के लिए कुटीर उद्योग हों, महिलाओं को रोजगार उपलब्ध कराया जाए।
Patna

Oct 04 2019, 18:48

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बीजेपी जदयू गठबंधन पर किया वार, कहा, कुत्ता बिल्ली के झगड़े में लोगों का हो रहा नुकसान।


पटना में पिछले कुछ दिनों से हुए जलजमाव पर विपक्ष को एक नया मुद्दा मिल गया है। इसी को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भाजपा तथा जेडीयू के गठबंधन पार किया। उन्होंने कहा कि बीजेपी जदयू की कुत्ता-बिल्ली वाली लड़ाई में राज्यवासियों का भारी नुक़सान हो रहा है। दिनदहाड़े जनादेश की ड़कैती कर जनभावना का अपमान करने वाले सीएम बतावें कि क्या इसी दिन के लिए जनादेश का अपमान कर भाजपा संग बिना नीति, सिद्धांत और विचार की अनैतिक सरकार बनाई थी? इससे बिहार को क्या फ़ायदा हुआ?‬ 

प्रतिदिन बिहारवासी आपके अनैतिक कुर्सी प्रेम की सज़ा भुगत रहे है। अब आप  जनता की अंतरात्मा की आवाज़ सुनिए।

Patna

Oct 04 2019, 18:45

अश्विनी चौबे ने बाढ़–जलजमाव के दौरान और उपरांत फैलने वाले रोगों के रोकथाम के लिए 6 केंद्रीय एजेंसियों को बिहार में लगाया।#Bihar_Flood

केंद्रीय स्वास्थ्य एजेंसियों के दुर्गा पूजा–दीपावली की छुट्टियां रद्द।

पटना : बिहार खासकर पटना में भारी बारिश, बाढ़ और जलजमाव के दौरान और उपरांत फैलने वाले रोगों के रोकथाम के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने विशेष पहल करते हुए केंद्र सरकार की जांच एजेंसियों संगठनों को काम में लगाया है।

एनसीडीसी, आईसीएमआर, ऐम्स, आरएमआरआई, आरओएच & एफडब्ल्यू के पदाधिकारियों के साथ आज इस संबंध में श्री चौबे ने महत्वपूर्ण बैठक कर पूरी शक्ति से बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में पूरी तत्परता से तुरंत काम करने का निर्देश दिया है।

आईसीएमआर और एनसीडीसी की केंद्रीय टीम पटना में चुकी है जबकि आरएमआरआई की टीम ने 2 दिन पहले से ही अपना काम शुरू कर दिया है। एम्स के डॉक्टरों की टीम विभिन्न क्षेत्रों में इस दिशा में अपना काम करना शुरू कर देगी जबकि आरओएच &एफडब्ल्यू (केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का क्षेत्रीय कार्यालय) बिहार के स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ मिलकर काम कर रही है। सीजीएचएस के 6 अस्पतालों में केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के निर्देश पर बाढ़ से प्रभावित सभी स्थानीय लोगों का इलाज निशुल्क हो रहा है।

आज पटना में प्राप्त हुई उच्च स्तरीय बैठक में केंद्रीय मंत्री श्री चौबे ने इन एजेंसियों के पदाधिकारियों के साथ हुई बैठक में बाढ़  और इसके बाद की स्थिति में स्वास्थ्य संबंधी सहायता के लिए समीक्षा किया और जरूरी निर्देश दिया।

बैठक के बाद श्री चौबे ने बताया कि केंद्रीय टीम के तुरंत तैनाती के बाद जलजमाव वाले क्षेत्रों में रिपीटेड फोगिंग,जलजमाव वाले छत पर फोगिंग करना, छत के पानी को ड्रेन करना, हेलोजैन टेबलेट का वितरण, लारवा साइटल का उपयोग, पीने के पानी की उपलब्धता, क्लोरीन टेबलेट का वितरण, टेमी फोस्ट का स्प्रे, लोगों को उबला पानी पीने का निर्देश,  जरूरी दवाओं के वितरण,रोगों से रोकथाम के लिए अन्य जरूरी निर्देश और अन्य सुविधाएं उपलब्ध करने का इंतजाम किया जाएगा।

श्री चौबे ने कहा कि केंद्र सरकार बिहार और पटना के लोगों के स्वास्थ्य के प्रति पूरी तरीके से सचेत है और इस पर युद्ध स्तर पर काम करने के लिए इन एजेंसीयों को लगाया गया है। साथ ही दशहरा दीपावली के समय कोई दिक्कत नहीं हो इसलिए इन संगठनों के कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द कर उन्हें बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों में लोगों की मदद करने के लिए तैनात किया गया है। इस संबंध में आज शाम बिहार के नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, सांसद रामकृपाल यादव, विधायक अरुण कुमार सिन्हा, विधायक नितिन नवीन, और विधायक संजीव चौरसिया सहित इन सभी एजेंसियों के अधिकारियों के साथ उच्च स्तरीय बैठक बुलाया गया है जिसमें स्वास्थ्य संबंधी अन्य सुविधाओं के बहाली प

  • Patna
     @Patna  विचार-विमर्श होना है।

    आज की बैठक में पटना एम्स के डायरेक्टर डॉ प्रभात कुमार सिंह आर एम आर आई के डायरेक्टर डॉ प्रदीप दास,एनसीडीसी के ज्वाइंट डायरेक्टर डॉ राम सिंह, आईसीएमआर के कंसल्टेंट डॉक्टर विजय कुमार, आईसीएमआर एन आई एम आर के डॉक्टर हिम्मत सिंह, सीजीएचएस के सहायक निदेशक डॉ एस के पांडेय, डॉक्टर नीमा वर्मा एनसीडीसी पटना के सीएमओ डॉ मजहर हुसैन, एनसीडीसी दिल्ली के डॉक्टर रामजीत प्रसाद सहित इन से एजेंसियों के आने के डॉक्टर और साइंटिस्ट उपस्थित थे।
Patna

Oct 04 2019, 17:43

पनपुन नदी ख़तरे के निशान से ऊपर, गया और पटना रेल लाइन पर रेलवे ने परिचालन रोका।
_Flood

पनपुन नदी ख़तरे के निशान से लगातार ऊपर बह रही है स्थिति इतनी ख़राब है की गया और पटना रेल लाइन पर रेलवे ने परिचालन कल से ही रोक दिया है तो वहीं पटना के निचले इलाक़े की स्थिति बाढ़ से भयावह होती जा रही है।

Patna

Oct 04 2019, 17:33

विकासशील इंसान पार्टी ने पटना के जलजमाव में छोड़ा मछली का जीरा।


स्थिति पर नियंत्रण में सरकार असफल, महामारी फैलने का खतरा बढ़ा : छोटे सहनी

पटना : विकासशील इंसान पार्टी द्वारा पटना के राजेंद्र नगर के जलजमाव वाले क्षेत्र में मछली का जीरा छोड़ा गया. इस दौरान पार्टी के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव छोटे सहनी ने कहा कि, ‘इन इलाकों में पिछले एक हफ्ते से पानी जमा है तथा अब मलेरिया तथा डेंगू जैसी महामारी का ख़तरा बढ़ गया है. ऐसे में मछलियाँ मच्छडो के लार्वा को खा जाएगी जिससे मच्छडो का प्रकोप कम होगा.

इस दौरान पार्टी के नेताओं तथा कार्यकर्ताओं द्वारा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, विधायक अरुण कुमार, पटना की मेयर सीता साहू तथा वार्ड पार्षद प्रमिला मोदी का विरोध प्रकट करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार टेक्नीकल जानकार हैं तथा उन्होंने राजेंद्र नगर तथा शहर के दुसरे हिस्सों में रहने वाले बुद्धिजीवियों, डॉक्टरों, इंजीनियरों तथा शहर के नागरिकों को आवश्यक सामग्रियों के लिए भीख मांगने पर मजबूर कर दिया है.

छोटे सहनी ने कहा कि सरकार तथा नगर निगम पटना में बारिश के बाद हुए जलजमाव की स्थिति से निपटने में पूरी तरह अक्षम है. जलजमाव को एक हफ्ते से ज्यादा हो गया है तथा शहर में महामारी फैलने का ख़तरा बढ़ गया गई. शहर के नागरिक मुश्किल में हैं तथा सरकार-नगर निगम तथा प्रशासन उचित उपाय नहीं कर रही है. पटना शहर की यह स्थिति पूरी तरह से सरकार तथा नगर निगम की असफलता का परिणाम है.

इस अवसर पर पार्टी के वरिष्ट नेता संतोष कुशवाहा, पटना जिलाध्यक्ष अर्जुन सहनी, समस्तीपुर जिला प्रभारी मुकेश निषाद, पार्टी के पदाधिकारी आदित्य सहनी, सत्येन्द्र सहनी, नवीन सहनी, सूरज निषाद, पटना जिला युवाध्यक्ष आजाद सहनी, हरिरंजन कुमार, राजन चौधरी, नागेन्द्र सहनी तथा गुड्डू सहनी सहित पार्टी के दर्जनों तथा कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया.