SYEDMOHAMMADALAM35

10 hours ago

nपूर्वी चंपारण जिले ने 17 सितंबर को चलाए गए कोविड टीकाकरण महाअभियान में कुल 225605 लोगों को टीका लगा कर देश में तीसरा और राज्य में पहला सबसे ज्यादा टीका लगाने वाला जिला बना। ज्ञात हो कि इससे पहले भी राज्य में 31अगस्त और 6 सितंबर को चलाए गए टीकाकरण महाअभियान में क्रमशः 166078 और 125298 लोगो को टीका लगाकर राज्य में पहला स्थान प्राप्त किया था। #6month6crore #megavaccinationdrive #megavaccinationcamp Information & Public Relations Department, Government of Bihar Ministry of health and family welfare Government of Bihar Bihar Health Department Ministry of Health and Family Welfare, Government of India


FirstNews

Sep 18 2021, 11:17

बिहार विधान परिषद के लिए गया की महिला को प्रत्‍याशी बनाएगा जदयू, CM नीतीश कुमार ने की थी मुलाकात

Bihar Politics: बिहार विधान परिषद (Bihar Legislative Council) की खाली हुई एक सीट पर जदयू (JDU) की ओर से रोजीना अख्तर (Rojina Akhtar) को प्रत्याशी बनाया जाएगा।

रोजीना दिवंगत विधान पार्षद तनवीर अख्‍तर (Tanveer Akhtar) की पत्नी हैं। हाल में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने उनसे मुलाकात की थी। पटना में उनके पति को बतौर विधान पार्षद मिला सरकारी आवास खाली नहीं करने का आश्वासन दिया था। बिहार सरकार के भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी (Ashok Chaudhary) ने रोजीना को प्रत्याशी बनाने की पहल की है। तनवीर से इनकी गहरी मित्रता थी। कांग्रेस से तनवीर भी अशोक चौधरी के साथ ही जदयू में आए थे।

जुलाई 2022 तक होगा कार्यकाल

चुनाव आयोग (Election Commission of India) ने बिहार विधान परिषद की इस रिक्‍त सीट के लिए चुनाव की अधिसूचना जारी कर दी है। अधिसूचना के मुताबिक यह सीट नौ मई 2021 से रिक्‍त है, और इसका कार्यकाल 21 जुलाई 2022 को पूरा हो जाएगा। 15 सितंबर को जारी अधिसूचना के मुताबिक 22 तारीख तक इस पद के लिए नामांकन पत्र दाखिल किया जा सकता है। 23 तारीख को स्‍क्रूटिनी और 27 सितंबर तक वक्‍त नाम वापसी के लिए निर्धारित है। एक से अधिक प्रत्‍याशी होने की स्थिति में चार अक्‍टूबर को सुबह नौ बजे से शाम चार बजे तक मतदान कराया जाएगा। मतों की गिनती भी उसी दिन शाम पांच बजे से कराई जानी है।

कांग्रेस के साथ तनवीर ने की थी राजनीति की शुरुआत

गया निवासी तनवीर अख्‍तर का मई महीने में कोरोनावायरस संक्रमण से निधन हो गया था। उनकी सीट पर कार्यकाल आठ महीने बचा है। उन्‍होंने राजनीति की शुरुआत कांग्रेस के साथ की थी। वे कांग्रेस की बिहार इकाई के उपाध्‍यक्ष और बिहार प्रदेश युवा कांग्रेस प्रकोष्‍ठ के अध्‍यक्ष भी रह चुके थे। उन्‍होंने दिल्‍ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी से शिक्षा ग्रहण की थी और वहां छात्र संघ के अध्‍यक्ष भी चुने गए थे। अशोक चौधरी के नेतृत्‍व में कांग्रेस के कई नेताओं ने जदयू का दामन थाम लिया तो उस समूह में तनवीर भी शामिल थे। 

Dailynews

Sep 18 2021, 00:50

Bihar : भांजी पर आया मामा का दिल, पत्नी और बेटे को छोड़कर हुआ फरार, दो सालों से चल रहा था प्रेम प्रसंग
  


नवादा: बिहार के नवादा जिले में हैरान करने वाला मामला सामने आया है. मामला जिले के गोविंदपुर थाना क्षेत्र के बुधवारा गांव का है, जहां मुंबई से नवादा आया शख्स पत्नी को छोड़कर अपनी भांजी को लेकर फरार हो गया है.

इस मामले में शख्स के ससुर उक्त गांव निवासी विनोद शर्मा ने नगर थाना में आवेदन देकर दमाद के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. विनोद शर्मा ने बताया है कि उनका दामाद जिले के वजीरगंज थाना क्षेत्र के तिलोरी गांव निवासी उपेंद्र शर्मा का बेटा धर्मेंद्र शर्मा उर्फ चंदन शर्मा है, जो अपनी ही भांजी को लेकर भाग गया है. वहीं, अपनी पत्नी को घर पर छोड़ दिया है.

उनकी मानें तो धर्मेंद्र ने अपने मामा पप्पू शर्मा की बेटी रानी कुमारी को बीते 13 तारीख को फोन कर कर बुलाया और उसे लेकर फरार हो गया. लड़की की काफी खोजबीन की गई, लेकिन उसका अब तक पता नहीं चला है. विनोद शर्मा ने कहा कि साल 2015 में हिंदू रीति रिवाज के अनुसार उनकी बेटी की धर्मेंद्र के साथ शादी कराई गई थी और दोनों को एक बेटा भी है.

धर्मेंद्र मुंबई में रह कर प्राइवेट कंपनी नौकरी करता है. बीते दिनों वो वहां से आता और आने के बाद अपनी ही भांजी को लेकर भाग गया. फिलहाल पूरे मामले में विनोद शर्मा ने नगर थाना में आवेदन देकर उपेंद्र शर्मा (समधी), रेनू देवी (समधन) और धर्मेंद्र शर्मा (दामाद) के विरुद्ध लिखित आवेदन देकर कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है.

दो सालों से चल रहा था प्रेम प्रसंग

बताया जाता है कि मामा-भांजी के बीच लगभग दो सालों से प्यार मोहब्बत चल रहा था. इसी को लेकर धर्मेंद्र शर्मा बीते दिनों मुंबई से नवादा आया आया था. कुछ दिन घर पर रहा. इस दौरान वो भांजी को मिलने बुलाया करता था. उसके बाद 13 तारीख को फोन पर उसे नवादा के सद्भावना चौक बुलाया और पूरी प्लानिंग के साथ भगनी को लेकर फरार हो गया. 

NEWBIHAR

Sep 17 2021, 08:53

Weather: बिहार में बादलों के साथ हुई सुबह, बारिश के बारे में पटना केंद्र ने जारी किया पूर्वानुमान

Bihar Weather Today: बिहार में आज मौसम का मिजाज नर्म रहने की उम्‍मीद है। शुक्रवार की सुबह राज्‍य के ज्‍यादातर हिस्‍सों में बादल छाए रहे, हालांकि तेज बारिश की संभावना राज्‍य में नहीं के बराबर है।

पटना के मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक कुछ इलाकों में हल्‍की से मध्‍यम दर्जे की बारिश हो सकती है। पश्चिमी चंपारण में बारिश के आसार अधिक हैं। राज्‍य में मौसम का मिजाज तेजी से बदल रहा है। सितंबर के पहले हफ्ते में राज्‍य के ज्‍यादातर हिस्‍सों में लोगों को तेज गर्मी और उमस का सामना करना पड़ा तो दूसरे हफ्ता खत्‍म होते-हाेते कई इलाकों में बारिश से मौसम सुहाना हो गया। राज्‍य में मानसून अब अपने ढलान पर है।

अगले पांच दिन तक के लिए कोई अलर्ट नहीं

बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र की वजह से पिछले कुछ दिनों में शाहाबाद, सारण और मगध क्षेत्र के कुछ जिलों में बारिश हुई है, लेकिन बारिश का यह सिलसिला अब धीरे-धीरे बंद होने के आसार हैं। पटना के मौसम विज्ञान केंद्र ने अगले पांच दिनों के लिए मौसम पूर्वानुमान में राज्‍य के किसी जिले के लिए कोई चेतावनी जारी नहीं की है। हालांकि इस बीच स्‍थानीय कारणों से कुछ जिलों में हल्‍की से मध्‍यम दर्जे की बारिश होती रहेगी।

पटना में बादलों से भरे आसमान के साथ सुबह

शुक्रवार को यानी आज पटना में सुबह की शुरुआत बादलों से भरे आसमान के साथ हुई है। सुबह आठ बजे तक शहर में धूप नहीं निकल सकी थी। पटना में तापमान सामान्‍य रहने की संभावना है। 

Manavraj

Sep 17 2021, 07:56

Bihar Toll Collection: पहली बार टोल टैक्स वसूलेगा बैंक, कर्ज लेने वाली कंपनी पुल का निर्माण अधर में छोड़ भागी

राज्य ब्यूरो, पटना। शायद यह पहली बार होगा जब किसी आधारभूत संरचना से जुड़े प्रोजेक्ट में दी गई ऋण राशि को बैंक टोल की राशि से वसूलेंगे। मामला पटना के बख्तियारपुर से समस्तीपुर के ताजपुर के बीच गंगा नदी पर बनने वाले मेगा ब्रिज का है। पुल सेक्टर में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप मोड में बनने वाला यह पुल है। वर्ष 2011 के नवंबर से यह बन रहा। इस प्रोजेक्ट के लिए बैंक ने 474 करोड़ रुपए ऋण निर्माण एजेंसी को दिए थे जो अब बढ़कर 500 करोड़ से ऊपर हो गए हैं। निर्माण एजेंसी ने यह कह कर हाथ खड़े कर दिए हैं कि उसके पास निर्माण के लिए पैसे नहीं हैं। बैंक से ली गई राशि उसने प्रोजेक्ट में लगा दी है। ऐसे में बैंक की राशि फंस गई है। निर्माण अभी पचास फीसद से आगे नहीं बढ़ पाया है। 

सरकार के स्तर पर कई बार इस प्रोजेक्ट के काम को पूरा किए जाने को ले निर्माण एजेंसी व बैंक के स्तर पर बातचीत नहीं बनी। इसके बाद सरकार ने यह तय किया है कि वह अब अपने स्तर से इस प्रोजेक्ट के लिए राशि की व्यवस्था कर काम को पूरा कराएगी। इसके लिए विशेष तौर राशि की व्यवस्था करायी जाएगी। बैैंक का हित देखते हुए यह तय हुआ है कि बैंकों ने जो राशि इस प्रोजेक्ट के लिए दिए हैैं उसकी वसूली वह इस पुल के बन जाने के बाद टोल की राशि से कर ले। जब बैंकों द्वारा दी गयी ऋण राशि की वसूली पूरी हो जाएगी तब सरकार के स्तर पर पुल पर टोल की वसूली की जाएगी। इस तरह से पुल का निर्माण कार्य संभव हो सकेगा। पूर्व में यह योजना था कि इस पुल के निर्माण के लिए नए सिरे से निविदा की जाएगी।

वाइबिलिटी गैप फंड के तहत उपलब्ध होगी कुछ राशि

एक दशक से भी अधिक समय से अटके इस प्रोजेक्ट के लिए कुछ राशि वाइबिलिटी गैप फंड के तहत भी उपलब्ध हो जाएगी। पीपीपी मोड में बनने वाले आधारभूत प्रोजेक्ट के लिए तय फारमूले के तहत एक तय प्रतिशत सरकार द्वारा भी उपलब्ध कराया जाता है। पुल की अनुमानित लागत 1044 करोड़ तक पहुंच गयी है। पुल की लंबाई 51 किमी है। इसमें पुल 5.50 किमी लंबा है और 46 किमी लंबाई वाला एप्रोच रोड है। 

Firstbihar

Sep 17 2021, 07:11

Bihar Politics: राजद सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप के हाथ में नहीं रहेगा 'लालटेन', 'RJD' का नाम भी छोड़ा, 24 घंटे में ही बदल गया सबकुछ
  




 बिहार के आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के बड़े लाल तेज प्रताप यादव का विवादों से साथ नहीं छूट रहा। छात्र राजद से दूरी बनाकर छात्र जनशक्ति परिषद बनाने वाले तेज प्रताप यादव को 'हाथ में लालटेन' वाली फोटो के इस्तेमाल की भी इजाजत नहीं मिली। लिहाजा अब 2 अक्टूबर को छात्र जनशक्ति परिषद फैसला करेगा कि इसका लोगो क्या होगा और आगे की रूपरेखा क्या होगी। दरअसल, पिछले दिनों तेज प्रताप यादव ने छात्र जन शक्ति परिषद का गठन किया और इसके संगठन प्रभारी के रूप में डॉ सुमंत राव को जिम्मेदारी दी। वहीं प्रदेश अध्यक्ष प्रशांत यादव को बनाया गया। सूत्रों के मुताबिक संगठन की घोषणा और इसके प्रतीक चिन्ह के रूप में हाथ में लालटेन की तस्वीर को लेकर राजद ने सवाल खड़े किए, जिसके बाद आखिरकार छात्र जनशक्ति परिषद ने हाथ में लालटेन वाली फोटो को हटा लिया है।

छात्र जनशक्ति परिषद राष्ट्रीय जनता दल के नाम का इस्तेमाल भी नहीं करेगा। इस बात की पुष्टि छात्र जनशक्ति परिषद के संगठन प्रभारी और राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ सुमंत राव ने ईटीवी भारत से की है। डॉक्टर सुमंत राव ने बताया कि हम किसी विवाद में नहीं पड़ना चाहते क्योंकि हमने छात्र जनशक्ति परिषद बनाई है यह कोई राजनीतिक दल नहीं है और इसका काम चुनाव लड़ना भी नहीं है। लेकिन इतना तय है कि हम राजद को मजबूत करने के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि आगे छात्र जनशक्ति परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेज प्रताप का जो निर्देश होगा, उस हिसाब से हम निर्णय लेंगे। फिलहाल राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के निर्देश के मुताबिक किसी विवाद से बचने के लिए हाथ में लालटेन वाली फोटो को हमने हटा दिया है। डॉक्टर सुमन राव ने कहा कि आगामी 2 अक्टूबर, 11 अक्टूबर और 17 अक्टूबर को छात्र जनशक्ति परिषद विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करेगा, जिसमें संगठन के आगे की रूपरेखा पर विस्तृत रूप से चर्चा होगी।

इस तमाम वाकये को लेकर अब यह सवाल खड़े हो रहे हैं कि क्या राष्ट्रीय जनता दल से तेज प्रताप यादव का नाता पूरी तरह टूट चुका है। हालांकि छात्र जनशक्ति परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ हेमंत राव ने कहा कि कहीं कोई विवाद नहीं है। आने वाले दिनों में हम छात्र जनशक्ति परिषद से जुड़े तमाम मामलों पर निर्णय लेंगे। बता दें कि तेज प्रताप यादव छात्र राजद के संरक्षक के तौर पर काम कर रहे थे। इस बीच पिछले महीने जगदानंद सिंह से हुए विवाद के बाद राजद के प्रदेश अध्यक्ष ने छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष के पद पर गगन यादव की नियुक्ति कर दी। जिसके बाद तेज प्रताप यादव ने खासी नाराजगी जताते हुए जगदानंद सिंह पर कार्रवाई की मांग की थी। उस विवाद के बाद तेज प्रताप यादव ने छात्र राजद से नाता तोड़ लिया और छात्र जनशक्ति परिषद का गठन किया है। 

RFSNIFTNIDInsititute1

Sep 16 2021, 18:38

NID Studio Test in Patna | RFS NIFT NID Coaching Institute

RFS studio is the answer to all of your design education needs. All leading resources are provided, including world-class study materials.
For more details:- https://www.rfsniftnid.com/nid-studio-test.php
Mail Us at- Number:- 98356000222 / 9304024132  
Address:-  Sumati Place, Boring Road, Opp Alankar Place Patna, Bihar 800001   

Patna

Sep 16 2021, 11:51

तेजस्वी यादव के बाद अब पूर्व सीएम मांझी ने बिहार में शराबबंदी पर उठाए सवाल, कहा-प्रदेश में शराबबंदी के बाद पहले से दुगनी हो गई है बिक्री 
  
 Click for details


डेस्क : छपरा में सांसद निधि से मिले एंबुलेंस से शराब बरामदगी के बाद एकबार फिर प्रदेश में शराबबंदी कानून को लेकर सवाल खड़ा किया जाने लगा है। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी के बाद अब  बिहार के पूर्व सीएम और हम प्रमुख जीतन राम मांझी ने एकबार फिर राज्य में लागू शराबबंदी कानून (Bihar Liquor Ban Policy) पर फिर से सवाल उठाते हुए गंभीर आरोप लगाए है। 

  

 Click for details

मांझी ने कहा है कि शराबबंदी के पहले बिहार में जितनी शराब बिकती थी आज उससे दोगुनी शराब की बिक्री हो रही है। उन्होंने कहा है कि शराब बंदी कानून में जिन पर कार्रवाई होती है उसमें तीन चौथाई लोग ऐसे होते हैं जो गरीब हैं। शराबबंदी कानून के तहत गरीब लोगों पर अधिकतम कार्रवाई होती है। मांझी ने कहा है कि बिहार में वर्तमान हालात में शराबबंदी कानून की समीक्षा की जरूरत है।

  


हालांकि छपरा में सरकारी एंबुलेंस में शराब मिलने के मामले में जीतन राम मांझी बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रुडी पर किसी तरह का कोई दोषारोपण नहीं किया। उन्होंने कहा कि विधायक और सांसद अपने फंड से इलाके में एंबुलेंस देते हैं लेकिन उस पर शराब की तस्करी करना गलत है। उन्होंने कहा कि उस गाड़ी के ड्राइवर पर कार्रवाई होनी चाहिए। इस मामले में सांसद राजीव प्रताप रूडी के ऊपर कोई सवाल खड़ा नहीं होता है क्योंकि रू़ड़ी जी की इसमें संलिप्तता नहीं है। 

FirstReporter

Sep 16 2021, 09:29

@WeAreSecular

Welcome to the StreetBuzz platform

Follow Hindi News
@India
@Bihar
@Jharkhand
@lucknow

For Job 
@Job_info

and many more handles 

Follow Bangla News
@kolkata

Follow Telugu News
@Centralnews
@TS News

We encourage reporters to post as much news as possible and share it with your contact on your Facebook and WhatsApp

Make money on viewership
Contact 8105099344 on WhatsApp for payment on your views 

FirstReporter

Sep 16 2021, 09:29

@Rajnishpal2

Welcome to the StreetBuzz platform

Follow Hindi News
@India
@Bihar
@Jharkhand
@lucknow

For Job 
@Job_info

and many more handles 

Follow Bangla News
@kolkata

Follow Telugu News
@Centralnews
@TS News

We encourage reporters to post as much news as possible and share it with your contact on your Facebook and WhatsApp

Make money on viewership
Contact 8105099344 on WhatsApp for payment on your views 

SYEDMOHAMMADALAM35

10 hours ago

nपूर्वी चंपारण जिले ने 17 सितंबर को चलाए गए कोविड टीकाकरण महाअभियान में कुल 225605 लोगों को टीका लगा कर देश में तीसरा और राज्य में पहला सबसे ज्यादा टीका लगाने वाला जिला बना। ज्ञात हो कि इससे पहले भी राज्य में 31अगस्त और 6 सितंबर को चलाए गए टीकाकरण महाअभियान में क्रमशः 166078 और 125298 लोगो को टीका लगाकर राज्य में पहला स्थान प्राप्त किया था। #6month6crore #megavaccinationdrive #megavaccinationcamp Information & Public Relations Department, Government of Bihar Ministry of health and family welfare Government of Bihar Bihar Health Department Ministry of Health and Family Welfare, Government of India


FirstNews

Sep 18 2021, 11:17

बिहार विधान परिषद के लिए गया की महिला को प्रत्‍याशी बनाएगा जदयू, CM नीतीश कुमार ने की थी मुलाकात

Bihar Politics: बिहार विधान परिषद (Bihar Legislative Council) की खाली हुई एक सीट पर जदयू (JDU) की ओर से रोजीना अख्तर (Rojina Akhtar) को प्रत्याशी बनाया जाएगा।

रोजीना दिवंगत विधान पार्षद तनवीर अख्‍तर (Tanveer Akhtar) की पत्नी हैं। हाल में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने उनसे मुलाकात की थी। पटना में उनके पति को बतौर विधान पार्षद मिला सरकारी आवास खाली नहीं करने का आश्वासन दिया था। बिहार सरकार के भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी (Ashok Chaudhary) ने रोजीना को प्रत्याशी बनाने की पहल की है। तनवीर से इनकी गहरी मित्रता थी। कांग्रेस से तनवीर भी अशोक चौधरी के साथ ही जदयू में आए थे।

जुलाई 2022 तक होगा कार्यकाल

चुनाव आयोग (Election Commission of India) ने बिहार विधान परिषद की इस रिक्‍त सीट के लिए चुनाव की अधिसूचना जारी कर दी है। अधिसूचना के मुताबिक यह सीट नौ मई 2021 से रिक्‍त है, और इसका कार्यकाल 21 जुलाई 2022 को पूरा हो जाएगा। 15 सितंबर को जारी अधिसूचना के मुताबिक 22 तारीख तक इस पद के लिए नामांकन पत्र दाखिल किया जा सकता है। 23 तारीख को स्‍क्रूटिनी और 27 सितंबर तक वक्‍त नाम वापसी के लिए निर्धारित है। एक से अधिक प्रत्‍याशी होने की स्थिति में चार अक्‍टूबर को सुबह नौ बजे से शाम चार बजे तक मतदान कराया जाएगा। मतों की गिनती भी उसी दिन शाम पांच बजे से कराई जानी है।

कांग्रेस के साथ तनवीर ने की थी राजनीति की शुरुआत

गया निवासी तनवीर अख्‍तर का मई महीने में कोरोनावायरस संक्रमण से निधन हो गया था। उनकी सीट पर कार्यकाल आठ महीने बचा है। उन्‍होंने राजनीति की शुरुआत कांग्रेस के साथ की थी। वे कांग्रेस की बिहार इकाई के उपाध्‍यक्ष और बिहार प्रदेश युवा कांग्रेस प्रकोष्‍ठ के अध्‍यक्ष भी रह चुके थे। उन्‍होंने दिल्‍ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी से शिक्षा ग्रहण की थी और वहां छात्र संघ के अध्‍यक्ष भी चुने गए थे। अशोक चौधरी के नेतृत्‍व में कांग्रेस के कई नेताओं ने जदयू का दामन थाम लिया तो उस समूह में तनवीर भी शामिल थे। 

Dailynews

Sep 18 2021, 00:50

Bihar : भांजी पर आया मामा का दिल, पत्नी और बेटे को छोड़कर हुआ फरार, दो सालों से चल रहा था प्रेम प्रसंग
  


नवादा: बिहार के नवादा जिले में हैरान करने वाला मामला सामने आया है. मामला जिले के गोविंदपुर थाना क्षेत्र के बुधवारा गांव का है, जहां मुंबई से नवादा आया शख्स पत्नी को छोड़कर अपनी भांजी को लेकर फरार हो गया है.

इस मामले में शख्स के ससुर उक्त गांव निवासी विनोद शर्मा ने नगर थाना में आवेदन देकर दमाद के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. विनोद शर्मा ने बताया है कि उनका दामाद जिले के वजीरगंज थाना क्षेत्र के तिलोरी गांव निवासी उपेंद्र शर्मा का बेटा धर्मेंद्र शर्मा उर्फ चंदन शर्मा है, जो अपनी ही भांजी को लेकर भाग गया है. वहीं, अपनी पत्नी को घर पर छोड़ दिया है.

उनकी मानें तो धर्मेंद्र ने अपने मामा पप्पू शर्मा की बेटी रानी कुमारी को बीते 13 तारीख को फोन कर कर बुलाया और उसे लेकर फरार हो गया. लड़की की काफी खोजबीन की गई, लेकिन उसका अब तक पता नहीं चला है. विनोद शर्मा ने कहा कि साल 2015 में हिंदू रीति रिवाज के अनुसार उनकी बेटी की धर्मेंद्र के साथ शादी कराई गई थी और दोनों को एक बेटा भी है.

धर्मेंद्र मुंबई में रह कर प्राइवेट कंपनी नौकरी करता है. बीते दिनों वो वहां से आता और आने के बाद अपनी ही भांजी को लेकर भाग गया. फिलहाल पूरे मामले में विनोद शर्मा ने नगर थाना में आवेदन देकर उपेंद्र शर्मा (समधी), रेनू देवी (समधन) और धर्मेंद्र शर्मा (दामाद) के विरुद्ध लिखित आवेदन देकर कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है.

दो सालों से चल रहा था प्रेम प्रसंग

बताया जाता है कि मामा-भांजी के बीच लगभग दो सालों से प्यार मोहब्बत चल रहा था. इसी को लेकर धर्मेंद्र शर्मा बीते दिनों मुंबई से नवादा आया आया था. कुछ दिन घर पर रहा. इस दौरान वो भांजी को मिलने बुलाया करता था. उसके बाद 13 तारीख को फोन पर उसे नवादा के सद्भावना चौक बुलाया और पूरी प्लानिंग के साथ भगनी को लेकर फरार हो गया. 

NEWBIHAR

Sep 17 2021, 08:53

Weather: बिहार में बादलों के साथ हुई सुबह, बारिश के बारे में पटना केंद्र ने जारी किया पूर्वानुमान

Bihar Weather Today: बिहार में आज मौसम का मिजाज नर्म रहने की उम्‍मीद है। शुक्रवार की सुबह राज्‍य के ज्‍यादातर हिस्‍सों में बादल छाए रहे, हालांकि तेज बारिश की संभावना राज्‍य में नहीं के बराबर है।

पटना के मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक कुछ इलाकों में हल्‍की से मध्‍यम दर्जे की बारिश हो सकती है। पश्चिमी चंपारण में बारिश के आसार अधिक हैं। राज्‍य में मौसम का मिजाज तेजी से बदल रहा है। सितंबर के पहले हफ्ते में राज्‍य के ज्‍यादातर हिस्‍सों में लोगों को तेज गर्मी और उमस का सामना करना पड़ा तो दूसरे हफ्ता खत्‍म होते-हाेते कई इलाकों में बारिश से मौसम सुहाना हो गया। राज्‍य में मानसून अब अपने ढलान पर है।

अगले पांच दिन तक के लिए कोई अलर्ट नहीं

बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र की वजह से पिछले कुछ दिनों में शाहाबाद, सारण और मगध क्षेत्र के कुछ जिलों में बारिश हुई है, लेकिन बारिश का यह सिलसिला अब धीरे-धीरे बंद होने के आसार हैं। पटना के मौसम विज्ञान केंद्र ने अगले पांच दिनों के लिए मौसम पूर्वानुमान में राज्‍य के किसी जिले के लिए कोई चेतावनी जारी नहीं की है। हालांकि इस बीच स्‍थानीय कारणों से कुछ जिलों में हल्‍की से मध्‍यम दर्जे की बारिश होती रहेगी।

पटना में बादलों से भरे आसमान के साथ सुबह

शुक्रवार को यानी आज पटना में सुबह की शुरुआत बादलों से भरे आसमान के साथ हुई है। सुबह आठ बजे तक शहर में धूप नहीं निकल सकी थी। पटना में तापमान सामान्‍य रहने की संभावना है। 

Manavraj

Sep 17 2021, 07:56

Bihar Toll Collection: पहली बार टोल टैक्स वसूलेगा बैंक, कर्ज लेने वाली कंपनी पुल का निर्माण अधर में छोड़ भागी

राज्य ब्यूरो, पटना। शायद यह पहली बार होगा जब किसी आधारभूत संरचना से जुड़े प्रोजेक्ट में दी गई ऋण राशि को बैंक टोल की राशि से वसूलेंगे। मामला पटना के बख्तियारपुर से समस्तीपुर के ताजपुर के बीच गंगा नदी पर बनने वाले मेगा ब्रिज का है। पुल सेक्टर में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप मोड में बनने वाला यह पुल है। वर्ष 2011 के नवंबर से यह बन रहा। इस प्रोजेक्ट के लिए बैंक ने 474 करोड़ रुपए ऋण निर्माण एजेंसी को दिए थे जो अब बढ़कर 500 करोड़ से ऊपर हो गए हैं। निर्माण एजेंसी ने यह कह कर हाथ खड़े कर दिए हैं कि उसके पास निर्माण के लिए पैसे नहीं हैं। बैंक से ली गई राशि उसने प्रोजेक्ट में लगा दी है। ऐसे में बैंक की राशि फंस गई है। निर्माण अभी पचास फीसद से आगे नहीं बढ़ पाया है। 

सरकार के स्तर पर कई बार इस प्रोजेक्ट के काम को पूरा किए जाने को ले निर्माण एजेंसी व बैंक के स्तर पर बातचीत नहीं बनी। इसके बाद सरकार ने यह तय किया है कि वह अब अपने स्तर से इस प्रोजेक्ट के लिए राशि की व्यवस्था कर काम को पूरा कराएगी। इसके लिए विशेष तौर राशि की व्यवस्था करायी जाएगी। बैैंक का हित देखते हुए यह तय हुआ है कि बैंकों ने जो राशि इस प्रोजेक्ट के लिए दिए हैैं उसकी वसूली वह इस पुल के बन जाने के बाद टोल की राशि से कर ले। जब बैंकों द्वारा दी गयी ऋण राशि की वसूली पूरी हो जाएगी तब सरकार के स्तर पर पुल पर टोल की वसूली की जाएगी। इस तरह से पुल का निर्माण कार्य संभव हो सकेगा। पूर्व में यह योजना था कि इस पुल के निर्माण के लिए नए सिरे से निविदा की जाएगी।

वाइबिलिटी गैप फंड के तहत उपलब्ध होगी कुछ राशि

एक दशक से भी अधिक समय से अटके इस प्रोजेक्ट के लिए कुछ राशि वाइबिलिटी गैप फंड के तहत भी उपलब्ध हो जाएगी। पीपीपी मोड में बनने वाले आधारभूत प्रोजेक्ट के लिए तय फारमूले के तहत एक तय प्रतिशत सरकार द्वारा भी उपलब्ध कराया जाता है। पुल की अनुमानित लागत 1044 करोड़ तक पहुंच गयी है। पुल की लंबाई 51 किमी है। इसमें पुल 5.50 किमी लंबा है और 46 किमी लंबाई वाला एप्रोच रोड है। 

Firstbihar

Sep 17 2021, 07:11

Bihar Politics: राजद सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप के हाथ मे