Gaya

Mar 23 2020, 23:04

गया के एएनएमसीएच अस्पताल से 21 संदिग्धों की रिपोर्ट आई नेगेटिव
  




गया। गया के अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज से कोरोना को लेकर राहतभरी खबर सामने आई है. अभी तक यहां के सभी संदिग्धों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है. अस्पताल के कोरोना वार्ड के नोडल पदाधिकारी डॉ एनके पासवान ने बताया कि फरवरी से अब तक एएनएमसीएचे के आइसोलेशन वार्ड में कुल 23 संदिग्ध मरीज को भर्ती किया गया है, जिनमें से कुल 21 की रिपोर्ट आरएमआरआई से मिल गयी है. इसमें सभी 21 रिपोर्ट नेगेटिव आई है. नेगेटिव रिपोर्ट आने के बाद संदिग्ध मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दी जा रही है. उसे स्वास्थय विभाग द्वारा जारी गाईडलाईन का पालन करने की हिदायत भी दी गई है. अभी दो संदिग्ध मरीज अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती हैं, जिनकी जांच रिपोर्ट आरएमआरआई से आनी बाकी है।

एएनएमसीएच के अधीक्षक विजयकृष्ण प्रसाद ने कहा कि स्वास्थय विभाग के गाईडलाईन के अनुसार अस्पताल में तैयारी और इलाज की व्यवस्था की जा रही है. अस्पताल की सभी तरह की ओपीडी सेवा बंद कर दी गयी है और गंभीर रूप से ओपीडी में आ रहे मरीजों का इमरजेंसी में ही इलाज किया जा रहा है.  इससे इमरजेंसी में मरीजों की संख्या काफी बढ़ गई है. इसलिए ओपीडी में आने वाले सामान्य मरीजों को अपने नजदीकी अस्पताल में जाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है. अस्पताल में रूटीन होने वाले ऑपरेशन को रोक दिया गया है. वहीं, स्वास्थय विभाग के प्रधान सचिव के आदेश पर 100 बेड का अतिरिक्त आइसोलेशन वार्ड तैयार किया गया है,जबकि 20 बेड का आइसोलेशन वार्ड पहले से काम कर रहा है.

Gaya

Mar 23 2020, 23:04

गया के एएनएमसीएच अस्पताल से 21 संदिग्धों की रिपोर्ट आई नेगेटिव
  




गया। गया के अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज से कोरोना को लेकर राहतभरी खबर सामने आई है. अभी तक यहां के सभी संदिग्धों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है. अस्पताल के कोरोना वार्ड के नोडल पदाधिकारी डॉ एनके पासवान ने बताया कि फरवरी से अब तक एएनएमसीएचे के आइसोलेशन वार्ड में कुल 23 संदिग्ध मरीज को भर्ती किया गया है, जिनमें से कुल 21 की रिपोर्ट आरएमआरआई से मिल गयी है. इसमें सभी 21 रिपोर्ट नेगेटिव आई है. नेगेटिव रिपोर्ट आने के बाद संदिग्ध मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दी जा रही है. उसे स्वास्थय विभाग द्वारा जारी गाईडलाईन का पालन करने की हिदायत भी दी गई है. अभी दो संदिग्ध मरीज अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती हैं, जिनकी जांच रिपोर्ट आरएमआरआई से आनी बाकी है।

एएनएमसीएच के अधीक्षक विजयकृष्ण प्रसाद ने कहा कि स्वास्थय विभाग के गाईडलाईन के अनुसार अस्पताल में तैयारी और इलाज की व्यवस्था की जा रही है. अस्पताल की सभी तरह की ओपीडी सेवा बंद कर दी गयी है और गंभीर रूप से ओपीडी में आ रहे मरीजों का इमरजेंसी में ही इलाज किया जा रहा है.  इससे इमरजेंसी में मरीजों की संख्या काफी बढ़ गई है. इसलिए ओपीडी में आने वाले सामान्य मरीजों को अपने नजदीकी अस्पताल में जाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है. अस्पताल में रूटीन होने वाले ऑपरेशन को रोक दिया गया है. वहीं, स्वास्थय विभाग के प्रधान सचिव के आदेश पर 100 बेड का अतिरिक्त आइसोलेशन वार्ड तैयार किया गया है,जबकि 20 बेड का आइसोलेशन वार्ड पहले से काम कर रहा है.