Ranchi

Sep 24 2020, 15:26

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पशुओं के लिए टीकाकरण अभियान का शुभारंभ किया
  


रांची : मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने पशुओं में खुरहा-चपका(एफएमडी) एवं ब्रुसोलोसिस बीमारियों के रोकथाम एवं उन्मूलन हेतु राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम अंतर्गत टीकाकरण अभियान का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने सांकेतिक तौर पर पांच टीका कर्मियों को टैब, आइस बॉक्स, दवा और टैग प्रदान किया। ताकि पूरे राज्य में टीका कर्मी घूम-घूम कर गाय, बकरी और सुकर जैसे पशुओं को वैक्सीन व दवा देकर रोग मुक्त कर सकें। पांच वर्ष तक वर्ष में दो बार टीकाकरण अभियान का संचालन किया जायेगा। इस मौके पर कृषि मंत्री  बादल, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव  राजीव अरुण एक्का, कृषि सचिव अब्बू बकर सिद्दीकी, कृषि निदेशक  नैंसी सहाय व अन्य उपस्थित थे।

Ranchi

Sep 24 2020, 13:07

होम आइसोलेशन के मरीज को 10 दिन में दो बार जांचें डॉक्टर
  


रांची : डीसी छवि रंजन ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि होम आइसोलेशन की स्वीकृति देने से पहले इंसिडेंट कमांडर संबंधित मरीज का रजिस्ट्रेशन एनएचएम द्वारा विकसित पोर्टल पर सुनिश्चित करें। वहीं होम आइसोलेशन में मरीज की जांच के लिए कम से कम 10 दिन में दो बार डाॅक्टर विजिट करें। डीसी ने होम आइसोलेशन सेल के वरीय पदाधिकारी से कहा कि होम आइसोलेशन में डाॅक्टर्स विजिट कर रहे हैं या नहीं इसकी पूरी जानकारी रखें। डीसी ने रैपिड एंजीजेन टेस्ट और आरटीपीसीआर टेस्ट के रेशियो को मेंटेन करने का निर्देश देते हुए सदर एसडीओ को सभी टेस्टिंग सेंटर के इंजार्च के साथ समीक्षा कर जांच की संख्या बढ़ाने कहा। वहीं, अब एडीएम लाॅ एंड ऑर्डर स्टैटिक टेस्टिंग सेंटर में टीम किस तरह से काम कर रही है, इसकी जांच करेंगे।

निजी हॉस्पिटल व लैब की हर दिन होगी जांच

प्राइवेट हाॅस्पिटल और लैब में कोविड-19 की जांच सरकार द्वारा तय की दर पर हो रही है या नहीं, अब इसकी जांच हर दिन होगी। डीसी ने कहा कि इसकी जांच कर प्रतिदिन रिपोर्ट दें। वहीं, एसीएमओ रांची को पारस अस्पताल और खेलगांव स्थित कोविड केयर सेंटर में विजिट कर वहां कितने डाॅक्टरों की आवश्यकता है, इसकी जानकारी देने कहा।

Ranchi

Sep 24 2020, 12:58

कोविड 19 अपडेट
  


झारखंड में पिछले 24 घंटे में 1141 नए मरीज मिले, 3 की मौत, 1232 हुए ठीक

रांची : झारखंड में रोज एक हजार से अधिक कोरोना संक्रमित मिलने का सिलसिला जारी है। पिछले 24 घंटों में 1,141 कोरोना पॉजिटिव मिले। इनमें रांची से सबसे अधिक 413 मरीज मिले। इधर, राज्य में तीन कोरोना मरीजों की जान भी चली गई। इनमें जमशेदपुर, रामगढ़ और चाईबासा के 1-1 मरीज हैं। राहत की बात यह है कि संक्रमितों से अधिक स्वस्थ होने वाला का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है। बुधवार को 1232 मरीज ठीक होकर घर लौटे। इनमें रांची के 285 लोग शामिल हैं।

कहां कितने मरीज मिले

रांची 413, बोकारो 78, चतरा 03, देवघर 21, धनबाद 62, दुमका 22, पू. सिंहभूम 131, गढ़वा 31, गिरिडीह 21, गोड्डा 17, गुमला 14, हजारीबाग 41, जामताड़ा 3, खूंटी 56, कोडरमा 22, लातेहार 06, लोहरदगा 28, पाकुड़ 12, पलामू 30, रामगढ़ 30, सरायकेला 25, सिमडेगा 05 और प. सिंहभूम 70,इन नए मरीजो की पुष्टि के बाद राज्य में कोरोना संक्रमण के कुल आंकड़े 75,089 हो गए है वही अबतक राज्य में 648 लोगो की मौत कोरोना की वजह से हो चुकी है ।

Ranchi

Sep 24 2020, 12:38

नियोजन नीति रद्द मामला: सुप्रीम कोर्ट जाएगी झारखंड सरकार
  


रांची : हाईकोर्ट द्वारा झारखंड की नियाेजन नीति रद्द करने के खिलाफ हेमंत सरकार सुप्रीम कोर्ट जाएगी। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बताया कि हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ झारखंड सरकार सुप्रीम कोर्ट में स्पेशल लीव पिटीशन फाइल करेगी।
गौरतलब है कि झारखंड हाईकोर्ट ने सोमवार को नियोजन नीति को असंवैधानिक बताते हुए इसे रद्द कर दिया है। जस्टिस एचसी मिश्र, जस्टिस एस. चंद्रशेखर और जस्टिस दीपक रोशन की पीठ ने सर्वसम्मति से फैसला सुनाते हुए कहा था कि यह नीति संविधान के प्रावधानों के अनुरूप नहीं है। बाद में सीएम ने कहा था कि नियोजन नीति पर हाईकोर्ट का जो आदेश आया है, उसका आकलन करने के बाद सरकार आगे का रास्ता निकालेगी।

Ranchi

Sep 23 2020, 20:38

अनुबंध बढ़ाने और मानदेय वृद्धि पर विचार करने के आश्वासन के बाद 
  

12 जिलों के 25 सौ सहायक पुलिस कर्मियों की हड़ताल खत्म

रांची : पिछले 12 दिनों से मोरहाबादी मैदान में स्थाई करने की मांग को लेकर धरना पर बैठे 12 जिलों के 25 सौ सहायक पुलिस कर्मियों की हड़ताल आज शाम खत्म हो गई। सहायक पुलिस कर्मियों का एक प्रतिनिधिमंडल सरकार के मंत्री मिथिलेश ठाकुर से मुलाकात कर बातचीत की। इसके बाद 2 वर्षों तक अनुबंध बढ़ाने की बात पर सहमति बनी।
मानदेय में वृद्धि करने की मांग को लेकर मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने प्रतिनिधिमंडल को आश्वासन दिया कि सरकार के स्तर से एक कमेटी का गठन किया जाएगा। जो सहायक पुलिस कर्मियों की स्थिति के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी जुटाने के बाद रिपोर्ट सौंपेगी। लगभग 15 दिनों के अंदर यह रिपोर्ट सरकार के पास पहुंचा दी जाएगी।
पिछले 12 दिनों से मोरहाबादी मैदान में स्थाई करने की मांग को लेकर धरना पर बैठे थे 12 जिलों के सहायक पुलिसकर्मी।
मुख्यमंत्री का आदेश मिलते ही सभी सहायक पुलिसकर्मियों को एक सम्मानजनक वेतन तय किया जाएगा। सहायक पुलिस कर्मियों ने मंत्री मिथिलेश ठाकुर से बातचीत करने के बाद हड़ताल खत्म करने का ऐलान किया। इसके बाद सभी जिला के लिए बस मोरहाबादी मैदान में पहुंची और पुलिसकर्मियों को उनके गृह जिला भेजा गया।

Ranchi

Sep 23 2020, 20:37

कोविड-19 जांच के लिए स्टैटिक टेस्टिंग सेन्टर, रांची में 07 स्थानों पर स्टैटिक टेस्टिंग सेन्टर
  




कोविड-19 के नियंत्रण के लिए रांची जिला प्रशासन द्वारा स्टैटिक टेस्टिंग सेंटर लगाकर लोगों की जांच की जा रही है। दिनांक 24 सितंबर 2020 को 07 जगहों पर बनाये गए टेस्टिंग सेंटर में सैंपल कलेक्शन का कार्य किया जाएगा। सभी सेंटर में सुबह 10ः00 बजे से शाम 06ः00 बजे तक सैंपल कलेक्शन का कार्य होगा।

इन सेंटर्स पर लोग कोविड-19 जांच हेतु अपना स्वाब सैंपल जमा करवा सकते हैं। जांच के लिए नाम, पता, थाना का नाम, मोबाइल नम्बर सहित सभी जानकारी सही-सही दर्ज कराना आवश्यक है। कोविड-19 जांच के लिए टेस्टिंग सेंटर पर स्वाब सैंपल देने आने वाले लोगों के लिए मास्क पहनना अतिआवश्यक है, साथ ही लोगों से टेस्टिंग सेंटर पर सोशल डिस्टेंसिंग एवं अन्य सुरक्षा मानकों के अनुपालन की भी अपील की गई है ताकि संक्रमण का खतरा कम हो।

इन जगहों पर बनाए गए हैं स्टैटिक टेस्टिंग सेंटर

1. जिला स्कूल, शहीद चैक, रांची।
2. राम लखन सिंह यादव कॉलेज, कोकर।
3. डोरंडा कॉलेज, डोरंडा।
4. जगन्नाथपुर क्लब, गोल चक्कर, धुर्वा।
5. तरुण विकास मध्य विद्यालय, महादेव टोली, चुटिया।
6. खादगढ़ा बस स्टैण्ड।
7. बिरसा मुण्डा एयरपोर्ट।

Ranchi

Sep 23 2020, 18:13

कोरोना संक्रमण के रोकथाम हेतु हाउस टू हाउस सर्वे का काम जारी,आज 1063 घरों तक पहुंची जिला प्रशासन की टीम,4532 लोगों की हुई स्क्रीनिंग
  


रांची : कोविड-19 के संक्रमण के रोकथाम के लिए रांची जिला प्रशासन की ओर से हाउस टू हाउस सर्वे का काम जारी है। आज दिनांक 23 सितंबर को रांची के अलग-अलग कंटेन्मेंट क्षेत्रों के आस-पास हाउस टू हाउस सर्वे किया गया। आज बुधवार को बरियातू, कांके रोड, हरमू, करमटोली एवं कोकर इत्यादि क्षेत्रों में जिला प्रशासन की टीम के द्वारा हाउस टू हाउस सर्वे किया गया। इस दौरान लोगों में कोरोना वायरस के लक्षण संबंधी जांच की गई।आज किए गये हाउस टू हाउस सर्वे में मेडिकल टीम कुल 1063 घरों तक पहुंची, जिनमें कुल 4532 लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग की गई। मेडिकल स्क्रीनिंग टीम द्वारा स्क्रीनिंग के दौरान बरियातू क्षेत्र के 195, कांके रोड  क्षेत्र के 450 घरों, पत्थल कुडवा एवं कोकर क्षेत्र के 277 घरों सहित हरमू एवं करमटोली चौक इलाके के 150 घरों में स्क्रीनिंग का कार्य किया गया। हाउस टू हाउस सर्वे के दौरान मेडिकल टीम ने लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव की भी जानकारी दी। लोगों को बताया गया कि किस तरह से जिला प्रशासन रांची द्वारा दिए गए दिशा निर्देश का अनुपालन करते हुए कोरोना संक्रमण से बचा जा सकता है। मेडिकल टीम ने लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन और मास्क का इस्तेमाल करने को भी कहा।

Ranchi

Sep 23 2020, 18:09

केंद्र सरकार ने तीन काले कानूनों के माध्यम से किसान,खेत मजदूर, छोटे दुकानदार, मंडी मजदूर और कर्मचारियों की आजीविका पर क्रूर हमला किया है,कांग्रेस
  


रांची: झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोरनाथ शाहदेव और डा राजेश गुप्ता छोटू ने कहा है कि केंद्र सरकार ने तीन काले कानूनों के माध्यम से किसान, खेत-मजदूर, छोटे दुकानदार, मंडी मजदूर और कर्मचारियों की आजीविका पर क्रूर हमला बोला है। यह किसान, खेत और खलिहान के खिलाफ एक घिनौना षड़यंत्र है। उन्होंने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार इन तीन काले कानूनों के माध्यम से देश की हरित क्रांति को हराने की कोशिश की कर रही है।प्रदेश प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने कहा कि संघीय ढांचे का उल्लंघन कर, संविधान को रौंदकर, संसदीय प्रणाली को दरकिनार कर तथा बहुमत के आधार पर बाहुबली मोदी सरकार ने संसद के अंदर तीन काले कानूनों को जबरन तथा बगैर किसी चर्चा व राय मशवरे के पारित कर लिया। यहां तक कि राज्यसभा में हर संसदीय प्रणाली और प्रजातंत्र को तार-तार ये काले कानून पारित किये गये। उन्होंने कहा कि संसद में संविधान का गला घोंटा जा रहा है और खेत खलिहान में किसानों-मजदूरों की आजीविका का। जिन व्यक्तियों और ताकतों ने नरेंद्र मोदी के निरंकुश राजतंत्र को स्थापित करने के लिए पूरे प्रजातंत्र को ही निलंबित कर रखा है,उनसे कोई और उम्मीद की भी नहीं जा सकती। संसद में ‘वोट डिवीजन’ के न्याय की आवाज को दबाकर मुट्ठीभर पूंजीपतियों को खेती कर कब्जा करने के ‘वाॅईस वोट’ का अनैतिक वरदान दिया गया है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता लाल किशोरनाथ शाहदेव ने कहा कि प्रधानमंत्री और भाजपा सरकार देश को गुमराह करने और बरगलाने में लगी है। प्रधानमंत्री और भाजपा सरकार को किसानोंव मजदूरों को जवाब देना चाहिए कि अगर अनाजमंडी-सब्जी मंडी व्यवस्था यानि एपीएमसी पूरी तरह से खत्म हो जाएगी, तो कृषि उपज खरीद प्रणाली भी पूरी तरह से नष्ट हो जाएगी,ऐसे में किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य नहीं कैसे मिलेगा। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार का यह दावा कि अब किसान अपनी फसल देश में कहीं बेच सकता है, पूरी तरह से सफेद झूठ है।  आज भी किसान अपनी फसल किसी भी प्रांत में ले जाकर बेच सकता है, परंतु वास्तविक सत्य क्या है।

  • Ranchi
    कहा कि मंडियां खत्म होते ही अनाज-सब्जी मंडी में काम करने वाले लाखों-करोड़ मजदूरों, आढ़तियों, मुनीम, ढुलाईदारों, ट्रांसपोर्टरों, शेलर आदि की रोजी-रोटी तथा आजीविका अपने आप खत्म हो जाएगी। 
     प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता डा राजेश गुप्ता छोटू ने कहा कि अनाज-सब्जी मंडली खत्म होने के साथ ही प्रांतों की आय भी खत्म हो जाएगी, अभी प्रांत मार्केट फीस व ग्रामीण विकास फंड के माध्यम से ग्रामीण अंचल का ढांचागत विकास करते है। उन्होंने कहा कि कृषि विशेषज्ञों का कहना है कि अध्यादेश की आड़ में मोदी सरकार असल में शांता कुमार कमेटी की रिपोर्ट लागू करना चाहती है,ताकि एफसीआई के माध्यम से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद ही न करनी पड़े और सलाना 80 हजार से 1 लाख करोड़ की बचत हो। अध्यादेश के माध्यम से किसान को ठेका प्रथा में फंसा कर उसे अपनी ही जमीन में मजदूर बना दिया जाएगा । 
Ranchi

Sep 23 2020, 18:07

नियोजन नीति निरस्त मामला: शिक्षको का प्रतिनिधि मंडल ने वित्त मंत्री से मुलाकात कर  पुनरीक्षण याचिका दायर करने की अपील की
  


रांची: झारखंड उच्च न्यायालय द्वारा नियोजन नीति को निरस्त करने और शिक्षक नियुक्ति प्रक्रिया को रद्द करने के दिये गये फैसले से प्रभावित शिक्षकों के एक प्रतिनिधिमंडल ने आज रांची में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सह राज्य के वित्त तथा खाद्य आपूर्ति मंत्री डाॅ. रामेश्वर उरांव से मुलाकात की। 
शिक्षकों के प्रतिनिधिमंडल ने मंत्री रामेश्वर उरांव को यह जानकारी दी कि इस पूरे प्रकरण में उनका कोई दोष नहीं है, इसलिए उनके वेतन भुगतान पर कोई अंकुश न लगायी जाए साथ ही साथ जल्द ही उच्च न्यायालय के फैसले के में पुनरीक्षण याचिका दायर की जाए। 
शिक्षकों के प्रतिनिधिमंडल को मंत्री रामेश्वर उरांव ने भरोसा दिलाया कि सरकार उनसभी के साथ है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में वे मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी बात करेंगे और यह कोशिश की जाएगी कि उनकी नौकरी खत्म न हो। इस मौके पर कृषिमंत्री बादल, प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष केशव महतो कमलेश, प्रदेश प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे,डा राजेश गुप्ता छोटू और लाल किशोरनाथ शाहदेव भी उपस्थित थे।
13 जिलों के नियोजन नीति से प्रभावित शिक्षकों के प्रतिनिधिमंडल में शिक्षक नेता समीर चौधरी, अर्चना कुमारी,शिवेंद्र कुमार,संजय कुमार, मदन साहू, शशि भूषण राजू,पूर्णिमा तिवारी,संजीव कुमार, आशीष सिन्हा, समर महतो, प्रमोद यादव भी उपस्थित थे

Ranchi

Sep 23 2020, 11:58

मैट्रिक और इंटर के टॉपर्स को शिक्षा मंत्री ने दी सौगात, दोनो टॉपर्स को मिली कार
  


रांची : मैट्रिक और इंटरमीडिएट के राज्य टॉपर्स को शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो और विधानसभा अध्यक्ष रबींद्रनाथ महतो ने संयुक्त रूप से ऑल्टो कार की चाभी सौंपी। इस साल के मैट्रिक टॉपर मनीष कुमार कटियार और इंटर के ओवरऑल टॉपर अमित कुमार को यह सम्मान दिया गया। इस दौरान शिक्षा मंत्री ने घोषणा की कि अगले साल से वे राज्य के टॉपर्स को गोद लेंगे ताकि वो बच्चा अपने आगे की पढ़ाई पूरी कर सके। उनकी पढ़ाई का पूरा खर्च मैं खुद उठाउंगा।शिक्षा मंत्री ने कहा- मैं खुद छात्र हूं, अगली बार मैं भी जीत सकता हूं प्राइज
कार्यक्रम के दौरान शिक्षा मंत्री ने कहा कि मैं यहां मंत्री के साथ छात्र की हैसियत से भी खड़ा हूं। उन्होंने मजाकिया अंदाज में कहा कि अगले साल मैं भी यह प्राइज जीत सकता हूं। उन्होंने कहा कि रिजल्ट वाले दिन उन्होंने टॉपर्स को कार देने की घोषणा की थी जिसे आज पूरा कर दिया। उन्होंने कहा कि इस संबंध में सदन में एक साथी की ओर से सुझाव आया था कि बच्चों को कार न देकर उन्हें नगद राशि दी जाए जिससे रकम उनके भविष्य की पढ़ाई में काम आ जाए। फिर शिक्षा मंत्री ने कहा कि इस बार घोषणा कर दी है, तो कार देनी पड़ेगी। अगली बार से टॉपर्स के आगे की पढ़ाई का सारा खर्च मैं खूद उठाउंगा।शिक्षा मंत्री ने कहा कि वे पिछले 15 साल से अपने क्षेत्र के टॉपरों को विनोद बिहारी जयंती के दिन लैपटॉप देते आ रहे हैं। पहले उन्होंने घोषणा की थी कि उनके इंटर कॉलेज का कोई बच्चा अगर राज्य का टॉपर होगा तो उसे वे ऑल्टो कार देंगे। अब मंत्री बनने के बाद तो राज्य के सारे बच्चे अपने हुए। ऐसे में जो भी बच्चा टॉप किया, उसे तो ऑल्टो कार देनी ही थी। मंत्री बन जाने के बाद उन्होंने इस कार्यक्रम को भी राज्य स्तरीय कर दिया। कार, मोटरसाइकिल और साइकिल की खरीद पर कुल कितनी राशि खर्च हुई के सवाल पर शिक्षा मंत्री ने कहा कि अब इतना क्या जोड़ना। समाज का काम है, समाज मेरे साथ है। बच्चों को इससे प्रोत्साहन मिलता है। वे और मन लगा कर पढ़ते हैं। इसे देखते हुए वे पैसे को यहां महत्व नहीं देते।

  • Ranchi
     @Ranchi विधानसभा अध्यक्ष ने कहा- बच्चों मैं नैतिक गुण होना जरुरी
    
    कार्यक्रम के दौरान मौजूद झारखंड विधानसभा के अध्यक्ष रबींद्रनाथ महतो ने कहा कि बच्चों को बधाई और शुभकामनाएं। उन्होंने कहा कि आप अच्छे डॉक्टर, इंजीनियर, साइंटिस्ट बनें, लेकिन आपके अंदर नौतिक गुण का होना जरुरी है। उन्होंने शिक्षा मंत्री और राज्य के शिक्षकों से अपील की कि बच्चों के अंदर नैतिक गुण का भरने का प्रयास करना चाहिए। उन्होंने कहा कि पहले बच्चे पैदल या साइकिल से स्कूल आते थे और इतना अच्छा रिजल्ट होता था। अब टॉपर्स को ऑल्टो कार मिली है, उम्मीद है कि कार की स्पीड की तरह वे अपने लक्ष्य को भी पूरा करने में जुटेंगे।
    
    टॉपर्स ने कहा.. छात्रों को प्रोत्साहन मिलेगा
    
    गिरिडीह के सरिया से इंटरमीडिएट साइंस में टॉपर अमित कुमार ने कहा कि उन्होंने 2018 में भी राज्य में मैट्रिक में दूसरा स्थान प्राप्त किया था। आज मुझे कार मिली है जिससे आने वाले छात्रों को प्रोत्साहिन मिलेगा कि वे भी अच्छा कर सकते हैं। साइंस में अमित कुमार 457 अंकों के साथ टॉप किया है। अमित प्लस टू एसआरएसएसआर हाई स्कूल सरिया, बगोदर गिरिडीह के छात्र हैं। अमित कुमार के पिता बिरेन्द्र कुमार वर्णवाल व माता सीमा देवी हैं। अमित के दो भाई व बहन हैं। उनके पिता का सरिया रेलवे फाटक के पास बैटरी इन्वर्टर की दुकान है। अमित एनडीए की परीक्षा में भी सफल हो चुके हैं। लेकिन फिलहाल वो इंजीनियरिंग करना चाहते हैं और आगे यूपीएससी सिविल सर्विसेज में जाने का लक्ष्य है।वही मैट्रिक टॉपर मनीष कुमार कटियार ने कहा कि उन्होंने साइंस में एडमिशन लिया है और आगे प्रशासनिक सेवा में जाना चाहते हैं। आने वाले छात्रों के लिए कहा कि सिलेबस को फॉलो करे। आरईएस हाई स्कूल, नेतरहाट के मनीष कुमार कटियार 490 अंक के साथ स्टेट टॉपर बने हैं। मनीष साहिबगंज के रहने वाले हैं और उनके पिता किसान हैं। मनीष बताते हैं कि पिता देवासीख भारती उर्फ केदार महतो खेती करते हैं। खाली समय में कभी-कभार वो भी पिता का हाथ बंटाते हैं। परीक्षा की तैयारी में मनीष ने गंभीर होकर पढ़ाई की। वो दो भाई और बहन में सबसे बड़े हैं। बहन नौवीं में पढ़ाई कर रही है।