India

Jul 10 2024, 10:40

मोदी-पुतिन की मुलाकात के बाद अमेरिका का बड़ा बयान, कहा-भारत के पास है रूस-यूक्रेन युद्ध रूकवाने की क्षमता

#us_says_india_pm_modi_has_ability_to_urge_russia_putin_to_end_ukraine_war 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दो दिवसीय रूस यात्रा समाप्त हो चुकी है। पीएम मोदी के रूस दौरे पर पुरी दुनिया की नजर थी। भारत के पश्चिमी सहयोगियों के साथ-साथ चीन तक की इस पर नजर थी। रूसी राष्ट्रपति पुतिन के साथ पीएम मोदी की मुलाकात ऐसे समय में हुई है जब रूस और यूक्रेन का युद्ध चल रहा है। ऐसे में पीएम मोदी के रूस के बाद मेरिका ने बड़ा बयान दिया है। अमेरिका ने इस बात को माना है कि भारत रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध को खत्म कराने की ताकत रखता है।अमेरिका ने कहा है कि भारत का एक ऐसा देश है जो रूस से यूक्रेन युद्ध समाप्त करने की अपील कर सकता है।

रॉयटर्स के मुताबिक व्हाइट हाउस की प्रवक्ता कैरिन जीन-पियरे ने मंगलवार को कहा कि रूस के साथ भारत के रिश्ते इतने मजबूत है कि भारत रूस और यू्क्रेन के बीच युद्ध खत्म कराने की ताकत रखता है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से यूक्रेन के साथ युद्ध समाप्त करने का आग्रह करने की ताकत रखते हैं।

कैरिन जीन-पियरे ने भारत हमारा एक रणनीतिक साझेदार है जिसके साथ हम पूर्ण और स्पष्ट बातचीत करते हैं, जिसमें रूस के साथ उनके संबंध भी शामिल हैं और हमने इस बारे में पहले भी बात की है। यह महत्वपूर्ण है कि भारत सहित सभी देश यूक्रेन के मामले में एक स्थायी और न्यायपूर्ण शांति को साकार करने के प्रयासों का समर्थन करें। इस युद्ध को समाप्त करना राष्ट्रपति पुतिन का काम है। राष्ट्रपति पुतिन ने युद्ध शुरू किया और वे ही इस युद्ध को समाप्त कर सकते हैं।’

व्हाइट हाउस प्रवक्ता जीन-पियरे ने यह टिप्पणी उस समय की, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रूसी राष्ट्रपति पुतिन से कहा कि मासूम बच्चों की मौत दर्दनाक और भयावह है। यह घटना यूक्रेन की राजधानी कीव में बच्चों के अस्पताल पर हुए घातक हमले के एक दिन बाद हुई। इसे लेकर पुतिन की चहुंओर आलोचना हुई।

दरअसल, यूक्रेन-रूस जंग पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पुतिन को स्पष्ट संदेश दिया है। पीएम मोदी ने मंगलवार को रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से कहा कि यूक्रेन संघर्ष का समाधान युद्धक्षेत्र में संभव नहीं है। बम, बंदूकों और गोलियों के बीच शांति वार्ता सफल नहीं होती। पुतिन के साथ वार्ता से पहले रपीएम मोदी ने यूक्रेन में बच्चों के एक अस्पताल पर बम हमले का जिक्र किया था और कहा था कि बेगुनाह बच्चों की मौत हृदय-विदारक और बहुत पीड़ादायी है। बता दें कि एक दिन पहले ही कीव में बच्चों के एक अस्पताल पर एक संदिग्ध रूसी मिसाइल से हमला किया गया, जिस पर वैश्विक स्तर पर नाराजगी जताई गई है।

India

Jul 10 2024, 10:40

मोदी-पुतिन की मुलाकात के बाद अमेरिका का बड़ा बयान, कहा-भारत के पास है रूस-यूक्रेन युद्ध रूकवाने की क्षमता

#us_says_india_pm_modi_has_ability_to_urge_russia_putin_to_end_ukraine_war 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दो दिवसीय रूस यात्रा समाप्त हो चुकी है। पीएम मोदी के रूस दौरे पर पुरी दुनिया की नजर थी। भारत के पश्चिमी सहयोगियों के साथ-साथ चीन तक की इस पर नजर थी। रूसी राष्ट्रपति पुतिन के साथ पीएम मोदी की मुलाकात ऐसे समय में हुई है जब रूस और यूक्रेन का युद्ध चल रहा है। ऐसे में पीएम मोदी के रूस के बाद मेरिका ने बड़ा बयान दिया है। अमेरिका ने इस बात को माना है कि भारत रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध को खत्म कराने की ताकत रखता है।अमेरिका ने कहा है कि भारत का एक ऐसा देश है जो रूस से यूक्रेन युद्ध समाप्त करने की अपील कर सकता है।

रॉयटर्स के मुताबिक व्हाइट हाउस की प्रवक्ता कैरिन जीन-पियरे ने मंगलवार को कहा कि रूस के साथ भारत के रिश्ते इतने मजबूत है कि भारत रूस और यू्क्रेन के बीच युद्ध खत्म कराने की ताकत रखता है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से यूक्रेन के साथ युद्ध समाप्त करने का आग्रह करने की ताकत रखते हैं।

कैरिन जीन-पियरे ने भारत हमारा एक रणनीतिक साझेदार है जिसके साथ हम पूर्ण और स्पष्ट बातचीत करते हैं, जिसमें रूस के साथ उनके संबंध भी शामिल हैं और हमने इस बारे में पहले भी बात की है। यह महत्वपूर्ण है कि भारत सहित सभी देश यूक्रेन के मामले में एक स्थायी और न्यायपूर्ण शांति को साकार करने के प्रयासों का समर्थन करें। इस युद्ध को समाप्त करना राष्ट्रपति पुतिन का काम है। राष्ट्रपति पुतिन ने युद्ध शुरू किया और वे ही इस युद्ध को समाप्त कर सकते हैं।’

व्हाइट हाउस प्रवक्ता जीन-पियरे ने यह टिप्पणी उस समय की, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रूसी राष्ट्रपति पुतिन से कहा कि मासूम बच्चों की मौत दर्दनाक और भयावह है। यह घटना यूक्रेन की राजधानी कीव में बच्चों के अस्पताल पर हुए घातक हमले के एक दिन बाद हुई। इसे लेकर पुतिन की चहुंओर आलोचना हुई।

दरअसल, यूक्रेन-रूस जंग पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पुतिन को स्पष्ट संदेश दिया है। पीएम मोदी ने मंगलवार को रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से कहा कि यूक्रेन संघर्ष का समाधान युद्धक्षेत्र में संभव नहीं है। बम, बंदूकों और गोलियों के बीच शांति वार्ता सफल नहीं होती। पुतिन के साथ वार्ता से पहले रपीएम मोदी ने यूक्रेन में बच्चों के एक अस्पताल पर बम हमले का जिक्र किया था और कहा था कि बेगुनाह बच्चों की मौत हृदय-विदारक और बहुत पीड़ादायी है। बता दें कि एक दिन पहले ही कीव में बच्चों के एक अस्पताल पर एक संदिग्ध रूसी मिसाइल से हमला किया गया, जिस पर वैश्विक स्तर पर नाराजगी जताई गई है।