Bihar

Oct 24 2021, 10:25

बड़ी खबर : वैशाली में पांचवे चरण के वोटिंग से पहले मुखिया प्रत्याशी पर जानलेवा हमला, चाकू मारकर किया घायल*

  


डेस्क : आज बिहार पंचायत चुनाव के पांचवें चरण के लिए मतदान हो रहा है। वहीं वोटिंग शुरु होने से पहले प्रदेश में चुनावी हिंसा का एक बड़ा मामला सामने आया है। जिसमें एक मुखिया प्रत्याशी पर जानलेवा हमला हुआ है। घटना में घायल मुखिया प्रत्याशी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

  

घटना वैशाली जिले  बिदुपुर प्रखंड के मोकिमचक गांव में हुई है। जहां अपराधियों ने मतदान शुरू होने से एक घंटा पहले वारदात को अंजाम दिया। मुखिया प्रत्याशी के पैर, पेट, सीना पर चाकू से हमला किया गया है।

 फिलहाल, घायल को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस के अनुसार, चुनावी रंजिश में चाकू मारने की बात सामने आ रही है। अपराधियों की तलाश में छापेमारी चल रही है। 

Bihar

Oct 24 2021, 10:13

बड़ी खबर : बिहार सरकार के मंत्री के पीए को दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार, जानिए क्या है मामला

  



डेस्क : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कैबिनेट के मंत्री जनक राम के पीए को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इन पर संसद भवन का फर्जी पास बनवाने का आरोप लगा है। 

  

दिल्ली पुलिस शनिवार को गोपालगंज पहुंची थी और खनन मंत्री के आप्त सचिव बबलू आर्या के घर पर छापेमारी कर उसे गिरफ्तार कर लिया। मंत्री के पीए बबलू आर्या की निशानदेही पर महेश कुमार नाम के एक कारोबारी को भी गिरफ्तार किया गया है। 

आरोप है कि इन लोगों ने संसद भवन में एंट्री का फर्जी पास बनवाया था। इस आरोप में दिल्ली पुलिस ने केस दर्ज किया था। 

यहां बता दें कि जनक राम नीतीश कैबिनेट में खान एवं भूतत्व मंत्री हैं। वे 2014-19 तक गोपालगंज से बीजेपी के सांसद थे। 2019 में बीजेपी ने गोपालगंज सीट जदयू को दे दी। इसके बाद वे बेटिकट हो गये। फिर भाजपा ने इन्हें 2021 में विधान परिषद का सदस्य बनाया। फिर नीतीश कैबिनेट में खान एवं भूतत्व मंत्री बने। 

वहीं इस मामले पर मंत्री जनक राम का कहना है कि मामले का पता चलते ही उन्होंने बबलू आर्या को अपने पीए के पद से तुरंत हटा दिया था। 

Bihar

Oct 22 2021, 18:52

पटना पहुंचे कांग्रेस के तिकड़ी कन्हैया, जिग्नेश, तीनो ने बीजेपी,जदयू, और राजद पर जमकर बोला हमला, बिहार के एनडीए और राजद को लेकर कही यह बड़ी बात

  



डेस्क : बिहार विधानसभा के दो सीटों पर होने वाले उपचुनाव में प्रचार के लिए कांग्रेस के तीन युवा नेता कन्हैया कुमार, जिग्नेश मवानी और हार्दिक पटेल पटना पहुंचे। पटना पहुंचने के बाद पार्टी प्रदेश कार्यालय में तीनो ने एक प्रेस-वार्ता का आयोजन किया। जिसमें तीनो बीजेपी के साथ-साथ राजद पर भी जमकर बरसे। 

  

हाल के दिनों में ही सीपीआई से कांग्रेस में शामिल हुए कन्हैया कुमार ने कहा कि बिहार में समाज की एकता को तोड़ा जा रहा है। बिहार के इतिहास का पुर्नजागरण करने की जरूरत है। कन्हैया ने कहा की कांग्रेस पार्टी ने देश को आजादी दिलाई है। वही पार्टी देश को गुलाम बनाने से रोकने का काम करेगी। कांग्रेस पार्टी बिहार के लोगों को आत्मनिर्भर बनाने की लड़ाई लड़ने का काम करेगी। 

उन्होंने कहा की हमारी कोई राजनीतिक पृष्ठभूमि नहीं रही है। कांग्रेस पार्टी में आने का मुख्य वजह है की हम आंदोलन वालो को पार्टी में शामिल कराया गया है। वहीँ राजद का नाम लिए बिना कन्हैया जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा की लोकसभा में हमारा स्ट्राइक रेट सवाल उठाने वालों से ज्यादा अच्छा है। कांग्रेस ने एक सीट जितने का काम किया है। 

कन्हैया ने कहा कि श्री बाबू बिहार का सीएम रहते जो काम किया वह किसी ने नहीं किया। बिहार को काँग्रेस पार्टी ने ही बनाने का काम किया है। कन्हैया ने कहा कि बीजेपी को हराने वाले को कांग्रेस का साथ देना होगा। 

वहीं राजद के सांसद मनोज झा पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा की हमारे नेता प्रभारी के बारे में अशब्द बोलते है। अपने आका से जाकर ड्रॉईंग रूम में जाकर पूछे की भक्त चरण दास कौन है। आंदोलन की उपज है भक्त चरण दास। वोटों के गुना गणित में जनता को उलझाने में कुछ लोग लगे हुए है। चुनाव को समीकरण बनाने का काम किया है। कन्हैया ने कहा की 15 साल राजद का शासनकाल रहा। इसके बाद 15 साल नीतीश कुमार का शासन रहा। 30 साल के शासन में बिहार का विकास नहीं हुआ। दोनों को झाडू मारकर भगाना होगा।  


वहीं कांग्रेस विधायक जिग्नेश मवानी ने कहा कि गुजरात और बिहार का नाता पुराना रहा है। अभी चम्पारण जाना बाकी है। एक गुजराती 100 साल पहले गया था। लेकिन अब हम और हार्दिक दोनों गुजराती है। गुजरात को बनाने में बिहारी की भी अहम भूमिका है। मजदूर और किसान के योगदान को कभी भूलने की जरूरत नहीं है। जोश और जज्बा के कारण ही आरएसएस और बीजेपी को हराया जा सकता है। यह मुल्क मोदी और अमित शाह का नहीं, बल्कि रामप्रसाद बिस्मिल का है। 

वहीँ कांग्रेसी नेता हार्दिक पटेल ने कहा कि बिहार के आंदोलन से ही दिल्ली का तख्तापलट होता है। हार्दिक ने कहा कि जब से कन्हैया कुमार और जिग्नेश मवानी का कांगेस में शामिल होना हुआ है। तब से कुछ लोगों को परेशानी हो रही है। नेहरू और इंदिरा जी की पार्टी है। समाज के लिए काम करने वालो को पार्टी में शामिल कराया जा रहा है। सभी से अपील है कि विधानसभा चुनाव को लेकर सभी तैयार हो जाय तो यहां काँग्रेस की भी सरकार बननी तय मानी जा रही है। सभी लोग संगठन को मजबूती करने के लिए संकल्प लेने की जरूरत है। 

Bihar

Oct 22 2021, 18:29

दीपावली व छठ में परदेश से घर आनेवाले लोगों को खुशखबरी, रेलवे ने शुरु किया फेस्टिवल स्पेशल ट्रेन, जानिए पूरा डिटेल

  


डेस्क : दीपावली व छठ में दूसरे प्रदेशों से घर आने वालों के लिए खुशखबरी है। पूजा के दौरान यात्रियों की भारी भीड़ को देखते हुए रेलवे ने फेस्टिवल स्पेशल ट्रेन चलाने का एलान किया है। यह ट्रेन सासाराम, पं। दीन दयाल उपाध्याय जं। के रास्ते गया और नई दिल्ली के मध्य फेस्टिवल स्पेशल ट्रेन का परिचालन किया जायेगा। 

  

गाड़ी संख्या 01678 नई दिल्ली-गया फेस्टिवल स्पेशल का परिचालन दिनांक 25।10।2021 से 19।11।2021 तक सप्ताह में दो दिन प्रत्येक सोमवार एवं शुक्रवार को किया जाएगा।

इसी तरह गाड़ी संख्या 01677 गया-नई दिल्ली फेस्टिवल स्पेशल का परिचालन 26।10।2021 से 20।11।2021 तक प्रत्येक मंगलवार एवं शनिवार को किया जाएगा। इस स्पेशल ट्रेन के सभी कोच आरक्षित श्रेणी के होंगे तथा इनमें यात्रा करने वाले यात्रियों को कोविड-19 के मानकों का पालन करना होगा।

गाड़ी संख्या 01678 नई दिल्ली-गया फेस्टिवल स्पेशल ट्रेन 25।10।2021 से 19।11।2021 तक प्रत्येक सोमवार एवं शुक्रवार को नई दिल्ली से 08।10 बजे प्रस्थान कर विभिन्न स्टेशनों पर रूकते हुए 21।10 बजे पंडित दीन दयाल उपाध्याय जं।, 22।20 बजे भभुआ रोड, 22।53 बजे सासाराम, 23।10 बजे डेहरी ऑन सोन तथा 00।30 बजे गया पहुंचेगी।


यहां से वापसी में गाड़ी संख्या 01677 गया-नई दिल्ली फेस्टिवल स्पेशल ट्रेन 26।10।2021 से 20।11।2021 तक प्रत्येक मंगलवार एवं शनिवार को गया से 07।00 बजे प्रस्थान कर 08।08 बजे डेहरी ऑन सोन, 08।24 बजे सासाराम, 09।00 बजे भभुआ रोड, 10।40 बजे पंडित दीन दयाल उपाध्याय जं। पहुंचेगी तथा यहां से यह स्पेशल ट्रेन विभिन्न स्टेशनों पर रूकते हुए 23।35 बजे नई दिल्ली पहुंचेगी।

अप एवं डाउन दिशा में इस ट्रेन का पंडित दीन दयाल उपाध्याय जं। और नई दिल्ली के मध्य प्रयागराज जं।, कानपुर एवं गाजियाबाद स्टेशनों पर भी ठहराव प्रदान किया गया है। इस स्पेशल ट्रेन में शयनयान श्रेणी के 7, साधारण श्रेणी के 11 एवं एसएलआर के 2 कोच सहित कुल 20 कोच लगाए जाएंगे। 

Bihar

Oct 22 2021, 16:13

बिहार पंचायत चुनाव : कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच चौथे चरण का मतगणना जारी, कई जिलों से सामने आए परिणाम, जानिए अबतक कहा से किसे मिली जीत

  



डेस्क : बीते बुधवार 20 अक्टूबर को बिहार पंचायत चुनाव के चौथे चरण में प्रदेश के 36 जिलों के 53 ब्लॉक में 58।65% मतदान हुआ था। जिसका आज काउंटिंग 8 बजे से जारी है। सभी मतगणना केंद्रों पर सुरक्षा पुख्या इंतजाम किये गये हैं। बिना पास के किसी को प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा है। मतगणना की सुरक्षा व्यवस्था 4 लेयर की रखी गई है। मतगणना स्थल में पहुंचने वाले लोगों की सघन जांच की जा रही है। 

  

चौथे चरण में 799 ग्राम पंचायतों के मुखिया और सरपंच पद, 10,888 वार्डों में ग्राम पंचायत सदस्य और ग्राम कचहरी के पंच पद पर, जिला परिषद की 119 सीटों पर और पंचायत समिति की 1,093 पदों के लिए मतगणना हो रही है।

शाम के 4 बजने वाले है और अब कई जिले से परिणाम सामने आ गये है। यहां देखिए सभी 35 जिलों के मतगणना के अबतक का अपडेट

मुजफ्फरपुर के मुशहरी प्रखंड की बाजार समिति व बोचहां प्रखंड की आरडीएस कॉलेज में काउंटिंग जारी। मुशहरी प्रखंड के जिला परिषद क्षेत्र संख्या-28 से विभा देवी जीतीं। वहीं, शहबाजपुर पंचायत के निवर्तमान मुखिया नाहरा वाणु जीतीं।

पूर्वी चंपारण के ढाका प्रखंड की गहई पंचायत से रागिनी कुमारी, करसहिया पंचायत से मेनका देवी, खडुआ चैनपुर पंचायत से कौशल्या देवी, जटवलिया पंचायत से अंजुम आरा खातून, गवंद्री पंचायत से ताहरा खातून मुखिया बनीं। दोनों नए चेहरे हैं। वहीं, गहई पंचायत से पंचायत समिति सदस्य पद पर खुशबू नेशा चुनाव जीतीं। वहीं, जिला परिषद क्षेत्र संख्या 48 से नुरूल नेशा चुनाव जीत गईं।वहीं, केसरिया प्रखंड की पूर्वी सरोतर पंचायत से इंदु देवी, पश्चिमी सरोत्तर से माला देवी, सेमुआपुर पंचायत से माला देवी, दक्षिण हुसैनी पंचायत से सुभाष भगत, रामपुर खजुरिया से रामकुमारी देवी, खिजीरपुरा बेनीपुर पंचायत में भतीजा अशोक साह चाचा को हराकर मुखिया पद पर विजयी। वहीं, जिला परिषद क्षेत्र संख्या 30 से गायक विनोद बेदर्दी की पत्नी चुनाव जीतीं।


पश्चिमी चंपारण जिले के बगहा में महीपुर भतौड़ा पंचायत से मुखिया प्रत्याशी दुर्गेश ठाकुर चुनाव जीत गए। परसा बंचहरी से मंजू देवी मुखिया पद पर चुनाव जीतीं, पहले भी थीं मुखिया। चखनी रजवाटिया पंचायत से मुखिया प्रत्याशी रबी रंजन उर्फ लाल बाबू यादव 300 वोट से जीते। बगहा-1 प्रखंड की सिंगाड़ी पंचायत से मुखिया प्रत्याशी रिंकू पांडेय विजयी। चन्दरपुर रतवल नितेश राव 1 हजार वोट से जीते।

मधुबनी जिला के राजनगर प्रखंड की शिविपट्टी पंचायत में रंजू देवी (2040) ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी लवली देवी(1101) को 939 वोटों से हराया। आर के कॉलेज मतगणना केंद्र पर मतगणना सहायक मो. इरफ़ान खान को अचानक दौरा पड़ने से बेहोश होकर गिर गए। राजनगर प्रखंड की कैथाही पंचायत से अखलाक अहमद, सिंगीऔन पंचायत से श्याम यादव, कोइलख पंचायत से निवर्तमान मुखिया शेखर सुमन विजयी।

अररिया के नरपतगंज की बेला पंचायत के निर्वाचन क्षेत्र संख्या 1 से पंचायत समिति सदस्य पद पर दुर्योधन चंद दास, क्षेत्र संख्या-2 से देवकी देवी, क्षेत्र संख्या-3 से कविता देवी, क्षेत्र संख्या-5 से कुमारी कंचन, क्षेत्र संख्या-6 से विमला देवी, क्षेत्र संख्या-8 से सुगंधा देवी, क्षेत्र संख्या-9 से कलानन्द विराजी, क्षेत्र संख्या-11 से नीलू देवी जीतीं। मानिकपुर पंचायत से नूतन कुमारी व पथराहा पंचायत से रुखसाना प्रवीण, अचरा पंचायत से निर्मला देवी मुखिया पद पर विजयी।

बक्सर की अतरौना पंचायत से सचिंद्र सिंह को कुल 1412 मत मिले। इनके निकटतम प्रतिद्वंदी प्रकाश सिंह को कुल 1388 मत मिले। मतों का अंतर 24 रहा। बिझोरा पंचायत से राजेंद्र सिंह उर्फ पिंटू को कुल 1563 मत प्राप्त हुए। इनके निकटतम प्रतिद्वंदी विभा देवी को कुल 1417 मत प्राप्त हुए। मतों का अंतर 146 रहा।

भोजपुर में पंचायत चुनाव 2021 के चौथे चरण के तरारी प्रखंड की जेठवार पंचायत में मुन्ना कुमार 125 वोटों से जीते, निवर्तमान मुखिया बृज किशोर को हराकर विजयी हुए। सेदहां पंचायत के 19 साल के अक्षय कुमार 6 मत से विजयी हुए। निवर्तमान मुखिया को हराकर विजयी हुए। अबतक के सबसे कम उम्र की प्रत्याशी ने मुखिया पद पर विजयी हुए। वहीं, शंकरडीह पंचायत में लालती देवी 14 वोट से जीतीं, निवर्तमान मुखिया लालसा देवी को हराया। करथ पंचायत में निवर्तमान मुखिया नीलम देवी 152 वोट से जीतीं। तरारी पंचायत में जय प्रकाश सिंह निवर्तमान मुखिया रूपेश कुमार सिंह को हराकर विजयी हुए।

रोहतास जिले के सासाराम और तिलौथू प्रखंड में पंचायत चुनाव को लेकर मतगणना शुरू। वहीं, समरडीहा पंचायत में प्रेम चंद्र कुमार सिंह मुखिया पद पर विजयी हुए। वहीं, मोकर से हरेंद्र कुमार व तिलौथू की भदोखरा पंचायत से धर्मेंद्र दुबे मुखिया बने।

मुंगेर की चोरगांव पंचायत में बॉबी देवी बनीं मुखिया। उन्होंने 493 मत से निकटतम प्रतिद्वंद्वी को हराया।

मधेपुरा के शंकरपुर की 6 पंचायतों की गिनती में 4 मुखिया हारे, दो को दोबारा मिला मौका। जिला परिषद से निवर्तमान जिप अध्यक्ष मंजू देवी की पुत्रवधू रूपम राय ने जिला परिषद क्षेत्र संख्या-2 से 5690 वोट से जीत हासिल की।

खगड़िया में सबसे पहले बन्नी पंचायत से वर्तमान मुखिया लक्ष्मी देवी हारीं, किरण देवी बनीं मुखिया। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। जिला परिषद क्षेत्र संख्या 13 से चंदन कुमार जीते।

सहरसा के सत्तर कटेया प्रखंड की रकिया पंचायत में गीता देवी (1549) ने निकटतम प्रतिद्वंद्वी चंदा देवी (1356) को 193 वोटों से हराया। वहीं, पुरीख पंचायत में मुखिया पद पर ब्रह्मदेव सिंह (1089) ने निकटतम प्रतिद्वंद्वी राम कृष्ण यादव (1058) को 31 वोटों से हराया।

जमुई की थमहन पंचायत से गायत्री देवी मुखिया प्रत्याशी विजयी घोषित, लालीलेवर पंचायत में मीरा देवी जीतीं। बाबूडीह पंचायत से अलमीरा अंसारी की पत्नी शहाना खातून, चुरहट पंचायत से गेना मांझी और महेश्वरी पंचायत से अवधेश कुमार सिंह मुखिया पद पर जीते। सोनो प्रखंड की छछुंरिया पंचायत से माइकल भूला उर्फ सागर मुखिया पद पर विजयी हुए। बलथर पंचायत से रंजू देवी मुखिया पद पर विजयी हुईं। वहीं, गोगरी पंचायत से राम ठाकुर, केशोफरका पंचायत से गणेश तुरी तनधारी पंचायत से अनिता देवी मुखिया पद पर विजयी।

बांका के बौसी उत्तरी क्षेत्र से जिला परिषद उम्मीदवार मिथलेश कुशवाहा की पत्नी दृष्टि कुमारी विजयी। अंगारु जबडा पंचायत दक्षिणी से पंचायत समिति पद पर अभिनव राज उर्फ राजा यादव विजयी। सिकंदरपुर पंचायत से मुखिया पद पर अनुपमा सिंह विजयी। कैरी पंचायत से डोली देवी विजयी। डौआ पंचायत उत्तरी से जुबेदा खातून पंचायत समिति पद पर विजयी। नयागांव पंचायत से उपेंद्र मंडल मुखिया पद पर विजयी। बौसी दक्षिणी 25 नंबर से अमर कुमार हेंब्रम उर्फ चुन्ना हेमराम जिला परिषद पद पर विजयी।

कटिहार के तीन प्रखंड फलका, समेली एवं मनसाही की 3372 प्रत्याशियों ने शहर के तीन गछिया कृषि बाजार समिति में काउंटिंग चालू है। छोहार पंचायत से पंचायत समिति सदस्य पद के प्रत्याशी विलास हार्डी, मुखिया प्रत्याशी सरिता देवी विजयी। मनसाही प्रखंड की साहेब नगर पंचायत की मुखिया प्रत्याशी मरजीना खातून 500 मतों से विजयी। समेली प्रखंड की मलहरिया पंचायत से राजकुमार भारती, डूमर पंचायत से मनीष ठाकुर मुखिया पद पर विजयी। वहीं पंचायत समिति पद से बबीता देवी 849 मतों से जीतीं। समेली प्रखंड से जिला परिषद प्रत्याशी कोमल कुमारी विजयी।

औरंगाबाद की बौर पंचायत से विनय प्रसाद उर्फ मिट्ठू ने नीरज कुमार उर्फ मंटू सिंह को हराया। वहीं, पोगर पंचायत से शंकर दयाल यादव ने पूर्व मुखिया को हराया, कोटवरा पंचायत से बिंदेश्वरी यादव तीसरी बार जीते। भेटनिया पंचायत से धर्मशीला देवी जीतीं। जिला परिषद क्षेत्र सं. 13 से प्रत्याशी आसिफ शाह ने दूसरी बार जीत दर्ज की।

नवादा के अकबरपुर प्रखंड में मतों की गिनती का शुरू हो गई है। केएलएस कॉलेज नवादा में सुबह 8 बजे से वोटों की गिनती की जा रही है।

सीवान के नौतन की खापबनकट पंचायत से प्रियंका देवी, मैरवा की बड़गांव पंचायत से रवींद्र यादव, बड़का मांझा पंचायत से सुजीत उपाध्याय और विषवार पंचायत से रीना देवी मुखिया पद पर विजयी। नौतन प्रखंड की नौतन पंचायत से मुखिया पद पर तारकेश्वर साह विजयी। गुठनी की पडरी पंचायत से लल्लन राय, चिताखाल पंचायत से नमिलाल पासवान, टंडवा खुर्द पंचायत से अमित चतुर्वेदी मुखिया पद पर विजयी। गुठनी प्रखंड की जतौर पंचायत से मुखिया पद पर अनिता देवी विजयी। 

Bihar

Oct 22 2021, 13:23

बिहार की नीतीश सरकार का बड़ा एलान, प्रदूषण जांच केन्द्र खोलने के लिए सरकार देगी इतने लाख रुपये

  


डेस्क : प्रदेश की नीतीश सरकार ने बड़ा एलान किया है। सरकार अब प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए 3 लाख रुपये देगी। परिवहन विभाग की ओर इसकी अधिसूचना भी जारी कर दी गई है। अधिसूचना के मुताबिक प्रखंडों में प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए 50 फीसदी या अधिकतम 3 लाख रुपए का अनुदान दिया जाएगा। 

  


परिवहन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए जिला परिवहन कार्यालय में आवेदन देना। इसके लिए जल्द ही विभाग के वेबसाइट पर विज्ञापन का प्रकाशन होगा। विज्ञापन प्रकाशित होने के 15 दिनों के अंदर आवेदन जमा करनी होगी। आवेदन करने वाले स्थायी निवासी होंगे। 

इस योजना का लाभ ऐसे प्रखंडों को मिलेगा जहां पर पेट्रोल पंप और सर्विस सेंटर के अलावे एक भी मोटरवाहन प्रदूषण जांच केंद्र नहीं है। यानी, योजना का लाभ प्रदूषण जांच केंद्र विहीन प्रखंडों को मिलेगा। 


शैक्षणिक योग्यता के आधार पर चयन किया जाएगा। एक प्रखंड के लिए एक से अधिक आवेदन प्राप्त होने पर उच्च शैक्षणिक योग्यता वाले व्यक्ति को प्राथमिकता मिलेगी। यदि शैक्षणिक योग्यता एक है तो अधिक उम्र वाले व्यक्ति को प्राथमिकता दी जाएगी। 

चयनित आवेदक को प्रोत्साहन राशि का लाभ लेने के बाद अगले 3 साल तक केंद्र को संचालित रखना है। परिवहन विभाग द्वारा जिला परिवहन पदाधिकारी को सड़क सुरक्षा निधि से आवंटन उपलब्ध कराएगा। 

Bihar

Oct 22 2021, 11:58

तीन दिवसीय बिहार दौरे के आज अंतिम दिन राष्ट्रपति पहुंचे महावीर मंदिर और गुरुद्वारा, तख्त साहिब में टेका मत्था, मंदिर में की पूजा अर्चना

  


डेस्क : बिहार विधानसभा भवन के शताब्दी समारोह में शामिल होने के लिए तीन दिवसीय बिहार दौरे पर आए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपने इस दौरे के अंतिम दिन आज शुक्रवार की सबुह अपनी पत्नी के साथ महावीर मंदिर और तख्त साहिब का दौरा किया। 

  

राष्ट्रपति सुबह 8:40 बजे पत्नी के साथ पटना सिटी स्थित हरमंदिर साहिब गुरुद्वारा पहुंचे। जहां उन्होंने मत्था टेका।  इस दौरान तख्सत हरमंदिर प्रबंध समिति की ओर से उन्हें प्रतीक चिन्ह और तलवार भेंट किया गया। इसके राष्ट्रपति पटना के स्टेशन स्थित महावीर मंदिर दर्शन के लिए पहुंचे। 

जहां महावीर मंदिर संरक्षक आचार्य किशोर कुणाल ने उन्हें लाल गुलाब देकर उनका स्वागत किया। इसके बाद राष्ट्रपति ने अपनी पत्नी के साथ हनुमान की पूजा अर्चना की। इस मौके पर आचार्य किशोर कुणाल ने उन्हें केसरिया के राम मंदिर की स्मृति चिह्न और रामचरित मानस भेंट की। 


मंदिर मे पूजा अर्चना करने के बाद इसके बाद राष्ट्रपति सुबह 9:30 बजे बुद्ध स्मृति पार्क पहुंचे। यहां से वह सुबह 10:14 बजे खादी मॉल गए। यहां उद्योग मंत्री ने फूलों का गुलदस्ता देकर उनका स्वागत किया। राष्ट्रपति ने मॉल मं  महात्मा गांधी की प्रतिमा को खादी का माला पहनाया। इसके बाद उन्होंने चरखा चलाया। साथ ही खादी के कपड़ों को बारीकी से देखा। सुबह 10:50 बजे राष्ट्रपति खादी मॉल से निकल गए। 

बता दें स्मृति पार्क और खादी मॉल जाने का कार्यक्रम राष्ट्रपति के मिनट-टू-मिनट शेड्यूल में शामिल नहीं था। 

Bihar

Oct 22 2021, 10:52

बिहार पंचायत चुनाव : कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच चौथे चरण का मतगणना जारी, आने शुरु हुए परिणाम, जानिए अबतक का डिटेल

  



डेस्क : बीते बुधवार 20 अक्टूबर को बिहार पंचायत चुनाव के चौथे चरण में प्रदेश के 36 जिलों के 53 ब्लॉक में 58.65% मतदान हुआ था। जिसका आज काउंटिंग 8 बजे से जारी है। सभी मतगणना केंद्रों पर सुरक्षा पुख्या इंतजाम किये गये हैं। बिना पास के किसी को प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा है। मतगणना की सुरक्षा व्यवस्था 4 लेयर की रखी गई है। मतगणना स्थल में पहुंचने वाले लोगों की सघन जांच की जा रही है। 

  

चौथे चरण में 799 ग्राम पंचायतों के मुखिया और सरपंच पद, 10,888 वार्डों में ग्राम पंचायत सदस्य और ग्राम कचहरी के पंच पद पर, जिला परिषद की 119 सीटों पर और पंचायत समिति की 1,093 पदों के लिए मतगणना हो रही है।

सुबह के 11 बजने वाले है और अब धीरे-धीरे परिणाम आने शुरु हो गये है। मधुबनी जिले के शिवपट्टी पंचायत से पहला परिणाम सामने आया है। जहां  में रंजू देवी ने लवली देवी को 939 वोटों से हराया। 

यहां देखिए सभी 35 जिलों के मतगणना के अबतक का अपडेट
•	आरा में पंचायत चुनाव 2021 के चौथे चरण के तरारी प्रखंड की जेठवार पंचायत में मुन्ना कुमार 125 वोटों से जीते, निवर्तमान मुखिया बृज किशोर को हराकर विजयी हुए।
•	नवादा के अकबरपुर प्रखंड में मतों की गिनती का शुरू हो गई है। केएलएस कॉलेज नवादा में सुबह 8 बजे से वोटों की गिनती की जा रही है।
•	रोहतास जिले के सासाराम और तिलौथू प्रखंड में पंचायत चुनाव को लेकर मतगणना शुरू। सासाराम प्रखंड की 10 पंचायतों एवं तिलौथू प्रखंड की 11 पंचायतों के सभी प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होगा वहीं, समरडीहा पंचायत में मुखिया पद के प्रेम चंद्र कुमार सिंह 1957 मत से विजयी हुए। उन्होंने निकटतम प्रतिद्वंद्वी नीतू देवी को हराया।
•	खगड़िया में सबसे पहले बन्नी पंचायत में मुखिया पद की मतगणना का परिणाम आया। वर्तमान मुखिया लक्ष्मी देवी हारीं, किरण देवी बनीं मुखिया। विधि व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस को चटकानी पड़ी लाठियां।
•	मधुबनी जिला के राजनगर प्रखंड की शिविपट्टी पंचायत में रंजू देवी (2040) ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी लवली देवी(1101) को 939 वोटों से हराया। आर के कॉलेज मतगणना केंद्र पर मतगणना सहायक मो. इरफ़ान खान को अचानक दौरा पड़ने से बेहोश होकर गिर गए।
•	सहरसा के सत्तर कटेया प्रखंड की रकिया पंचायत में गीता देवी (1549) ने निकटतम प्रतिद्वंद्वी चंदा देवी (1356) को 193 वोटों से हराया। वहीं, पुरीख पंचायत में मुखिया पद पर ब्रह्मदेव सिंह (1089) ने निकटतम प्रतिद्वंद्वी राम कृष्ण यादव (1058) को 31 वोटों से हराया।
•	जमुई की थमहन पंचायत से गायत्री देवी मुखिया प्रत्याशी विजयी घोषित, लालीलेवर पंचायत में मीरा देवी जीतीं।
•	कैमूर के चांद प्रखंड की मतगणना शुरू, सबसे पहले बिउरी पंचायत का आएगा फैसला, मतगणना केंद्र के बाहर समर्थकों की भीड़, कड़ी सुरक्षा के बीच मतगणना जारी।
•	सहरसा में कुल 193 मतदान केंद्रों पर डाले गए मतपत्रों की हो रही गणना। कुल1516 प्रत्याशी चुनाव में थे शामिल।
•	अररिया के नरपतगंज प्रखंड में त्रिस्तरीय पंचायती राज व्यवस्था के तहत 26 पंचायतों में 6 पदों के लिए हुए चुनाव में 3194 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होगा।
•	बक्सर जिले के इटाढ़ी प्रखंड के सिरमौर पद की मुखिया व बीडीसी का परिणाम आधे घंटे बाद सामने होगा। मतगणना के दौरान पारदर्शिता को लेकर इस बार स्क्रीन से वार्ड अनुसार परिणाम दर्शाए जाने की व्यवस्था है।
•	मुजफ्फरपुर के मुशहरी प्रखंड की बाजार समिति व बोचहां प्रखंड की आरडीएस कॉलेज में वोटों की गिनती शुरू। 5539 प्रत्याशियों के भाग्य का आज फैसला होगा। बाजार समिति में होने वाले मतगणना के लिए जीरोमाइल चौक से पूरब बड़े वाहनों के प्रवेश पर रोक।
• 

Bihar

Oct 22 2021, 10:11

आज पटना पहुंचेगे कन्हैया, जिग्नेश और हार्दिक पटेल, अपनी पार्टी कांग्रेस के लिए कुशेश्वरस्थान और तारापुर में करेंगे चुनाव प्रचार

  

डेस्क : उपचुनाव में जीत सुनिश्चित करने के लिए पार्टी ने अपने तीन युवा नेता  जिग्नेश मेवानी, हार्दिक पटेल और हाल ही में कांग्रेस का दामन थामने वाले युवा नेता कन्हैया कुमार  की तिकड़ी को चुनाव प्रचार में उतारने का निर्णय लिया है। कांग्रेस में शामिल होने के बाद तीनों नेता पहली बार बिहार आ रहे हैं। पार्टी ने तीनों नेताओं के चुनाव प्रचार का कार्यक्रम भी तय कर दिया है।

  

कन्हैया कुमार, हार्दिक पटेल और जिग्नेश मेवानी बिहार दौरे पर आज शुक्रवार यानी 22 अक्टूबर को आ रहे हैं। तीनों नेता तीन-तीन दिन तारापुर और कुशेश्वरस्थान विधानसभा क्षेत्र में हो रहे उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशी के पक्ष में चुनाव प्रचार करेंगे। वहीं, बिहार कांग्रेस प्रभारी भक्त चरणदास भी आज शुक्रवार को ही बिहार दौरे पर आ रहे हैं। 

बिहार कांग्रेस प्रभारी भक्त चरणदास के साथ तीनों नेता पटना आने के बाद सबसे पहले पार्टी प्रदेश कार्यालय सदाकत आश्रम जाएंगे। जहां पार्टी नेताओं की बैठक होगी। राजनीतिक व सामाजिक क्षेत्र के कई महत्वपूर्ण नेता आज कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण करेंगे। वहीं शाम में तीनों युवा नेता तारापुर के लिए रवाना हो जाएंगे। 23, 24 व 25 अक्टूबर को कन्हैया, जिग्नेश व हार्दिक पटेल तारापुर में चुनाव प्रचार करेंगे। इसके बाद 26, 27 और 28 अक्टूबर को कुशेश्वरस्थान विधानसभा क्षेत्र में तीनों नेता चुनाव प्रचार करेंगे। 

बता दें दोनो सीटों पर चुनाव 30 अक्टूबर को होना है। महागठबंधन मे शामिल राजद और कांग्रेस के बीच सीटों को लेकर अलगाव होने के बाद दोनो सीटों पर कांग्रेस ने भी अपना प्रत्याशी उतारा है। 

Bihar

Oct 21 2021, 20:02

आरक्षण को लेकर पूर्व सीएम जीतन राम मांझी का बड़ा बयान, कहा-इस कलंक को खत्म कर लागू किया जाना चाहिए कॉमन स्कूलिंग सिस्टम

  


डेस्क : बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के सुप्रीम जीतन राम मांझी ने आरक्षण को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने इसे खत्म कर इसकी जगह कॉमन स्कूलिंग सिस्टम लागू किये जाने की वकालत की है।  

  


नई दिल्ली के कांस्टीट्यूशन क्लब आयोजित पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में मांझी ने आरक्षण को कलंक बताते हुए मांजी ने कहा कि यह हमारे साथ चिपक गया है और ऐसा लगता है कि यह भीख है। आरक्षण और जातिवाद का राक्षस हमें निगल रहा है। समान स्कूली शिक्षा ही इसका उपाय है।


जीतन राम मांझी ने कहा कि अगर देश में कॉमन स्कूलिंग सिस्टम लागू हो जाए तो दस साल बाद आरक्षण की ज़रूरत ही नहीं पड़ेगी। राष्ट्रपति व गरीब का बच्चा एक साथ पढ़े। इसे लागू कर 10 वर्ष का समय दीजिए। दस वर्ष में हम आगे बढ़ जाएंगे। फिर आरक्षण और जातिवाद की कोई बात ही नहीं होगी। मांझी ने कहा कि हमको आरक्षण नहीं चाहिए था। यह हमको भीख की तरह मिला। डॉ बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर ने भी कहा था कि 10 या 20 साल के लिए आरक्षण दीजिए और फिर इसकी समीक्षा कीजिए।


हम प्रमुख ने कहा कि पिछड़े लोगों को सामाजिक और शैक्षणिक दृष्टिकोण से उन्नत बनाइए। इस मामले में सरकारों ने क्या किया? आरक्षण कलंक है हमारे ऊपर। फ्रांस, कनाडा, जापान, इंग्लैंड सभी जगह समान स्कूली शिक्षा की व्यवस्था है, इसलिए वहां आरक्षण और जातिवाद नहीं है। पूर्व सीएम ने कहा कि आरक्षित वर्ग के लिए मतदाता सूची अलग होनी चाहिए। आज हम भोग रहे हैं। हमारी आबादी 80 प्रतिशत है, लेकिन 20 प्रतिशत वाले चुनाव प्रभावित करते हैं।

दलितों के उत्थान के लिए मांझी ने अंबेडकर के दोहरे मतदाता व्यवस्था के सिद्धांत को लागू करने की मांग की। मांझी के मुताबिक़ इस व्यवस्था के तहत दलितों को दोहरे मतदान का अधिकार मिलेगा। पहला , ऐसे निर्वाचन क्षेत्रों का चयन किया जाए जो दलितों के लिए आरक्षित हों और उनमें केवल दलित ही मतदान करें। दूसरा , दलित अपने अपने क्षेत्रों में आम मतदान में भी भाग ले सकेगा। मांझी ने दावा किया कि इस व्यवस्था से दलितों के नेता दलितों के वोट से ही चुने जाएंगे जिससे उनकी प्राथमिकता केवल दलितों का विकास और उत्थान ही रहेगा।