Dailynews

Sep 30 2021, 08:59

ये है दुनिया का सबसे पुराना अंगूर का पेड़! उम्र जानकर हैरान रह जाएंगे आप

  


दुनियाभर में लोग फलों के दीवाने होते हैं. आप सभी ने अंगूर तो खाए होंगे. ज्यादातर लोगों ने अंगूर की बेल में लगे अंगूरों को भी देखा होगा. आप सभी को बता दें अंगूर दुनिया में काफी मजे से खाया जाने वाला फल है.

इसी के साथ इसका इस्तेमाल वाइन बनाने में भी किया जाता है. अंगूर की खेती महाराष्ट्र-कर्नाटक जैसे राज्य में टॉप पर आती है. आज हम आपको अंगूर के पेड़ से जुड़ी एक ऐसी बात बताने जा रहे हैं, जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे.

जिस अंगूर के बेल की हम बात कर रहे हैं वे दुनिया का सबसे पुराना पेड़ है, जिसकी उम्र लगभग 500 सालों से भी ज्यादा है. जी हां, आप इसे पढ़कर हैरत में तो जरूर आए होंगे, लेकिन मीडिया रिपोर्ट के हिसाब से ये बात सच है. ये पेड़ विश्व युद्ध समेत दुनिया की कई महत्वपूर्ण घटनाओं से भी पुराना है. सेंट्रल यूरोप में एक देश है स्लोवेनिया (Slovenia). यहां के शहर मारिबोर में दुनिया की सबसे पुरानी अंगूर की बेल मौजूद है.

ये पेड़ साल 1570 के वक्त का है और इस पेड़ की बेल पर आज भी अंगूर उगते हैं. 'द ओल्ड वाइन हाउस' नाम की ये इमारत के चारों ओर फैली हुई है. एक रिपोर्ट के मुताबिक आज भी इस पेड़ पर हर साल 35 से 55 किलो अंगूर पैदा होते हैं. इन अंगूरों से काफी अच्छी वाइन बनाई जाती है, जिसके बाद इस वाइन की साल में 100 बोतल प्रोड्यूस की जाती है.

आप सभी को बता दें अंगूर के इस पेड़ के दौरान काफी लड़ाइयां भी देखीं है, इसी के साथ आपको बता दें अंगूर की बेल पर कई बार आग भी लग चुकी है और कीड़ों ने आसपास के बेल को नष्ट करने की कोशिश की है. मगर ये पेड़ आज भी सही सलामत है. आपको बता दें कि इस पेड़ से बननी वाली वाइन को अब तक दलाई लामा, बिल क्लिंटन, पोप जॉन पॉल द्वितीय और एक्टर ब्रैड पिट को भी गिफ्ट के तौर पर दिया जा चुका है. 

Dailynews

Sep 30 2021, 08:57

बॉयफ्रेंड ने सुपरग्लू लगाकर चिपका दी गर्लफ्रेंड की आंख, दर्द से तड़पते हुए हो गया ऐसा हाल

  


यूं तो ग्लू (गोंद) से आप कई तरह की चीजों को आसानी से चिपका सकते हैं. लेकिन एक शख्स ने सुपरग्लू से अपनी गर्लफ्रेंड की आंख ही चिपका दी. सुनने में आपको ये बेहद अजीब लगे, लेकिन यह सच है.

महिला असहनीय दर्द से जूझ रही है. उसे इस बात की चिंता है कि उसकी आंख पहले की तरह ठीक हो पाएगी या नहीं. चौंकाने वाली यह घटना ब्राजील के कचोइरो डी इतापेमिरिम (Cachoeiro de Itapemirim) शहर की है.

ब्राजील के कचोइरो की रहने वाली रेजिना अमोरम (Regina Amorim) को ग्लूकोमा (glaucoma) नाम की आंखों की एक गंभीर बीमारी है. इसके लिए वह रोजाना अपनी आखों में आई ड्रॉप डालती थीं. एक दिन रेजिना के बॉयफ्रेंड ने उनकी आंखों में आईड्रॉप की जगह कुछ ऐसी चीज डाल दी, जिससे उनकी आंख ही चिपक गई.

लोकल मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, रेजिना अपनी आंखों की सारी दवाएं फ्रिज में रखती थीं. एक दिन उनके बॉयफ्रेंड ने एक सुपरग्लू की ट्यूब उसी जगह पर रख दी. दोनों ट्यूब के एक ही जगह पर होने की वजह से कन्फ्यूजन हो गया और बॉयफ्रेंड की छोटी सी गलती ने रेजिना के लिए बड़ी मुश्किल खड़ी दी.

रेजिना के बॉयफ्रेंड ने आईड्रॉप की जगह सुपरग्लू की ट्यूब से कुछ बूंदें रेजिना की आंखों मे डाल दीं. इसके कुछ ही देर बाद रेजिना को आंखों में तेज जलन के साथ असहनीय दर्द होने लगा. जब तक बॉयफ्रेंड को उसकी गलती का अहसास हुआ, तब तक रेजिना की हालत काफी बिगड़ चुकी थी. रिपोर्ट के मुताबिक, सुपरग्लू और आईड्रॉप के नाम लगभग एक जैसे थे, इसलिए यह कन्फ्यूजन हो गया.

आनन-फानन में रेजिना को अस्पताल ले जाया गया. डॉक्टरों का कहना है कि ग्लू में केमिकल होता है, इसलिए उन्हें असहनीय पीड़ा हुई. इससे कॉर्निया भी डैमेज हो सकता था. रेजिना बताती हैं कि घटना वाले दिन पूरी रात उनकी आंखों से पानी बहता रहा. हालांकि, वक्त पर इलाज मिलने के कारण उनकी आंखों की रोशनी जाने से बच गई, लेकिन आंख अभी भी सूजी हुई है. 

Dailynews

Sep 30 2021, 08:55

वीडियो गेम के चक्कर में बच्ची ने निगल ली चुंबक की 23 गोलियां, डॉक्टर्स ने बड़ी मुश्किल से बचाई जान

  


दुनिया के हर बच्चे को वीडियो गेम खेलने का शौक होता है. कुछ बच्चे को तो गेम का इतना तगड़ा चस्का होता है कि वो इसके चक्कर में खाना खाना तक भूल जाते हैं. अब इंग्लैंड के एक शहर से ऐसा मामला सामने आया है.

जिसके बारे में सुनकर हर किसी के होश उड़ जाएंगे. दरअसल एक बच्ची वीडियो गेम देख रही थी तभी अचानक उसे चैलेंज दिखा और उस चैलेंज को एक्सेप्ट करने के लिए बच्ची ने मैग्नेट यानी चुमबक की 23 गोलियां निगल लीं. आइए अब बताते हैं कि आखिर पूरा माजरा क्या है?

एक रिपोर्ट के मुताबिक यह सब तब हुआ जब बच्ची लगातार मोबाइल पर वीडियो गेम खेलने में मशगूल थी. इस बच्ची की उम्र छह साल बताई जा रही है. दरअसल बच्ची ने मोबाइल पर वीडियो गेम का एक चैलेंज स्वीकार कर लिया, जिसके बाद बच्ची ने चुंबक की 23 गोलियां निगल लीं. इसके बाद बच्ची के पेट में असहनीय दर्द शुरू हुआ और उसने बार-बार उल्टी शुरू कर दी. बेटी को इस हालत में देख उसके पैरेंट्स उसे फौरन लेकर अस्पताल पहुंचे. जहां डॉक्टर्स ने जब जांच की तो ऐसा सच सामने आया जिसने सभी के होश उड़ा दिए.

डॉक्टर्स की एक टीम ने सर्जरी करके एक के बाद एक सारे चुंबक बच्ची के पेट से निकाल दिए. डॉक्टर्स ने बताया कि चुंबक ने बच्ची की आंतों को नुकसान पहुंचाया था. खैर शुक्र इस बात का रहा कि बच्ची को समय रहते इलाज मिल गया, वरना उसकी जान भी जा सकती थी. फिलहाल बच्ची अब खतरे से बाहर है लेकिन अभी भी वह कुछ दिन अस्पताल में ही रहेगी. डॉक्टर्स ने बच्ची के माता-पिता को यह भी कहा कि आगे से उसको ज्यादा वीडियो गेम ना खेलने दें क्योंकि ऐसा पहले भी देखा जा चुका है कि कई बच्चे गेम की लत की वजह से अपनी जान गंवा चुके हैं. 

Dailynews

Sep 30 2021, 08:53

ये हैं दुनिया की पांच सबसे बड़ी रहस्यमयी जगहें, जिनके रहस्य आज तक नहीं सुलझा पाए वैज्ञानिक

  


हमारी दुनिया बहुत बड़ी है जहां तरह तरह के अजीबो-गरीब रहस्य भरे पड़े हैं. इनमे से जहां कई रहस्यों को सुलझा लिया गया है तो वहीं सैकड़ों रहस्य आज भी ऐसे हैं जो अनसुलझे हैं. इन रहस्यमयी जगहों के बारे में वैज्ञानिक लगातार जांच-पड़ताल कर रहे हैं, लेकिन अभी तक निष्कर्ष तक नहीं पहुंचे हैं. आइए जानते हैं इन जगहों के बारे में.

रोसवेल, अमेरिका: न्यू मैक्सिको में स्थित रोसवेल एलियन कॉन्सपिरेसी थ्योरीज का हब है. ये जगह साल 1947 में चर्चा में आई थी, इस दौरान खेत में काम करने वाले लोगों ने स्थानीय अधिकारियों को बताया था कि एक उड़न तश्तरी (UFO) का दुर्घटना हुआ है जिसका मलबा पड़ा है और उस दिन से लेकर आजतक ये जगह लोगों के बीच रहस्य बनी हुई है.


स्टोनहेंज, इंग्लैंड: इंग्लैंड में स्थित यह जगह रहस्यों से भरी हुई है. लोग मानते हैं कि यह यूनिक ब्लूस्टोन सामग्री से बना विशाल मेगालिथ पत्थरों का एक गोलाकार समूह है. वैज्ञानिकों का मानना है कि करीब 3000 से 2000 ईसा पूर्व के बीच इसका निर्माण किया गया होगा. ऐसे में सवाल यह है कि जब उस दौरान किसी प्रकार की वैज्ञानिक उन्नति नहीं हुई थी?


स्तंभेश्वर महादेव मंदिर, गुजरात: समुद्र में स्थित यह मंदिर दिन में दो बार गायब हो जाता है. यह घटना हर रोज सुबह और शाम के समय होती है. बताया जाता है कि यह कोई चमत्कार नहीं है बल्कि यह प्राकृतिक घटना है, लेकिन लोग इसे भगवान का चमत्कार मानते हैं.


उलुरु (एयर्स रॉक ), ऑस्ट्रेलिया : ऑस्ट्रेलिया में स्थित उलुरु बलुआ पत्थर की चट्टान का एक विशाल खंड है. यह दिखने में कछुए की खोल की तरह लगता है. बताया जाता है कि यह पहाड़ी सुबह से लेकर शाम तक कई बार अपना रंग बदलती है. बताया जाता है कि उलुरु पहाड़ी 50 करोड़ साल पुरानी है. ऐसा क्यों होता इस राज का पता आज तक नहीं चल पाया है.


कोडिन्ही, भारत: करेल में स्थित इस गांव का गुत्थी आजतक नहीं सुलझ पाई. माना जाता है कि दुनिया का एकलौता गांव है जहां पर जुड़वां बच्चे हैं. इसके पीछे का रहस्य क्या है आजतक कोई भी डॉक्टर या वैज्ञानिक नहीं पता लगा पाया.


नोरिल्स्क, रूस: इस जगह दुनिया में सबसे ज्यादा ठंड पड़ती है. इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं. यहां का औसतन वार्षिक तापमान माइनस 10 डिग्री सेल्सियस रहता है, तो वहीं सर्दियों में यहां का तापमान माइनस 55 डिग्री सेल्सियस हो जाता है. इस शहर में दुनिया का सबसे बड़ा प्लैटिनम, पैलेडियम और निकल धातु का भंडार है. इसलिए इसे सबसे अमीर शहर भी कहा जाता है. 

Dailynews

Sep 30 2021, 08:51

रेस्टोरेंट में डिनर के बाद बिल देख उड़े शख्स के होश, बोला- एक रात में ही खाली हो गया बैंक बैलेंस

  


एक शख्स को घर से बाहर रेस्टोरेंट में खाना-खाना भारी पड़ गया. डिनर के बाद रेस्टोरेंट ने शख्स को जो बिल थमाया, उसे देखकर उसके होश उड़ गए. इस शख्स ने सोशल मीडिया पर बिल की एक फोटो शेयर की है, जिसे देखने के बाद हर कोई हैरान है.

इस पोस्ट में शख्स का कहना है कि उसे डिनर इतना महंगा पड़ा कि एक रात में ही उसका पूरा बैंक बैलेंस खत्म हो गया. बता दें कि यह मामला चार साल पहले का है, लेकिन अब जाकर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

वेबसाइट डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक, लंदन के सॉल्ट बे में मौजूद Nusr-Et Steakhouse नाम के एक रेस्टोरेंट में जमील अमीन (Jamil Amin) अपने दोस्तों के साथ डिनर करने के लिए पहुंचा था. जहां खाना खाने के बाद भारी-भरकम बिल देखकर वह हैरान रह गया. इसके बाद जमील ने सोशल मीडिया पर बिल की एक फोटो शेयर की, जो वायरल हो गई. यूजर्स भी इस पर तरह-तरह के कमेंट्स कर रहे हैं.

Nusr-Et Steakhouse में जमील ने चार दोस्तों के साथ खाना खाया था. लेकिन डिनर के बाद उसे जो बिल थमाया गया, उसे देखने के बाद उसके उड़ गए. रेस्टोरेंट ने जमील को एक लाख 82 हजार रुपए से ज्यादा का बिल थमाया था. आपको जानकर हैरानी होगी कि इस बिल में केवल एक फूड आइटम की कीमत 63 हजार रुपए से भी ज्यादा थी. वहीं, चार एनर्जी ड्रिंक रेड बुल की कीमत भी नॉर्मल से कहीं ज्यादा 44 पाउंड थी. इसके आलवा रेस्टोरेंट ने सर्विस चार्ज भी जोड़ा था, जो करीब 24 हजार रुपए था.

जमील ने सोशल मीडिया पर बिल की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा है, एक रात में मेरा पूरा बैंक बैलेंस खर्च हो गया. बता दें कि जैसे ही जमील की यह पोस्ट वायरल हो गई है. लोगों ने रेस्टोरेंट के खिलाफ लिखना शुरू कर दिया है. लोगों का कहना है कि इस बिल को देखने के बाद किसी के भी होश उड़ सकते हैं. ज्यादातर सोशल मीडिया यूजर्स ने रेस्टोरेंट द्वारा सर्विस चार्ज के नाम पर 24 हजार रुपए वसूलने पर भी सवाल उठाए हैं. 

Dailynews

Sep 30 2021, 08:49

जीप खड़ी कर सामान खरीदने पहुंचा था शख्स, वापस लौटते ही कार में दिखा मधुमक्खियों का छत्ता

  


अक्सर जब भी आपको किसी जगह पर मधुमक्खी का छत्ता दिखता है वो वहां से चुपचाप खिसकने में ही अपनी भलाई समझते होंगे. दरअसल यूं तो मधुमक्खियों से हमें शहद जैसी मीठी चीज मिलती है मगर मधुमक्खियों के पास जाना वाकई हिम्मत भरा काम होता है.

इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें दिख रहा है कि एक शख्स अपनी जीप में उतरकर सामान लेने जाता है और फिर थोड़ी देर में वापस आ जाता है. मगर जैसे ही वह सामान लेकर जीप का दरवाजा खोलता है, वह हैरान रह जाता है क्योंकि उसकी सीट के ठीक ऊपर मधुमक्खी का एक बड़ा सा छत्ता दिख जाता है.

सोशल मीडिया पर जैसे ही ये वीडियो किसी ने शेयर किया तो कई लोग दंग रह गए. दरअसल लोग इसलिए हैरान थे कि आखिर इतनी जल्द मधुमक्खियां कार में छत्ता कैसे बना लेती है. दरअसल, यह घटना ऑस्ट्रेलिया की बताई जा रही है. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सिडनी स्थित हेल्डन स्ट्रीट के पास एक शख्स एक दुकान से जरूरत का कुछ सामान लेने पहुंचा था, इसी दौरान उसके साथ ये अजीब वाकया घटा. जब तक शख्स सामान लेकर वापस आया तो उसने यह नजारा देखा. उसकी जीप के एक कॉर्नर पर मधुमक्खियों ने अपना छत्ता बना लिया था. इसी छत्ते को देखकर कार मालिक डरकर पीछे हट गया.

इस वीडियो में दिख रहे शख्स का नाम रिजवान खान है. रिजवान ने खुद ही इस वीडियो को ट्विटर पर शेयर किया है. जिसमें साफ-साफ दिख रहा है कि जीप के एक कोने पर मधुमक्खियां अपना छत्ता बना चुकी हैं. हालांकि थोड़ी ही देर बाद जीप से छत्ता उतारने में एक अन्य शख्स कार मालिक की मदद करना है. मदद करने आया शख्स अपने हाथ से छ्त्ते को उतार देता है. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. लोग इसे शेयर कर रहे हैं और टिप्पणी कर रहे हैं. इस वीडियो को देखने के बाद कई लोग यही कह रहे हैं कि आगे से आप भी अपनी गाड़ी को एक बार जरूर देख लीजिएगा कहीं आपके साथ भी कुछ ऐसा ही न घट जाए. 

Dailynews

Sep 30 2021, 08:47

बड़े पैरों वाले मर्द पार्टनर के पीठ पीछे चलाते हैं चक्कर, रिसर्च में हुआ चौंकाने वाला खुलासा

  


भले ही आपको सुनने में अटपटा लगे, लेकिन आपके पैर बता सकते हैं कि आप धोखेबाज हैं या फिर भरोसेमंद. जी हां, हाल ही में पैरों की साइज को लेकर एक स्टडी हुई है, जिसके मुताबिक बड़े पैरों वाले मर्द दूसरे पुरुषों की तुलना में कम भरोसेमंद होते हैं.

स्टडी बताती है कि जिन मर्दों के पैरों का आकार दस या इससे ज्यादा है, वो अपने पार्टनर को धोखा दे सकते हैं. वहीं, छोटे पैरों वाले मर्द पर पार्टनर भरोसा कर सकते हैं.

वेबसाइट मिरर में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, डेटिंग साइट Illicit Encounters ने पुरुषों की वफादारी और उनके पैरों के आकार पर एक सर्वे किया. जिसमें कई चौंकाने वाली बातें सामने आई हैं. इस सर्वे में लगभग दो हजार पुरुषों ने हिस्सा लिया है. डेटिंग साइट के सर्वे से पता चला है कि बड़े पैरों वाले मर्दों के अपनी पार्टनर को धोखा देने की आशंका ज्यादा रहती है. ज्यादातर ऐसे मर्दों ने सर्वे में कबूला है कि उनका एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर चल रहा है.

सर्वे के मुताबिक, जिन पुरुषों के पैरों की साइज 11 है, ऐसे लोगों के धोखा देने की आशंका 29 प्रतिशत है. इसी तरह 10 साइज वाले मर्दों में अपनी पार्टनर को चीट करने की आशंका 25 फीसदी तक होती है. जबकि 12 नंबर साइज वाल मर्द 22 फीसदी भरोसे के काबिल नहीं रहते. इसी तरह 13 साइज वालों में यह आशंका 21 फीसदी तक रहती है.

सर्वे में चौंकाने वाली बात यह रही कि सैकड़ों मर्दों ने खुद कबूला कि शादीशुदा होने के बाद भी उनके एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर्स हैं. Illicit Encounters की सीईओ का कहना है कि इस सर्वे पर भले ही लोग उंगली उठा रहे हैं, लेकिन आंकड़े कभी झूठ नहीं बोलते. हालांकि, कुछ मर्दों का कहना है कि उनके पैरों का आकार बड़ा है, लेकिन उन्होंने कभी भी अपनी पार्टनर को पीठ पीछे चीट नहीं किया है. 

Dailynews

Sep 30 2021, 08:46

जहरीली मकड़ी के साथ खेल रही थी बच्ची, देखते ही पिता के उड़े होश

  


दुनिया के हर मां-बाप को अपने बच्चों की फिक्र होती है. इसलिए वो ज्यादातर समय उनका ख्याल रखने में गुजार देते हैं. मगर इसके बावजूद बच्चे कुछ न कुछ ऐसा जरूर कर देते हैं, जिसके बारे में पता चलते ही लोगों के पैरों तले की जमीन खिसक जाती है.

अमेरिकी में भी एक पिता (Father) के साथ भी ऐसा ही हुआ, जब उसने अपनी बच्‍ची को एक खतरनाक चीज से खेलते हुए देखा. बच्‍ची पर नजर जाते ही पिता ने छलांग लगाई और उस चीज को बच्‍ची से दूर किया.

एक रिपोर्ट के मुताबिक 8 महीने की बच्‍ची ब्‍लेक कॉफी रखने के टिन में एक बड़ी जहरीली मकड़ी को रखकर मजे से उसके साथ खेल रही थी. टारेंटयुला (Tarantula) मकड़ी आमतौर पर गरम जगहों पर पाई जाती हैं. ये मकड़ी (Spider) खासी जहरीली भी होती है. 36 वर्षीय डेविड लेहमैन ने जब अपनी बेटी को मकड़ी के साथ खेलते देखा तो उनके होश उड़ गए. वे उस बड़ी मकड़ी को अपनी बच्ची के पास देखकर काफी डर गए थे.

बच्‍ची आराम से उस मकड़ी पर कॉफी का टिन उल्‍टा करके रखने की कोशिश कर रही थी. पिता को चिल्‍लाते देख बच्‍ची बहुत बुरी तरह से डर गई. लेकिन डेविड ने बेटी को फौरन मकड़ी से दूर हटाया और बाद में अपने इस व्‍यवहार के कारण माफी मांगी. यह घटना एरिजोना के टक्सन में रहने वाले इस परिवार के बैकयार्ड में हुई. जहां गर्मी की दोपहर में परिवार रेस्‍ट कर रहा था.

डेविड ने बताया, ‘बेटी ने मकड़ी को टिन के नीचे रखकर मुझसे कहा कि डैड कीड़ा है. शुरू में तो मुझे लगा कि कोई छोटा-मोटा कीड़ा होगा. लेकिन इस खतरनाक और जहरीली मकड़ी को देखकर तो मैं डर गया. आखिर में हमने उस मकड़ी को पकड़कर बाहर छोड़ दिया. हालांकि ब्‍लेक को अब भी कीड़ों या मकड़ी से डर नहीं लगता है और वो फिर से ऐसी चीज खोजना चाहती है.’ 

Dailynews

Sep 30 2021, 08:44

ये है दुनिया की सबसे बेशकीमती लकड़ी, इसके सामने फीकी है सोने और हीरे की चमक, जानिए इससे क्या बनता है

  


अगर किसी से पूछा जाए कि दुनिया की सबसे कीमती और मंहगी चीज क्या है तो ज्यादातर लोग का जवाब हीरा (Diamond) या सोना (Gold) ही होगा, लेकिन क्या आप जानते हैं कि दुनिया में एक ऐसी लकड़ी भी है जिसकी कीमत के आगे किसी भी बहमूल्य रत्न की चमक फीकी पड़ जाएगी.

जी हां, हम बात कर रहे हैं अकीलारिया के पेड़ से मिलने लकड़ी के बारे में, जिसे दुनिया अगरवुड , ईगलवुड या एलोसवुड के नाम से जानती है. अगरवुड की असली लकड़ी की कीमत 1 लाख डॉलर (करीब 73 लाख 50 हजार रुपए) प्रति किलोग्राम तक है. ये लकड़ी चीन, जापान, भारत, अरब और साउथ ईस्ट एशियन देशों में पाया जाता है.

इसकी खेती करने वालों का कहना है कि इसकी धूप की सुगंध की बराबरी दुनिया को कोई सेंट नहीं कर सकता है. वे बताते हैं कि एक जलाने के बाद धीरे-धीरे इसकी सुगंध मीठी होती जाती है. इसका जरा सा धुआं एक बंद कमरे को कम से कम चार-पांच घंटे तक सुगंधित रख सकता है.

आपको बता दें कि इस तेल को ही सेंट में इस्तेमाल किया जाता है और आज के वक्त में इस तेल की कीमत 25 लाख रुपये प्रति किलो है! इतनी कीमती होने के कारण अगरवुड को वुड ऑफ गॉड्स (wood of the God) यानी भगवान की लकड़ी भी कहते हैं.

इसके व्यापार से जुड़े लोग इसे एक संपत्ति की तरह बताते हैं. डिमांड के मुताबिक, प्रोडक्शन नहीं हो रहा है. इसकी मांग बढ़ती जा रही है. यहीं कारण है कि इसे अन्य देशों में तैयार किया जाने लगा है. तेल, सेंट, धूप, ब्रेसलेट और नेकलेस से लेकर कई अन्य चीजों में भी इसका इस्तेमाल हो रहा है. विशेषज्ञ कहते हैं कि इन्हीं कारणों से इसकी जरूरत बनी रहेगी.

बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक इस लकड़ी की इतनी तस्करी हो रही है कि अकिलारिया के पेड़ की नस्ल को ही खत्म कर दिया जा रहा है. रिपोर्ट के मुताबिक हांगकांग की सरकार का कहना है कि वहां साल 2009 से हर साल 10 हजार पेड़ लगाए जा रहे हैं. इसी तरह से चीन के शेनझेन प्रांत में भी लोग पेड़ लगा रहे हैं. 

Dailynews

Sep 30 2021, 08:42

बीयर पीने के चक्कर में पिता ने चार सप्ताह की बेटी को जमीन पर पटका, फिर 14 साल की उम्र में जाकर हुई मौत

  


हम सभी इस बात से बेहद अच्छे से वाकिफ है कि दुनिया का हर पिता अपने बच्चे को सबसे ज्यादा प्रेम करता है. इसलिए वो उस पर आंच तक नहीं आने देता, मगर कई बार ऐसी खबरें सुनने को मिलती है जिनके बारे में सुनकर लोगों के होश उड़ जाते हैं.

ब्रिटेन में एक शख्स ने अपनी चार सप्ताह की बेटी को बिस्तर से सिर्फ इसलिए नीचे फेंक दिया था क्योंकि वो लगातार रो रही थी. जिस वजह से पिता को बीयर पीने में परेशानी हो रही थी. आइए बताते हैं कि क्या है पूरा माजरा.

एक रिपोर्ट के मुताबिक जो घटना लंदन की है जहां 46 साल के डीन स्मिथ ने नन्ही मैसी नेवेल को कई साल पहले बेडरूम में नीचे फेंक दिया था. आरोपी ने इस वाकये के बारे में बताया कि वह गुस्से में था क्योंकि उसे अकेले देखभाल करने के लिए छोड़ दिया गया था. शख्स ने जोर से चिल्लाते हुए कहा “मुझे चिल्लाते हुए बच्चे के साथ मत छोड़ो”. दरअसल बच्ची बचपन में ही अत्यधिक चोट लगने की वजह से विकलांग हो गई थी और अब 14 साल की उम्र में उसकी मौत हो गई.

बच्ची को फर्श पर पटकने के बाद स्मिथ ने शांति से एक सिगरेट जलाई फिर बीयर पी और अपने बेडरूम में प्ले स्टेशन को चालू कर दिया. उसकी साथी अपने दोस्त के घर से आयी और मैसी की जांच की तो शुरुआत में उसे कुछ कुछ भी गलत महसूस नहीं हुआ. लेकिन थोड़े समय बाद ही बच्ची की खोपड़ी और रीढ़ की हड्डी में भयानक चोट की जानकारी महिला को हो गई. इस भयानक चोट की वजह से बच्ची जीवन भर के लिए विकलांग हो गई.

हालांकि दत्तक माता-पिता ने उसकी देखभाल उसके अंत समय तक की. जानकारी के मुताबिक 28 जून 2014 को उसके 14 वें जन्मदिन से ठीक पहले घर पर उसकी मृत्यु हो गई थी. बच्ची के पिता ने हमले के बाद गंभीर रूप से शारीरिक नुकसान पहुंचाने की बात स्वीकार की. 13 साल बाद उसकी मौत होने पर हत्या की जांच शुरू की गई. इससे पहले 2001 में भी स्मिथ तीन साल जेल में बिता चुका था.

इस मामले में जूरी ने 11 घंटे और 58 मिनट तक विचार-विमर्श करने के बाद अपना फैसला सुनाया और उसे हत्या के आरोप से मुक्त कर दिया. जूरी का फैसला आने के बाद पीड़ित पक्ष ने फैसले को न्याय के खिलाफ बताया. अब फिर से इस मामले में आरोपी पिता को दोषी ठहराए जाने की मांग जोर पकड़ रही है. इसके साथ ही लोग पिता को सख्त से सख्त सजा देने की मांग की जा रही है.