India

May 25 2023, 14:49

जेल के बाथरूम में गिरे सत्येंद्र जैन की हालत बिगड़ी, ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं पूर्व मंत्री, डीडीयू से एलएनजेपी हॉस्पिटल किए गए शिफ्ट

#satyendar_jain_was_admitted_to_hospita

दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री सत्येंद्र जैन की तबीयत ज्यादा खराब हो गई है। आज सुबह पहले उनको दीन दयाल उपाध्याय (डीडीयू) अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन दोपहर तक हालत गंभी होने पर उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट पर रख दिया गया और आनन-फानन में एलएनजेपी हॉस्पिटल शिफ्ट कर दिया गया। जानकारी के मुताबिक, तिहाड़ जेल के बाथरूम में चक्कर आने से सत्येंद्र जैन गिर गए थे।

इस पूरे मामले पर अब आम आदमी पार्टी के मुखिया और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, जो इंसान जनता को अच्छा इलाज और अच्छी सेहत देने के लिए दिन-रात काम कर रहा था, आज उस भले इंसान को एक तानाशाह मारने पर तुला है।उस तानाशाह की एक ही सोच है - सबको खत्म कर देने की, वो सिर्फ “मैं” में ही जीता है। वो सिर्फ खुद को ही देखना चाहता है। भगवान सब देख रहे हैं, वो सबके साथ न्याय करेंगे। ईश्वर से सत्येंद्र जी के जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं. भगवान उन्हें इन विपरीत परिस्थितियों से लड़ने की शक्ति दें।'

बता दें कि जेल में बंद आम आदमी पार्टी नेता और दिल्ली के पूर्व मंत्री सत्येंद्र जैन को तीन दिन पहले भी तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें सफदरजंग अस्पताल लाया गया था। इस दौरान वह काफी दुबले पतले नजर आए थे। सत्येंद्र जैन का वजन करीब 35 किलो कम हुआ है। तिहाड़ जेल में बंद सत्येंद्र जैन ने कुछ समय पहले यह शिकायत की थी कि वह उदास और अकेला महसूस कर रहे हैं। इसके बाद तिहाड़ जेल प्रशासन ने कहा था कि वह मनोवैज्ञानिक की मदद लेगा

India

May 22 2023, 14:48

जेल में बंद आप नेता सत्येंद्र जैन की बिगड़ी तबीयत, अस्पताल में भर्ती, करीब 35 किलो वजन हो गया है कम

#jailedaapleadersatyendarjainbroughttosafdarjunghospital

हवाला और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद आप सरकार के पूर्वमंत्री सत्येंद्र जैन की तबीयत बिगड़ गई है। पूर्व मंत्री की तबीयत बिगड़ने की शिकायत के बाद उन्हें सफदरजंग अस्पताल लाया गया है। बताया जा रहा है कि सत्येंद्र जैन का वजन करीब 35 किलो कम हुआ है।

इससे पहले सत्येंद्र जैन ने 11 मई को एक पत्र के जरिए अधीक्षक से अधिक कैदियों के साथ रहने का अनुरोध किया था और अपने पत्र में अकेलेपन के कारण डिप्रेशन और अधिक सामाजिक संपर्क की आवश्यकता का हवाला दिया था। इस चिट्ठी में लिखा था कि वो काफी अकेलापन महसूस कर रहे हैं, और मनोचिकित्सक ने उन्हें अकेला नहीं रहने की सलाह दी है।सत्येंद्र जैन के चिट्ठी लिखने के बाद जेल संख्या-7 के सुपरिटेंडेंट ने उनके सेल में दो कैदियों को ट्रांसफर भी किया था, लेकिन जैसे ही तिहाड़ जेल के प्रशासन को इस बात की जानकारी हुई थी तो तुरंत ही उन दोनों कैदियों को वापस भेज दिया गया था और इसी के साथ ही जेल नम्बर-7 के सुपरिटेंडेंट को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया था। जिसके बाद सुपरिटेंडेंट का तबादला भी कर दिया गया था।

जमानत के लिए जैन की सेहत का दिया था हवाला

वहीं, 6 अप्रैल को दिल्ली हाईकोर्ट से जमानत याचिका खारिज होने के बाद उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी।वकील अभिषेक एम सिंघवी ने सत्येंद्र जैन की गिरती सेहत का हवाला दिया था। सिंघवी ने कहा था कि वो आदमी कंकाल हो गया है, जेल में 35 किलो वजन घट गया है। सेहत लगातार बिगड़ रही है और उनका केस वेटिंग लिस्ट में 416 नंबर पर है।

केजरीवाल ने ईश्वर से अच्छे स्वास्थ्य की कामना की

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्विटर के जरिए कहा कि सत्येंद्र जैन के बेहतर स्वास्थ्य के लिए मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं। भाजपा सरकार के इस अहंकार और ज़ुल्म को दिल्ली और देश के लोग अच्छे से देख रहे हैं। भगवान भी इन अत्याचारियों को कभी माफ नहीं करेंगे। इस संघर्ष में जनता हमारे साथ है, ईश्वर हमारे साथ हैं, हम सरदार भगत सिंह जी के चेले हैं। जुल्म, अन्याय और तानाशाही के खिलाफ हमारी ये लड़ाई जारी रहेगी।

किस मामले में जेल में हैं जैन

बता दें कि ईडी ने धन शोधन निवारण अधिनियम, 2002 की धारा 19 के तहत जैन को 30 मई, 2022 को गिरफ्तार किया था। ईडी ने 2017 में सीबीआई द्वारा जैन, उनकी पत्नी पूनम, और अजीत प्रसाद जैन, सुनील कुमार जैन, वैभव जैन और अंकुश जैन के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, 1988 की धारा 13(2) सहपठित धारा 13(1)(ई) के तहत दर्ज एफआईआर के आधार पर धन शोधन की जांच शुरू की थी।सीबीआई ने आरोप लगाया है कि 14 फरवरी, 2015 से 31 मई, 2017 के दौरान दिल्ली सरकार में मंत्री के पद पर रहते हुए सत्येंद्र जैन ने अपनी आय के ज्ञात स्रोतों से अधिक संपत्ति अर्जित की।सीबीआई ने 3 दिसंबर, 2018 को चार्जशीट दायर की थी।इससे पहले, ईडी ने 31 मार्च, 2022 को सत्येंद्र जैन के स्वामित्व वाली और नियंत्रित कंपनियों से संबंधित 4.81 करोड़ रुपये की अचल संपत्तियों को अस्थायी रूप से कुर्क किया था।

India

May 15 2023, 11:39

*सत्येंद्र जैन को जेल में महसूस हुआ अकेलापन, सुपरिटेंडेंट को पत्र लिखकर कहा- 2 से 3 कैदी साथ में रख दो, जारी हो गया कारण बताओ नोटिस*

#satyendarjainmadethisdemandtojail_superintendent

मनी लॉन्ड्रिंग केस में जेल में बंद दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री सत्येंद्र जैन को अब जेल में अकेलापन महसूस हो रहा है। दरअसल, पहले भी जेल में मालिश करा कर सुर्खियां बटोर चुके सतेन्द्र जैन के लिए ये आम बात है। उन्होंने अपने अकेलेपन के इलाज के लिए उनके साथ दो और लोगों को रखने की मांग की।जिसको लेकर उन्होंने सुपरिटेंडेंट को पत्र लिखकर अनुरोध किया था कि उसके साथ दो और लोगों को रखा जाए। जेल सुपरिटेंडेंट भी कब जैन का अनुरोध ठुकराने वाले थे। उन्होंने दो कैदियों को जेल के अंदर उनके सेल में भेज दिया था। जिसको लेकर नया विवाद खड़ा हो गया है।

जैन ने मनोचिकित्सक के सुझाव का हवाला दिया

दिल्ली सरकार में पूर्व मंत्री रहे सत्येंद्र जैन ने ये चिट्ठी 11 मई को लिखी थी। तिहाड़ जेल संख्या 7 के सुपरिंटेंडेंट को लिखे अपने पत्र में जैन ने कम से कम दो से तीन कैदियों को अपने साथ रखने की अपील की थी। उन्होंने अपने मनोचिकित्सक के सुझाव का हवाला देते हुए कहा कि वे सेल में अकेले होने की वजह से डिप्रेसन में भी रहने लगे हैं। मनोचिकित्सक ने उन्हें अकेला नहीं रहने और सामाजिक दायर बढ़ाने की सलाह दी है।

सुपरिटेंडेंट को कारण बताओ नोटिस जारी

सत्येंद्र की इस गुजारिश के बाद जेल के सुपरिंटेंडेंट ने उनके सेल में 2 कैदियों को ट्रांसफर भी कर दिया। अब सत्येंद्र जैन की डिमांड पूरी करने वाले सुपरिटेंडेंट के खिलाफ कार्रवाई की शुरुआत हो गई है।सत्येंद्र जैन के अनुरोध पर दो लोगों को उनके सेल में ट्रांसफर करने के लिए जेल प्रशासन ने तिहाड़ की जेल नंबर 7 के सुपरिटेंडेंट को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। उन्हें नोटिस भेजकर पूरे मामले में जवाब-तलब किया गया है।

जेल प्रशासन के अनुसार सुपरिटेंडेंट ने बिना प्रशासन को सूचित किये यह निर्णय लिया था जबकि प्रक्रिया के अनुसार बिना प्रशासन को सूचित किये और अनुमति लिये किसी भी कैदी को दूसरे सेल में ट्रांसफर नहीं किया जा सकता।

तिहाड़ में मसाज करवाते हुए सामने आया था वीडियो

इससे पहले सत्येंद्र जैन का तिहाड़ जेल से एक वीडियो सामने आया था, जिसमें वह मसाज करवाते हुए दिख रहे थे। इसके बाद जैन पर आरोप लगा था कि उन्होंने जेल अधिकारियों को धमकाया भी था कि वो जेल से बाहर निकलने के बाद उन्हें देख लेंगे। इस बारे में तिहाड़ जेल के कई अधिकारियों ने तिहाड़ जेल के डीजी से शिकायत की थी।

India

May 25 2023, 14:49

जेल के बाथरूम में गिरे सत्येंद्र जैन की हालत बिगड़ी, ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं पूर्व मंत्री, डीडीयू से एलएनजेपी हॉस्पिटल किए गए शिफ्ट

#satyendar_jain_was_admitted_to_hospita

दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री सत्येंद्र जैन की तबीयत ज्यादा खराब हो गई है। आज सुबह पहले उनको दीन दयाल उपाध्याय (डीडीयू) अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन दोपहर तक हालत गंभी होने पर उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट पर रख दिया गया और आनन-फानन में एलएनजेपी हॉस्पिटल शिफ्ट कर दिया गया। जानकारी के मुताबिक, तिहाड़ जेल के बाथरूम में चक्कर आने से सत्येंद्र जैन गिर गए थे।

इस पूरे मामले पर अब आम आदमी पार्टी के मुखिया और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, जो इंसान जनता को अच्छा इलाज और अच्छी सेहत देने के लिए दिन-रात काम कर रहा था, आज उस भले इंसान को एक तानाशाह मारने पर तुला है।उस तानाशाह की एक ही सोच है - सबको खत्म कर देने की, वो सिर्फ “मैं” में ही जीता है। वो सिर्फ खुद को ही देखना चाहता है। भगवान सब देख रहे हैं, वो सबके साथ न्याय करेंगे। ईश्वर से सत्येंद्र जी के जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं. भगवान उन्हें इन विपरीत परिस्थितियों से लड़ने की शक्ति दें।'

बता दें कि जेल में बंद आम आदमी पार्टी नेता और दिल्ली के पूर्व मंत्री सत्येंद्र जैन को तीन दिन पहले भी तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें सफदरजंग अस्पताल लाया गया था। इस दौरान वह काफी दुबले पतले नजर आए थे। सत्येंद्र जैन का वजन करीब 35 किलो कम हुआ है। तिहाड़ जेल में बंद सत्येंद्र जैन ने कुछ समय पहले यह शिकायत की थी कि वह उदास और अकेला महसूस कर रहे हैं। इसके बाद तिहाड़ जेल प्रशासन ने कहा था कि वह मनोवैज्ञानिक की मदद लेगा

India

May 22 2023, 14:48

जेल में बंद आप नेता सत्येंद्र जैन की बिगड़ी तबीयत, अस्पताल में भर्ती, करीब 35 किलो वजन हो गया है कम

#jailedaapleadersatyendarjainbroughttosafdarjunghospital

हवाला और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद आप सरकार के पूर्वमंत्री सत्येंद्र जैन की तबीयत बिगड़ गई है। पूर्व मंत्री की तबीयत बिगड़ने की शिकायत के बाद उन्हें सफदरजंग अस्पताल लाया गया है। बताया जा रहा है कि सत्येंद्र जैन का वजन करीब 35 किलो कम हुआ है।

इससे पहले सत्येंद्र जैन ने 11 मई को एक पत्र के जरिए अधीक्षक से अधिक कैदियों के साथ रहने का अनुरोध किया था और अपने पत्र में अकेलेपन के कारण डिप्रेशन और अधिक सामाजिक संपर्क की आवश्यकता का हवाला दिया था। इस चिट्ठी में लिखा था कि वो काफी अकेलापन महसूस कर रहे हैं, और मनोचिकित्सक ने उन्हें अकेला नहीं रहने की सलाह दी है।सत्येंद्र जैन के चिट्ठी लिखने के बाद जेल संख्या-7 के सुपरिटेंडेंट ने उनके सेल में दो कैदियों को ट्रांसफर भी किया था, लेकिन जैसे ही तिहाड़ जेल के प्रशासन को इस बात की जानकारी हुई थी तो तुरंत ही उन दोनों कैदियों को वापस भेज दिया गया था और इसी के साथ ही जेल नम्बर-7 के सुपरिटेंडेंट को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया था। जिसके बाद सुपरिटेंडेंट का तबादला भी कर दिया गया था।

जमानत के लिए जैन की सेहत का दिया था हवाला

वहीं, 6 अप्रैल को दिल्ली हाईकोर्ट से जमानत याचिका खारिज होने के बाद उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी।वकील अभिषेक एम सिंघवी ने सत्येंद्र जैन की गिरती सेहत का हवाला दिया था। सिंघवी ने कहा था कि वो आदमी कंकाल हो गया है, जेल में 35 किलो वजन घट गया है। सेहत लगातार बिगड़ रही है और उनका केस वेटिंग लिस्ट में 416 नंबर पर है।

केजरीवाल ने ईश्वर से अच्छे स्वास्थ्य की कामना की

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्विटर के जरिए कहा कि सत्येंद्र जैन के बेहतर स्वास्थ्य के लिए मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं। भाजपा सरकार के इस अहंकार और ज़ुल्म को दिल्ली और देश के लोग अच्छे से देख रहे हैं। भगवान भी इन अत्याचारियों को कभी माफ नहीं करेंगे। इस संघर्ष में जनता हमारे साथ है, ईश्वर हमारे साथ हैं, हम सरदार भगत सिंह जी के चेले हैं। जुल्म, अन्याय और तानाशाही के खिलाफ हमारी ये लड़ाई जारी रहेगी।

किस मामले में जेल में हैं जैन

बता दें कि ईडी ने धन शोधन निवारण अधिनियम, 2002 की धारा 19 के तहत जैन को 30 मई, 2022 को गिरफ्तार किया था। ईडी ने 2017 में सीबीआई द्वारा जैन, उनकी पत्नी पूनम, और अजीत प्रसाद जैन, सुनील कुमार जैन, वैभव जैन और अंकुश जैन के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, 1988 की धारा 13(2) सहपठित धारा 13(1)(ई) के तहत दर्ज एफआईआर के आधार पर धन शोधन की जांच शुरू की थी।सीबीआई ने आरोप लगाया है कि 14 फरवरी, 2015 से 31 मई, 2017 के दौरान दिल्ली सरकार में मंत्री के पद पर रहते हुए सत्येंद्र जैन ने अपनी आय के ज्ञात स्रोतों से अधिक संपत्ति अर्जित की।सीबीआई ने 3 दिसंबर, 2018 को चार्जशीट दायर की थी।इससे पहले, ईडी ने 31 मार्च, 2022 को सत्येंद्र जैन के स्वामित्व वाली और नियंत्रित कंपनियों से संबंधित 4.81 करोड़ रुपये की अचल संपत्तियों को अस्थायी रूप से कुर्क किया था।

India

May 15 2023, 11:39

*सत्येंद्र जैन को जेल में महसूस हुआ अकेलापन, सुपरिटेंडेंट को पत्र लिखकर कहा- 2 से 3 कैदी साथ में रख दो, जारी हो गया कारण बताओ नोटिस*

#satyendarjainmadethisdemandtojail_superintendent

मनी लॉन्ड्रिंग केस में जेल में बंद दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री सत्येंद्र जैन को अब जेल में अकेलापन महसूस हो रहा है। दरअसल, पहले भी जेल में मालिश करा कर सुर्खियां बटोर चुके सतेन्द्र जैन के लिए ये आम बात है। उन्होंने अपने अकेलेपन के इलाज के लिए उनके साथ दो और लोगों को रखने की मांग की।जिसको लेकर उन्होंने सुपरिटेंडेंट को पत्र लिखकर अनुरोध किया था कि उसके साथ दो और लोगों को रखा जाए। जेल सुपरिटेंडेंट भी कब जैन का अनुरोध ठुकराने वाले थे। उन्होंने दो कैदियों को जेल के अंदर उनके सेल में भेज दिया था। जिसको लेकर नया विवाद खड़ा हो गया है।

जैन ने मनोचिकित्सक के सुझाव का हवाला दिया

दिल्ली सरकार में पूर्व मंत्री रहे सत्येंद्र जैन ने ये चिट्ठी 11 मई को लिखी थी। तिहाड़ जेल संख्या 7 के सुपरिंटेंडेंट को लिखे अपने पत्र में जैन ने कम से कम दो से तीन कैदियों को अपने साथ रखने की अपील की थी। उन्होंने अपने मनोचिकित्सक के सुझाव का हवाला देते हुए कहा कि वे सेल में अकेले होने की वजह से डिप्रेसन में भी रहने लगे हैं। मनोचिकित्सक ने उन्हें अकेला नहीं रहने और सामाजिक दायर बढ़ाने की सलाह दी है।

सुपरिटेंडेंट को कारण बताओ नोटिस जारी

सत्येंद्र की इस गुजारिश के बाद जेल के सुपरिंटेंडेंट ने उनके सेल में 2 कैदियों को ट्रांसफर भी कर दिया। अब सत्येंद्र जैन की डिमांड पूरी करने वाले सुपरिटेंडेंट के खिलाफ कार्रवाई की शुरुआत हो गई है।सत्येंद्र जैन के अनुरोध पर दो लोगों को उनके सेल में ट्रांसफर करने के लिए जेल प्रशासन ने तिहाड़ की जेल नंबर 7 के सुपरिटेंडेंट को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। उन्हें नोटिस भेजकर पूरे मामले में जवाब-तलब किया गया है।

जेल प्रशासन के अनुसार सुपरिटेंडेंट ने बिना प्रशासन को सूचित किये यह निर्णय लिया था जबकि प्रक्रिया के अनुसार बिना प्रशासन को सूचित किये और अनुमति लिये किसी भी कैदी को दूसरे सेल में ट्रांसफर नहीं किया जा सकता।

तिहाड़ में मसाज करवाते हुए सामने आया था वीडियो

इससे पहले सत्येंद्र जैन का तिहाड़ जेल से एक वीडियो सामने आया था, जिसमें वह मसाज करवाते हुए दिख रहे थे। इसके बाद जैन पर आरोप लगा था कि उन्होंने जेल अधिकारियों को धमकाया भी था कि वो जेल से बाहर निकलने के बाद उन्हें देख लेंगे। इस बारे में तिहाड़ जेल के कई अधिकारियों ने तिहाड़ जेल के डीजी से शिकायत की थी।